myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

नारियल का तेल हमारे बालों और त्वचा की देखभाल करने के साथ ही हमारी सेहत के लिए भी कई तरह से फायदेमंद है। एलडीएल यानी बैड कोलेस्ट्रॉल को घटाने, वजन कम करने, संक्रमण का इलाज करने के साथ ही अल्जाइमर्स के मरीज के ब्रेन के फंक्शन को बेहतर बनाने में भी मदद करता है। ऐसे में अगर आप भी अपने फेस और स्किन को हेल्दी बनाने के लिए केमिकल वाली क्रीम की जगह नैचरल नुस्खा को अपनाना चाहती हैं तो इसका सीक्रेट आपके किचन में ही मौजूद है और वह है- नारियल का तेल।

रिसर्च में यह बात सामने आयी है कि आपके स्किन को जिस चीज की जरूरत होती है वह सारी चीजें नारियल तेल में मौजूद हैं। नारियल का तेल:

  • इन्फ्लेमेशन यानी सूजन और जलन को कम करता है
  • फ्री रैडिकल्स की वजह से स्किन में होने वाले नुकसान को रोकता है
  • इंफेक्शन रोकने में भी मदद करता है नारियल का तेल
  • चेहरे के संवेदनशील हिस्से जैसे- आंख और होंठ के आसपास के हिस्से के लिए भी सही माना जाता है
  • नैचरल मॉइश्चराइजर है जो स्किन को नमी देने का काम करता है

(और पढ़ें : इस तरह यूज करें नारियल का तेल, खिल उठेगी त्वचा)

एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल तत्वों से भरपूर नारियल का तेल आपकी खूबसूरती बढ़ाने के लिए बेहद उपयोगी माना जाता है। लिहाजा बालों की ही तरह आप चेहरे पर भी सीधे नारियल तेल लगा सकती हैं और यह आपके फेस और स्किन दोनों के लिए फायदेमंद भी रहेगा। इस आर्टिकल में हम आपको बता रहे हैं फेस पर नारियल तेल लगाने के फायदे क्या हैं, क्या इसके कोई नुकसान भी हैं और कौन सा नारियल तेल चेहरे पर लगाना चाहिए।

  1. फेस पर नारियल तेल लगाने के फायदे - Face pe coconut oil lagane ke fayde
  2. फेस के लिए कौन सा नारियल तेल है बेस्ट - Face pe kaun sa coconut oil lagaye?
  3. चेहरे पर नारियल तेल लगाने के नुकसान - Face pe coconut oil lagane ke nuksan

नारियल के तेल में 2 प्रमुख फैटी एसिड पाए जाते हैं- लॉरिक एसिड और मैरिस्टिक एसिड और यह त्वचा को स्वस्थ रखने के साथ-साथ मॉइश्चराइज करने में भी मदद करता है। इसके अलावा भी चेहरे पर नारियल तेल लगाने के कई फायदे हैं:

  1. हानिकारक सूक्ष्मजीवों को मारता है नारियल तेल - Kills harmful microorganism in hindi
  2. मुंहासे (ऐक्ने) का इलाज करता है नारियल तेल - Coconut oil for acne treatment in hindi
  3. ड्राई स्किन को नमी देता है नारियल का तेल - Dry skin ko moisture deta hai
  4. एक्जिमा के इलाज में मददगार है नारियल का तेल - Eczema ka ilaj karta hai coconut oil
  5. स्किन में जलन को दूर करता है नारियल का तेल - Inflammation door karta hai coconut oil
  6. घाव भरने में मदद करता है नारियल का तेल - Coconut oil for wound healing in hini
  7. दाग-धब्बों को दूर करता है नारियल तेल - Coconut oil for dark spots in hindi

हानिकारक सूक्ष्मजीवों को मारता है नारियल तेल - Kills harmful microorganism in hindi

स्किन में बैक्टीरिया या फंगस की वजह से होने वाले कई तरह के संक्रमण जैसे- कील-मुहांसे, सेलुलाइटिस, फॉलिकुलाइटिस, एथलीट फुट आदि से बचाने में मदद करता है नारियल का तेल क्योंकि इसमें एंटीमाइक्रोबियल प्रॉपर्टीज और लॉरिक ऐसिड कॉन्टेंट पाया जाता है। ऐसे में नारियल तेल को सीधे चेहरे या त्वचा पर लगाने से इन हानिकारक सूक्ष्मजीवों को खत्म करने में मदद मिलती है।

मुंहासे (ऐक्ने) का इलाज करता है नारियल तेल - Coconut oil for acne treatment in hindi

कुछ लोगों को ऐसा लगता है कि नारियल तेल स्किन के पोर्स यानी रोमछिद्रों को बंद कर देता है लेकिन रिसर्च में यह बात साबित हो चुकी है कि नारियल तेल मुंहासे यानी ऐक्ने को दूर करने में मदद करता है। नारियल तेल में पाया जाने वाला लॉरिक एसिड, मुंहासों के लिए जिम्मेदार कई तरह के बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है। मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मारने में बेन्जॉयल पेरोक्साइड से भी ज्यादा फायदेमंद लॉरिक ऐसिड है जो नारियल तेल में पाया जाता है। बेहतर नतीजों के लिए चेहरे पर जहां भी मुंहासों हों वहां पर सीधे नारियल का तेल लगा लें।

(और पढ़ें : 15 मिनट में पाएं मुंहासों से छुट्टी)

ड्राई स्किन को नमी देता है नारियल का तेल - Dry skin ko moisture deta hai

नारियल का तेल स्किन को हाइड्रेट यानी नमी देने का भी काम करता है। ड्राई स्किन यानी रूखी त्वचा के मरीजों पर एक स्टडी की गई जिसमें नारियल तेल और पेट्रोलियम से बने एक तरह के मिनरल ऑयल दोनों का ड्राई स्किन पर क्या असर होता है इसकी तुलना की गई। 2 हफ्तों तक की गई इस स्टडी में सामने आया कि नारियल का तेल रूखी त्वचा को जलयोजित करने यानी नमी देने में काफी असरदार साबित हुआ।

(और पढ़ें : अतिरिक्त रूखी त्वचा का इलाज है गुलाब जल)

एक्जिमा के इलाज में मददगार है नारियल का तेल - Eczema ka ilaj karta hai coconut oil

स्किन से जुड़ी एक और समस्या एक्जिमा जिसमें स्किन पर पपड़ीदार और खुजली वाले चकत्ते हो जाते हैं, इसे दूर करने में भी मददगार है नारियल का तेल। 52 वयस्कों पर की गई एक स्टडी में एक्जिमा पर नारियल तेल और जैतून का तेल यानी ऑलिव ऑयल दोनों को लगाने की तुलना की गई। इस स्टडी में नारियल का तेल एक्जिमा का इलाज करने और रुखापन दूर करने में ज्यादा असरदार साबित हुआ। एक्जिमा की गंभीरता को 68 प्रतिशत तक कम करने में मददगार साबित हुआ नारियल का तेल।

(और पढ़ें : एक्जिमा के घरेलू उपाय)

स्किन में जलन को दूर करता है नारियल का तेल - Inflammation door karta hai coconut oil

सोरायसिस यानी छाल रोग, कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस और एक्जिमा जैसी स्किन से जुड़ी बीमारियों में लंबे समय तक इन्फ्लेमेशन यानी सूजन और जलन की समस्या होने लगती है। ऐसे में नारियल का तेल जिसमें एंटीइन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज पाए जाते हैं वह इन्फ्लेमेशन को दूर करने में मदद करता है। ऐसे में अगर नारियल के तेल को सीधे स्किन पर लगाया जाए तो न सिर्फ इन्फ्लेमेशन की समस्या कम हो सकती है बल्कि दर्द भी कम करने में मदद मिलती है।

घाव भरने में मदद करता है नारियल का तेल - Coconut oil for wound healing in hini

कई स्टडीज में यह बात भी साबित हुई है कि घाव को भरने में मदद करता है नारियल का तेल। चूहों पर की गई एक स्टडी में यह बात सामने आयी कि कैसे स्किन पर नारियल तेल लगाने से घाव भरने में मदद मिलती है। घाव पर अगर वर्जिन कोकोनट ऑयल लगाया जाए तो इससे घाव को जल्दी भरने, एंटीऑक्सिडेंट स्टेटस को बेहतर करने और कोलाजन के लेवल को बढ़ाने में मदद मिलती है और ये सभी चीजें घाव को जल्दी ठीक करने में मदद करती हैं।

दाग-धब्बों को दूर करता है नारियल तेल - Coconut oil for dark spots in hindi

नारियल का तेल स्किन की रंगत को हल्का करने के साथ ही चेहरे पर दाग-धब्बे, डार्क स्पॉट और असामान्य स्किन टोन को भी दूर करने में मदद करता है। आप चाहें तो नारियल के तेल में थोड़ा सा नींबू का रस मिलाकर भी इसे चेहरे पर लगा सकती हैं। इससे दाग-धब्बों को दूर करने में ज्यादा मदद मिलेगी।

नारियल का तेल दो तरीके से बनता है- ड्राई यानी सूखा प्रोसेस और वेट यानी गीला प्रोसेस। ड्राई प्रोसेसिंग से रिफाइंड नारियल का तेल बनता है जिसमें न्यूट्रल खुशबू होती है और उसका स्मोक पॉइंट अधिक होता है। वहीं, वेट प्रोसेस से वर्जिन नारियल का तेल बनता है और इसका स्मोक पॉइंट कम होता है। ऐसे में रिफाइंड नारियल का तेल खाना बनाने के लिए बेस्ट माना जाता है लेकिन स्किन के लिए वर्जिन नारियल का तेल ही सबसे सही है।

2009 में जानवरों पर की गई स्टडी में यह बात साबित हुई कि वर्जिन नारियल के तेल में बेहतर एंटीऑक्सिडेंट स्टेटस था जिससे बीमारी पैदा करने वाले फ्री रैडिकल्स को बेअसर करने में मदद मिली।

(और पढ़ें : प्राकृतिक नुस्खा जो कर देगा रिंकल्स को दूर)

चेहरे पर सीधे नारियल का तेल लगाने सभी के लिए फायदेमंद हो ऐसा जरूरी नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि नारियल का तेल कोमेडोजेनिक होता है। इसका मतलब है कि नारियल का तेल आपकी स्किन के पोर्स यानी रोमछिद्रों को बंद करने और उनमें रुकावट पैदा करने का काम करता है जिससे ब्लैक हेड्स, मुंहासे और कई दूसरी समस्याएं हो सकती हैं। कुछ लोगों की स्किन में जहां मुंहासे की समस्या दूर कर स्किन को चमकदार बनाता है नारियल का तेल वहीं दूसरों के लिए नारियल का तेल बेहद हेवी साबित हो सकता है।

जिन लोगों की त्वचा पहले से तैलीय यानी ऑयली है वे अगर चेहरे पर नारियल का तेल लगाएं तो उनके चेहरे पर मुंहासे, ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स होने की समस्या हो सकती है, खासकर तब जब आप नारियल तेल को रातभर चेहरे पर लगा छोड़ दें। इसके अलावा अगर आप लंबे समय से एंटीबायोटिक्स का सेवन कर रहे हों या आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो तो आपको चेहरे पर नारियल का तेल नहीं लगाना चाहिए। नारियल का तेल रोमछिद्रों को बंद कर कई तरह के बैक्टीरिया और फंगस के फैलने का कारण बन सकता है।

(और पढ़ें : ऑयली स्किन की देखभाल)

अगर किसी व्यक्ति को नारियल से एलर्जी हो तो उन्हें भी चेहरे पर नारियल का तेल भी नहीं लगाना चाहिए। कुछ लोग जिन्हें अखरोट या हेजलनट से एलर्जी हो उन्हें नारियल के तेल से भी अतिसंवेदनशीलता महसूस हो सकती है। इसलिए ऐसे लोगों को भी नारियल का तेल चेहरे पर यूज नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें