जीभ पर दाग - Tongue Spots in Hindi

Dr. Rajalakshmi VK (AIIMS)MBBS

August 10, 2022

August 10, 2022

जीभ पर दाग
जीभ पर दाग

मुंह या जीभ पर छाले अक्सर लोगों को परेशान करते हैं, लेकिन कुछ लोगों को जीभ पर होने वाले दाग या धब्बों से परेशान होना पड़ता है. आमतौर पर जीभ पर दाग होना चिंता का विषय नहीं होता और ये बिना इलाज के ठीक हो सकता है, लेकिन कई बार जीभ के दाग किसी गंभीर बीमारी का संकेत भी हो सकते हैं. ऐसे में तुरंत इलाज की जरूरत पड़ सकती है. इसका इलाज समस्या के कारणों पर निर्भर करता है. 

आज इस लेख में आप जीभ पर होने वाले दाग के कारणों, जांच और बचाव के बारे में विस्तार से जानेंगे -

(और पढ़ें - काली जीभ का इलाज)

जीभ पर दाग के कारण - Tongue Spots Causes in Hindi

जीभ पर दाग या धब्बे पड़ना आम है. इसके पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं -

काले दाग

इसमें जीभ पर काले व भूरे रंग के पैच दिखाई दे सकते हैं. पहले ये दाग छोटा हो सकता है, जो धीरे-धीरे बढ़ सकता है. यह समस्या डेड स्किन सेल्स की वजह से हो सकती है. जो लोग तंबाकू का सेवन करते हैं, उनमें यह अधिक देखने को मिल सकता है. यह समस्या उम्र बढ़ने के साथ अधिक हो सकती है. महिलाओं की तुलना में पुरुषों में यह समस्या अधिक देखने को मिलती है. इस समस्या को ठीक करने के लिए जीभ पर टूथब्रश का इस्तेमाल करें. जीभ पर टूथब्रश रगड़ने से डेड स्किन सेल्स रिमूव हो सकती है.

(और पढ़ें - जीभ में सूजन का इलाज)

ज्योग्राफिक टंग

ज्योग्राफिक टंग पर किनारे या ऊपर की तरफ से लाल धब्बे दिखाई दे सकते हैं. ये दाग या धब्बे अपना स्थान और आकार बदल सकते हैं, लेकिन ये हानि रहित होते हैं और कुछ दिनों में साफ हो जाते हैं. ज्योग्राफिक जीभ को ठीक होने में सप्ताह या महीना लग सकता है. इतना ही नहीं कुछ मामलों में यह कई वर्षों तक चल सकता है. इस स्थिति में आपको दर्द या जलन महसूस हो सकती है. ऐसे में आपको मसालेदार, नमकीन, गर्म और एसिडिक खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए.

(और पढ़ें - ल्यूकोप्लाकिया का घरेलू उपचार)

ल्यूकोप्लाकिया

ल्यूकोप्लाकिया की स्थिति में जीभ पर सफेद या भूरे दाग बन सकते हैं. यह समस्या अधिक धूम्रपान या तंबाकू चबाने से हो सकती है. आमतौर पर ल्यूकोप्लाकिया गंभीर नहीं होते, लेकिन कई बार ल्यूकोप्लाकिया कैंसर कोशिकाएं भी हो सकती हैं. इस स्थिति में डॉक्टर बायोप्सी की सलाह दे सकते हैं. इसके लक्षण मसूड़ों और गालों पर भी दिखाई दे सकते हैं.

(और पढ़ें - ग्लोसेक्टोमी का इलाज)

लाई बम्प्स

लाई बम्प्स की वजह से भी जीभ पर दाग दिखाई दे सकते हैं. इस स्थिति में जीभ पर छोटे सफेद या लाल दाग दिखाई दे सकते हैं. इसमें जीभ पर एक या अधिक दाग हो सकते हैं. लाई बम्प्स दर्दनाक हो सकते हैं. इनमें खुजली और जलन भी महसूस हो सकती है. इस समस्या का कोई ज्ञात कारण नहीं है. इसे उपचार की जरूरत भी नहीं पड़ती है, लाई बम्प्स कुछ दिनों में अपने आप साफ हो सकते हैं.

(और पढ़ें - मुंह में स्वाद न आने का इलाज)

थ्रश

थ्रश एक फंगल इंफेक्शन है, जो मुंह और गले में हो सकता है. इस स्थिति में जीभ पर दाग नजर आ सकते हैं. कभी-कभी लाल घाव और पैच भी दिखाई दे सकते हैं. शिशुओं और बुजुर्गों में थ्रश होने की आशंका अधिक होती है. साथ ही जिन लोगों की इम्यूनिटी कमजोर होती है या जो दवाई ले रहे हैं, उन्हें भी थ्रश हो सकता है.

(और पढ़ें - मुंह के छाले का इलाज)

अल्सर

जीभ पर छाले भी दाग का कारण बन सकते हैं. जीभ पर छाले कई कारणों से हो सकते हैं. इनमें शामिल हैं-

जीभ का कैंसर

जीभ का कैंसर आमतौर पर अल्सर की तरह दिखाई देता है, जो ठीक नहीं होता है. कैंसर जीभ के किसी भी हिस्से को प्रभावित कर सकता है. जीभ के इस हिस्से को छूने से खून निकल सकता है. इस स्थिति में जीभ में दर्द, निगलने में परेशानी व गर्दन में गांठ बनना आदि लक्षण महसूस हो सकते हैं. अगर जीभ के कैंसर के लक्षण नजर आए, तो बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें.

(और पढ़ें - टॉन्सिल स्टोन का इलाज)

किसकी जीभ पर दाग हो सकते हैं? - Who can have Tongue Spots in Hindi?

वैसे तो जीभ पर दाग किसी को भी पड़ सकते हैं. ये दाग हानिकारक नहीं होते हैं और कुछ दिनों में ठीक हो सकते हैं. आमतौर पर इन लोगों के जीभ पर दाग पड़ सकते हैं -

  • जो लोग तंबाकू का सेवन करते हैं.
  • जो शराब पीते हैं.
  • कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों में.
  • जीभ के कैंसर से ग्रस्त लोगों में.

(और पढ़ें - दांत के मैल का इलाज)

जीभ पर दाग की जांच- Diagnosis of Tongue Spots in Hindi

जीभ और मुंह में दाग होने पर डॉक्टर इसके कारण का पता लगाने के लिए जांच कर सकते हैं. इसलिए, अगर किसी की जीभ पर कुछ हफ्तों से दाग हो रहे हैं और इसका कारण पता नहीं चल पा रहा है, तो इस स्थिति में अपने डॉक्टर से संपर्क करें. डॉक्टर लक्षणों और स्थिति की जांच करके जीभ पर होने वाले धब्बों या दाग के कारणों का पता लगा सकते हैं.

  • डॉक्टर मुंह, गर्दन या गले में दर्द या गांठ की जांच कर सकते हैं.
  • धूम्रपान, तंबाकू और शराब पीते हैं या नहीं, इस बारे में पूछ सकते हैं.
  • कैंसर की जांच के लिए पारिवारिक इतिहास के बारे में जान सकते हैं.

अगर डॉक्टर को जीभ के दाग कैंसर लगता है, तो इस स्थिति में इमेजिंग टेस्ट की जरूरत पड़ सकती है. ऐसे में डॉक्टर एक्स-रेपॉजिट्रॉन एमिशन टोमोग्राफी (पीईटी) स्कैन करवाने की सलाह दे सकते हैं. इसके अलावा, डॉक्टर कैंसर की जांच करने के लिए बायोप्सी भी करवा सकते हैं.

(और पढ़ें - मुंह में जलन के घरेलू उपाय)

जीभ पर दाग का बचाव - Tongue Spots Treatment in Hindi

किसी भी कारण से जीभ पर बने दाग या धब्बों को पूरी तरह से रोका नहीं किया जा सकता है, लेकिन कुछ बचाव टिप्स को फॉलो करके इसके जोखिम को कम किया जा सकता है. जीभ पर दाग से बचने के लिए इन उपायों को अपनाएं -

  • धूम्रपान बिल्कुल न करें.
  • तंबाकू का सेवन करने से बचें.
  • शराब पीने से बचना चाहिए.
  • रोजाना ब्रश और जीभ की सफाई करें.
  • जीभ पर हल्के हाथों से ब्रश रगड़ें.
  • जीभ और मुंह में किसी भी तरह का असामान्य लक्षण नजर आने पर तुरंत डॉक्टर को रिपोर्ट करें.
  • अगर पहले भी जीभ पर दाग या धब्बे की समस्या रही है, तो अपने डॉक्टर से स्पेशल ओरल केयर के बारे में पूछें.
  • शुगर का सेवन कम से कम करें.

(और पढ़ें - मसूड़ों के कैंसर का इलाज)

सारांश – Summary

जीभ पर होने वाले दाग किसी भी व्यक्ति को प्रभावित कर सकते हैं. अधिकतर मामलों में जीभ के दाग आम होते हैं, लेकिन कुछ मामलों में जीभ के दाग गंभीर बीमारियों का संकेत हो सकते हैं. इसलिए, जीभ पर दाग नजर आने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. इसके अलावा, अगर जीभ या मुंह में कोई असामान्य लक्षण नजर आए, तो इसे भी नजरअंदाज न करें.



जीभ पर दाग के डॉक्टर

Dr. Rukman Jindal Dr. Rukman Jindal ओरल और मैक्सिलोफेशियल सर्जन
20 वर्षों का अनुभव
Dr. Bramara Kalepu Dr. Bramara Kalepu ओरल और मैक्सिलोफेशियल सर्जन
2 वर्षों का अनुभव
Dr. S. P. Singh Dr. S. P. Singh ओरल और मैक्सिलोफेशियल सर्जन
9 वर्षों का अनुभव
Dr. Abhishek Singh Payak Dr. Abhishek Singh Payak ओरल और मैक्सिलोफेशियल सर्जन
7 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ