myUpchar सुरक्षा+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

स्विर्टिया चिरेटा (Swertia Chirata) को भारत में चिरायता के रूप में जाना जाता है। स्विर्टिया चिरेटा इसका वैज्ञानिक नाम है। यह एक वार्षिक जड़ी बूटी है जो भारत भर में मिलती है और इसकी ऊंचाई 1.5 मीटर तक होती है। संस्कृत में इस जड़ी-बूटी को भूनिम्ब या किराततिक्त कहा जाता है। इस प्राचीन जड़ी बूटी को नेपाली नीम के रूप में भी जाना जाता है क्योंकि यह नेपाल के जंगलों में एक आम पेड़ है। इस पौधे के बारे में सबसे पहले 1839 में यूरोप में पता चला था। यह प्रमुख रूप से हिमालय में 1200-1500 मीटर की ऊंचाई के बीच में पाया जाता है।

किराततिक्त एक बहुत ही प्रसिद्ध आयुर्वेदिक जड़ीबूटी है जिसका उपयोग मुख्य रूप से संक्रामक और सूजन की स्थिति जैसे बुखार, त्वचा रोगों के उपचार में किया जाता है। किराततिक्त शब्द का अर्थ है - बिल्कुल कड़वा। यह स्वाद में कड़वा होता है। चिरायता एक वर्षीय पौधा होता है और इसके पौधे की ऊँचाई 2-3 फुट तक हो सकती है। इसकी पत्तियाँ चौड़ी भालाकार, 10 cm तक लंबी और 3-4 cm तक चौड़ी होती हैं। नीचे की पत्तियां बड़ी और ऊपर की पत्तियां छोटी होती हैं। चिरायता के फल सफेद रंग के होते हैं। औषधीय प्रयोग के लिए इसके पूरे पौधे का प्रयोग किया जाता है।

आयुर्वेद में स्विर्टिया चिरेटा अपने ड्राइ, तीखे, गर्म और कड़वी प्रकृति के कारण त्रिदोष (वात, पित्त, कफ) के संतुलन को बनाए रखने के लिए उपयोग किया जाता है। इसमें शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट, ग्लाइकोसाइड्स और एलिकॉइड होते हैं।

  1. चिरायता के फायदे - Chirata ke Fayde in Hindi
  2. चिरायता के नुकसान - Chirata ke Nuksan in Hind
  1. चिरायता के फायदे करें रक्त को शुद्ध - Chirata for Blood Purification in Hindi
  2. चिरायता चूर्ण है त्वचा रोगों में प्रभावी - Chirata Benefits for Skin in Hindi
  3. चिरायता का उपयोग करे बुखार के लिए - Chirata for Fever in Hindi
  4. चिरायता के गुण रखें रक्त शर्करा को नियंत्रण में - Swertia Chirata for Diabetes in Hindi
  5. किरात के फायदे हैं लिवर में उपयोगी - Chirata Good for Liver in Hindi
  6. चिरायता का प्रयोग करे वजन को कम करने में मदद - Chirata Helps in Weight Loss in Hindi
  7. चिरायता के लाभ हैं जोड़ो के लिए - Chirata ke Fayde for Joint Diseases in Hindi
  8. चिरायता के औषधीय गुण करें कैंसर से रक्षा - Chirata for Cancer in Hindi
  9. किराततिक्त हैं कब्ज का इलाज - Kiratatikta Benefits for Constipation in Hindi
  10. चिराता के फायदे दिलाएँ आंत में कीड़ों से छुटकारा - Chirata for Worms in Hindi
  11. चिराता के लाभ हैं ब्लोटिंग में प्रभावी - Swertia Chirata Uses for Stomach in Hindi
  12. चिरायता पाउडर बढ़ाएँ प्रतिरक्षा - Chirata Herb Benefits for Immunity in Hindi
  13. चिरायता और कुटकी सोरायसिस के इलाज के लिए - Chirata for Psoriasis in Hindi
  14. चिरायता के अन्य फायदे - Other Benefits of Chirata in Hindi

चिरायता के फायदे करें रक्त को शुद्ध - Chirata for Blood Purification in Hindi

इसमें रक्त को शुद्ध करने वाले गुण होते हैं। कड़वी जड़ी बूटियों की तरह, स्विर्टिया चिरेटा रक्त उत्पादन में बहुत ही अच्छा है। इससे एनीमिया के लक्षणों को तेजी से दूर करने में मदद मिलती है।

(और पढ़े - नीम के पत्ते खाने के फायदे)

चिरायता चूर्ण है त्वचा रोगों में प्रभावी - Chirata Benefits for Skin in Hindi

इस जड़ीबूटी का अर्क त्वचा रोगों के प्रभावी उपचार के लिए उपयोगी है। आप सभी तरह की चकत्ते, त्वचा रोगों और त्वचा की सूजन को चिराता के पेस्ट के साथ इलाज कर सकते हैं। यह घावों को ठीक करने और त्वचा में तेजी से ठीक करने में मदद करता है। इसे पानी के साथ मिक्स करें और घाव पर लगाएँ। यह पेस्ट पिंपल्स के इलाज के लिए भी उपयोग किया जा सकता है।

(और पढ़े - चर्म रोग का इलाज)

चिरायता का उपयोग करे बुखार के लिए - Chirata for Fever in Hindi

चिरायता बुखार को कम करने के लिए बहुत ही अच्छा होता है, विशेष रूप से मलेरिया बुखार में। वृद्धावस्था के बाद से आयुर्वेदिक रूपों में चिरायता के पौधे का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। चिरायता से आप स्वास्थ्य में सुधार के लिए एक प्रभावी लेकिन कड़वी टॉनिक बना सकते हैं।

(और पढ़े - बुखार में क्या खाना चाहिए)

चिरायता के गुण रखें रक्त शर्करा को नियंत्रण में - Swertia Chirata for Diabetes in Hindi

मधुमेह में चिरायता जड़ी बूटी का व्यापक रूप से रक्त शर्करा को कम करने के लिए प्रयोग किया जाता है। जड़ी बूटी का कड़वा स्वाद रक्त शर्करा के विकारों में बहुत लाभकारी है। चिराता अग्नाशयी कोशिकाओं में इंसुलिन उत्पादन को उत्तेजित करता है जिससे रक्त शर्करा को कम कर दिया जाता है।

(और पढ़ें - शुगर में क्या नहीं खाना चाहिए)

किरात के फायदे हैं लिवर में उपयोगी - Chirata Good for Liver in Hindi

किरात (जेन्शियाना चिराता) लिवर की समस्याओं जैसे सिरोसिस, फैटी लिवर और अन्य बीमारियों के लिए बहुत अच्छा है। यह लिवर की कोशिकाओं को रिचार्ज करता है और उनके कामकाज को उत्तेजित करती है। यह सबसे अच्छा लिवर डिटाक्सफाइर है। इसके जिगर पर डिटॉक्सिफ़िकेशन प्रभाव स्पष्ट दिखाई देते हैं। इसलिए आप लिवर की समस्याओं का इलाज करने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े - लिवर को साफ करने के उपाय)

चिरायता का प्रयोग करे वजन को कम करने में मदद - Chirata Helps in Weight Loss in Hindi

चिरायता चयापचय को बढ़ाती है जिससे वजन को कम करने में मदद मिलती है। यह इसमें मौजूद मेथनॉल की उपस्थिति के कारण होता है। 

(और पढ़ें - वेट लॉस करने के लिए क्या खायें)

चिरायता के लाभ हैं जोड़ो के लिए - Chirata ke Fayde for Joint Diseases in Hindi

चिराता में सूजन को कम करने वाले बहुत ही अच्छे गुण होते हैं। यह लालिमा, दर्द, सूजन और जोड़ो रोगों के उपचार में प्रयोग किया जाता है, खासकर रुमेटीयड गठिया में। 

(और पढ़े - गठिया का आयुर्वेदिक इलाज)

चिरायता के औषधीय गुण करें कैंसर से रक्षा - Chirata for Cancer in Hindi

यह इस जड़ी बूटी के बारे में सबसे अच्छी चीजों में से एक है कि यह कैंसर के खिलाफ बचाव प्रदान करती है। यह विशेष रूप से लिवर कैंसर के लिए सही है। 

(और पढ़े - कैंसर में क्या खाना चाहिए)

किराततिक्त हैं कब्ज का इलाज - Kiratatikta Benefits for Constipation in Hindi

यह जड़ीबूटी कब्ज के लिए एक अच्छा इलाज है। इसके पौधे से एक काढ़ा तैयार करें और जब तक कि हालत में सुधार नहीं हो जाता तब तक इसका सेवन करते रहें। 

(और पढ़ें - कब्ज का रामबाण इलाज)

चिराता के फायदे दिलाएँ आंत में कीड़ों से छुटकारा - Chirata for Worms in Hindi

इस जड़ी बूटी में एंथेल्मिनेटिक गुण होते हैं जो आंत में कीड़ों को मार देते हैं।

(और पढ़े - पेट के कीड़े का इलाज)

चिराता के लाभ हैं ब्लोटिंग में प्रभावी - Swertia Chirata Uses for Stomach in Hindi

लोग गैस, ब्लोटिंग और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल अपसेट्स आदि के लिए चिराता का उपयोग करते हैं क्योंकि यह पेट में एसिड का उत्पादन बंद कर देती है। यह आंतों की सूजन को ठीक करती है। आप इसके उपयोग से मतली और दस्त से राहत प्राप्त कर सकते हैं। यह पेट को मजबूत भी करती है। 

(और पढ़े - पेट की गैस दूर करने के घरेलू उपाय)

चिरायता पाउडर बढ़ाएँ प्रतिरक्षा - Chirata Herb Benefits for Immunity in Hindi

चिराता आपके शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए बहुत अच्छी है। यह शरीर से सभी विषाक्त पदार्थों को निकाल देती है, इस प्रकार यह शरीर को साफ और ताज़ा रखने के लिए सभी आयु वर्गों और बच्चों द्वारा भी लिया जा सकता है। 

(और पढ़े - प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत करने के उपाय)

चिरायता और कुटकी सोरायसिस के इलाज के लिए - Chirata for Psoriasis in Hindi

सोरायसिस के इलाज के लिए चार ग्राम चिरायता और चार ग्राम कुटकी को एक काँच के बर्तन में 125 ग्राम पानी डालकर रख दें। अगली सुबह उस पानी को निथार कर पी लें और 3-4 घंटे के लिए कुछ ना खाएँ और उसी बर्तन में फिर से 125 ग्राम पानी डालकर रखे दें। इस प्रकार चार दिनों तक ये भीगा हुई कुटकी और चिरायता काम आएँगे। इस उपाय का पालन लगातार 2 सप्ताह तक करें। 

(और पढ़ें – सोरायसिस का सफल इलाज)

चिरायता के अन्य फायदे - Other Benefits of Chirata in Hindi

  • चिरायता में मौजूद इथेनॉल अल्सर को बनने से रोकता है।
  • यह रेत मक्खियों के काटने के कारण लीशमनियासिस (Leishmaniasis) रोग के प्रसार को रोकने में मदद करता है। 
    (और पढ़ें - काला-अज़ार के कारण, लक्षण, उपचार)
  • कुछ प्रकार के मानसिक विकारों का चिराता के साथ सफलतापूर्वक इलाज किया जा सकता है।
  • चिरायता में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट यौगिकों की उपस्थिति डीएनए क्षति को रोकने में उपयोगी साबित होती है।
  • गुर्दे के क्षेत्र में शिकायत वाले लोगों के लिए जैसे बार बार पेशाब जाना और पेशाब करने में कठिनाई होने में चिरायता का अर्क लेना लाभकारी होगा।
  • आप हिचकी और उल्टी दोनों के इलाज के लिए शहद के साथ इस पौधे के अर्क का उपयोग कर सकते हैं। 
    (और पढ़े - हिचकी का इलाज)
  • मासिक धर्म के दौरान सामान्य कमजोरी में शक्ति प्राप्त करने के लिए इस पौधे के अर्क का उपयोग किया जा सकता है।
  • चिराता मासिक धर्म में अधिक रक्तस्राव और नाक से खून बहना सहित सभी प्रकार के खूनों को नियंत्रित करने में मदद करता है।

चिरायता एक आयुर्वेदिक औषधि है, लेकिन अधिक मात्रा में इसका उपयोग करना हानिकारक हो सकता है।

  • कुछ लोग इसकी कड़वाहट को बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं जिससे उन्हें उल्टी सकती है।
  • यह बच्चों और स्तनपान कराने वाली मां को देने के लिए सुरक्षित है। लेकिन खुराक की सावधानीपूर्वक निगरानी की जानी चाहिए।
  • गर्भावस्था में इसके उपयोग के लिए चिकित्सा सलाह मांगना सबसे अच्छा है। (और पढ़ें - गर्भावस्था में पेट दर्द और पुत्र प्राप्ति के लिए क्या करें)
  • यह रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है। कई बार चिरायता के अधिक इस्तेमाल से रक्त में शर्करा की मात्रा जरूरत से ज्यादा कम हो जाती है, जो खतरनाक हो सकती है। इसलिए मधुमेह रोगियों को इसके उपयोग के समय एहतियात की आवश्यकता होती है।

चिराता की खुराक - Dosage of Chirata in Hindi

  1. 1-3 ग्राम पाउडर को दिन में विभाजित मात्रा के अनुसार लें।
  2. 50-100 मिलीलीटर पानी का काढ़ा प्रति दिन विभाजित मात्रा में लें।
और पढ़ें ...
Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Baidyanath Surakta SyrupBaidyanath Surakta Syrup 100ml42.0
Baidyanath Chandraprabha VatiBaidyanath Chandra Prabha Bati110.0
Zandu LalimaZandu Lalima82.0
Divya Madhunashini VatiDivya Madhunashini200.0
Divya Mahamanjisthadi Kwath (Pravahi)Divya Mahamanjishthadi Kwath (Pravahi)75.0
Divya Mahasudarshan VatiDivya Maha Sudarshan Vati80.0
Divya Jwarnashak VatiDivya Jwarnashak Vati45.0
Divya Madhu Kalp VatiDivya Madhu Kalp Vati60.0
Hamdard Safi Natural Blood PurifierHamdard Safi Natural Blood Purifier85.0
Baidyanath Amlapittantak SyrupBaidyanath Amlapittantak Syrup102.0
Divya KayakalpDivya Kayakalp Vati140.0
Sudarshan TabletSudarshan Tablet45.0