myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

सुस्ती एक ऐसी समस्या है जिससे आज के समय में हर कोई परेशान है। इसका मुख्य कारण दिनचर्या, काम का बोझ और नींद पूरी ना होना है। कई बार सुस्ती के लिए दवाएं व बीमारियां भी जिम्मेदार होती हैं। युवा पीढ़ी में यह समस्या बहुत तेजी से बढ़ रही है।

जब शरीर में ऊर्जा की कमी या थकान महसूस होने लगती है तो इस स्थिति को सुस्ती कहा जाता है। यह मुख्य रूप से किसी शारीरिक समस्या जैसे कैंसर, अस्थमा, एनीमिया, नींद संबंधी विकार व थायराइड आदि होने पर या फिर इनके इलाज के लिए ली जा रही दवाओं के साइड इफेक्ट के रूप में विकसित हो सकती है। कुछ अन्य स्थितियां भी हैं, जो सुस्ती का कारण बन सकती हैं, जैसे नींद में कमी, पर्याप्त व्यायाम ना कर पाना, अच्छा आहार ना लेना, तनाव या अधिक शारीरिक परीक्षण। अगर आपको दिनभर सोने का मन करता है, काम करने का मन नहीं करता या फिर आप काम कर नहीं पाते, तो ये सुस्ती के लक्षण हो सकते हैं।

वैसे तो कुछ दवाएं मौजूद हैं, जिनकी मदद से शरीर की सुस्ती को दूर किया जा सकता है। लेकिन अगर आप दवाएं नहीं लेना चाहते हैं, तो कुछ घरेलू उपाय हैं जिनकी मदद से सुस्ती को दूर किया जा सकता है। इन घरेलू उपायों में घर पर मिलने वाली सामान्य चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, इसलिए इनसे कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है।

  1. सुस्ती भगाने का उपाय है कॉफी - Susti bhagane ka upay hai coffee
  2. ब्लैक टी है सुस्ती से बचने का तरीका - Black tea hai susti se bachne ka tarika
  3. सुस्ती दूर करने का घरेलू उपाय है दालचीनी - Susti dur karne ka gharelu upay hai dalchini
  4. सुस्ती का इलाज है सूखा मेवा - Susti ka ilaj hai sukha meva
  5. अंडे हैं सुस्ती भगाने का तरीका - Ande hain susti bhagane ka tarika
  6. सुस्ती भगाने का घरेलू इलाज है आलू - Susti bhagane ka gharelu ilaj hai aloo
  7. सुस्ती दूर करने की दवा है सिंहपर्णी - Susti dur karne ki dawa hai sinhaparni
  8. सुस्ती दूर करने के लिए करें खट्टे फलों का सेवन - Susti dur karne ke liye karein khatte falo ka sevan
  9. पालक है सुस्ती दूर भगाने का घरेलू उपाय - Palak hai susti dur bhagane ka gharelu upay

कॉफ़ी में कैफीन पाया जाता है जो हमारे खून के स्राव को तेज कर हमारे शरीर में ऊर्जा को बढ़ाता है। कैफीन से दिमाग सतर्क व फुर्तीला रहता है और यह साथ ही सिर में दर्द को ठीक करने के भी काम आता है। कॉफी पीने के तुरंत बाद आपको शरीर में फुर्ती और ऊर्जा महसूस होगी और सुस्ती 2 मिनट में छूमंतर हो जाएगी।

आवश्यक सामग्री

  • 1 गिलास पानी
  • 1 चम्मच कॉफ़ी पाउडर / कॉफ़ी बीन्स

इस्तेमाल का तरीका

  • 1 गिलास पानी को केतली में उबाल लें
  • कॉफ़ी पाउडर को पानी में डालें अगर आप कॉफ़ी बीन्स का इस्तेमाल कर रहे हैं तो बीन्स को पहले अच्छे से पीस लें और उसके बाद उनका इस्तेमाल करें 
  • पानी में कॉफ़ी को 2-3 मिनट के लिए उबलने दें 
  • अब इसे छलनी की मदद से छान कर कप में डालें और गुनगुना होने पर पी लें

कब इस्तेमाल करें

कॉफ़ी को सुबह के समय सुस्ती दूर करने के लिए पीना सबसे लाभदायक होता है या फिर जब कभी थकान या सुस्ती महसूस हो तो तब इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। कॉफ़ी का अधिक सेवन खतरनाक होता है इसलिए इसे दिन में अधिकतम 3-4 बार ही पिएं।

ग्रीन टी की ही तरह ब्लैक टी भी काफी फायदेमंद होती है, यह हृदय रोग का खतरा कम करती है और ब्लड शुगर को सामान्य स्तर पर बनाए रखती है। साथ ही ब्लैक टी प्रतिरक्षा प्रणाली को भी बढ़ाती है। ब्लैक टी में अन्य चाय के मुकाबले सबसे अधिक कैफीन होता है। 250 मिलीलीटर ब्लैक टी में 47 मिलीग्राम कैफीन होता है। कुछ ब्लैक टी में यह मात्रा 60 से 90 मिलीग्राम तक हो सकती है, कॉफ़ी में इससे आधा कैफीन होता है। ब्लैक टी में एल-थीएनाइन होता है जो हमारे शरीर की ऊर्जा शक्ति को बढ़ाने में मदद करता है।

आवश्यक सामग्री

  • 1 चम्मच चाय की पत्तियां
  • 2 चम्मच चीनी
  • 1 कप पानी

इस्तेमाल का तरीका

  • चाय की केतली में पानी डालें
  • इसमें चीनी मिलाकर मध्यम आंच पर गर्म होने दे
  • जब पानी में उबाल आने लगे तो उसमें चाय की पत्तियां डाल कर 2-3 मिनट के लिए उबलने दें
  • अब पानी में पत्तियों के गुणों को सोखने के लिए मंदी आंच पर 2 मिनट के लिए छोड़ दें
  • इसके बाद ब्लैक टी को छान कर उसका लुत्फ उठाएं

कब इस्तेमाल करें

ब्लैक टी को सुबह और सुस्ती महसूस होने पर पीने की सलाह दी जाती है। कॉफी की ही तरह चाय में भी कैफीन की मात्रा अधिक होती है इसलिए इसका 1 दिन में 2-3 बार से ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए।

दालचीनी की जरा सी सुगंध से ही सुस्ती को दूर किया जा सकता है और इससे आप दुरुस्त महसूस करने लगते हैं। दालचीनी को एक बेहतरीन मसाले के रूप में जाना जाता है। दालचीनी के पेड़ से बनाया गया यह मसाला कई वर्षों से घरों में दवाई की तरह इस्तेमाल किया जाता रहा है।

आवश्यक सामग्री

  • ½ चम्मच दालचीनी पाउडर

इस्तेमाल का तरीका

  • दालचीनी को अपनी नाक के पास ले जाएं
  • अब इस मसाले की सुगंध भरी सांस लें
  • ध्यान रहे की मसाला आपकी नाक के अंदर ना जाए केवल उसकी खुशबू ही आपकी सुस्ती को दूर करने के लिए काफी है।

कब इस्तेमाल करें

सुस्ती या थकान महसूस होने पर इस प्रक्रिया का इस्तेमाल करें।

बादाम व मूंगफली आदि जैसे ड्राई फ्रूट्स में मैग्नीशियम और फोलेट (फोलिक एसिड) मौजूद होता है। यह पोषक तत्व ताकत प्रदान करता है और नई कोशिकाओं के बनने में मदद करता है। इन पोषक तत्वों की कमी के कारण आपको अपने शरीर में कमजोरी व सुस्ती महसूस हो सकती है।

आवश्यक सामग्री

  • 2-3 बादाम (रातभर पानी में भीगे हुऐ)
  • 5-10 मूंगफलियां
  • 6-8 अन्य ड्राई फ्रूट्स (सूखा मेवा)

इस्तेमाल का तरीका

  • इन सभी ड्राई फ्रूट्स को अपने रोज के खाने में शामिल करें
  • आप चाहें तो इन्हें सुबह के नाश्ते के साथ खा सकते हैं
  • शाम के समय भी इनका सेवन करना ठीक रहता है
  • सुस्ती दूर करने के लिए दिन में कम से कम 10-12 ड्राई फ्रूट्स अवश्य खाएं

कब इस्तेमाल करें 

ड्राई फ्रूट्स का सेवन रोजाना करते रहें, धीरे-धीरे आपकी सुस्ती की समस्या ठीक हो जाएगी।

अंडे का सेवन एक पुराना घरेलू नुस्खा है, जो लोगों द्वारा अपनाया जाता रहा है। यह सुस्ती से लड़ने का सबसे बेहतरीन संतुलित आहार है। अंडो में प्रोटीन, आयरन, विटामिन ए, फोलिक एसिड, राइबोफ्लेविन और पैंटोथेनिक एसिड (विटामिन बी5) भरपूर मात्रा में होते हैं। रोजाना कम से कम एक अंडा तो अपने आहार में जरूर शामिल करें।

इस्तेमाल का तरीका

अंडे को उबाल कर रोजाना अपने सुबह के नाश्ते में शामिल करने से सुस्ती जैसी समस्या दूर हो जाती है। आप चाहें तो उबले हुए अंडे के ऊपर स्वाद अनुसार नमक, मिर्च डाल सकते हैं। इसके अलावा आप अंडे की भुर्जी भी बनाकर खा सकते हैं या फिर इसका ऑमलेट भी एक अच्छा विकल्प रहेगा। 

कब इस्तेमाल करें 

गर्मिया के दिनों में सिर्फ एक ही अंडा खाने की सलाह दी जाती है, जबकि आप सर्दियों के समय दो या तीन अंडे भी खा सकते हैं।

गर्म आलू के पानी को पीना भले ही गर्मियों में आपकी पहली पसंद ना हो लेकिन आपको बता दें कि सुस्ती दूर करने के लिए यह एक बहुत प्रभावी घरेलू उपाय है। कटे हुए आलू के टुकड़ों को पानी में भिगो कर उससे बने मिश्रण में पोटेशियम की मात्रा बेहद अधिक होती है जिसके सेवन से आप सुस्ती भूल कर फुर्तीला महसूस करने लगेंगे। मैग्नीशियम की ही तरह हमारा शरीर पोटेशियम को भी खुद से नहीं बनाता जिस कारण से इसे किसी आहार से प्राप्त करना जरूरी होता है। अगर आप सुस्त व थका हुआ महसूस करते हैं, तो ऐसा आपके शरीर में पोटैशियम की कमी के कारण हो सकता है इसलिए सुस्ती से छुटकारा पाने के लिए आपको अपने आहार में पोटेशियम से भरपूर खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए।

आवश्यक सामग्री

  • 1 बिना छिला हुआ आलू
  • 1 गिलास पानी

इस्तेमाल का तरीका

  • आलू को बिना छिले उसको स्लाइस में काट लें
  • अब कटे हुए स्लाइस को एक गिलास पानी में डालें
  • आलू को रात भर पानी सोखने के लिए छोड़ दें
  • सुबह होते ही सबसे पहले खाली पेट इस पानी को पिएं

कब इस्तेमाल करें

इस प्रक्रिया को रोजाना सुबह करें जब तक आपकी सुस्ती की परेशानी पूरी तरह से दूर ना हो जाए।

आयरन शरीर के लिए बेहद आवश्यक होता है, क्योंकि इसके बिना हमारा शरीर पर्याप्त लाल रक्त कोशिकाए नहीं बना पाता। लाल रक्त कोशिकाओं में हीमोग्लोबिन और आयरन की मात्रा अधिक होती है जो हमारे पूरे शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाते हैं। शरीर के किसी हिस्से में ऑक्सीजन की कमी होने पर वह हिस्सा ठीक तरीके से काम नहीं कर पाता है और परिणामस्वरूप हमें सुस्ती और थकान महसूस होने लगती है। इस स्थिति को आयरन-डेफिशियेंसी एनीमिया (आयरन की कमी) कहा जाता है। अपने आहार में सिंहपर्णी को शामिल करने से आप आयरन की कमी को दूर कर सकते हैं और इसके साथ ही आप अपनी सुस्ती की समस्या से छुटकारा भी पा सकेंगे।

आवश्यक सामग्री

इस्तेमाल का तरीका

  • सभी हर्ब्स (जड़ी बूटियों) को एक कप में डालें
  • अब उन सभी के ऊपर उबला पानी डालें और 10 मिनट के लिए छोड़ दें
  • अब हर्ब्स को बाहर निकाल दें
  • स्वाद के लिए इसमें शहद मिलाएं और पी लें

कब इस्तेमाल करें

इस मिश्रण सुबह और शाम रोजाना दो बार पीएं।

खट्टे फल स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक होते हैं, जो शरीर को ताजगी भरा अनुभव भी देते हैं। इतना ही नहीं खट्टे फलों को कई घरेलू उपायों  में इस्तेमाल किया जाता है। नींबू पानी कब्ज व अन्य कई समस्याओं से राहत दिलाने में मदद करता है। नींबू में एंटीऑक्सिडेंट्स और विटामिन सी मौजूद होते हैं, जो शरीर को एनर्जी प्रदान करके सुस्ती भगाने में मदद करते है। नींबू ही नहीं आप किसी भी खट्टे फल का सेवन कर सकते हैं जैसे संतरा व मौसंबी आदि।

आवश्यक सामग्री

आप इन फलों को सीधे भी खा सकते हैं या फिर पानी में मिलाकर (जैसे नींबू पानी) भी इनका सेवन कर सकते हैं, इसलिए इसमें किसी विशेष रेसीपी की जरूरत नहीं पड़ती है।

इस्तेमाल का तरीका

यदि आप नींबू पानी बनाना चाहते हैं, तो गिलास में एक या दो नींबू निचोड़ लें और उसमें ठंडा पानी डालें। इसके बाद स्वादानुसार नमक मिलाकर आप इसका सेवन कर सकते हैं।

कब इस्तेमाल करें

सुबह उठने के बाद  एक गिलास नींबू पानी पिएं, यह आपकी सुस्ती को दूर भगाने में काफी मदद करेगा।

पालक आयरन से भरपूर होती है यह हमारी लाल रक्त कोशिकाओं को मजबूत कर उनकी मात्रा को बढ़ाती हैं, यही वजह है की सुस्ती से लड़ने के लिए पालक एक बेहतरीन विकल्प है। पालक में मैग्नीशियम भी होता है। 1 कप पालक में लगभग 39% मैग्नीशियम होता है, जो हमारे शरीर की रोजाना जरूरत को पूरा करता है। कुछ अध्ययनों से यह भी पता चला है कि यह कसरत के समय हमारी मांसपेशियों को बेहतर काम करने में भी मदद करता है। 

आवश्यक सामग्री

  • 1 कप ग्राइंड किया हुआ पालक
  • 1 गिलास पानी

इस्तेमाल का तरीका

  • पालक को पानी में उबाल लें
  • अब आप चाहें तो इसे सलाद के रूप में भी खा सकते हैं या इसकी सब्जी भी बना सकते हैं

कब इस्तेमाल करें

रोजाना कम से कम 1 कप कच्चा या पका हुआ पालक जरूर खाएं।

सुस्ती दूर करने के घरेलू उपाय से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 12 महीना पहले

देर तक सोने के बाद भी मुझे पूरा दिन सुस्ती आती रहती है, मैं कोई भी काम फुर्ती से नहीं कर पाती हूं। सुस्ती से छुटकारा पाने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?

Dr. Haleema Yezdani MBBS, सामान्य चिकित्सा

ज्यादा सोने की वजह से सुस्ती आने लगती है। आप रात को समय पर सोया करें और सुबह भी जल्दी उठने की कोशिश करें। पूरा दिन आपको सुस्ती रहती है तो एयर डिफ्यूजर में तुलसी के तेल का इस्तेमाल करें। तुलसी के तेल के उत्तेजित गुण एकाग्रता (ध्यान लगाने की क्षमता) को बढ़ाने में मदद करते हैं। इसी के साथ यह आपकी इंद्रियों को तेज करता है और तनाव व डिप्रेशन को भी कम करता है। इसके लिए आप एयर डिफ्यूजर को पानी से भर दें। अब इसमें तुलसी के तेल की 2 से 3 बूंदे डालकर इसे मिक्स कर दें। अब आप डिफ्यूजर की तुलसी की खशबू में सांस लें। यह आपको ताजगी देता है और सुस्ती को दूर करता है।

सवाल 11 महीना पहले

मैं घर पर पूरा दिन बोर होती हूं और मुझे बहुत सुस्ती भी आती है। मैं कोई भी काम फुर्ती से नहीं कर पाती हूं। मैं काफी देर तक सोती हूं। मैंने सुना है कि एयर डिफ्यूजर के इस्तेमाल से सुस्ती से छुटकारा मिलता है, क्या यह सही है? मेरे घर में पुदीने का तेल रहता है, तो क्या मैं सुस्ती से बचने के लिए अपने एयर डिफ्यूजर में इसका या किसी और एसेंशियल ऑयल का इतेमाल कर सकती हूं?

Dr. Anjum Mujawar MBBS, मधुमेह चिकित्सक

जी हां, पुदीने का तेल भी एसेंशियल ऑयल में से एक है। अध्ययनों से पता चला है कि एरोमाथेरेपी थकान और सुस्ती के लक्षणों का इलाज कर सकती है। पुदीना एसेंशियल ऑयल मानसिक थकान और तनाव से राहत दिलाने में तुलसी के तेल के समान ही काम करता है। इसके लिए आप डिफ्यूजर को पानी से भरकर उसमे पुदीने के तेल की 2 से 3 बूंदे डालें। अब आप डिफ्यूजर को ऑन करें। इससे पुदीने की खशबू पूरे घर में फैल जाएगी जो आपको ताजगी देगी और आपकी सुस्ती को दूर भी करेगी।

सवाल 11 महीना पहले

मुझे रात को ऑफिस से घर आते वक्त बहुत थकान और सुस्ती होती है। सुस्ती की वजह से मैं अपने बाकी के छोटे-मोटे काम भी नहीं कर पाता हूं। मुझे सुस्ती से बचने के लिए कोई उपाय बताएं?

Dr. B. K. Agrawal MBBS, MD, कार्डियोलॉजी, सामान्य चिकित्सा, आंतरिक चिकित्सा

सुस्ती को दूर करने के लिए आप शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं। शहद में मौजूद कार्बोहाइड्रेट एनर्जी लेवल को बढ़ाता है और सुस्ती से लड़ने में मदद करता है। आप अपनी पसंदीदा मिठाई या ड्रिंक में चीनी की जगह शहद का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। आपको रोजाना शुद्ध शहद का सेवन करना चाहिए, यह आपको सुस्ती से दूर रखता है।

सवाल 11 महीना पहले

मैं बहुत सुस्त हूं। मैं ऑफिस में काम करते समय बहुत सुस्ती महसूस होती है। एनर्जी लेवल बहुत कम लगता है। सुस्ती को दूर करने के लिए क्या करूं?

Dr. Abhijit MBBS, सामान्य चिकित्सा

नींद पूरी न होने की वजह से भी सुस्ती आ सकती है, इसलिए रात को देर तक न जागें और समय पर सो जाएं। ऑफिस में सुस्ती से बचने के लिए आप नींबू पानी बना कर पिया करें। नींबू के रस में सिट्रिक एसिड होता है जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से लड़कर थकान को दूर करने में मदद करता है। आप नियमित रूप से विटामिन सी (नींबू पानी में यह भरपूर मात्रा में होता है) की पर्याप्त मात्रा लिया करें। यह शरीर में आयरन को बढ़ाता है जिससे सुस्ती, थकान और तनाव जैसी समस्याएं दूर रहती हैं।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें