myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

संडे हो या मंडे रोज खाओ अंडे, सालों से यह कहावत आप सुन रहे होगें। चिकन और मछली न खाने वाले अधिकतर लोग अंडा खाते हैं। इसका साफ मतलब है कि अंडा खाने में स्वादिष्ट और सेहत के लिए फायदेमंद है इसलिए लोग इससे दूरी नहीं बना पाते हैं।

हालांकि, ज्यादातर लोगों को लगता है कि अंडे के सफेद भाग में अधिक प्रोटीन होता है, जबकि अंडे के पीले भाग में ज्यादा प्रोटीन, अन्य विटामिन और खनिज मौजूद होते हैं। दरअसल, लोगों को यह नहीं पता कि अंडे का कौन सा भाग ज्यादा फायदेमंद है और किस हिस्से का सेवन ज्यादा किया जाना चाहिए।

अंडे का पीला भाग
अंडे के पीले भाग में वसा और कुछ मात्रा में प्रोटीन होता है। अगर आप साइज में बड़ा अंडा खाते हैं तो इससे आपको 55 कैलोरी मिलती है। यही नहीं अंडे के पीले भाग में सफेद भाग की तुलना में विटामिन जैसे कि विटामिन बी6 और विटामिन बी12, फोलिक एसिड, पेंटोथेनिक एसिड, थियामिन ज्यादा होता है। विटामिन ए, विटामिन डी, विटामिन ई और विटामिन K अंडे के पीले भाग में ही होता है।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि जिस विटामिन डी के लिए आपको गर्मी में भी धूप में बैठना पड़ता है, वह अंडे में प्राकृतिक रूप से मौजूद होता है। इसलिए अगर आप अंडे का पीला भाग खाते हैं तो बिना किसी मेहनत के आपको विटामिन डी मिल जाता है। इसके अलावा अंडे के पीले भाग में कैल्शियम, कॉपर, आयरन, मैंगनीज, फास्फोरस, सेलेनियम और जिंक भी अंडे के सफेद भाग से ज्यादा होता है।

(और पढ़ें - सेलेनियम की कमी के कारण)

लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि नियमित पीले भाग का सेवन करना नुकसानदायक नहीं होता है। चूंकि पहले ही बताया गया है कि अंडे के इसी हिस्से में फैट होता है। इस तरह यह कोलेस्ट्रोल को बढ़ावा देने वाला आहार भी है। 

अंडे का सफेद भाग
अंडे का सफेद भाग फैट-फ्री होता है और इसमें कैलोरी भी कम होती है। इसमें लगभग 4 ग्राम प्रोटीन, 55 मिलीग्राम सोडियम और 17 कैलोरी होती है। एक अंडे में 1.3 माइक्रोग्राम फोलेट, 6.6 माइक्रोग्राम सेलेनियम, 2.3 मिलीग्राम कैल्शियम, 3.6 मिलीग्राम मैग्नीशियम, 4.9 मिलीग्राम फास्फोरस और 53.8 मिलीग्राम पोटैशियम होता है।

क्या है ज्यादा फायदेमंद
अंडे का पीला भाग उन लोगों के लिए ज्यादा फायदेमंद है, जिन्हें अपनी बाॅडी बनाने का शौक है। यूनिवर्सिटी ऑफ इलेनॉइस ने एक अध्ययन में पाया कि केवल अंडे का सफेद भाग खाने की तुलना में पूरा अंडा (सफेद और पीला भाग) खाने से 40 फीसदी तक मांसेपशियों में वृद्धि होती है। हालांकि, शोधकर्ता अब तक पूरी तरह सुनिश्चित नहीं कर पाएं हैं कि इसमें अंडे का पीला भाग किस तरह उपयोगी है। लेकिन अंडे के पीले भाग में वसा होती है, इस वजह से यह सेहत को अलग तरह से फायदा पहुंचाता है।

कुल मिलाकर कहने की बात यह है कि अंडा एक सुपर फूड है। आपकी उम्र चाहे जो भी हो, रोजाना एक अंडा आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है। इसमें मौजूद पोषक तत्व स्वास्थ्य के लिए जरूरी होते हैं इसलिए अपनी डाइट में अंडे को जरूर शामिल करें और बेहतर होगा कि आप पूरा अंडा खाएं। 

उम्मीद है कि इस लेख को पढ़ने के बाद आप अंडे के पीले भाग को नजरअंदाज नहीं करेंगे।  

और पढ़ें ...

References

  1. Rehault-Godbert, Sophie. et al. The Golden Egg: Nutritional Value, Bioactivities, and Emerging Benefits for Human Health. Nutrients. 2019 Mar; 11(3): 684. PMID: 30909449
  2. Jones, Peter J.H. et al. Dietary Cholesterol Feeding Suppresses Human Cholesterol Synthesis Measured by Deuterium Incorporation and Urinary Mevalonic Acid Levels. Arteriosclerosis, Thrombosis, and Vascular Biology. 1996;16:1222–1228.
  3. Fernandez, Maria L. Rethinking Dietary Cholesterol. Curr Opin Clin Nutr Metab Care , 15 (2), 117-21. PMID: 22037012
  4. Kuang, Heqian. et al. The Impact of Egg Nutrient Composition and Its Consumption on Cholesterol Homeostasis. Cholesterol. 2018; 2018: 6303810. PMID: 30210871
  5. DiMarco, Diana M. et al. Intake of Up to 3 Eggs Per Day Is Associated With Changes in HDL Function and Increased Plasma Antioxidants in Healthy, Young Adults. J Nutr , 147 (3), 323-329. PMID: 28077734
  6. Griffin, Bruce A. Eggs: Good or Bad?. Proc Nutr Soc , 75 (3), 259-64. PMID: 27126575
ऐप पर पढ़ें