myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

इस साल दिवाली को कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं और इस त्यौहार का महत्व तो हम सभी जानते हैं कि इस दिन भगवान राम 14 साल का वनवास काट के अपनी पत्नी सीता और भाई लक्ष्मण के साथ घर वापस लौटे थे। इस त्यौहार पर सभी को जलते हुए दीपक, नए कपडे, गिफ्ट्स के साथ आदान प्रदान बेहद खूबसूरत लगता है। साथ ही मिठाइयां भारत में लगभग हर त्योहार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। दिवाली के दौरान, लोग इन मिठाइयों को बनाने के साथ साथ इन्हे गिफ्ट्स के तौर पर भी देने का शौक रखते हैं। काजू कतली, बेसन के लड्डू, नारियल के लड्डू और सूखे मेवे से बनी मिठाइयां हर घर में बनाई जाती हैं और सभी की पसंदीदा भी होती हैं।

हर कोई चाहता है कि इतनी स्वादिष्ट मिठाइयां उन्हें खाने को मिलें लेकिन जो लोग शुगर (मधुमेह) से पीड़ित होते हैं उन्हें इन मामलों में काफी सावधानियां बर्तनी चाहिए। लेकिन आज हम आपको ऐसी मिठाइयां बताने वाले हैं जिनका सेवन आप कुछ बातों को ध्यान में रखकर कम मात्रा में भी खा सकते हैं। इसके अलावा चीनी को हटाकर आप प्राकृतिक मिठास का भी इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे गुड़ और खजूर

(और पढ़ें - कम कैलोरी वाले व्यंजन)

नीचे कुछ शुगर फ्री मिठाइयां और उनको बनाने का तरीका बता रखा है जिन्हे आप दिवाली पर अपने घर में बनाकर मज़े से खा सकते हैं -

  1. शुगर फ्री रागी नारियल लड्डू रेसिपी - Ragi coconut ladoo sugar free recipe in Hindi
  2. बनाएं शुगर फ्री रागी मालपुआ रेसिपी - Sugar free ragi malpua recipe in Hindi
  3. शुगर रोगियों के लिए शुगर फ्री फिरनी रेसिपी - Sugar free phirni recipe for diabetic people in Hindi
  4. मीठा न खाने वाले लोगों के लिए सीता फल खीर रेसिपी - Custard apple kheer recipe for those who wants to avoid sugar in Hindi
  5. घर पर बनाये शुगर फ्री सन्देश - Make sugar free sandesh at home in Hindi
  6. शुगर फ्री नचनी बर्फी का तरीका - How to make sugar free nachni barfi in Hindi

रागी नारियल लड्डू बेहद लोकप्रिय मिठाई है। इसे बाजरा या रागी के आटे की मदद से बनाया जाता है। यह स्वादिष्ट लड्डू फाइबर, खनिज और प्रोटीन से भरपूर होता है। जो कि शुगर से पीड़ित रोगियों के लिए बहुत लाभदायक होता है। ये पौष्टिक लड्डू नारियल, गुड़ और कुरकुरी मूंगफली से भरपूर होता है।

तैयारी करने का समय - 1 घंटा 30 मिनट

बनाने का समय - 1 घंटा 30 मिनट

रागी नारियल लड्डू बनाने की सामग्री

  1. 1 कप बाजरे का आटा (या रागी)।
  2. 1/4 कप गुड़ या पाउडर।
  3. 1/4 कप कप मूंगफली भुनी हुई।
  4. 1/4 कप नारियल कसा हुआ।
  5.  एक चुटकी नमक

इस सामग्री के अनुसार आप दो लोगो को रागी नारियल लड्डू बनाकर खिला सकते हैं।

बनाने की विधि

  1. सबसे पहले एक कटोरा लें। फिर उसमे आटा और नमक मिलाएं। फिर थोड़ा पानी डालें और अच्छे से मिश्रण को चलाते रहें जिससे कि उसमे गुठली न बने।
  2. अब उसमे कसा नारियल मिलाएं। फिर उस मिश्रण को नारियल के साथ मिला हुआ ही 10-15 मिनट के लिए हल्की आंच पर गर्म करने के लिए रख दें। फिर बर्तन को ढक दें।
  3. 10-15 मिनट के बाद मिश्रण को किसी प्लेट में निकाल लें और ठंडा होने के लिए रख दें।
  4. फिर मिश्रण को मिक्सचर में डालें और उसमे मूंगफली और गुड़ को मिला दें। मिक्स होने के बाद उस मिश्रण को निकाल लें और नींबू जैसे आकार में लड्डू को बना लें। लड्डू बनने के बाद आप इसकी सजावट कसे नारियल से कर सकते हैं।

रागी मालपुआ एक स्वस्थ भारतीय पैनकेक मिठाई है। इस मिठाई को बनाने के लिए आपको रागी का आटा, अन्य आटा और जई की ज़रूरत पड़ेगी। मालपुआ को ज़्यादातर काफी ज़्यादा तेल से बनाया जाता है लेकिन आप इसे नॉन स्टिक तवे पर भी बना सकते हैं जिसमे तेल बहुत ही कम मात्रा में इस्तेमाल होता है।

बनाने का समय - 25 मिनट

रागी मालपुआ बनाने की सामग्री

  1. 4 चम्मच रागी आटा।
  2. 2 बड़े चम्मच गेहूं आटा।
  3. 1 चम्मच जई
  4. ताजा चीनी सिर्फ स्वाद के लिए।
  5. दूध के कुछ बड़े चम्मच।
  6. हर मालपुआ के अनुसार एक चम्मच राइस ब्रैन ऑयल
  7. गार्निश करने के लिए अनार

मालपुआ के अंदर मिश्रण भरने की सामग्री

  1. 2 बड़े चम्मच पिसा नारियल।
  2. 2 चम्मच खरबुज के बीज।
  3. 1/2 चम्मच हरी इलायची पाउडर।
  4. 1 चम्मच शहद

इस सामग्री के अनुसार आप पांच लोगो को रागी मालपुआ बनाकर खिला सकते हैं।

बनाने की विधि

मालपुआ के अंदर मिश्रण भरने की विधि

  1. खरबूज के बीज और कसे हुए नारियल को दो मिंट तक भून लें।
  2. अब आंच को बंद कर दें।
  3. अब उसमे इलाइची पाउडर और शहद मिलाएं।
  4. अच्छे से इस मिश्रण को मिला लें।

मालपुआ बनाने के लिए -

  1. अब सभी तरह के आटो को मिलाकर एक पेस्ट तैयार करने के लिए उसमे दूध मिलाएं। अब उसमे चीनी मिला लें। फिर पूरे मिश्रण को अच्छी तरह से मिक्स कर लें।
  2. फिर राइस ब्रान आयल को पैन में डालें। गर्म होने के बाद कछलीभर इस मिश्रण को लेकर पैन के बीचों बीच में फैला दें। भूरा होने दें और इंतज़ार करें तब तक जब तक इसके कोने गर्माहट से उठने न लगें। फिर उसे कछली से उठायें और दूसरी तरफ से भी उसे भूरा करें।
  3. ज़्यादा कुरकुरा होने से पहले पैन को आंच से हटा लें।
  4. अब तवे से मालपुआ को निकालें और इसमें ऊपर बताया गया नारियल, शहद, इलाइची आदि का मिश्रण भरें। सजावट के लिए आप इसके ऊपर अनार के बीज डाल सकते हैं। 

फिरनी साधारण चावलों का बना हलवा होता है जो हल्की आंच में उबले दूध में बनता है। इसकी सजावट पिस्ता, बादाम और सुगन्धित गुलाब से की जाती है। इस मिठाई को आप शुगर से पीड़ित लोगो के लिए बिना किसी डर के दिवाली पर बना सकते हैं।

तैयारी करने का समय - 10 मिनट

बनाने करने का समय - 40 मिनट

फिरनी बनाने की सामग्री

  1. 5 कप मलाईदार दूध।
  2. 1/3 कप (60 ग्राम) चावल, गर्म पानी में 30 मिनट के लिए उनको भिगोकर रखें।
  3. 6 छोटी इलाइची के क्रश किये हुए बीज।
  4. 3/4 कप आर्टिफिशल स्वीटनर (कैलोरी में कम)।
  5. 2 बड़े चम्मच (40 ग्राम) पिस्ता।
  6. हरा रंग - स्वाद के लिए।
  7. 1/4 चम्मच सुगन्धित गुलाब।
  8. 10 बादाम कटे हुए।
  9. वार्क (चांदी की पत्ती) गार्निश करने के लिए (वैकल्पिक)

इस सामग्री के अनुसार आप पांच लोगो को फिरनी बनाकर खिला सकते हैं।

फिरनी बनाने की विधि

  1. सबसे पहले चावलों को पानी से निकाल लें और फिर उन्हें मिक्सर में डालकर थोड़ा दूध मिलाएं और मिक्सर को चला दें। पेस्ट को देखते रहें कि वो ज़्यादा गाढ़ा न हो जाये।
  2. अब दूध को गर्म करने के लिए रख दें। फिर उसमे इस मिश्रण को मिला लें। अब फिर से दूध को उबलने के लिए रख दें।
  3. आंच को कम कर दें और धीरे धीरे उसे उबलने दें। साथ ही साथ दूध को चलाते भी रहें तब तक जब तक पूरा मिश्रण एक गाढ़ा पेस्ट न बन जाये। इसमें आपको 20 से 25 मिनट लगेंगे (अगर आपको देखना है कि यह मिश्रण गाढ़ा हुआ है कि नहीं तो एक चम्मच मिश्रण लीजिये और अलग से ठंडा होने के लिए रख दीजिये। फिर देखिये ये मिश्रण ठंडा होने पर ठोस हुआ है या नहीं)।
  4. 20 से 25 मिनट तक चलने के बाद गैस को बंद कर दें और उसमे इलाइची और स्वीटनर मिला लें। हर्ब स्वीटनर आपको ऑनलाइन भी उपलब्ध हो जाएंगे।
  5. अब फिरनी को दो हिस्सों में बाँट लें। एक हिस्से में पिस्ता पेस्ट डालें और दूसरे हिस्से में गुलाब एसेंस डालें।
  6. अब सफ़ेद हिस्से को आप कटोरे में निकालकर फ्रिज में डाल दें (आप डिश को फ्रीजर में भी रख सकते हैं जिससे कि वो जल्दी ठंडा हो जाये लेकिन फ्रीजर में रखने से पहले उसकी सेटिंग सेट कर लें), और हरे हिस्से को बाहर ही रखे रहने दें।
  7. फ्रिज में रखा हिस्सा जब जम जाए तो उसके ऊपर हरा हिस्सा डाल दें, वर्क से इसको ढक दें, बादाम से इसकी सजावट करें और फिर से फ्रिज में कुछ देर के लिए रख दें। ठंडी ठंडी फिरनी की मिठाई सबको खाने को दें। ऐसे ही आप फिरसे बाहर रखे हुए हिस्से के साथ भी बना सकते हैं।

त्यौहार की बात आये और खीर का नाम शामिल न हो ऐसा कभी हो सकता है? कस्टर्ड सीता फल, गुड़, नारियल का दूध और नट्स से बनी क्रीमी खीर को आप इस दिवाली पर शौक से खा सकते हैं। 

तैयारी का समय - 5 मिनट

बनाने का समय - 5 मिनट

सीता फल खीर बनाने की सामग्री

  1. 5 बड़े सीता फल।
  2. 100 ग्राम गुड़।
  3. 1 चम्मच इलायची पाउडर।
  4. 1 कप हरी दाल (भुनी हुई)
  5. 1 कप नारियल का दूध।
  6. 1 चम्मच बादाम के फलैक्स (flex)।
  7. 1 चम्मच पिस्ता फ्लेक्स।
  8. 3-4 कप पानी।

इस सामग्री के अनुसार आप दो लोगो को सीताफल खीर बनाकर खिला सकते हैं।

बनाने की विधि

  1. सबसे पहले सीता फल को धो लें और फिर उन्हें छील लें। अब उनमे से बीज और गूदे को अलग कर लें।
  2. बीज को अलग करने के बाद गूदे को फ्रिज में रख दें।
  3. अब एक कुकर में हरी दाल डालें और तीन कप पानी मिला दें। इसे तब तक पकाएं जब तक ये दाल मुलायम न हो जाये (तीन सीटी लगाकर आप इसे देख सकते हैं)।
  4. एक नॉन स्टिक पैन में गुड़ और इलाइची पाउडर मिलाएं और इसे तब तक चलाएं जब तक गुड़ पिघल न जाये।
  5. अब गुड़ में पकी हरी दाल, सीता फल का गूदा मिला दें। अच्छे से मिलाने के बाद उसमे नारियल का दूध मिलाएं। अब इस मिश्रण को गर्म होने के लिए रख दें।
  6. गर्म होने के बाद मिश्रण को ठंडा होने के लिए रख दें। ठंडा होने के बाद उसे फ्रिज में रख दें। फ्रिज में एकदम ठंडा होने के बाद मेवों से उसकी सजावट करें।

टिप - गन्ने का गुड़ की बजाए खजूर के गुड़ का इस्तेमाल करें। इससे आपकी मिठाई बनकर बनकर ज़्यादा अच्छी लगेगी।

संदेश मिठाई मीठी चीज़ (cheese), इलाइची और केसर से बनी होती है। बंगाली मिठाई संदेश इस दिवाली पर मीठा खिलाने का एक बहुत अच्छा तरीका है। सबसे अच्छी बात क्या है ये न सिर्फ शुगर फ्री है बल्कि ये एक स्वस्थ विकल्प गुड़ से भी तैयार होती है।

तैयार का समय - 10 मिनट

बनाने का समय - 20 मिनट साथ ही ठंडा होने का समय

संदेश बनाने की सामग्री

  1. 150 ग्राम पनीर (कॉटेज चीज़)।
  2. 1/2 कप खोया - कसा हुआ।
  3. 4 हरी इलायची - क्रश की हुई।
  4. केसर (केसर की बड़ी चुटकी)।
  5. 6 चम्मच चीनी / गुड़।
  6. 6 बादाम - कटा हुआ पतले लम्बा।

इस सामग्री के अनुसार आप तीन लोगो को सन्देश मिठाई बनाकर खिला सकते हैं।

बनाने की विधि

  1. पनीर, खोया और चीनी या गुड़ को एक साथ मिक्सर में डालकर मिक्स कर लें। जब तक मिश्रण एकदम मुलायम बन जाए इसे चलाते रहें। अगर आपके घर मिक्सर नहीं है तो आप एक कटोरी या कटोरे में रखकर इन्हे कूट सकते हैं।
  2. अब इसमें इलाइची और बादाम मिलाएं।
  3. इलाइची मिलाने के बाद इस मिश्रण को फ्रिड्ज में ठंडा होने के लिए रख दें। अच्छे से ठंडा होने के बाद आप इसको अपने पसंदीदा आकार में काट सकते हैं। काटने के बाद आप ऊपर से सजावट के लिए बादाम और केसर डाल सकते हैं।  

ये मिठाई रागी के आटे से बनती है। इसे बनाने के बाद आप दिवाली पार्टी पर खूब तारीफे बटोरने वाले हैं।

तैयारी का समय - 20 मिनट

बनाने का समय - 30 मिनट

नचनी बर्फी बनाने की सामग्री

  1. 1/2 कप नचनी आटा (रागी का आटा)
  2. 1/2 कप गुड़ कसा हुआ।
  3. 1/2 कप खोया।
  4. 3 बड़ा चम्मच घी।
  5. 2 चम्मच सभी मेवे कटे हुए।
  6. 4 चम्मच पीनट बटर (अगर ये आपके  किराने की दूकान पर उपलब्ध न हो तो ऑनलाइन आसानी से मिल जाएगा)।
  7. गार्निश के लिए चॉकलेट वेरमिसली (Chocolate Vermicelli; अगर ये आपके  किराने की दूकान पर उपलब्ध न हो तो ऑनलाइन आसानी से मिल जाएगा)।
  8. गार्निश के लिए बादाम।

इस सामग्री के अनुसार आप चार लोगो को नचनी बर्फी मिठाई बनाकर खिला सकते हैं।

बनाने की विधि

  1. एक कढ़ाई में घी डालें और कटे मेवों को एक मिनट तक उनमे तलें।
  2. अब उसमे रागी आटा डालें और तब तक चलाएं जब तक वो भुन न जाये (8-10 मिनट तक)।
  3. अब उसमे गुड़ को मिलाएं और तब तक चलाते रहें जब तक गुड़ पिघल न जाये।
  4. अब उसमे खोया और पीनट बटर को मिलाकर कुछ देर तक चलाते रहें।
  5. अब मिश्रण को एक प्लेट में निकाल लें और प्लेट में ही मिश्रण को अलग अलग कर दें। जिससे की वो इकठ्टा न हो जाये और फिर उसे फ्रिज में रख दें।
  6. फ्रिज से निकालने के बाद सजावट के लिए उसमे ऊपर से कटे बादाम डालें और चॉकलेट वेरमिसली डालें।
  7. अब इसे पसंदीदा आकर में काट लें।  

इन शुगर फ्री मिठाईयों के तैयार होने के बाद दिवाली पर इनका मज़ा लें लेकिन ज़्यादा सेवन भी आपकी सेहत बिगाड़ सकता है। इसलिए इन शुगर फ्री मिठाईयों को खाते समय भी ध्यान रखें।

 

और पढ़ें ...