चेहरे पे तिल हानिरहित होते हैं और इनसे आपके शरीर पर कोई गलत प्रभाव नहीं पड़ता। इसका चिकित्सीय नाम मेलनोसिटिक नेवी (melanocytic nevi) है।

तिल काले, भूरे या फिर त्वचा पर धब्बों की तरह दिखते हैं। मेलानोसाइट्स के इकट्ठा होने की वजह से त्वचा पर तिल दिखाई देने लगते हैं। मेलानोसाइट्स ऐसी कोशिकाएं हैं जो मेलानिन नाम के रंगद्रव्य (pigment) को बनाती हैं।

(और पढ़ें - तिल के फायदे)

ज़्यादातर तिल 20 से 30 साल की उम्र में दिखाई देते हैं। तिल छोटे या बड़े, कठोर या मुलायम, बाल या बालों के साथ दिखते हैं। तिल निकलने के कई कारण होते हैं जैसे अनुवांशिक, हॉर्मोन में उतार चढ़ाव और त्वचा पर सूरज का प्रभाव आदि।

उम्र के अनुसार कुछ तिल अपने आप गायब हो जाते हैं। लेकिन शरीर के सारे तिल खुद बा खुद चले जाएँ ऐसा बिल्कुल नहीं होता। कुछ घरेलू उपायों की मदद से आप अपने बदसूरत तिल से छुटकारा पा सकते हैं। लेकिन इन उपायों को आजमाने से पहले ये जानना ज़रूरी है कि आपका तिल किस तरह का है जैसे उसका आकार कितना बड़ा है, कौनसे रंग का है आदि। 

(और पढ़ें - त्वचा की देखभाल कैसे करें)

अगर बिना किसी इलाज के आपको अपने तिल में किसी भी तरह का कोई बदलाव दिखे जैसे आकार या रंग में तो अपने डर्मेटोलॉजिस्ट से ज़रूर जांच करवाएं। ये कैंसर का लक्षण भी हो सकता है।

तो आइये आपको बताते हैं तिल हटाने के घरेलू उपाय, नुस्खे और तरीके –

  1. तिल हटाने का तरीका हैं लहसुन - Garlic remedy for moles in Hindi
  2. सेब का सिरके है तिल दूर करने का घरेलू उपाय - Apple cider vinegar good for moles in Hindi
  3. चेहरे के तिल हटाने का घरेलू उपाय है अरंडी का तेल - Castor oil benefits for moles in Hindi
  4. शरीर से तिल हटाने के उपाय में करें अलसी के तेल का उपयोग - Benefits for flaxseed oil for moles in Hindi
  5. तिल से छुटकारा पाने के लिए करें आयोडीन का इस्तेमाल - Iodine treatment for moles in Hindi
  6. अनानास का जूस है तिल हटाने के घरेलू नुस्खे - Pineapple Juice for moles in Hindi
  7. तिल हटाने के नुस्खे में करें चकोतरा के बीज का उपयोग - Grapefruit seed extract helps get rid of moles in Hindi
  8. प्याज का जूस है चेहरे के तिल हटाने का तरीका - Onion juice removes moles in Hindi
  9. चेहरे के तिल हटाने के उपाय में है फ्रेंकइन्सेंस तेल उपयोगी - Frankincense oil reduces moles in Hindi
  10. एलो वेरा है सर्जरी के बिना तिल को हटाने का घरेलू उपाय - Aloe Vera treats mole in Hindi

सामग्री –

  1. एक लहसुन की फांके। (और पढ़ें - लहसुन के गुण)
  2. कॉटन का कपडा।

विधि –

  1. सबसे पहले लहसुन की फांकों को पीसकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
  2. अब इस पेस्ट को तिल पर लगाएं और फिर उसपर कॉटन का कपड़ा बांध दें। 
  3. फिर इसे ऐसे ही रातभर के लिए बंधा हुआ रहने दें।

(और पढ़ें - मस्से की दवा)

लहसुन का इस्तेमाल कब तक करें –

अच्छा परिणाम पाने के लिए इस उपाय को पूरे दिन में कई बार करें और हफ्ते में तीन बार ज़रूर दोहराएं।

लहसुन के फायदे –

लहसुन का रोज़ाना इस्तेमाल करने से आपको बहुत तेज़ी से परिणाम मिलेगा। लहसुन के पेस्ट से तिल पर पहले पपड़ी बनेगी फिर धीरे धीरे इसका आकार कम होता जाएगा और अंत में तिल गायब हो जाएगा।

सावधानी –

अपने हाथों से पपड़ी को न छुटायें।

(और पढ़ें - मस्से हटाने के घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. सेब का सिरका। (और पढ़ें - सेब के सिरके के लाभ)
  2. रूई।
  3. बैंड एड या फिर टेप। 

विधि –

  1. सबसे पहले रूई को सिरके में डाल दें और फिर इसे अपने तिल पर लगा लें।
  2. फिर रूई को रोकने के लिए टेप का इस्तेमाल करें या फिर बैंड एड का।
  3. इसे 5-6 घंटे तक ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।

(और पढ़ें - मुंहासे की दवा)

सेब के सिरके का इस्तेमाल कब तक करें –

उस क्षेत्र को साफ़ कर लें और फिर से सेब के सिरके को तिल पर लगाएं तब तक जब तक उसपर पपड़ी न बनने लगे।

सेब के सिरके के फायदे –

सेब के सिरके में मौजूद एसिड तिल को ड्राई कर देता है और फिर धीरे धीरे उसपर पपड़ी जमने लगती है और अंत में वो गायब हो जाता है।

(और पढ़ें - पिम्पल्स हटाने के उपाय

सामग्री –

  1. दो से तीन बूँदें अरंडी के तेल की। (और पढ़ें - अरंडी के तेल के लाभ)
  2. एक या दो चम्मच बेकिंग सोडा।
  3. बैंड एड या फिर टेप।

विधि –

  1. सबसे पहले बेकिंग सोडा में तेल डालकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
  2. अब इस पेस्ट को अपने तिल पर लगाएं।
  3. फिर तिल को बैंड एड से ढक लें और रातभर के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।

अरंडी के तेल का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को रोज़ रात को दोहराएं।

अरंडी के तेल के फायदे –

अरंडी का तेल और बेकिंग सोडा तिल को प्राकृतिक तरीके से हटाने में मदद करते हैं। बेकिंग सोडा तिल को ड्राई कर देता है जबकि अरंडी का तेल तिल का इलाज करता है। इनके इस्तेमाल से तिल के हट जाने के बाद कोई दाग धब्बे नहीं रह जाते। 

सावधानी –

इस उपाय से आपकी त्वचा पर सूजन आ सकती है। अगर इस तरह सूजन और लालिमा आपको दिखती है तो घबराये नहीं क्योंकि ये समय पर अपने आप चली जाएगी।

(और पढ़ें - गोरी त्वचा के लिए घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. दो से तीन बूँदें अलसी के तेल की। (और पढ़ें - अलसी के तेल के फायदे)
  2. दो से तीन बूँद शहद की।

विधि –

  1. सबसे पहले इन दोनों सामग्रियों को एक साथ मिला लें अब इन्हे तिल पर लगा लें।
  2. फिर इन्हे एक घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  3. अब अपनी त्वचा को पानी से धो लें।

अलसी के तेल का इस्तेमाल कब तक करें –

इस मिश्रण को पूरे दिन में दो बार ज़रूर लगाएं।

अलसी के तेल के फायदे –

अलसी के तेल का इस्तेमाल त्वचा पर दाग धब्बों और झाइयों को सुधारने के लिए किया जाता है। य तिल के लिए समान कार्य करता है। इस तेल में फैटी एसिड होता है जो घाव का इलाज करने में मदद करता है।

(और पढ़ें - ब्लैक हेड्स हटाने के घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. आयोडीन। (और पढ़ें - आयोडीन के स्रोत और फायदे)
  2. पेट्रोलियम जेली।

विधि –

  1. सबसे पहले तिल के आसपास की त्वचा पर ज़्यादा से ज़्यादा पेट्रोलियम जेली लगा लें जिससे वो त्वचा प्रभावित न हो।
  2. अब आयोडीन की बूंदों को सीधा तिल पर डाल लें।

नमक का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को पूरे दिन में दो बार दोहराएं और तब तक जब तक तिल गायब न हो जाए।

नमक के फायदे –

आयोडीन तिल से छुटकारा पाने के लिए बहुत ही प्रभावी सामग्री है। इसके रोज़ाना इस्तेमाल करने से तिल का आकार कम होने लगेगा।

सावधानी –

अगर आपको आयोडीन का इस्तेमाल करते समय जलन महसूस हो तो उसका इस्तेमाल फिर से न करें।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए घरेलू नुस्खे)

सामग्री –

  1. अनानास का छोटा टुकड़ा। (और पढ़ें - अनानास के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले अनानास का छोटा टुकड़ा लें और अब इसे कुछ मिनट तक तिल पर लगाएं।
  2. तिल पर लगे जूस को कुछ मिनट तक ऐसे ही लगे रहने दें और फिर पानी से त्वचा को धो लें।

अनानास का जूस का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को पूरे दिन में कई बार दोहराएं।

अनानास का जूस के फायदे –

अनानास में उच्च मात्रा में साइट्रिक एसिड होता है जो तिल को गला देता है। रोज़ाना इसका इस्तेमाल करने से तिल का प्रभाव कम हो जाएगा और फिर अंत में ये गायब हो जाएगा।

(और पढ़ें - चेहरे पर चमक लाने के उपाय)

सामग्री –

  1. एक से दो बूँद चकोतरा बीज का जूस। (और पढ़ें - चकोतरा के लाभ)
  2. बैंडेज।

विधि –

  1. अब इस जूस को तिल पर सीधा लगाएं और फिर इसे बैंड एड से ढक लें।
  2. कुछ घंटे बाद बैंड एड को हटा दें।

चकोतरा के बीज का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को पूरे दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

चकोतरा के बीज के फायदे –

चकोतरा के बीज के जूस में एस्ट्रिजेंट होते हैं और साथ ही इसमें एंटीऑक्सीडेंट भी होते हैं जैसे विटामिन ई। इसकी एस्ट्रिजेंट गुण तिल को अंत में गिरा देते हैं और एंटीऑक्सीडेंट गुण त्वचा का इलाज करते हैं।

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. एक चौथाई प्याज। (और पढ़ें - प्याज के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले प्याज को घिस लें और फिर उसका जूस निकाल ले।
  2. अब इस जूस को तिल पर लगाएं और फिर कुछ घंटे के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  3. फिर त्वचा को पानी से धो लें।

प्याज के जूस का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को पूरे दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

प्याज के जूस के फायदे –

प्याज का जूस एक बेहतरीन और दर्दरहित घरेलू उपाय है जो तिल को हटाने में मदद करता है। इसमें मौजूद प्राकृतिक एसिड कुछ ही दिनों में तिल को गिरा देता है।

(और पढ़ें - झुर्रियों के लिए घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. एक से दो बूँद फ्रेंकइन्सेंस तेल।

विधि –

  1. अब इस तेल को तिल पर लगाएं और ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।

फ्रेंकइन्सेंस तेल का इस्तेमाल कब तक करें –

इस तेल को पूरे दिन में तीन से चार बार ज़रूर लगाएं।

फ्रेंकइन्सेंस तेल के फायदे –

इसमें मौजूद एस्ट्रिजेंट गुण तिल के आसपास की त्वचा को टाइट कर देते हैं और तेल अवशोषित होने के बाद तिल ड्राई हो जाता है। इस तरह इस पर पपड़ी बनने लगती है और अंत में ये गिर जाता है।

(और पढ़ें - स्ट्रेच मार्क्स हटाने के घरेलू नुस्खे)

सामग्री –

  1. ताज़ा एलो वेरा जेल। (और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे)
  2. बैंड एड।

विधि –

  1. सबसे पहले उस क्षेत्र को साफ़ कर लें और फिर तिल पर एलो वेरा जेल लगा लें।
  2. अब उस क्षेत्र को बैंड एड से दो से तीन घंटे के लिए ढक दें।

एलो वेरा का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को पूरे दिन में दो बार दोहराएं।

एलो वेरा के फायदे –

एलो वेरा में आराम देने और इलाज करने के गुण मौजूद होते हैं। इसमें टेनिन्स, एन्ज़ाइम्स, विटामिन और खनिज होते हैं जो त्वचा का प्राकृतिक तरीके से इलाज करते हैं। ये उपाय तिल को धीरे धीरे हटाएगा इसलिए अच्छा परिणाम पाने के लिए थोड़ा धैर्य रखें।

(और पढ़ें - आंखों के काले घेरे हटाने के उपाय)

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ