myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

टाइफाइड एक प्रकार का बैक्टीरियल इन्फेक्शन जिसे आंतों से संबंधित विकार, बुखार और रैशेस में वर्गीकृत किया गया है। इसमें लक्षण जैसे सिर दर्द, कब्ज, पेट के निचले हिस्से में दर्द, भूख कम लगना, अत्यधिक थकान और मांसपेशियों में दर्द से कमजोरी महसूस होना आदि। यह संक्रमण आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता और पाचन प्रणाली पर प्रभाव डालता है। तो ऐसे में जरूरी है कि आप एक पर्याप्त डाइट प्लान का पालन करें। इस लेख में हम आपको टाइफाइड में डाइट प्लान के बारे में बता रहे हैं, इस चार्ट की मदद से रोग प्रतिरोधक क्षमता सुधरेगी, पाचन क्रिया मजबूत होगी और शरीर में इलेक्ट्रोलाइट का स्तर संतुलित होगा।

(और पढ़ें - टाइफाइड के लक्षण)

तो आइये आपको बताते हैं टाइफाइड फीवर डाइट प्लान एंड चार्ट -

  1. टाइफाइड डाइट चार्ट का पहला दिन - Typhoid diet chart ka pehla din
  2. डाइट प्लान फॉर टाइफाइड का दूसरा दिन - Diet plan for Typhoid ka dusra din
  3. टाइफाइड डाइट प्लान का तीसरा दिन - Typhoid diet plan ka teesra din
  4. टाइफाइड में डाइट का चौथा दिन - Typhoid me diet ka chautha din
  5. टाइफाइड फीवर में डाइट प्लान का पांचवा दिन - Typhoid fever me diet plan ka pachva din
  6. टाइफाइड पेशेंट के डाइट चार्ट का छठा दिन - Typhoid patient ke diet chart ka chhatha din
  7. टाइफाइड ट्रीटमेंट डाइट का सातवां दिन - Typhoid treatment diet ka satva din
  8. टाइफाइड डाइट प्लान टिप्स - Typhoid diet plan tips

नाश्ता (8:30 से 9 बजे के बीच) - दूध और कॉर्नफ्लेक्स या दलिया (एक तिहाई कप)

नाश्ते के कुछ घंटे बाद (11:30 से 12 बजे के बीच) - नारियल पानी (एक से दो कप) साथ ही कोई भी एक फल

दोपहर का खाना (1:30 से 2 बजे के बीच) - मूंग दाल (एक कप) साथ ही सब्जियों का सूप। 

शाम का नाश्ता (4:30 से 5 बजे के बीच) - मिक्स सब्जियों का सूप (एक कप)

रात का खाना (7:30 से 8 बजे के बीच) - उबले चावल (एक चौथाई कप) साथ ही मछली (एक टुकड़ा) साथ ही दो गर्म रसगुल्ला। अगर आप शाकाहारी हैं तो मछली की जगह कोई भी हरी सब्जी एक कटोरी खा सकते हैं।

(और पढ़ें - टाइफाइड के घरेलू उपाय)

नाश्ता (8:30 से 9 बजे के बीच) – पोहा (एक चौथाई कप) में मटर और गाजर डालकर खाएं।

नाश्ते के कुछ घंटे बाद (11:30 से 12 बजे के बीच) – नारियल पानी (एक तिहाई कप) साथ ही एक केला

दोपहर का खाना (1:30 से 2 बजे के बीच) - मूंग दाल (एक कप) साथ ही एक कटोरी साग। 

शाम का नाश्ता (4:30 से 5 बजे के बीच) - पालक का सूप (एक तिहाई कप)

रात का खाना (7:30 से 8 बजे के बीच) - उबले चवल (एक चौथाई कप) साथ ही गाजर और आलू की तरीदार सब्जी (एक तिहाई कप)।

(और पढ़ें - टायफाइड में क्या खाना चाहिए)

नाश्ता (8:30 से 9 बजे के बीच) – एक रोटी को एक कप चीनी वाले दूध में डुबाकर खाएं।

नाश्ते के कुछ घंटे बाद (11:30 से 12 बजे के बीच) – एक रोटी को एक तिहाई कप दूध में डुबाकर खाएं। दूध में चीनी भी मिला लें। 

दोपहर का खाना (1:30 से 2 बजे के बीच) - एक कटोरी हरी सब्जी और उबले चावल (आधा कप) साथ ही एक उबला अंडा साथ में गर्म-गर्म चावलों पर ऊपर से एक चम्मच शुद्ध देसी घी डालकर खाएं।

शाम का नाश्ता (4:30 से 5 बजे के बीच) - जौ का पानी (एक तिहाई कप) ।

रात का खाना (7:30 से 8 बजे के बीच) - उबले हुए चावल (एक चौथाई कप) साथ में दूध (एक तिहाई कप) साथ में गुड़ (दो चम्मच)। इन तीनों को मिलाकर अपने लिए रात का खाना तैयार करें।

(और पढ़ें - वायरल बुखार के लक्षण)

नाश्ता (8:30 से 9 बजे के बीच) – सब्जियों से बना सूप (एक कप) साथ ही एक फल।

नाश्ते के कुछ घंटे बाद (11:30 से 12 बजे के बीच) – गाजर का सूप (एक कप)।

दोपहर का खाना (1:30 से 2 बजे के बीच) - रोटी (दो) साथ में चिकन (दो टुकड़े)। अगर आप शाकाहारी हैं तो एक कटोरी साग के साथ दो रोटी खाएं।   

शाम का नाश्ता (4:30 से 5 बजे के बीच) - नारियल का पानी (एक तिहाई कप) साथ ही एक संतरा

रात का खाना (7:30 से 8 बजे के बीच) - उबले चावल (एक तिहाई कप) साथ ही मैश किये हुए दो आलू, चावलों के ऊपर घी (एक चम्मच)।

(और पढ़ें - वायरल इन्फेक्शन का इलाज)

नाश्ता (8:30 से 9 बजे के बीच) – मूंग दाल सूप (एक तिहाई कप) साथ में एक या डेड रोटी।

नाश्ते के कुछ घंटे बाद (11:30 से 12 बजे के बीच) – चिकन सूप (एक तिहाई कप) या फिर अगर आप शाकाहारी हैं तो मशरूम का सूप (एक तिहाई) पी सकते हैं।

दोपहर का खाना (1:30 से 2 बजे के बीच) - उबले चावल (एक कप) साथ ही चिकन (दो टुकड़े)। अगर आप शाकाहारी हैं तो उबले चावलों के एक कटोरी मिक्स सब्जी खा सकते हैं। 

शाम का नाश्ता (4:30 से 5 बजे के बीच) - एक ग्लास ताजा फलों का जूस या छाछ।

रात का खाना (7:30 से 8 बजे के बीच) - उबले चावल (एक चौथाई कप) साथ में एक कप तरीदार सब्जी साथ ही गर्म रसगुल्ले।

नाश्ता (8:30 से 9 बजे के बीच) – कस्टर्ड (एक तिहाई कप) साथ में टोस्ट (दो टुकड़े)।

नाश्ते के कुछ घंटे बाद (11:30 से 12 बजे के बीच) – जौ का पानी साथ में एक फल।

दोपहर का खाना (1:30 से 2 बजे के बीच) - मूंग दाल (एक तिहाई कप) साथ में दो रोटी।

शाम का नाश्ता (4:30 से 5 बजे के बीच) - ताजा फलों का जूस या फिर सब्जियों का बना सूप।

रात का खाना (7:30 से 8 बजे के बीच) - उबले चावल (एक चौथाई कप) साथ में दूध (एक तिहाई कप) साथ ही गुड़ (तीन चम्मच)।

नाश्ता (8:30 से 9 बजे के बीच) – एक तिहाई पोहा मटर और गाजर डालकर।

नाश्ते के कुछ घंटे बाद (11:30 से 12 बजे के बीच) – नारियल का पानी (एक कप) साथ में काले अंगूर (आधा कप)

दोपहर का खाना (1:30 से 2 बजे के बीच) - रोटी (दो) साथ में चिकन (दो टुकड़े)। अगर आप शाकाहारी हैं तो एक कटोरी साग के साथ दो रोटी खाएं।   

शाम का नाश्ता (4:30 से 5 बजे के बीच) – पालक का सूप (आधा कप)।

रात का खाना (7:30 से 8 बजे के बीच) - उबले चवल (एक चौथाई कप) साथ ही गाजर और आलू की तरीदार सब्जी (एक तिहाई कप) साथ ही दो गर्म रसगुल्ले।

टाइफाइड डाइट प्लान टिप्स इस प्राकर है -

  1. टाइफाइड फीवर में एक ही बार में खाना न खाएं। इससे आपकी तबियत और बिगड़ सकती है। कोशिश करें कि आप पूरे दिन में टुकड़ों में खाना खाएं।
  2. ऐसे आहार खाएं जो आसानी से पच सकें।
  3. प्रोटीन से समृद्ध डाइट लें।
  4. स्वस्थ पेय पदार्थों का सेवन करें।
  5. पूरे दिन में ज्यादा से ज्यादा गर्म पानी पियें और अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखें।
  6. अपनी डाइट में विटामिन ए, विटामिन बी और विटामिन सी को शामिल करें।
  7. मसालेदार खाना बिल्कुल न खाएं।
  8. घुलनशील फाइबर युक्त आहार न खाएं।
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें