myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

जेजूनोस्टोमी एक सर्जरी है, जिसमें छोटी आंत में एक छेद करके ट्यूब डाला जाता है। यह सर्जरी उन व्यक्तियों तक भोजन और पोषण पहुंचाने के लिए की जाती है, जो मुंह से ठीक से खा-पी नहीं पाते हैं। इस सर्जरी की आवश्यकता किसी व्यक्ति को तब होगी जब बहुत अधिक उल्टी आ रही हो, खाते समय दर्द महसूस हो रहा हो या खाना खाने के बावजूद वजन न बढ़ रहा हो। सर्जरी से एक रात पहले आपको कुछ भी खाने या पीने से मना कर दिया जाता है और सर्जरी के बाद भी जब तक डॉक्टर अप्रूव न कर दें कुछ भी खाना या पीना नहीं होता। इसके अलावा डॉक्टर अस्थायी रूप से खून को पतला करने वाली व अन्य दवाएं लेने से भी मना कर देते हैं। सर्जरी के दौरान आपको दर्द महसूस न हो इसके लिए एनेस्थीसिया दिया जाता है।

सर्जरी के बाद सर्जरी वाले हिस्से को सूखा और साफ रखने की जरूरत होती है और साथ ही जेजूनोस्टोमी ट्यूब को भी पानी से फ्लश कर के साफ रखना होता है। यदि आप ट्यूब को फ्लश नहीं कर पा रहे या फिर आपको कमजोरी, दस्त, बुखार जैसे लक्षण दिखाई दें तो डॉक्टर को तुरंत सूचित करें। आपकी स्वास्थ्य स्थिति और रिकवरी के आधार पर डॉक्टर आपको फॉलोअप अपॉइंटमेंट देंगे और ट्यूब को कितने समय तक आपके पेट में रखना है यह भी डॉक्टर ही तय करेंगे।

  1. जेजूनोस्टोमी क्या है - What is Jejunostomy in Hindi
  2. जेजूनोस्टोमी क्यों की जाती है - Why is Jejunostomy done in Hindi
  3. जेजूनोस्टोमी सर्जरी से पहले की तैयारी - Preparations before Jejunostomy Surgery in Hindi
  4. जेजूनोस्टोमी कैसे होती है - How is Jejunostomy done in Hindi
  5. जेजूनोस्टोमी के बाद देखभाल - Jejunostomy Post Surgery Care in Hindi
  6. जेजूनोस्टोमी के खतरे और जटिलताएं - Jejunostomy Risk and Complications in Hindi

जेजूनोस्टोमी सर्जरी में सर्जन छोटी आंत के बीचों-बीच एक जगह होती है जिसे जेजुनम कहते हैं उसमें पेट से होते हुए एक छोटा सा छेद बनाते हैं, जिसे स्टोमा कहा जाता है। इसके बाद एक नरम प्लास्टिक ट्यूब जिसे जेजूनोस्टोमी ट्यूब या जे ट्यूब कहा जाता है को उस छेद के अंदर डालते हैं।

टांकों की मदद से पेट की त्वचा पर बने स्टोमा और ट्यूब को आपस में जोड़ दिया जाता है। यदि आप सात दिन से अधिक समय तक ठीक तरह से कुछ खा-पी नहीं पा रहे हैं, तो यह ट्यूब आपकी पोषण संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ती करने के लिए लगाई जाती है। कभी-कभी जे ट्यूब किसी व्यक्ति को पर्याप्त कैलोरी और आवश्यकतानुसार पोषण देने के लिए अतिरिक्त विकल्प के रूप में भी लगाई जा सकती है।

यदि आपको निम्न में से कोई भी समस्या हो तो डॉक्टर इस सर्जरी को करने की सलाह दे सकते हैं-

सर्जरी से पहले आपको निम्न तैयारी करने की जरूरत होगी-

  • दवाएं
    • आप जो भी दवाएं ले रहे हैं या पहले ले रहे थे उनकी पूरी जानकारी डॉक्टर को दें। इसमें डॉक्टर द्वारा प्रिस्क्राइब की गई, बिना डॉक्टर की सलाह के ली गयी दवाएं, हर्बल दवाएं और सप्लिमेंट्स आदि सभी शामिल हैं
    • सर्जरी से कुछ समय पहले से लेकर सर्जरी के कुछ समय बाद तक डॉक्टर आपको खून को पतला करने वाली दवाएं जैसे वार्फरिन, हेपारिन या क्लोपिडोग्रेल लेने से मना करेंगे
    • अगर आप डायबिटीज या इंसुलिन के लिए दवाइयां लेते हैं तो उसकी डोज में सर्जरी से पहले बदलाव किया जा सकता है
    • आपको सर्जरी के दिन उन सभी दवाओं को अपने साथ लाने को कहा जाएगा जो कि आप ले रहे हैं
       
  • फास्टिंग (भूखे रहना)
    • सर्जरी से एक रात पहले आपको भूखे रहने को कहा जाएगा और सर्जरी के बाद डॉक्टर के निर्देशानुसार आपको भोजन दिया जाएगा
    • सर्जरी से दो घंटे पहले तक आपको पानी पीने की अनुमति होगी
       
  • ड्राइविंग
    • आप अपने साथ किसी दोस्त या रिश्तेदार को लेकर अस्पताल आएं ताकि अस्पताल से डिस्चार्ज होकर आपको खुद से गाड़ी न चलानी पड़े और आप आसानी से घर जा सकें
       
  • जीवनशैली
    • ​यदि आपको किसी भी दवा या एनेस्थीसिया से कोई एलर्जी है, तो इसके बारे में डॉक्टर को बता दें
    • यदि आपके शरीर में कोई उपकरण या डिवाइस पहले से लगा हुआ है तो इसके बारे में भी डॉक्टर को बता दें
    • डॉक्टर आपसे सर्जरी से पहले और बाद में कुछ समय तक जब तक आप रिकवर नहीं हो जाते आपको धूम्रपानशराब का सेवन न करने के लिए कहेंगे
       
  • अनुमति
    • ​डॉक्टर सर्जरी करने के लिए मरीज की अनुमति लेंगे जिसके लिए आपको एक अनुमति पत्र पर हस्ताक्षर करने को कहा जाएगा

जेजूनोस्टोमी सर्जरी इस तरह से की जाती है-

  • आपको सर्जरी से पहले होने वाली सभी औपचारिकताओं को पूरा करना होगा। इसके बाद आपको अस्पताल के कपड़े पहनाए जाएंगे
  • डॉक्टर आपके सांस लेने की दर, हृदय दर और रक्तचाप की जांच करेंगे ताकि यह देखा जा सके कि आप सर्जरी करवाने के लिए स्वस्थ हैं या नहीं
  • आपको नाक के जरिये ऑक्सीजन दी जाएगी
  • आपके दांतों को सुरक्षित रखने के लिए उन पर माउथ गॉर्ड लगाया जाएगा
  • आपको नसों के जरिए एनेस्थीसिया का इंजेक्शन लगाया जाएगा
  • एनेस्थीसिया के प्रभाव के कारण जब आप बेहोश हो जाएंगे उसके बाद डॉक्टर मुंह से होते हुए आपके जेजुनम के अंदर इंडोस्कोप (एक उपकरण जिसके अंतिम सिरे पर कैमरा होता है) डालेंगे ताकि छोटी आंत का परीक्षण किया जा सके
  • इसके बाद पेट से लेकर छोटी आंत में स्थित जेजुनम तक एक चीरा लगाया जाएगा
  • इसके बाद सर्जन फीडिंग ट्यूब को चीरे के अंदर लगाएंगे। इस ट्यूब को टांकों के जरिये पेट की सतह (त्वचा) से सिल दिया जाएगा
  • सर्जन इसके बाद स्टोमा को पट्टी से ढक देंगे और इंडोस्कोप को बाहर निकाल दिया जाएगा

सर्जरी के बाद आपको केयर यूनिट में शिफ्ट कर दिया जाएगा जहां आपकी हृदय की दर, सांस लेने की प्रक्रिया, रक्तचाप और तापमान की निगरानी की जाएगी। अस्पताल से डिस्चार्ज होने से पहले डॉक्टर आपको ट्यूब का प्रयोग करना सिखाएंगे।

घर आने के बाद आपको निम्न बातों का ध्यान रखना होगा-

  • दवाएं और स्वास्थ्य स्थितियां
    • सर्जरी के कुछ दिन बाद तक आपको गले में खराश की समस्या हो सकती है, जो कि अपने आप ठीक हो जाएगी
    • आपको सर्जरी वाली जगह पर एक-दो दिन तक तकलीफ या असामान्य महसूस हो सकता है
    • यदि आपको दर्द महसूस हो रहा है तो डॉक्टर आपको दर्दनिवारक दवाएं दे सकते हैं
       
  • जे ट्यूब के आसपास की त्वचा का ध्यान
    • आपको त्वचा को साफ व सूखा रखना होगा
    • पट्टी या ड्रेसिंग को बदलने से पहले अपने हाथों को साबुन व पानी या सैनिटाइजर से साफ कर लें
    • ट्यूब को बिलकुल न घुमाएं। ऐसा करने से ब्लॉकेज हो सकता है
    • सर्जरी वाली जगह से थोड़ा बहुत पीला या हल्के हरे रंग का डिस्चार्ज निकलना सामान्य है
    • यदि आपको लीकेज महसूस हो तो ट्यूब के पास लगी डिस्क के नीचे एक छोटा कपड़ा लगा दें
       
  • नहाना
    • डॉक्टर आपको सर्जरी के दो दिन बाद नहाने की अनुमति दे सकते हैं
    • सर्जरी के दो हफ्ते बाद तक बाथटब में नहाने या स्विमिंग करने से परहेज करें
    • नहाने से पहले अपनी पुरानी पट्टी को निकाल दें
    • घाव के स्थान को 20 सेकेंड तक साबुन व पानी से धोएं और फिर तौलिये से हल्के से पोछकर साफ कर लें
       
  • पट्टी को बदलना
    पट्टी को बदलते समय निम्न बातों का ध्यान रखें -
    • पुरानी पट्टी या ड्रेसिंग को निकालें
    • सर्जरी के स्थान को आयोडीन स्वैब से दिन में एक बार साफ़ करें
    • जिंक ऑक्साइड ऑइंटमेंट लगाएं और कपड़े या रुई को हल्के हाथ से सर्जरी के स्थान पर रखें
    • ट्यूब को स्थान पर लगा दें और टेप से चिपका दें
       
  • ट्यूब को साफ़ करना
    ट्यूब को साफ़ करने के निर्देश इस तरह से हैं -
    • अपने हाथों को साबुन व पानी से अच्छी तरह से धोएं
    • सीरिंज में 60 मिली तक पानी लें
    • ट्यूब के किनारे पर टिशू पेपर रखें ताकि वह ड्रेनेज को सोख लें
    • ट्यूब को दबा कर बंद करें (क्लैंप के पास बंद रखें) - जेजूनोस्टोमी ट्यूब का क्लैंप द्रव को ट्यूब से बाहर आने से बचाता है
    • ट्यूब के अंतिम सिरे पर सीरिंज लगाएं
    • ट्यूब को खोल कर उसमें सीरिंज से पानी इंजेक्ट करें
    • फिर से ट्यूब को दबा कर बंद कर दें
    • अब सीरिंज को निकाल दें
       
  • भोजन संबंधी आदतें
    • सर्जरी के बाद पांच दिन तक आप कुछ भी मुंह द्वारा खा-पी नहीं सकते हैं। जब आप डिस्चार्ज हो कर घर आएंगे तो आपको खाना मुंह द्वारा व ट्यूब द्वारा भी दिया जाएगा। आपको पहले लिक्विड डाइट लेने को कहा जाएगा और धीरे-धीरे आप ठोस आहार लेना शुरू कर सकते हैं। जब तक आप पूरी तरह से मुंह से खाना शुरू नहीं कर देते हैं तब तक ट्यूब का इस्तेमाल करने को कहा जाएगा
    • ठोस भोजन शुरू करने पर पहले नरम भोजन लें

डॉक्टर के पास कब जाएं?

यदि आपको सर्जरी के बाद निम्न लक्षण महसूस होते हैं तो डॉक्टर के पास जाएं -

जेजूनोस्टोमी के निम्न खतरे हो सकते हैं-

  • संक्रमण
  • ऑर्गन पंक्चर
  • ट्यूब का सही जगह न लगना
  • रक्तस्त्राव
  • इंटससेप्शन (आंत के एक हिस्से का दूसरे हिस्से पर आ जाना या मुड़ जाना जिससे ब्लॉकेज हो सकता है)
और पढ़ें ...

संदर्भ

  1. Goldman L, Schafer AI, eds. Goldman-Cecil Medicine. 25th ed. Philadelphia, PA: Elsevier Saunders; 2016
  2. Smith SF, Duell DJ, Martin BC, Gonzalez L, Aebersold M. Clinical nursing skills: basic to advanced skills. 9th ed. New York, NY: Pearson; 2016. Chapter 16, Nutritional management and enteral intubation.
  3. Children's hospital of Philadelphia [internet]. Philadelphia. PA. US; Jejunostomy Tube (J Tube)
  4. Cardiovascular and Interventional Radiological Society of Europe [Internet]. Austria; Jejunostomy
  5. The Newcastle upon Tyne Hospitals NHS Foundation Trust [Internet]. National Health Service. UK; Before your child’s Jejunostomy Pre-operative Information
  6. Hull University Teaching Hospitals [internet]: NHS Foundation Trust. National Health Service. U.K., Jejunostomy feeding tube
  7. Tapia J, Murguia R, Garcia G, de los Monteros PE, Oñate E. Jejunostomy: techniques, indications, and complications. World J Surg. 1999;23(6):596-602. PMID: 10227930.
  8. Memorial Sloan Kettering Cancer Center. Gerstner Sloan Kettering Graduate School of Biomedical Sciences [internet]. U.S. About the Placement of Your PEG or PEJ Tube for Feeding
  9. Hospital for Special Surgery [internet]. New York. US; Anesthesia frequently asked questions
  10. Fenton JR, Bergeron EJ, Coello M, Welsh RJ, Chmielewski GW. Feeding jejunostomy tubes placed during esophagectomy: are they necessary? Ann Thorac Surg. 2011;92(2):504–12. PMID: 21704294.
  11. University Hospital Birmingham [Internet]. NHS Foundation Trust. National Health Service. UK; Eating after a gastrectomy
  12. Penn Medicine: University of Pennsylvania [internet]. Philadelphia, Pennsylvania, United States; Consent for Percutaneous Feeding Tube Placement (Gastrostomy, Gastrojejunostomy, Jejunostomy)
ऐप पर पढ़ें
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ