myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अंगूर को जब विशेष रूप से सुखाया जाता है तब उसे मुनक्का कहते हैं। अंगूर के सभी गुण मुनक्का में होते हैं। मुनक्का दो प्रकार का होता है- लाल मुनक्का और काला मुनक्का। मुनक्का खाने से खून बढ़ता है और वायु दोष भी दूर होता है। इसको खाने से रक्त की वृद्धि होती है और वायु, पित्त, कफ दोष दूर होते हैं। चलिए आज हम मुनक्का के बारे में और जानते हैं। ये सूखे मेवे शरीर की ऊर्जा को बढ़ाते हैं। इनमे कैलोरी की मात्रा अधिक होती है इसलिए आमतौर पर पर्वत निवासी और पर्यटक के लिए मुनक्का खाना फायदेमंद रहता है।

(और पढ़ें - अंगूर के फायदे)

 

 

  1. मुनक्का खाने के फायदे - Munakka Khane ke Fayde in Hindi
  2. मुनक्का के नुकसान - Munakka ke Nuksan in Hindi
  3. मुनक्का खाने का सही समय और तरीका - Munakka khane ka sahi samay aur tarika in Hindi
  4. मुनक्के की तासीर - Munakka ki taseer in Hindi

मुनक्का के फायदे हृदय के लिए - Munakka ke fayde Heart ke liye in Hindi

मुनक्का के सेवन से हार्ट की समस्या से भी निजात मिलता है। इस का नियमित सेवन हार्ट अटैक की समस्या को दूर रखने में मदद करता है। अमेरिकी कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी ( American College of Cardiology) को पेश किए गए एक 2012 के अध्ययन के मुताबिक, मुनक्का उच्च रक्तचाप को कम करने में मददकरता हैं। मुनक्के में पोटैशियम की अधिक मात्रा होती है, जो उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करती है और प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले एंटीऑक्सीडेंट को बढ़ाती है। एक गिलास दूध में 8 से 10 मुनक्का उबाल लें। अब इसमें एक चम्मच घी डालकर सुबह शाम पियें। इससे ह्रदय रोगों से आराम मिलता है। 1 मुनक्के में लगभग 1 ग्राम का चौथा भाग भुनी हुई हींग डालकर सुबह पानी के साथ लें। यह दिल में खिंचाव, बोझ, अधिक धड़कन में लाभदायक है।

(और पढ़ें - दिल की बीमारी का इलाज)

 

 

मुनक्का खाने के फायदे कब्ज में - Munakka ka fayda Constipation ke liye in Hindi

मुनक्का पेट में जाने के बाद पानी को सोख लेता है जिस वजह से यह फूल जाता है और कब्ज में राहत देता है। इसके सेवन से पाचन तंत्र में सुधार होता है। मुनाका फाइबर के साथ-साथ एंटी-ऑक्सीडेंट्स और कैल्शियम का एक अच्छा स्रोत है जो स्वाभाविक रूप से कब्ज को नियंत्रित करने में मदद करता है। मुनाका (विशेष रूप से काला मुनक्का) का नियमित सेवन करने से आपको कब्ज़ में राहत मिल सकती है। इसमें मौजूद फाइबर जठरांत्र (gastrointestinal) मार्ग से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं। 10 मुनक्का को सुबह दूध में अच्छे से उबालकर दूध को पी लें। इस का एक हफ्ते तक सेवन करें, आप को कब्ज़ की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।

(और पढ़ें - कब्ज से छुटकारा पाने के उपाय)

मुनक्का के बेनिफिट्स वजन बढ़ाने में - Munakka for Weight gain in Hindi

हर मेवे की तरह मुनक्का भी वजन बढ़ाने में मदद करता है क्योंकि इसमे फ्रुक्टोज़ और ग्लूकोस (fructose aur glucose) पाया जाता है जो हमें एनर्जी प्रदान करता है।

(और पढ़ें - वजन बढाने के तरीके)

अगर आपको अपना वजन बढ़ाना है वो भी बिना कोलेस्ट्रॉल बढ़ाए तो मुनक्का खाना शुरू कर दें।

(और पढ़ें - वजन बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए)

10 मुनक्का 5 छुहारे को सुबह शाम दूध में उबाल कर इस का सेवन करें, आप का वजन बढ़ना शुरू हो जायेगा।

(और पढ़ें - वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट)

मुनक्का का सेवन करे एनीमिया मे - Munakka ke fayde for Anemia in Hindi

मुनक्का में भारी मात्रा मे आयरन पाया जाता है जो एनीमिया से लड़ने की शक्ति रखता है। मुनक्का खून को बनाने के लिए विटामिन बी कॉम्प्लेक्स की ज़रूरत को पूरा करता है। इसके अलावा मुनक्का में भरपूर मात्रा में कॉपर पाया जाता है जो लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में मदद करता है। सोते समय लगभग 10 से 12 मुनक्का को धोकर पानी में भिगो दें। इसके बाद सुबह उठकर मुनक्का के बीजों को निकालकर अच्छी तरह से चबाकर खाने से शरीर में खून बढ़ता है। मुनक्का खाने से खून भी साफ होता है और नाक से खून बहना भी बंद हो जाता है। मुनक्का का सेवन 2 से 4 हफ्ते तक करना चाहिए। 

(और पढ़ें - खून की कमी का कारण)

बुखार में मुनक्का खाने के लाभ - Munakka ke fayde for Fever in Hindi

मुनक्का में मौजूद फिनोलिक पायथोन्यूट्रिएंट (phinolic pythonutrient), जर्मीशिडल और एंटीऑक्सीडेंट (germicidal aur antioxidant) तत्वों की वजह से जाने जाते हैं। यह जीवाणु संक्रमण और वायरल से लड़कर बुखार को जल्दी ठीक करने में मदद करते हैं। रात को 10 मुनक्का और अंजीर को पानी में भिगोकर रख दें। सुबह एक गिलास दूध में इसे उबाल लें। एक हफ्ते तक इस का सेवन करें। बुखार में फायदा मिलेगा। मुनक्के को अदरक के साथ पीसकर 1 घंटे के लिए पानी में भिगो के रख दें, उसके बाद इस मिश्रण को उबालें और इसका सेवन करें। 

(और पढ़ें – बुखार के लक्षण)

मुनक्का खाने से लाभ यौन दुर्बलता में - Munakka ke fayde for Sexual debility in Hindi

यौन दुर्बलता की समस्या होने पर रोजाना मुनक्का खाएं क्योंकि यह कामेच्छा (sex power) को बढ़ाता है। मुनक्का में मौजूद एमिनो एसिड यौन दुर्बलता को दूर करता है। इस लिए तो शादी शुदा लोगों को पहली रात दूध का गिलास दिया जाता है जिसमें मुनक्का और केसर मिला होता है। रोजाना 10 मुनक्का को दूध में उबाल कर सेवन करें, इससे आपकी यौन दुर्बलता दूर हो जाएगी।

(और पढ़ें - यौन शक्ति बढ़ाने के उपाय)

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए मुनक्का खायें - Munakka ke fayde for Bones in Hindi

कैल्शियम का भरपूर स्रोत होने के कारण मुनक्का हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाता है। इसमें बोरान (boran) नामक सूक्ष्म पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो कैल्शियम सोखने और हड्डियों तक कैल्शियम को पहुँचाने में मदद करता है। मुनक्का महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) की समस्या को रोकने में विशेष रूप से सहायक होता है। यह हड्डियों और जोड़ों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। मुनक्के में पोटेशियम की मात्रा अधिक होती है, जो हड्डियों को मजबूत करने में और उनके विकास में मदद करता है, जिससे ऑस्टियोपोरोसिस की संभावना कम हो जाती है। इसलिए आप रोज मुनक्का का उचित मात्रा में सेवन करें।

(और पढ़ें - रजोनिवृत्ति के बाद होने वाला ऑस्टियोपोरोसिस)

मुनक्का के फायदे आँखों के लिए - Munakka ke fayde for Eyes in Hindi

मुनक्का में विटामिन ए, बीटा कैरोटीन होता है जो आँखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक होता है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो आँखों को फ्री रेडिकल्स से लड़ने में मदद करते हैं। मुनक्का को खाने से आँखों की कमज़ोरी, मांसपेशियों की क्षति, मोतियाबिंद आदि नहीं होते हैं। 10 मुनक्का को रात में पानी में भिगोकर रख दें। सुबह उठकर अच्छे से चबा कर खाएं, इस से आप की आँखों की रौशनी तेज़ होने लगेगी।

(और पढ़ें - आँखों की रौशनी तेज करने के घरेलू उपाय)

मुनक्का के लाभ त्वचा पर - Munakka ke fayde for Skin in Hindi

मुनक्का पौष्टिक होता है। यह कम वसा और उच्च ऊर्जा प्रदान करता है। मुनक्का त्वचा को स्वस्थ और सुंदर रखने में मदद करता है। मुनक्का त्वचा की कोशिकाओं की रक्षा करता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स से त्वचा की कोशिकाओं को नुकसान होने से बचाते हैं। काला मुनक्का शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है और त्वचा को साफ और चमकदार बनाये रखता है। मुनक्का में विटामिन ए और ई की मात्रा होती है जो त्वचा की बाहरी परत में नई कोशिकाओं के विकास में मदद करती हैं।

मुनक्का में रेस्वेराट्रोल (resveratrol) पाया जाता है जो त्वचा के स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है। यह रक्त से जहरीले और काले रंग की कोशिकाओं को हटा कर रक्त को शुद्ध करता है और त्वचा को साफ और चमकदार बनाता है। इसलिए आप रोज़ 5 से 10 मुनक्का खाएं।

(और पढ़ें- स्किन केयर टिप्स)

मुनक्का के उपयोग बालों के लिए - Munakka ke fayde for Hair in HIndi

मुनक्का में भारी मात्रा मे आयरन पाया जाता है जो बालों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए आवश्यक है। आयरन की कमी के कारण बाल बेजान और झड़ने शुरू हो जाते हैं। मुनक्का में विटामिन सी बड़ी मात्रा में होता है जो बालों में प्राकृतिक रंग बनाए रखने में मदद करता है। मुनक्के का नियमित रूप से सेवन करना बालों को चमकदार और मोटा बनाने में मदद करता है क्योंकि इसमें विटामिन सी मौजूद होता है जो कोशिका की क्षति को रोकता है। इसकी वजह से स्केलप पर जलन और डैंड्रफ नहीं होते हैं।

(और पढ़ें- बालों की देखभाल के लिए हेयर टिप्स)

मुनक्का के फायदे दांतो के लिए - Munakka ke fayde for Dental care in Hindi

मुनक्के का सेवन करने से आपके दांतों की समस्या भी कम हो सकती है। मुनक्के का एक और बड़ा लाभ यह है कि इसमें एक फाइटोकेमिकल होता है जिसे ओलेनोलिक एसिड (oleanolic acid) कहा जाता है यह सभी प्रकार की दंत समस्याओं के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करता है। यदि आप दाँतों की किसी भी समस्या से परेशान है तो मुनक्का खाने से ये समस्याएं ठीक हो सकती है। मुनक्का मुँह में बैक्टीरिया को खत्म करने का काम करता है।

(और पढ़ें - दांत दर्द का इलाज)

 

मुनक्का का फायदा नींद न आने के लिए - Munakka ka fayda for Insomnia in Hindi

मुनक्के का सेवन करने से इंसोम्निया (नींद न आना) जैसी समस्या भी ठीक हो सकती है। यदि आपको नींद नहीं आती है तो आप मुनक्के का सेवन करें।

(और पढ़ें- अच्छी गहरी नींद आने के उपाए)

मुनक्का के नुकसान इस प्रकार हैं - 

जिस तरह मुनक्का का सेवन हमारे लिए फायदेमंद होता है, उसी तरह इस का अधिक सेवन कर नुकसानदायक हो सकता है। मुनक्का के अधिक सेवन से शरीर में कैलोरी की मात्रा अधिक हो जाती है और आप का वजन ज्यादा बढ़ सकता है जो आपके लिए अनेकों समस्याओं का कारण बन सकता है। मुनक्का में उच्च मात्रा में ट्राइग्लिसराइड्स होता है। मुनक्का के अधिक सेवन से मधुमेह, हृदय रोग, और फैटी लीवर की समस्याएँ हो सकती हैं। मुनक्के का अधिक सेवन करने से आपको उलटी, दस्त और बुखार जैसी समस्या भी हो सकती है।

(और पढ़ें – कैंसर के कारण)

मुनक्के को रातभर पानी में भिगो के रखें और सुबह खली पेट इसका सेवन करें। मुनक्के को पानी में भिगोकर खाना स्वास्थ के लिए लाभदायक माना जाता है। ऐसा करने से आपका पेट साफ़ रहेगा और आपको दस्त जैसी समस्या नहीं होगी। मुनक्के को दूध में भिगोकर भी आप इसका सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़ें - दस्त रोकने के देसी उपाय)

मुनक्के की तासीर गरम होती है। इसलिए इसका सेवन सर्दियों के मौसम में करने की सलाह दी जाती है। मुनक्के का सेवन आप गर्मियों में भी कर सकते हैं पर नियंत्रित मात्रा में ही इसका सेवन करें। इसका अधिक उपयोग करने से आपको दस्त, बुखार आदि जैसी समस्या हो सकती है।

(और पढ़ें - सर्दी के मौसम में क्या खाना चाहिए)

और पढ़ें ...