myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आंखों में जलन होने का मतलब है कुछ जलने या उत्तेजना का एहसास होना। इस समस्या में पीड़ित व्यक्ति को आंखों में खुजली, आंखों से पानी या आंख से कीचड़ आना और अन्य तरह के रिसाव की परेशानी होने लगती है। कुछ लोगों में सिर्फ आंखों में जलन की ही समस्या होती है, जबकि अन्य लोगों को काफी सारे लक्षण महसूस होते हैं, जैसे आंखों से रिसाव या पानी बहना, आंखों में दर्द या खुजली आदि। ज्यादातर यह स्थिति हानिरहित होती है और इसका सामाधान आसानी से किया जा सकता है। आप कुछ घरेलू उपायों की मदद से आंखों की जलन को कम कर सकते हैं। इस लेख में हमने आपको आंखों की जलन के घरेलू उपाय बताए हैं, यह उपाय आपकी आंखों में जलन को कम करने में मदद करेंगे।

(और पढ़ें - आंखों में जलन के कारण)

तो चलिए आपको बताते हैं आंखों में जलन के घरेलू उपाय –

  1. आंखों में जलन होने के उपाय - Aankho me jalan hone ke upay
  2. आंखों की जलन कम करने के उपाय - Aankhon ki jalan kam karne ke upay
  3. आंखों में जलन होने पर क्या करे - Aankhon me jalan hone par kya kare

आँखों की जलन के लिए उपाय है ठंडा पानी - Aankho ki jalan ke liye upay hai

अगर आपकी आंखों में जलन की समस्या शुरू होती है तो इस स्थिति में धुंधला दिखाई देने लगता है। ऐसे में चेहरे को ठंडे पानी से धोएं, जिससे आंखों में जलन, दर्द और खुजली की समस्या न हो। कभी-कभी उन लोगों की आंखों में भी जलन होती है, जो काफी समय तक कम्प्यूटर पर काम करते हैं या टीवी व फोन में लगे रहते हैं। ठंडे पानी से आंखों को धोने से धूल-मिट्टी और सूजन भी कम हो जाती है।

(और पढ़ें - बर्फ की सिकाई के फायदे

ठंडे पानी से आंखों की जलन कैसे दूर करें: 

  1. सबसे पहले एक बर्तन लें और फिर उसमें ठंडा पानी डाल लें।
  2. अब अपने चेहरे को कई बार इस पानी से धोएं। इस बात का ध्यान रखें कि ठंडा पानी आपकी आंखों में अच्छे से जाना चाहिए।
  3. आंखों को पानी से धोने से लालिमा और सूजन दोनों चली जाती है।
  4. जब भी आपको आंखों में जलन महसूस हो तो ठंडे पानी से आंखों को जरूर धोएं।
  5. आप ठंडे पानी में शहद मिलाकर भी इस पानी से आंखों को धो सकते हैं।
  6. इसके अलावा एक कपड़े पर बर्फ रखें और धीरे-धीरे बर्फ को बंद आंखों पर मलें।

(और पढ़ें - सिकाई करने के फायदे)

आंखों की जलन के लिए सब्जियों का जूस पियें - Aankh me jalan ke liye sabjiyo ka juice piye

पोषण की कमी से भी मानसिक रूप से थकान महसूस होने लगती है, इससे आपके अंगों पर भी दुष्प्रभाव पड़ सकता है। सब्जियों के जूस आंखों की जलन को दूर करने के लिए बेहद प्रभावी होते हैं। इन्हें रोजाना लेने से शरीर में पोषण की कमी पूरी होगी और आंखों की सूजन को भी कम करने में मदद मिलेगी। आंखों की जलन को कम करने के लिए आप गाजर और पालक के जूस को एक साथ मिलाकर पी सकते हैं।

जूस कैसे बनाएं:

सामग्री:

  1. दो गाजर। (और पढ़ें - गाजर के जूस के फायदे)
  2. एक कप पालक।
  3. एक से दो बड़ा चम्मच नींबू का रस। (और पढ़ें - नींबू के फायदे)
  4. एक कप चुकंदर। (और पढ़ें - चुकंदर के फायदे)
  5. कोई भी फल आपकी पसंद का।

बनाने व उपयोग करने का तरीका: 

  1. सबसे पहले सभी सामग्रियों को मिक्सर में डाल दें।
  2. अब मिक्सर में आधा कप पानी मिला लें और फिर तीन से चार मिनट तक अच्छे से सभी सामग्रियों को मिक्सर में मिक्स करें।
  3. मिक्स करने के बाद अब जूस को छानकर पी लें।
  4. आंखों की जलन को कम करने के लिए रोजाना पूरे दिन में दो ग्लास जूस जरूर पिएं।

(और पढ़ें - आँख लाल होने का इलाज

आंखों में जलन होने पर ग्रीन टी का इस्तेमाल करें - Aankho me jalan hone par green tea ka istemal kare

आंखों में जलन दूर करने के लिए ग्रीन टी बेहद बेहतरीन मानी जाती है। इसमें एंटीबैक्टीरियल और सूजनरोधी गुण होते हैं, जो आंखों की सूजन और लालिमा से छुटकारा दिलाते हैं। ग्रीन टी पीने से वजन कम करने में भी मदद मिलती है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर के फ्री रेडिकल्स और विषाक्त पदार्थों को साफ करते हैं। जो लोग साइनस इन्फेक्शन से पीड़ित होते हैं उनकी आंखों में भी जलन पैदा हो सकती है। इसके सूजनरोधी गुण साइनस की समस्या को कम कर देते हैं। (और पढ़ें - साइनस से छुटकारा पाने के उपाय)

ग्रीन टी का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. दो से तीन ग्रीन टी बैग। (और पढ़ें - ग्रीन टी के फायदे)
  2. एक कप गर्म पानी।

बनाने व उपयोग करने का तरीका: 

  1. सबसे पहले एक कप पानी को गर्म कर लें।
  2. अब उसमें ग्रीन टी बैग डालें।
  3. जब ग्रीन टी अच्छे से पानी में मिल जाए तब ग्रीन टी बैग को पानी से निकालकर फ्रिज में रख दें।
  4. मेटाबॉलिज्म बढ़ाने के लिए रोजाना दो कप चाय जरूर पिएं।
  5. ठंडा होने के बाद ग्रीन टी बैग को अपनी दोनों आंखों के ऊपर रखें।
  6. आंखों की जलन और दर्द से राहत पाने के लिए इस उपाय को रोजाना दोहराएं। 

 (और पढ़ें - आंख आने के घरेलू उपाय)

आंख में जलन के लिए ठंडी चम्मच का उपयोग करें - Aankh me jalan ke liye thandi chammach ka upyog kare

थकान के कारण, आंखों की छोटी-छोटी रक्त वाहिकाओं में सूजन आ जाती है और इसकी वजह से आंखों में जलन होने लगती है। ठंडा चम्मच आंखों की लालिमा, खुजली और सूजन को कम करने के लिए बेहद प्रभावी उपाय माना जाता है। ठंडा चम्मच (ठंडी धातु) रक्त वाहिकाओं को सिकोड़ देता है, जिससे उनमें रक्त का प्रवाह कम हो जाता है। इसके इस्तेमाल से आपकी आंखों को काफी आराम महसूस होगा। (और पढ़ें - आंखों की थकान कैसे दूर करें)

ठंडे चम्मच का इस्तेमाल कैसे करें: 

  1. सबसे पहले एक ग्लास में ठंडा पानी भरें।
  2. अब उसमें चार चम्मच डालें।
  3. फिर पांच मिनट के बाद, अब उनमें से दो चम्मच को अपनी दोनों आंखों पर रखें। रखने से पहले आंखों को बंद कर लें।
  4. जब चम्मच सामान्य तापमान के महसूस होने लगे, तब फिर उसे अन्य दो चम्मच जो ग्लास में रखी हैं उनसे बदल लें।
  5. इस उपाय को पूरे दिन में चार से पांच बार दोहराएं। 

(और पढ़ें - आँखों में दर्द का घरेलू इलाज

खीरे के टुकड़े करे आँखों में जलन कम - Kheere ke tukde kare ankho me jalan kam

स्वास्थ्य और त्वचा की देखभाल के लिए खीरा बहुत ही लाभदायक उपाय है। खीरे में एंटी-इरिटेशन गुण होते हैं जो आंखों की जलन और सूजन को दूर करने में मदद करते हैं। खीरे के जूस के इस्तेमाल से मांसपेशियों का तनाव भी कम होता है। खीरे में एंटीऑक्सीडेंट्स और फ्लेवनॉइड्स होते हैं जो आंखों में हो रही खुजली से राहत दिलाते हैं। (और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द का इलाज)

खीरे का इस्तेमाल कैसे करें: 

  1. सबसे पहले एक छोटे आकार का खीरे लें और फिर उसे छील लें।
  2. अब इसे पांच मिनट के लिए ठंडे पानी में रखें।
  3. फिर छोटे-छोटे टुकड़ों में इसे काट लें और आंखों के ऊपर रख लें। रखने से पहले आंखों को बंद कर लें।
  4. इस उपाय को पूरे दिन में दो से तीन बार दोहराएं। 
  5. आप चाहे तो खीरे के टुकड़े को फ्रीज में रख कर भी सीधे आंखों पर लगा सकते हैं। 

(और पढ़ें - आँख आने पर क्या करना चाहिए

आँखों में जलन के लिए एलो वेरा जूस लगाएं - Ankhon me jalan ke liye aloevera juice lagaye

एलो वेरा आंखों की जलन और सूजन से राहत दिलाने वाली बेहतरीन जड़ी बूटी है। इसमें सूजनरोधी और मॉइस्चराइजिंग के गुण होते हैं जो रक्त वाहिकाओं को सिकोड़ देते हैं, जिससे उनमें रक्त का प्रवाह कम हो जाता है। एक रिसर्च का कहना है कि इस जड़ी बूटी में मौजूद एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण आंखों में दर्द व जलन का इलाज करते हैं।

एलो वेरा का इस्तेमाल कैसे करें: 

सामग्री -

  1. एक से दो बड़े चम्मच एलो वेरा जेल। (और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे)
  2. एक कप ठंडा पानी।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले एक से दो बड़े चम्मच एलो वेरा जेल को एक कप ठंडे पानी में मिला लें।
  2. अब रूई लें और फिर इसे मिश्रण में डुबोएं और अब अपनी आंखों पर लगा लें।
  3. लगाने के बाद 15 से 20 मिनट तक इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. इस उपाय को पूरे दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - आंखों में सूखापन के कारण

ठंडा दूध करे आँखों की जलन को दूर - Thanda doodh kare ankho ki jalan door

दूध में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो आंखों की जलन का इलाज करने में मदद करते हैं। दूध की मदद से गुहेरी, कंजंक्टिवाइटिस से होने वाली आंख में सूजन और जलन से राहत मिलती है। ठंडे दूध का इस्तेमाल करने से आंखों में मौजूद अशुद्धियां भी साफ हो जाती हैं।

ठंडे दूध का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. एक साफ रूई।
  2. तीन से चार बड़ा चम्मच ठंडा दूध। (और पढ़ें - दूध के फायदे)

बनाने व उपयोग करने का तरीका: 

  1. सबसे पहले एक साफ रूई लें और फिर इसे ठंडे दूध में डुबोएं।
  2. डुबोने के बाद रूई को आंखों पर लगाएं। लगाने से पहले आंखों को बंद कर लें।
  3. पांच मिनट तक ठंडे दूध को आंखों में ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. अच्छा परिणाम पाने के लिए इस उपाय को एक बार सुबह और एक बार शाम को जरूर दोहराएं।

(और पढ़ें - गुहेरी के घरेलू उपाय)

आंखों में जलन दूर करने के लिए आलू लगाएं - Aankhon me jalan door karne ke liye aloo lagaye

आलू में एस्ट्रिजेंट गुण होते हैं जो आंखों में सूजन, लालिमा और खुजली को कम करते हैं। आलू को फ्रिज में रखकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं, फ्रिज में रखने से आंखों में हो रही जलन कम होती है। आलू का फेस मास्क, चेहरे के मुंहासों और अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं का भी इलाज करता है।

आलू का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. एक छोटा आलू। (और पढ़ें - आलू के फायदे)
  2. ठंडा पानी।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले आलू को छील लें।
  2. छीलने के बाद उसे ठंडे पानी में डाल दें।
  3. अब आलू को टुकड़ों में काटें और काटने के बाद उन्हें आंखों पर रख लें। रखने से पहले आंखों को बंद कर लें।
  4. दस मिनट तक टुकड़ों को आंखों पर ऐसे ही रखे रहने दें।
  5. रात को सोने से पहले यह उपाय करें।
  6. इस उपाय को तब तक दोहराएं जब तक समस्या चली न जाए।
  7. इसके स्थान पर आप चाहें तो आलू को फ्रिज में रख कर ठंडा कर सकते हैं और फिर इसके स्लाइस काट कर प्रयोग कर सकते हैं। इसे 15 से 20 मिनट तक आंखों पर रखा जा सकता है और एेसा दिन में दो से तीन बार किया जा सकता है। 

(और पढ़ें - आंखों में संक्रमण का इलाज

शहद है आंखों की जलन कम करने का उपाय - Shehad hai aankho ki jalan kam karne ka upay

आँखों की जलन को ठीक करने के लिए यह एक प्राकृतिक उपाय है। शहद में एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल गुण होते हैं जो आंखों में मौजूद अशुद्धियों को साफ करते हैं और संक्रमण फैलने से बचाते हैं। शहद से आंख आने की समस्या का भी इलाज हो सकता है।

शहद का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. एक से दो बड़ा चम्मच गुनगुना पानी।
  2. एक से दो छोटा चम्मच शहद।

(और पढ़ें - दूध और शहद पीने के फायदे)

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले पानी और शहद को एक साथ मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण में रूई डुबोएं।
  3. फिर आंखों को बंद करें और रूई को आंखों पर लगाएं।
  4. पांच मिनट तक मिश्रण को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  5. इससे आपकी आंखों में थोड़ी झुनझुनी महसूस होगी और आंखों से भी पानी आ सकता है।
  6. इस उपाय को पूरा करने के बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

(और पढ़ें - आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय

आँखों में जलन के लिए आई ड्रॉप करे मदद - Aankho me jalan ke liye eye drop kare madad

गुलाब जल में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो आंखों में जलन, सूजन और खुजली को ठीक करने में मदद करते हैं। थकी हुई आंखों पर गुलाब जल का इस्तेमाल करने से भी आंखों को बेहद आराम मिलता है।

गुलाब जल का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. पांच से छः बूंद गुलाब जल। (और पढ़ें - गुलाब जल के फायदे)
  2. एक कप ठंडा पानी।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले गुलाब जल को एक कप ठंडे पानी में मिला दें।
  2. अब इसमें रूई डुबोएं और आंखों पर लगाएं या फिर आप इस मिश्रण से आंखों को धो सकते हैं।
  3. इस उपाय को पूरे दिन में दो बार दोहराएं।

(और पढ़ें - मोतियाबिंद के लक्षण

और पढ़ें ...