myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अत्यधिक वजन की वजह से बहुत सी परेशानियां झेलनी पड़ती हैं उनमें से एक है पसंदीदा कपड़े न पहन पाना। कुछ ऐसा ही 28 साल की निहारिका के साथ था, जिन्हें नए-नए कपड़े पहनना बेहद अच्छा लगता था, लेकिन मोटापे की वजह से उन्हें अपने पसंदीदा कपड़े नहीं मिल पाते थे। साथ ही अधिक वजन की वजह से उनके स्वास्थ्य पर भी असर पड़ता था, एक के बाद एक बीमारी उन्हें घेर रही थी। ये सब देखते हुए उन्हें महसूस हुआ कि अब उन्हें अपना वजन कम कर लेना चाहिए।

(और पढ़ें - वजन कम करने के आसान तरीके)

आइए जानते हैं कि निहारिका ने कैसे अपना 32 किलो वजन कम किया:

आपने वजन घटाने का फैसला कब लिया?

मुझे स्टाइलिश कपड़े पहनना बेहद पसंद है, लेकिन जब मेरा वजन काफी ज्यादा हो गया तो मैं हर दुकानदार से सिर्फ एक ही बात सुनती थी कि "मैडम हमारी दूकान में इस साइज के कपड़े नहीं मिल पाएंगे।" बार बार ये जवाब सुनकर मैं बेहद परेशान हो गयी थी, तब मैंने फैसला लिया कि अब बहुत हो गया। अब मुझे अपने पुराने साइज में वापस आना ही होगा। वजन कम करने से न सिर्फ मेरा आत्म-विश्वास बढ़ा है बल्कि मेरी सेहत पहले से अच्छी हो गई है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए डाइट टिप्स)

आप क्या खाती थी?

(और पढ़ें - पेट कम करने के उपाय)

क्या आप वर्कआउट करती थीं?

मांसपेशियों को मजबूत और टोन करने के लिए मैं कार्डियो, पुशअप और स्क्वाट किया करती थी। इसके अलावा, जांघ की चर्बी कम करने के लिए स्क्वाट एक्सरसाइज ने मेरी बेहद मदद की। मेरे रोजाना वर्कआउट में डंबल्स, प्लैंक्स, पहाड़ों पर चढ़ना, जम्पिंग जैक्स और बेटल रोप जैसे व्यायाम शामिल थे।

(और पढ़ें - जाँघों को कम करने के लिए योग)

आप इस दौरान कैसे प्रेरित रहीं?

मैं रोजाना अपनी प्रगति को देख-देखकर प्रेरित होती थी। साथ ही मैं अपनी मौजूदा फोटो को अपनी पहले की फोटो के साथ तुलना करके देखती थी। साथ ही, रोजाना मुझे अपने परिवार और दोस्तों से जो सराहना मिलती थी, वो मेरे लिए सबसे बड़ा प्रेरणा का स्रोत था। एक और बड़ी चीज, वजन कम होने के बाद मैंने अपने पसंदीदा कपड़े पहनना भी शुरू कर दिए थे।

(और पढ़ें - फिट रहने के घरेलू उपाय)

आपने ये कैसे सुनिश्चित किया कि आप कभी अपने लक्ष्य से भटकेंगी नहीं?

फिटनेस मेरे जीवन का एक अभिन्न हिस्सा बन गया है। मैं सुबह 6 बजे व्यायाम किए बिना अपने दिन की शुरुआत करने की कल्पना भी नहीं कर सकती। इसके अलावा, मैं अपनी बॉडी को लेकर काफी ज्यादा कॉन्फिडेंट भी हो गयी हूं, इस तरह मैं फिटनेस के रास्ते पर डटी रहती हूं।

(और पढ़ें - कमर पतली करने के योगासन)

अधिक वजन की वजह से आपके लिए कौन सा हिस्सा सबसे मुश्किल भरा था?

अत्यधिक वजन होने का सबसे मुश्किल भरा हिस्सा तब होता था जब लोग आपके बारें में बातें करते हैं। बल्कि, दुख तब और ज्यादा होता है जब लोग आपको मोटापे को देखने के बाद आपके व्यक्तित्व या स्वभाव के बारें में अंदाजा लगाने लग जाते हैं। मेरे स्कूल के समय, अत्यधिक वजन की वजह से मेरी क्लास के बच्चे मुझसे बात करने में या साथ खेलने में कतराते थे और ये बात मुझे बेहद परेशान करती थी।

(और पढ़ें - मीठे की लत से छुटकारा पाने के तरीके)

आप खुद को कुछ सालों में किस आकार में देखना चाहती हैं?

मुझे अपना वजन अभी और घटाना है और इसे 55 किलो के आसपास करना चाहती हूं। इसके बाद इसी स्तर पर अपना वजन रखने की कोशिश करुंगी।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितना पानी पीएं)

जीवनशैली में बदलाव लाने के लिए आपने क्या क्या किया?

वजन कम करने के लिए मैंने अपनी जीवनशैली में कई बड़े बदलाव किए। सबसे पहले तो अपने चीट डेस को छोड़कर बाकी दिन मैंने केवल स्वस्थ भोजन करना शुरू किया। दूसरा, मेरे लिए वर्कआउट मेरी पहली और सबसे बड़ी प्राथमिकता बन गयी थी।

(और पढ़ें - पाचन शक्ति बढ़ाने के उपाय

आपके लिए सबसे निराशाजनक बात क्या थी?

मेरे लिए सबसे निराशाजनक बात तब थी जब मेरे लाख कोशिश करने के बावजूद मेरा वजन दो महीने से कम नही हो रहा था।

(और पढ़ें - खाने में कितनी कैलोरी होती हैं)

वजन घटाने के बाद आपने क्या सीखा?

मैंने वेट लॉस के दौरान कई बातें सीखी, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण सबक यह था कि सफलता के लिए अटूट समर्पण बेहद जरूरी है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए डाइट टिप्स)

--------------

आशा करते हैं कि आपको निहारिका के बारे में पढ़ कर प्रेरणा मिली होगी। अब आप अपना वजन घटाने का सफर जरूर शुरू करें।

अगर आपके पास भी अपनी या अपने किसी मित्र, परिवार के सदस्य या परिचित की कोई ऐसी ही प्रेरणा देने वाली कहानी है, तो हमसे ज़रूर शेयर करें। आप अपनी कहानी हमें [email protected] पर ईमेल कर सकते हैं।  

और पढ़ें ...