myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

दाढ़ वे दांत होते हैं, जो खाना चबाने के काम आते हैं। हमारे मुंह में कुल 12 दाढ़ होती हैं जिनका मुख्य कार्य भोजन को चबाना ही होता है। दाढ़ का दर्द नसों संबंधी समस्याओं के कारण उत्पन्न हो सकता है। इसके अलावा बर्फ या किसी अत्यधिक ठंडे पदार्थ खाने या फिर कोई ऐसी चीज खाने से दाढ़ में दर्द होता है, जो मुंह को अधिक उत्तेजित कर सकती है।

दाढ़ और दांत दोनों के ही दर्द को घरेलू उपायों से ठीक किया जा सकता है। आपने भी अपने घर में बड़े -बूढ़ों को ये कहते सुना होगा कि दाढ़ का दर्द होने पर डॉक्टर के पास जाने से पहले घरेलू नुस्खों से इसे ठीक किया जाना चाहिए। वैसे भी भारत में अधिकतर लोग दाढ़ या दांत में दर्द का इलाज घर पर ही घरेलू तरीकों से करना ज्यादा पसंद करते हैं घर में मौजूद कई चीजों से दाढ़ में होने वाले दर्द को ठीक किया जा सकता है।

वैसे तो दाढ़ में दर्द होना कोई गंभीर समस्या नहीं है, क्योंकि यह आमतौर पर अत्यधिक ठंडी चीज खाने पर होता है और कुछ ही सेकेंड के लिए रहता है। अगर दाढ़ का दर्द 15 सेकेंड तक ठीक नहीं हो पाता है, तो यह किसी गंभीर समस्या का संकेत भी हो सकता है। लेकिन आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि हम आपके लिए कुछ घरेलू उपाय लेकर आए हैं, जिनकी मदद से ज्यादातर प्रकार के दाढ़ में दर्द का इलाज किया जा सकता है।

  1. लहसुन है दाढ़ में दर्द का घरेलू उपचार - Lahsun hai Dadh me dard ka gharelu upchar
  2. दाढ़ में दर्द से छुटकारा पाए अजवायन के फूल से - Dadh me dard se chuthkara paye Ajwain ke fulo se
  3. दाढ़ के दर्द से बचने का उपाय है एलोवेरा जैल - Dadh me dard se bachne ka upay hai Aloevera Gel
  4. दाढ़ के दर्द को दूर करने का उपाय है सेब का सिरका - Dadh me dard ko dur karne ka upay hai Seb ka Sirka
  5. दाढ़ दर्द से तुरंत राहत दिलाता है आलू - Dadh me dard se turant rahat dilata hai Aloo
  6. दाढ़ में दर्द का घरेलू उपाय है प्याज - Dadh me dard ka gharelu upay hai pyaj
  7. दाढ़ दर्द कम करने का उपाय है हल्दी - Dadh me dard kam karne ka upay hai Haldi
  8. दाढ़ के दर्द को ठीक करें खीरे से - Dadh me dard ko thik karein Khire se

लहसुन को सदियों से उसके औषधीय गुण के कारण घरेलू उपायों में इस्तेमाल किया जा रहा है। यह न केवल चोट, सूजन, मोच और दर्द आदि को ठीक करने में कारगर है बल्कि लहसुन से दांतों की समस्या भी ठीक की जा सकती है, इसे इस्तेमाल करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें: 

आवश्यक सामग्री

  • लहसुन की 1 गांठ
  • ¼ चम्मच नमक
  • ग्राइंडर

इस्तेमाल का तरीका

  • लहसुन की एक गांठ लें
  • इस गांठ को अलग कर के ग्राइंडर में पीस लें
  • अब इसमें ¼ चम्मच नमक मिलाएं 
  • तैयार हुए पेस्ट को अपनी प्रभावित दाढ़ पर लगाएं 
  • पेस्ट को 15 मिनट तक लगा रहने दें
  • इसके अलावा आप चाहें तो लहसुन को सीधे भी चबा सकते हैं (यह उपाय भी उतना ही प्रभावशाली है)

कैसे काम करता है

लहसुन दर्द को खत्म करने के साथ दांत के मैल को भी खत्म करने में मदद करता है जो कि दाढ़ में दर्द का मुख्य कारण होते हैं। 

कब इस्तेमाल करें

दाढ़ में हल्का दर्द महसूस होने पर इस प्रक्रिया का दिन में 2 बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

अजवायन के फूलों को उसके औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है और यह सीने में होने वाले इंफेक्शन को खत्म करने में बेहद प्रभावशाली होता है जैसे की ब्रोंकाइटिस और काली खांसी। दाढ़ में दर्द को खत्म करने के लिए इसका तेल काम में आता है। इसे इस्तेमाल करने के लिए नीचे दिए गए तरीकों को अपनाएं।

पहला  तरीका

आवश्यक सामग्री

इस्तेमाल का तरीका

  • 1 बूंद अजवायन के तेल को 1 गिलास पानी में अच्छे से मिला लें
  • अब इस मिश्रण से कुल्ला करें

कब इस्तेमाल करें

इस विधि को एक दिन में 3 से 4 बार इस्तेमाल करें जब तक दर्द खत्म ना हो जाए। 

दूसरा तरीका

आवश्यक सामग्री

  • कुछ बूंद अजवायन का तेल
  • ¼ कप पानी
  • थोड़ी सी रूई

इस्तेमाल का तरीका

  • थोड़ी सी रूई लें
  • पहले रूई को अजवायन के तेल में भिगो लें
  • इसके बाद रूई को पानी में भिगोते ही उसे दाढ़ पर हल्के दबाव के साथ लगाए जहां आपको दर्द महसूस हो रहा हो।

कब इस्तेमाल करें 

इस नुस्खे को भी दिन में 3 से 4 बार इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

कैसे काम करता है

अजवायन के तेल में एंटी-सेप्टिक और एंटी-फंगल गुण होते हैं जो दाढ़ के दर्द से राहत पहुंचाने में मदद करते हैं।

एलोवेरा के पौधे की पत्तियों के अंदर एलोवेरा जैल पाया जाता है जिसे कई वर्षों से चोट और जलने की वजह से होने वाले दर्द को ठीक करने के लिए इस्तेमाल में किया जा रहा है लेकिन अब एलोवेरा जैल को घरेलू उपायों में मसूड़ो को साफ और मुलायम बनाए रखने के लिए भी उपयोग में लिया जाने लगा है। इस जैल को इस्तेमाल करने की पूरी विधि नीचे दी गई है।

आवश्यक सामग्री

  • थोड़ा सा एलोवेरा जैल या एलोवेरा पौधे की एक पत्ती
  • 1 चाकू
  • 1 कटोरी 

इस्तेमाल का तरीका

  • अगर आपके पास एलोवेरा जैल पहले से मौजूद है तो थोड़ा सा जैल लें और उसे अपनी उंगली की मदद से उस दाढ़ पर लगाए जहां आपको दर्द महसूस हो रहा हो।
  • यदि आपके पास एलोवेरा जैल उपलब्ध नहीं  है तो आप इसे खुद घर पर भी बना सकते हैं 
  • इसके लिए एक एलोवेरा पौधे की पत्ती लें 
  • अब पत्ती को चाकू की मदद से दो हिस्सों में काट कर इसके अंदर मौजूद जैल को एक कटोरी में निकाल लें।
  • इसे फ्रिज में ठंडा होने के लिए रख दें 
  • ठंडा होने के बाद इस जैल को उंगली की मदद से दर्द करने वाली दाढ़ पर लगाएं 
  • अब धीरे से मसाज करें

कैसे काम करता है 

कुछ अध्ययनों के अनुसार एलोवेरा जैल में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो कीटाणुओं को नष्ट करके दांत व दाढ़ में होने वाली सड़न को रोकते हैं।

कब इस्तेमाल करें 

जब तक दर्द पूरी तरह से ठीक ना हो जाए, इस उपचार प्रक्रिया को किया जा सकता है।

कुछ वर्षो में सेब का सिरका काफी लोकप्रिय हो गया है। इसे एक औषधि के साथ-साथ घर में खाना पकाने के काम में भी लाया जाता है। सेब का सिरका बाल झड़ने, शुगर को कम करने, वेट लॉस, सूजन, मोच और दर्द आदि के अलावा दाढ़ के दर्द को कम करने के भी काम आता है। इसे इस्तेमाल करना बेहद आसान है।

आवश्यक सामग्री

  • 1 चम्मच सेब का सिरका
  • थोड़ी सी रूई

इस्तेमाल का तरीका

  • रूई को सेब के सिरके में भिगो लें
  • इसके बाद रूई को हल्के दबाव के साथ दाढ़ पर लगाएं
  • इस प्रक्रिया को तब तक दोहराए जब तक दर्द पूरी तरह से खत्म ना हो जाए
  • इसके अलावा आप सेब के सिरके के साथ नींबू, पुदीना, दालचीनी और शहद का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे काम करता है

सेब के सिरके में एंटी-इंफ्लेमेटरी (सूजन व जलन को कम करने वाले) और एंटी-सेप्टिक (रोगाणुरोधक) गुण होने के साथ यह एसिडिक भी होता है जिस कारण यह दाढ़ में मौजूद कीटाणुओं को नष्ट करने में कारगर साबित होता है।

कब इस्तेमाल करें 

इस उपाय को रोजाना 1 बार इस्तेमाल करें जब तक दाढ़ का दर्द चला नहीं जाता।

आलू को दाढ़ में दर्द के साथ-साथ अन्य कई समस्याओं के घरेलू उपाय के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। आलू में द्रव सोखने के गुण पाए जाते हैं, जिसकी मदद से यह मुंह में जमा हो रही अत्यधिक लार को कम कर देता है और परिणामस्वरूप दाढ़ में दर्द व सूजन कम हो जाती है। आइये जानते हैं इस उपाय को करने की विधि:

आवश्यक सामग्री 

  • 1 छोटा आलू 
  • 1 चाकू 
  • ग्राइंडर
  • ¼ चम्मच नमक

इस्तेमाल का तरीका

  • कच्चे आलू की चाकू की मदद से 1 स्लाइस काट लें
  • कटी आलू को प्रभावित दाढ़ पर कुछ घंटों या एक रात के लिए लगा रहने दें
  • इसके बाद जब आप आलू की स्लाइस को हटाएंगें तो महसूस करेंगे कि दाढ़ में दर्द और सूजन कम हो चुकी है
  • आप चाहें तो आलू को ग्राइंडर में पीस कर उसका पेस्ट भी बना सकते हैं 
  • पीसे हुए आलू के पेस्ट में ¼ चम्मच नमक डाल लें 
  • अब उंगली की मदद से इस पेस्ट को अपनी प्रभावित दाढ़ पर लगाएं और ऊपर बताए गए समय तक लगा रहने दें।

इस प्रक्रिया के पूरे होने पर आप देखेंगे कि सूजन काफी हद तक कम हो चुकी है। 

कब इस्तेमाल करें 

इस उपाय को 1 हफ्ते तक इस्तेमाल करें जब तक दाढ़ में दर्द के लक्षण पूरी तरह से खत्म ना हो जाएं।

प्याज एक ऐसी सब्जी है जिससे दाढ़ में होने वाले दर्द को ठीक किया जा सकता है। आपने अभी तक प्याज को सिर्फ खाने में ही इस्तेमाल किया होगा लेकिन आज हम आपको इसका एक औषधि की तरह इस्तेमाल का तरीका बताने वाले हैं।

आवश्यक सामग्री

  • 1 कच्चा प्याज
  • 1 चाकू

इस्तेमाल का तरीका

  • प्याज का भी ऊपर दिए गए उपायों की ही तरह का इस्तेमाल किया जाता है
  • एक कच्चा प्याज लें और चाकू की मदद से उसकी एक स्लाइस काट लें
  • कटी हुई स्लाइस को अपने दर्द से प्रभावित दाढ़ पर लगाएं
  • उसे कुछ मिनट के लिए रख दें
  • इसके अलावा आप चाहें तो प्याज के एक छोटे हिस्से को सीधे चबा भी सकते हैं, प्याज के रस छोड़ते ही आपको दर्द से आराम मिलेगा

कैसे काम करता है

प्याज में विटामिन सी, सल्फ्यूरिक यौगिक, फ्लैवोनोइड्स और फाइटोकेमिकल्स (पौधों से प्राप्त रसायन) होते हैं, जो कि जलन और दर्द को कम करने में मदद करते हैं। 

कब इस्तेमाल करें

इस प्रक्रिया को दिन में कम से कम 2 बार इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

हल्दी को इसके एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों के कारण कई घरेलू उपायों में इस्तेमाल किया जाता है। हल्दी हम सभी के किचन में आसानी से मिल जाती है और इसे घरेलू उपचार में इस्तेमाल करना भी बेहद आसान होता है। 

आवश्यक सामग्री 

  • ½ चम्मच हल्दी 
  • 1 कप पानी 

इस्तेमाल का तरीका

  • एक चम्मच हल्दी को आधा कप पानी में मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें 
  • इस पेस्ट को अपनी उस दाढ़ पर लगाएं जहां आपको दर्द हो रहा है
  • हल्दी और पानी के इस मिश्रण को 10 मिनट तक लगा रहने दें 
  • जरूरत पड़ने पर इस प्रक्रिया को फिर से दोहराएं 

कैसे काम करता है

हल्दी में एंटी-सेप्टिक और एंटी-बैक्टीरियल (बैक्टीरिया को मारने वाले) गुण होते हैं, जो कीटाणुओं को खत्म करने में मदद करते हैं जिससे हमारे दाढ़ का दर्द भी कम हो जाता है। 

कब इस्तेमाल करें

इस प्रक्रिया को लगभग एक सप्ताह तक या जब तक आपकी दाढ़ का दर्द रहता है, तब तक इस्तेमाल किया जा सकता है।

आपने सुना होगा कि खीरा खाने के अलावा आंखों के नीचे काले घेरे के घरेलू उपायों में भी इस्तेमाल किया जाता है लेकिन क्या कभी आपने इसे दाढ़ या दांत के दर्द के लिए इस्तेमाल किया है? अगर नहीं, तो आज हम आपको खीरे की मदद से दाढ़ के दर्द को ठीक करने का घरेलू नुस्खा बताएंगे।

आवश्यक सामग्री

  • खीरे की 1 स्लाइस

इस्तेमाल का तरीका 

  • अन्य उपायों की ही तरह खीरे की स्लाइस को अपनी प्रभावित दाढ़ के ऊपर कुछ समय के लिए रख दें। 
  • इसके अलावा चाहें तो खीरे को पीस कर उसका पेस्ट भी बना सकते हैं
  • तैयार किए गए पेस्ट को प्रभावित हिस्से पर 15 मिनट के लिए लगा कर छोड़ दें

कब इस्तेमाल करें

इस उपाय को एक हफ्ते तक रोजाना दिन में एक बार इस्तेमाल करें।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें