myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

सुबह से लेकर रात तक हम कितना भागते दौड़ते हैं। इन सबके बावजूद भी हम अपने पैरों पर ध्यान नहीं देते। फुट मसाज से पैरों का दर्द आदि तो कम होता ही है, साथ ही आपकी पूरी बॉडी को बेहद फायदा पहुंचता है।

(और पढ़ें - मसाज क्या है)

तो आइये आपको बताते हैं पैरों की मसाज कैसे करें, आयल और फायदे –

  1. पैरों की मसाज करने का तरीका - Pero ki massage karne ka tarika
  2. पैरों की मसाज के लिए आयल - Peron ki massage ke liye oil
  3. पैरों की मसाज के फायदे - Peron ki massage ke fayde

कुछ चिकित्सीय स्थिति में फुट मसाज करना उचित नहीं मन जाता, जैसे मधुमेह या गठिया में। अगर आपके पैरों में सूजन है या छाले व मस्से हैं तो पैरों में मसाज न करवाएं। कृपया डॉटर से परामर्श करके और अपने लिए सही निर्णय लें।

(और पढ़ें - गठिया का घरेलू उपाय)

पैरों की मालिश कैसे करें -

  • सबसे पहले कोई भी गुनगुना तेल अपने हाथों पर लें। अब पैरों पर तेल लगाएं।
  • फिर पैर को दोनों हाथों से पकड़ें। अब पैरों की उंगलियों के उपरी क्षेत्र पर अंगूठे के हल्के दबाव के साथ मसाज करें। प्रत्येक उंगली से शुरू करते हुए धीरे-धीरे अंगूठे को टखने तक लाएं। अब टखने से शुरू करते हुए अंगूठे को पैरों की उंगलियों तक लेकर जाएं। इस प्रक्रिया को आप तीन से चार बार इसी तरह दोहराएं।
  • पैरों को दोनों हाथों से पकड़ें और पैरों के तलवे के नीचे मसाज करना शुरू करें। अपने दोनों हाथों के अंगूठों को तलवों पर रगड़ें। शुरुआत प्रत्येक उंगली से करते हुए अंगूठे को आराम-आराम से एड़ियों तक लेकर जाएं। फिर एड़ियों से प्रत्येक उंगली तक अंगूठे को लेकर जाएं। इस प्रक्रिया को तीन से चार बार इसी तरह दोहरायें।
  • यही प्रक्रिया दूसरे पैर पर भी करें।

(और पढ़ें - पैर दर्द के उपाय)

पंजे पर मसाज कैसे करें -

  • सबसे पहले एक हाथ से पंजे और एडी के बीच से पैर को पकड़ें।
  • दूसरे हाथ से, पैर के अंगूठे और तर्जनी उंगली को अपनी हाथ की उंगली से पकड़ें।
  • धीरे-धीरे अंगूठे और तर्जनी उंगली को पीछे की ओर लेकर जाएं। फिर आराम से अंगूठे और तर्जनी उंगली को वापस अपनी जगह पर लेकर आएं। इस प्रक्रिया को सभी उंगलियों के साथ इसी प्रकार दोहराएं।
  • यह तरीका दूसरे पैर के साथ भी ऐसे ही अपनाएं।

(और पढ़ें - टांगों में दर्द के घरेलू उपाय)

पैर की उंगलियों की मसाज कैसे करें -

  • सबसे पहले पैर की एड़ी को एक हाथ से पकड़ें।
  • अब दूसरे हाथ की तर्जनी उंगली को पैर के अंगूठे और उंगली के बीच में रखें।
  • फिर अपनी तर्जनी उंगली को नीचे से ऊपर की ओर यानि अंगूठे के छोर तक लेकर जाएं। इसी तरह नीचे से ऊपर अपनी तर्जनी उंगली से मसाज करें।
  • सभी उंगलियों के बीच इस प्रक्रिया को दो से तीन बार दोहराएं।
  • इस चरण को दूसरे पैर पर भी इसी तरह दोहराएं। 

(और पढ़ें - ब्यूटी केयर टिप्स

1. पुदीने का तेल और रोजमेरी तेल -

सामग्री –

  1. दो से तीन छोटी चम्मच कोई भी तेल।
  2. दो से तीन बूंद पुदीने का तेल। (और पढ़ें - पुदीने के फायदे)
  3. दो से तीन बूंद रोजमेरी तेल। (और पढ़ें - रोजमेरी तेल के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले सभी तेल को एक साथ मिला लें।
  2. मिलाने के बाद इस तेल को पैरों पर लगाएं।
  3. फिर इस तेल से पैरों पर दस मिनट तक मसाज करें।
  4. अब पैरों पर तेल को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के घरेलू उपाय)

2. नीलगिरी का तेल और टी ट्री तेल -

सामग्री -

  1. दो से तीन छोटी चम्मच आपके पसंद का कोई भी तेल।
  2. दो से तीन बूंद नीलगिरी तेल। (और पढ़ें - नीलगिरी तेल के फायदे)
  3. दो से तीन बूंद टी ट्री तेल। (और पढ़ें - टी ट्री ऑयल के फायदे)

विधि -

  1. सबसे पहले सभी तेलों को एक साथ मिला लें।
  2. मिलाने के बाद उस तेल को पैरों पर लगाएं।
  3. फिर तेल से दस मिनट तक पैरों की मालिश करें।
  4. अब तेल को पैरों में ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा का घरेलू इलाज)

3. नारियल का तेल और कैमोमाइल तेल -

सामग्री -

  1. एक कप नारियल तेल। (और पढ़ें - नारियल तेल के फायदे)
  2. एक चम्मच कैमोमाइल तेल।
  3. 20 बूंद रोजमेरी तेल।
  4. एक चम्मच लैवेंडर तेल। (और पढ़ें - लैवेंडर तेल के औषधीय गुण)

विधि -

  1. सबसे पहले सभी तेलों को एक साथ मिला लें।
  2. मिलाने के बाद फिर इसे एक बोतल में डाल लें। जब जरूरत हो तब आप इस तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  3. तेल की कुछ बूँदें हाथ में लें।
  4. लेने के बाद पैरों में लगाएं।
  5. अब पैरों में दस मिनट तक मसाज करें।
  6. फिर तेल को पैरों में ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  7. मसाज करने के बाद आप पैरों में मोजे भी पहन सकते हैं।

(और पढ़ें - face par glow lane ke tips)  

पैरों की मसाज के फायदे इस प्रकार हैं –

  1. पैरों की मसाज करने से तनाव से राहत मिलती है। (और पढ़ें - तनाव दूर करने के तरीके)
  2. पैरों की मसाज से नींद अच्छी आती है। (और पढ़ें - अच्छी नींद के लिए घरेलू नुस्खे)
  3. पैरों की मालिश करने से रक्त परिसंचरण सुधरता है।
  4. ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है। (और पढ़ें - bp kam karne ke upay)
  5. पैरों की मसाज से जोड़ों के दर्द और मांसपेशियों में तनाव भी कम होता है। (और पढ़ें - जोड़ों के दर्द का घरेलू उपाय)
  6. सिर दर्द और माइग्रेन की समस्या भी कम होती है। (और पढ़ें - सिर दर्द से राहत)
  7. तेल से पैर की मालिश करने से चिंता से भी छुटकारा मिलता है। (और पढ़ें - चिंता से मुक्ति के उपाय)
  8. पैरों की मालिश करने से शरीर में होने वाले दर्द से भी राहत मिलती है। (और पढ़ें - बॉडी पेन को दूर करने का तरीका)
  9. पैर की मसाज से नाखून और त्वचा स्वस्थ रहती हैं। (और पढ़ें - नाखूनों की देखभाल कैसे करें)
  10. लम्बे समय तक खड़े रहने या गर्भावस्था के दौरान आयी पैरों में सूजन भी मसाज से कम होती है। (और पढ़ें - पैरों की सूजन के घरेलू उपाय)
  11. पीरियड्स में होने वाले लक्षण जैसे अनिंद्रा, चक्कर, चिंता आदि की समस्या से भी आराम मिलता है। (और पढ़ें - योग निद्रा के फायदे)
  12. फुट मसाज साइनस इन्फेक्शन से भी आराम से दिलाता है।

(और पढ़ें - साइनस से बचने के उपाय

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें