मोदक एक महाराष्ट्र की डिश है, जो गणेश चतुर्थी के समय बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं और सबसे ज्यादा उसी समय बनाए व खाए जाते हैं। वैसे तो ये डिश महाराष्ट्र की  है, लेकिन अब इसे देश भर में शौक से खाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि भगवान गणेश को मोदक बहुत ज्यादा पसंद हैं, इसीलिए उनके जन्मदिन (गणेश चतुर्थी) पर उन्हें 21 मोदकों का भोग लगाया जाता है।

 

                   संक्षेप में                                         
तैयारी करने का समय 15 मिनट
पकाने का समय 30 मिनट
बनाने का कुल समय 45 से 50 मिनट
यह रेसिपी कितने लोगों के लिए है 3 से 4 लोग
टाइप/प्रकार वेज (शाकाहारी)
किस जगह की है यह डिश महाराष्ट्र
कब खाएं मोदक को गणेश चतुर्थी के प्रसाद के रूप में खाया जाता है
कैलोरीज 194Kcal
  1. मोदक बनाने की सामग्री - Modak ingredients in hindi
  2. मोदक बनाने का तरीका - How to make modak in hindi
  3. मोदक में मौजूद पोषक तत्व - Nutritional information of modak in hindi
  4. मोदक बनाने के लिए कुछ टिप्स - Tips for making modak in hindi
  5. मोदक को हेल्दी कैसे बनाएं? - Modak ko healthy banane ka tarika
  6. मोदक बनाने का वीडियो - Modak recipe video in hindi

मोदक बनाने के लिए आपको निम्नलिखित सामग्री की आवश्यकता होगी। ये सामग्री 21 मोदक बनाने के लिए पर्याप्त है, आप इसे अपने अनुसार कम या ज्यादा भी कर सकते हैं:

  • 2 से 2.5 कप चावल का आटा
  • मोदक का सांचा
  • 1.5 कप कददूकस किया हुआ गुड़
  • थोड़ा सा घी (और पढ़ें - घी या मक्खन?: क्या है स्वास्थय के लिए बेहतर)
  • 2 से 2.5 कप कददूकस किया हुआ नारियल
  • थोड़ी सी खसखस
  • एक स्टीमर
  • आधा चम्मच इलाइची का पाउडर

नीचे मोदक बनाने की रेसिपी दी गई है, जिसके अनुसार आप आसानी से 21 मोदक बना सकते हैं:

आटा तैयार करने के लिए

  1. 2 कप पानी को किसी गहरे नॉन-स्टिक बर्तन में उबाल लें।
  2. चावल के आटे को किसी गहरे बर्तन में डालें और उसमें धीरे-धीरे उबला हुआ पानी डालना शुरू करें। आपको इससे मुलायम आटा गूंथना है।
  3. अब इस आटे को ढककर अलग रख दें।
     

अंदर के मिश्रण के लिए

  1. एक नॉन-स्टिक बर्तन लें और उसमें गुड़ डालकर हल्की आंच पर रख दें। गुड़ को हिलाते रहें और उसके पिघलने का इंतजार करें।
  2. गुड़ के पिघल जाने के बाद इस मिश्रण में नारियल, खसखस व इलाइची पाउडर डालें और अच्छे से मिलाते रहें। इसे धीमी आंच पर तब तक रखें जब तक सारी नमी न सूख जाए और मिश्रण गाढ़ा न हो जाए।
  3. अब इस मिश्रण को थोड़ा ठंडा होने के लिए साइड में रख दें।
    (और पढ़ें - चावल के आटे से करें अपने चेहरे को गोरा)

मोदक बनाने के लिए

  1. आटा लें और उसमें थोड़ा सा घी डालकर दोबारा अच्छे से गूंथें।
  2. अब मोदक का सांचा लें और उसके अंदर थोड़ा सा घी लगाएं ताकि आटा उसमें चिपके नहीं।
  3. अब थोड़ा सा आटा लें और उसे मोदक के सांचे के अंदर डालें और ऐसे फैलाएं कि आटा सांचे की साइडों तक फैल जाए।
  4. इसके बाद मोदक के अंदर भरने के लिए बनाया गया थोड़ा सा मिश्रण लें और उसे आटे के बीच में रखें। याद रहे कि आपको 21 मोदक बनाने हैं, उसी के अनुसार मिश्रण लें।
  5. ये मिश्रण डालने के बाद सांचे को बंद करें और खोलकर मोदक को बाहर निकाल लें।
  6. इसी तरह सारे मोदक बना लें और उन्हें स्टीमर में रखें। याद रहे कि मोदक को सीधे स्टीमर में न रखें, उनके नीचे केले का एक पत्ता रख लें और सभी मोदक पर थोड़ा-थोड़ा पानी लगाएं। स्टीमर को मध्यम आंच पर ही रखें।
  7. अब आपके मोदक गरम-गरम परोसने के लिए बिलकुल तैयार हैं।

(और पढ़ें - पूरन पोली बनाने का तरीका)

मोदक में मौजूद पोषक तत्वों की मात्रा के बारे में नीचे बताया गया है। ये मात्रा एक मोदक के अनुसार दी गई है:

पोषक तत्व मात्रा
कैलोरी 194Kcal
फैट 6 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल 3 मिलीग्राम
सोडियम 7 मिलीग्राम
पोटैशियम 66 मिलीग्राम
कार्बोहायड्रेट 32 ग्राम
प्रोटीन 1 ग्राम
नेचुरल शुगर 19 ग्राम

मोदक बनाने के लिए कुछ टिप्स आपके काम आ सकती हैं, ये टिप्स नीचे दी गई हैं:

  • अगर आप मोदक को बाद में खाना चाहते हैं, तो आप इन्हें फ्रिज में रख सकते हैं। ये फ्रिज के बाहर 1 दिन के लिए ताजा रहते हैं और फ्रिज में 2 दिन तक।
  • मोदक बनाने के लिए अच्छी क्वालिटी का ताजा आटा ही इस्तेमाल करें। आप चाहें तो ये आटा अपने आप घर पर भी बना सकते हैं।
  • मोदक बनाने का सांचा आसानी से बर्तन की दुकान पर मिल जाता है।

(और पढ़ें - नवरात्री स्पेशल रेसिपी)

मोदक में चावल का आटा, नारियल और गुड़ मुख्य सामग्री होती है। इनके कई फायदे तो होते हैं, लेकिन साथ ही साथ इनके नुकसान भी होते हैं। आप चाहें तो मोदक को अपने स्वास्थ के अनुसार और अधिक हेल्दी बना सकते हैं।

  • डायबिटीज के मरीजों के लिए - ऐसा कहा जाता है कि गुड़ शुगर के मरीज को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता, हालांकि ये सच नहीं है। अगर आप त्यौहार के समय अपनी शुगर नियंत्रित रखना चाहते हैं, तो गुड़ के जगह शुगर फ्री और स्टीविया जैसे विकल्पों का इस्तेमाल करें। (और पढ़ें - डायबिटीज में क्या खाना चाहिए)
  • हाई कोलेस्ट्रॉल के मरीजों के लिए - जिन लोगों का कोलेस्ट्रॉल का स्तर ज्यादा है, वे मोदक में नारियल और गुड़ की बजाय चकुंदर भी डाल सकते हैं। इससे शुगर और कोलेस्ट्रॉल दोनों ही नियंत्रित होते हैं। (और पढ़ें - कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए डाइट चार्ट)
  • मोदक को और हेल्दी बनाने के लिए आप गुड़ और नारियल की जगह ड्राई फ्रूटस का उपयोग करें। इसके लिए आप खजूर, काजूबादाम जैसे ड्राई फ्रूटस का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़ें - हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाएं)

इस वीडियो में आप आसानी से मोदक बनाने का तरीका देख सकते हैं।

ऐप पर पढ़ें