myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

चाइनीज और भारतीय सदियों से कपूर का उपयोग बीमारियों के इलाज और धार्मिक उद्देश्यों के लिए करते आ रहे हैं। उनका मानना है कि कपूर में गहरी चिकित्सा शक्तियां हैं लेकिन यह सिर्फ एक लोकप्रिय लोककथा नहीं है। आयुर्वेद में, कपूर को जलाना मानव मन और शरीर के लिए उपचार माना जाता है।

यह सिनामोमस कैफ़ोरा (Cinnamomum camphora) नामक एक पेड़ से प्राप्त किया जाता है। यह लॉरेसी (Lauraceae) परिवार का सदस्य है। यह पेड़ चीन, जापान में सबसे पहले उगाया गया था। भारत में यह देहरादून, सहारनपुर, नीलगिरि और मैसूर आदि में पैदा किया जाता है। भारतीय कपूर पेड़ छोटे, उनकी पत्तियाँ 2.3 से 4 इंच लंबी होती है। इसके बहुत सारे स्वास्थ्य संबंधी लाभ भी होते हैं। तो आइये जानते हैं इसके लाभों के बारे में -

  1. कपूर के फायदे फोर इची स्किन - Camphor for Itchy Skin in Hindi
  2. कपूर के तेल का उपयोग करे मुँहासे उपचार के लिए - Camphor Oil for Acne Treatment in Hindi
  3. कपूर के लाभ हैं जली हुई त्वचा को ठीक करने में उपयोगी - Camphor Good for Burns in Hindi
  4. कपूर का प्रयोग है बालों के लिए उपयोगी - Camphor Benefits for Hair in Hindi
  5. कपूर का उपयोग दिलाएं जोड़ों के दर्द से राहत - Camphor for Joint Pain in Hindi
  6. कपूर के उपाय करें खाँसी के लिए - Camphor Uses for Cough in Hindi
  7. मच्छरों को भगाने के लिए करें कपूर का उपयोग - Camphor Used as a Mosquito Repellent in Hindi
  8. कपूर के अन्य फायदे - Other Benefits of Kapoor in Hindi
  9. कपूर के नुकसान - Kapur ke Nuksan in Hindi

खुजली व जलन जैसी समस्याओ के लिए भी कपूर एसेंशियल आयल का इस्तेमाल किया जाता है। कपूर खुजली वाली त्वचा में राहत प्रदान करने के लिए जाना जाता है। यह रोम छिद्रों द्वारा अवशोषित हो जाता है और आपकी त्वचा को ठंडक पहुंचाता है। इसके लिए एक कप नारियल तेल में पिसे हुए एक चम्मच कपूर को मिक्स करें। आप इस मिश्रण को खुजली वाले क्षेत्र में 1-2 बार लगा सकते हैं। (और पढ़ें - दाद और खुजली को हटाने के लिए बाबा रामदेव के प्राकृतिक)

कपूर आपकी त्वचा को टाइट करने के लिए अद्धभुत काम करता है। कपूर बैक्टीरिया निर्माण (मुँहासे का एक कारण) से मुक्ति पाने में भी मदद करता है और एक एंटी इंफेक्टिव एजेंट के रूप में कार्य करता है। एक अध्ययन ने बताया कि कपूर तैलीय त्वचा वाले लोगों के लिए विशेष रूप से फायदेमंद है जिससे यह मुँहासे उपचार के लिए बहुत उपयोगी है। टी ट्री आयल और कपूर आवश्यक तेल को मिक्स करें। एक कॉटन बड लें और इस घोल में डुबोएं। इसे प्रभावित त्वचा पर लगाएं। कपूर और ग्लिसरिन को बराबर मात्रा में मिला कर चेहरे पर लगा लीजिए। आपकी त्वचा चमकीली और सुंदर हो जाएगी।

अगर आपकी त्वचा कही से हल्की सी जल जाएँ तो उसके लिए कपूर का उपयोग करें। यह जली हुई त्वचा को ठीक करने में मदद कर सकता है। न केवल यह आपको दर्द या जलन बल्कि घावों से मुक्त करता है। इसका नियमित आवेदन भी निशान को हल्का कर सकता है। इसका कारण यह है कि कपूर तेल तंत्रिका को उत्तेजित करता है, जिसके बदले में त्वचा को ठंडक मिलती है। एक कप नारियल के तेल में दो क्यूब्स कपूर मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र पर मिश्रण को लगाएं। जब तक आप कोई अंतर नहीं देखते हैं तब तक इसे लगाते रहें। (और पढ़ें - टूथपेस्ट के उपयोग से ठीक करें जली हुई त्वचा)

कई स्रोतों का दावा है कि यह बालों के झड़ने, रूसी का इलाज करने और अपने बालों को मजबूत करने में मदद कर सकता है। कुछ विशेषज्ञों का दावा है कि नारियल के तेल के साथ कपूर की मालिश करने से स्वस्थ बाल विकास को प्रोत्साहित किया जा सकता है। हालांकि, नारियल के तेल ने बालों के नुकसान को रोकने, रूसी को कम करने और कंडीशनर के रूप में काम करने जैसे लाभों को साबित किया है। (और पढ़ें - बालों से रूसी हटाने के उपाय)

यदि आप अपने जोड़ों और मांसपेशियों के आसपास दर्द का सामना कर रहे हैं, तो इसके लिए कपूर एक इलाज हो सकता है। एक अध्ययन से पता चलता है कि कपूर तेल एक वार्मिंग सेंसेशन पैदा करता है, जिसके परिणामस्वरूप नसों के विचलन (desensitization) होता है, जो आपको दर्द से राहत देता है। ऐंठन के लिए, आपको गर्म तिल के तेल में कपूर को मिक्स करें। और अपने जोड़ों पर इस मरहम से मालिश करें। (और पढ़ें - योग को अपनाएं, जोड़ों में दर्द से राहत पायें)

भरी हुई नाक और जिद्दी खाँसी के लिए आप कपूर का उपयोग करने पर विचार कर सकते हैं। कपूर के सबसे लोकप्रिय लाभों में से एक रूकी हुई छाती और नाक को साफ करने की क्षमता। इसका कारण यह है कि कपूर तेल में एक मजबूत गंध है जो एक भीड़भाड़ वाले श्वसन पथ को खोलती है। स्वीट आयल और कपूर के आवश्यक तेल के बराबर भागों को मिलाकर छाती पर धीरे से रगड़ें। (और पढ़ें - खांसी के लिए घरेलू उपचार)

अगर मच्छरों ने आपके घर पर धावा बोल दिया है तो यह समय कपूर को अपने घर में ले जाने का है। अध्ययन से पता चला है कि यह एक प्राकृतिक मच्छर रिपिलन्ट। यह पारंपरिक रूप से पतंगों (moths) से छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल किया गया है। अपने कमरे के कोने में एक कपूर टैबलेट जलाएं। (और पढ़ें – मच्छर काटने से हो रही खुजली और दर्द का इलाज)

  1. तुलसी के पत्तों के रस में कपूर को मिला कर दो दो बूँद को कान में डाल लें – इससे आपके कान का दर्द दूर होगा।
  2. नींबू के रस में कपूर को मिला कर सिर पर लगाने से सिर का दर्द और भारीपन दूर हो जाएगा। (और पढ़ें - गर्मियों में सिरदर्द और एसिडिटी से बचने के लिए फॉलो करें डाइटीशियन रुजुता दिवेकर के ये पाँच टिप्स)
  3. कपूर, जायफल और हल्दी को बराबर मात्रा में मिला कर उसमें थोड़ा पानी डालें – इस मिश्रण को पेट पर लगायें और आपका दर्द कम हो जाएगा।
  4. पानी से भरी हुई बाल्टी में 10-12 कपूर की टिक्कियों को डाल लें। इसके बाद अपनी एडियों को पानी में 10-15 मिनिट तक रखें। इससे आपकी एडियों की दरार भर जाएगी और पैर मुलायम हो जाएँगे।
  5. कपूर के तेल को दिमाग पर लगाने और सूंघने से दिमागी तनाव दूर हो जाता है।
  1. कपूर तेल त्वचा पर सीधे लगाने के लिए बहुत मजबूत है। इससे त्वचा में जलन हो सकती है। आपको किसी भी वाहक तेल के साथ कपूर तेल को मिक्स करने की ज़रूरत है।
  2. 2 वर्ष से कम उम्र के बच्चों पर कपूर का उपयोग नहीं करना चाहिए। यह उनके लिए बेहद जहरीला है।
  3. गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को कपूर से बचना चाहिए क्योंकि यह उनके लिए और उनके बच्चे के लिए खतरनाक हो सकता है।
  4. कपूर मौखिक रूप से न लें यह अत्यधिक जहरीला होता है।

कपूर के फायदे - Benefits of Camphor in Hindi from myUpchar on Vimeo.


कपूर के अनोखे और अदभुत फ़ायदे सम्बंधित चित्र

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Baidyanath Khadiradi Bati Combo Pack Of 2Baidyanath Khadiradi Bati Combo Pack Of 2124.0
Baidyanath Chandanadi VatiBaidyanath Chandanadi Vati Tablets130.0
Baidyanath Chandraprabha VatiBaidyanath Chandra Prabha Bati110.0
Baidyanath Karpuradi BatiBaidyanath Karpooradi Bati79.0
Divya Arshkalp VatiDivya Arshkalp Vati65.0
Baidyanath Makardhwaja Bati (Kesar Yukta)Baidyanath Makardhwaja Bati (Ay)849.0
Baidyanath Supari PakBaidyanath Supari Pak (Br) Combo Pack Of 2170.0
Baidyanath Irimedadi TelBaidyanath Irimedadi Tel85.0
Baidyanath Dadurin OintmentBaidyanath Dadurin Ointment Combo Pack Of 5120.0
Baidyanath Manmath Ras Manmath Ras By Baidyanath122.0
Baidyanath Nripatiballabh RasBaidyanath Nripatiballabh Ras Tablet74.0
Baidyanath Shringarabhra RasBaidyanath Shringarabhra Ras Combo Pack Of 2156.0
Dabur Lal TailDabur Lal Tail330.0
Himalaya Rumalaya LinimentHimalaya Rumalaya Liniment75.0
Himalaya Herbal KajalHimalaya Herbal Kajal120.0
Dabur Maha NarayanDabur Maha Narayan Tail82.0
Dabur Lal Dant ManjanDabur Lal Dant Manjan Pack Of 2238.0
Himalaya Cold BalmHimalaya Cold Balm125.0
Hamdard Tila AzamHamdard Tila Azam50.0
Baidyanath Godanti MishranBaidyanath Godanti Mishran Combo Pack Of 2130.0
Baidyanath Bangeshwar Ras Brihat (Smy)Baidyanath Bangeshwar Ras Brihat (Smy)320.0
Baidyanath Kasturi Bhairav RasBaidyanath Kasturibhairava Ras (Sma270.0
Baidyanath Mahalaxmi Vilas Ras GoldBaidyanath Mahalakshmivilas Ras With Gold280.0
Baidyanath Makardhwaj Gutika GoldBaidyanath Makardhwaj Gu (Say)313.0
Baidyanath Muktadi BatiBaidyanath Muktadi Bati With Gold and Pearl277.0
Patanjali Body UbtanPatanjali Body Ubtan60.0
Baidyanath Mahabhringaraj OilBaidyanath Mahabhringaraj Oil125.0
Baidyanath BalamritBaidyanath Balamrit Syrup76.0
Baidyanath Swapandosh HariBaidyanath Swapn Doshari Tablet133.0
Baidyanath Bangashwar Ras (Ord.)Baidyanath Swarnaraj Bangeshwar152.0
और पढ़ें ...