myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

गला सूखना एक ऐसी समस्या है जिससे कई तरह की परेशानियां होती हैं, जैसे गले में दर्द, खाना निगलने में कठिनाई और खांसी आदि। गला सूखने का सबसे आम कारण होता है गले में मौजूद बलगम वाली झिल्ली का सूखना। ये समस्या मुंह खोलकर सोने, मौसम या ज्यादा व्यायाम करने से हो सकती है।

(और पढ़ें - खांसी आने पर क्या करे)

गला सूखना कभी कभी सर्दी जुकाम का संकेत भी हो सकता है। गला सूखने की समस्या सर्दियों के मौसम में है, क्योंकि उस समय मौसम के कारण हवा में खुश्की होती है। गला सूखने पर ऐसा महसूस होता है जैसे गले में कुछ अटक गया है या गले में मिट्टी चली गई है। ये आमतौर पर किसी गंभीर समस्या का संकेत नहीं होता, लेकिन इससे होने वाली परेशानी इतनी बढ़ जाती है कि आप किसी काम पर ध्यान नहीं लगा पाते और न ही किसी से ठीक से बात कर पाते हैं। इसके लिए ज्यादातर आपको डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं होती, लेकिन इसके कुछ मामले गंभीर भी हो सकते हैं।

(और पढ़ें - गले में कुछ अटक जाए तो क्या करें)

इस लेख में गला सूख रहा हो तो क्या करें और इस स्थिति में डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए के बारे में बताया गया है।

  1. गला सूखने पर क्या करें - Gala sukh raha ho to kya karna chahiye
  2. गले के सूखेपन के लिए डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए - Gala sukhe to doctor ke pas kab jaye

गला सूखना कोई बहुत गंभीर समस्या नहीं है और इसके लिए आप निम्नलिखित प्राथमिक उपचार कर सकते हैं -

  1. गला सूखने पर किया जाने वाला सबसे पहला और महत्वपूर्ण उपाय है ढेर सारा पानी या अन्य तरल पदार्थ पीना। इससे आपके शरीर में पानी की कमी भी नहीं होगी और आपका गला भी तर होगा। इसके अलावा तरल पदार्थ पीने से बलगम पतला होगा, जिससे वह गले में चिपकेगा नहीं और गले में अन्य समस्याएं नहीं होंगी। (और पढ़ें - पानी कितना पीना चाहिए)
  2. अगर आप धूम्रपान करते हैं, तो इस आदत को छोड़ने का प्रयास करें। सिगरेट के धुएं से आपके नाक व फेफड़ों में मौजूद बाल अपना काम नहीं कर पाते, जिससे श्वसन प्रणाली बलगम, धूल और अन्य उत्तेजक पदार्थों को शरीर से बाहर नहीं निकाल पाती। इसकी वजह से गले, नाक और मुंह में सूखापन होने लगता है। कोशिश करें कि धूम्रपान कर रहे किसी व्यक्ति के पास न जाएं, क्योंकि उनकी सिगरेट का धुआं भी आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। (और पढ़ें - सिगरेट पीना छोड़ने के घरेलू उपाय)
  3. गला सूखने पर उपयोग किया जाने वाला एक पुराना उपाय है काली मिर्च और देसी घी। इसके लिए काली मिर्च के एक दाने को अच्छे से चबा लें और उसके साथ एक चम्मच गर्म देसी घी खाएं। इससे आपका गला साफ होगा और उसका सूखापन भी दूर होगा। (और पढ़ें - गाय के घी के फायदे)
  4. गले के सूखेपन के लिए गरारे करना एक बहुत अच्छा उपाय माना जाता है। इसके लिए एक गिलास हल्के गर्म पानी में थोड़ा नमक डालकर अच्छे से मिला लें और इस मिश्रण से गरारे करें। इस बात का ध्यान रखें कि गरारे करने से पहले नमक अच्छी तरह से पानी में घुल जाना चाहिए, नहीं तो इसके दाने आपके गले में और समस्या पैदा कर सकते हैं। अगर आपको लंबे समय से गला सूखने की समस्या हो रही है, तो नमक के पानी से गरारे न करें, इससे समस्या बढ़ सकती है। (और पढ़ें - नमक के पानी के फायदे)
  5. अगर आपका गला सूख रहा है, तो कैफीन युक्त तरल पदार्थों और खट्टे फलों से दूर रहें। कैफीन वाले पदार्थों से आपका गला और सूखेगा व परेशानी बढ़ेगी। खट्टे फलों के जूस से गला सूखेगा नहीं परन्तु उसमें मौजूद खट्टेपन से गले को अन्य नुक्सान हो सकता है। (और पढ़ें - बलगम निकालने के उपाय)
  6. गले के सूखेपन के लिए एक अच्छा उपाय है तुलसी और शहद। इसके लिए तुलसी के कुछ पत्तों को पानी में उबाल लें और उसमें थोड़ा शहद मिला लें। अब इस मिश्रण को धीरे-धीरे पिएं। ये उपाय बच्चों के लिए बहुत अच्छा है, जो रात के समय अधिक असरदार होता है। आप चाहें तो तुलसी की चाय बनाकर उसे भी पी सकते हैं। (और पढ़ें - शहद और गर्म पानी के लाभ)
  7. कोशिश करें कि ऐसा कुछ न खाएं जो सूखा हो और आपके गले के सूखेपन को बढ़ाए। आप चाहें को अपने खाने में क्रीम, सूप या ग्रेवी जैसी तरल चीजें मिलाकर उसे तर कर सकते हैं। इसके अलावा सूखे, नमक वाले और मिर्च वाले खाने से बचें, इनसे भी आपका गला अधिक सूखेगा। (और पढ़ें - मसालेदार खाने के फायदे और नुकसान)
  8. खुश्क हवा में सांस लेने से भी गला सूखने लगता है, इसीलिए हवा को नम करने का प्रयास करें। इसके लिए अपने घर या ऑफिस में हवा को नम बनाने के लिए ह्युमिडिफायर (Humidifier) का उपयोग करें। अगर आप ह्युमिडिफायर का उपयोग नहीं करना चाहते हैं, तो आप गर्म पानी से नहा सकते हैं या अपने आस-पास थोड़ा पानी उबालकर रख सकते हैं। दोनों ही तरीकों में, गर्म पानी से निकलने वाली भाप आपके आस-पास की हवा को करेगी और आपको गले के सूखेपन से आराम मिलेगा। इन तरीकों से कुछ समय के लिए आपको आराम अवश्य मिलेगा। (और पढ़ें - भाप लेने का तरीका)
  9. गले के सूखेपन के लिए आप मुलेठी का उपयोग भी कर सकते हैं। दिन के समय मुलेठी का छोटा सा टुकड़ा अपने दांतों के बीच रखें और उसे चबाते रहें। इससे गले के सूखेपन में काफी आराम मिलता है। (और पढ़ें - मुंह सूखने का इलाज)
  10. गला सूखने पर मेडिकल स्टोर पर मिलने वाली गोलियों या च्विंगम का उपयोग भी किया जा सकता है। दोनों की तरीकों से मुंह में थूक बढ़ेगा और गले का सूखापन भी कम होगा। (और पढ़ें - गले की खराश दूर करने के उपाय)
  11. गला सूखने पर शहद का उपयोग बहुत असरदार माना जाता है। इसके लिए एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच शहद डालें और इस मिश्रण को धीरे-धीरे पिएं। आप चाहें तो इसमें नींबू भी निचोड़ सकते हैं। इस मिश्रण को दिन में तीन से चार बार पिएं। (और पढ़ें - दूध और शहद पीने के फायदे)
  12. गले में इन्फेक्शन, खांसी और सूखेपन को कम करने के लिए लहसुन, हल्दी और दूध का उपयोग भी किया जाता है। इसके लिए एक कप दूध में लहसुन उबाल लें और उसमें थोड़ी हल्दी मिले दें। हल्दी से आपकी रोग प्रतिरोध क्षमता बढ़ेगी और इस मिश्रण को पीने से आपके गले की समस्याएं जल्दी ठीक हो जाएंगी। (और पढ़ें - हल्दी दूध बनाने की विधि)
  13. कोशिश करें कि अपनी नाक से ही सांस लें। मुंह से ली गई सांस साफ नहीं होती और आपके गले को सुखाती है। अगर आपकी नाक बंद है, तो नाक खोलने के लिए मेडिकल स्टोर पर मिलने वाले स्प्रे का उपयोग किया जा सकता है। (और पढ़ें - बंद नाक खोलने के उपाय)

वैसे तो गला सूखने पर डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन आपको डॉक्टर के पास अवश्य जाना चाहिए अगर:

 

नोट: प्राथमिक चिकित्सा या फर्स्ट ऐड देने से पहले आपको इसकी ट्रेनिंग लेनी चाहिए। अगर आपको या आपके आस-पास किसी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की आपातकालीन स्वास्थ्य समस्या है, तो डॉक्टर या अस्पताल​ से तुरंत संपर्क करें। यह लेख केवल जानकारी के लिए है।

और पढ़ें ...