myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

जब-जब आप शीशे में देखते होंगे तो हर बार एक नई समस्या दिखाई देती होगी जैसे चेहरे पर पिम्पल दिखाई देना, काले दाग धब्बे दिखना, झाइयां दिखना, सन टैन आदि। अगर आप इन समस्यों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो इन सभी के लिए अलग-अलग उत्पादों को खरीदने की जरूरत नहीं है, क्योंकि इस लेख में हम आपको एक ऐसी सामग्री बता रहे हैं जिसके इस्तेमाल के बाद आपकी त्वचा से जुड़ी सभी समस्याएं दूर हो जाएंगी। हम बात कर रहे हैं, हल्दी के बारें में। हल्दी के इस्तेमाल से आपकी त्वचा न सिर्फ निखरती है बल्कि सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं।

(और पढ़ें - चर्म रोग की दवा​)

तो चलिए आपको बताते हैं कि कैसे हल्दी है स्किन की 5 बड़ी समस्याओं का इकलौता समाधान।

1. डार्क सर्कल:
अगर आप आंखों के काले घेरों को देख-देखकर थक चुकें हैं तो परेशान न हो, क्योंकि हल्दी आपके डार्क सर्कल को तेजी से कम करने में आपकी मदद करेगी। हल्दी में सूजनरोधी और त्वचा को निखारने के गुण होते हैं। हल्दी रक्त परिसंचरण को बढ़ाती है और आंखों के काले घेरों को भी दूर करती है।

(और पढ़ें - आंखों के काले घेरे हटाने के उपाय)

2. मुहांसे:
हल्दी मुहांसे का कारण बनने वाले बैक्टीरिया को मारती है। हल्दी त्वचा को ऑइली होने से भी रोकती है। अगर आप हल्दी को ग्लिसरीन के साथ या विटामिन ई के साथ मिलाकर रात में मुहांसों पर लगाते हैं तो मुहांसों का आकार रातों-रात में कम हो जाएगा और उसके आसपास की सूजन भी कम हो जाएगी।

अगर आप हल्दी को अंडे, दही, शहद और अन्य प्रोटीन युक्त सामग्रियों के साथ मिलाते हैं तो ऐसा मिश्रण त्वचा को स्वस्थ बनाने में मदद करेगा। आप इस मिश्रण को रोजाना चेहरे पर लगा सकते हैं।

(और पढ़ें - मुंहासे हटाने के उपाय)

3. एक्ज़ीमा:
एक्जिमा की समस्या में आपको सूजन, खुजली, लालिमा, छाले आदि की समस्या होती है। एक्ज़ीमा को डर्मटाइटिस भी कहा जाता है। एक्ज़ीमा आमतौर पर तनाव, बेकार मेकअप या अन्य तरह की बीमारी आदि के कारण भी होता है। हल्दी स्किन इरिटेशन, रैशेस, खुजली, सूजन और लालिमा को दूर करता है। हल्दी त्वचा को हाइड्रेट करती है और त्वचा को ड्राई व पपड़ीदार नहीं होने देती।

(और पढ़ें - एक्जिमा के उपाय)

4. मुहांसों के दाग-धब्बों:
अगर आप मुहांसों के दाग-धब्बों से परेशान हैं तो हल्दी से बना फेस मास्क इस्तेमाल कर सकते हैं। हल्दी का इस्तेमाल आपके दाग-धब्बों को दूर करने में मदद करता है। हल्दी में सूजनरोधी गुण होते हैं जो त्वचा के छिद्रों को बंद करते हैं और कील-मुहांसों से छुटकारा दिलाते हैं।

(और पढ़ें - मुँहासे के दाग मिटाने के उपाय)

5. सोरायसिस:
सोरायसिस त्वचा विकार है जिसमें त्वचा पर सफेद और गुलाबी रंग के चकत्ते होने लगते हैं। सोरायसिस के लक्षणों को रोकने के लिए आप हल्दी का इस्तेमाल कर सकते हैं। हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट और सूजनरोधी गुण होते हैं जो सोरायसिस के लक्षणों को रोकते हैं। सोरायसिस में सूजन और छालों के ऊपर बनने वाली पपड़ी से छुटकारा पाने के लिए आप हल्दी से बना तेल, हल्दी की क्रीम और मास्क का उपयोग कर सकते हैं। 

(और पढ़ें - आंखों के नीचे की झुर्रियां मिटाने का उपाय​)

6. चोट या कट ठीक करती है:
हल्दी में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो चोट का इलाज करते हैं, इस तरह संक्रमण को फैलने से रोकने में मदद मिलती है। धूप से जली त्वचा का इलाज करने के लिए आप हल्दी और एलोवेरा को मिलाकर लगा सकते हैं। हल्दी और शहद का मिश्रण कटी हुई त्वचा व चोट पर अच्छे से कार्य करता है।

(और पढ़ें - चोट लगने पर क्या करना चाहिए​)

और पढ़ें ...