myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

लिट्टी चोखा बिहार की एक पारम्परिक रेसिपी है, जो लंच या डिनर में खाई जाती है। लिट्टी को सत्तू के साथ अजवाइन और कलोंजी जैसे मसाले डालकर बनाया जाता है। चोखा बनाने के लिए बैंगन, आलू या टमाटर का उपयोग किया जाता है। इसमें भारतीय मसालों का स्वाद होता है और इसे बिहार के अलावा और भी कई जगहों पर शौक से खाया जाता है। इस लेख में हमने आपको लिट्टी चोखा बनाने की सामग्री और उसके तरीके के बारे में बताया है।

संक्षेप में  
तैयारी करने का समय 20 मिनट
पकाने का समय 40 मिनट
बनाने का कुल समय एक घंटा
यह रेसिपी कितने लोगों के लिए है 5 लोग
प्रकार वेज (शाकाहारी)
किस जगह की है यह डिश बिहार
कब खाएं लंच या डिनर में
कैलोरी (एक पीस में) 144Kcal

(और पढ़ें - मोदक बनाने की रेसिपी)

  1. लिट्टी चोखा बनाने के लिए सामग्री - Ingredients for litti chokha in hindi
  2. लिट्टी चोखा बनाने की विधि - How to make litti chokha in hindi
  3. लिट्टी चोखा को परोसने का तरीका - How to serve litti chokha in hindi
  4. लिट्टी चोखा में मौजूद पोषक तत्व - Nutritional information of litti chokha in hindi
  5. लिट्टी चोखा से सम्बंधित कुछ टिप्स - Tips for making litti chokha in hindi
  6. क्या लिट्टी चोखा हैल्दी होता है? - Is litti chokha healthy?
  7. लिट्टी चोखा बनाने का वीडियो - Litti chokha recipe video in hindi

लिट्टी चोखा बनाने में उपयोग होने वाली सामग्री निम्नलिखित है:

ये सामग्री पांच लोगों के लिए लिट्टी चोखा बनाने के लिए पर्याप्त है।

(और पढ़ें - वड़ा पाव बनाने की विधि)

लिट्टी चोखा बनाने की विधि नीचे दी गई है:

लिट्टी बनाने के लिए

  1. सबसे पहले एक बाउल लें और उसमें गेहूं का आटा, सरसों का तेल और एक चुटकी नमक डालें। (और पढ़ें - नमक की कमी के लक्षण)
  2. अब इसमें थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर मुलायम सा आटा गूंथ लें।
  3. एक बर्तन लें और उसमें सत्तू, अचार का मसाला, सरसों का तेल, नींबू का रस, कलोंजी, अदरक, धनिया, हरी मिर्च और नमक को आपस में अच्छे से मिला लें।
  4. अब अपने ओवन को पहले से ही 180 डिग्री सेल्सियस पर गरम कर लें।
  5. गुंथा हुआ आटा लें और उसकी गोल-गोल बॉल्स बना लें। एक बाल को लेकर चपटा करें और उसके बीच में तैयार की गई सत्तू की थोड़ी सी फिलिंग रखें।
  6. फिलिंग रखने के बाद आटे को साइड से बंद कर दें और इसे वापिस बॉल बना दें।
  7. बॉल्स बनाने के बाद इसे बेकिंग ट्रे में रखकर ओवन में रख दें और दोनों तरफ से बेक कर लें ताकि ये अच्छे से पक जाए।
  8. जब लिट्टी कुरकुरी हो जाए, तो उसे ओवन से बाहर निकाल लें। आपकी लिट्टी बिलकुल तैयार है।

(और पढ़ें - मैसूर पाक बनाने की विधि)

चोखा बनाने के लिए

  1. सबसे पहले बैंगन को धोकर, सुखाकर और काटकर रख लें।
  2. अब बेकिंग ट्रे पर फॉयल पेपर चढ़ाएं और उसके ऊपर बैंगन व टमाटर रखकर तेज तापमान पर भून लें।
  3. भुनने के बाद ओवन बंद करके ट्रे बाहर निकाल लें और टमाटर व बैंगन छीलकर अच्छे से मसल लें। फिर इन्हें एक बाउल में डाल दें।
  4. इस बाउल में लहसुन, नमक, सरसों का तेल, नींबू का रस, हरी मिर्च और कटा हुआ धनिया डालकर मिला दें। आपका चोखा बिलकुल तैयार है।

(और पढ़ें - पोहा बनाने की विधि)

लिट्टी चोखा परोसने के लिए चोखा कटोरी में निकाल लें। लिट्टी को पिघले हुए घी में डुबोकर चोखा के साथ परोसें। आप चाहें तो इस डिश को कढ़ी के साथ भी परोस सकते हैं।

लिट्टी चोखा के साथ एक कटोरी में घी भरकर भी परोसा जाता है।

(और पढ़ें - गाय के घी के फायदे)

लिट्टी चोखा में मौजूद पोषक तत्वों की जानकारी नीचे दी गई है, ये इसके एक पीस के आधार पर है:

पोषक तत्व                       मात्रा    
कैलोरी 144Kcal
फैट 3.4 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल 2.7 मिलीग्राम
सोडियम 132 मिलीग्राम
पोटैशियम 298 मिलीग्राम
कार्बोहाइड्रेट 25 ग्राम
प्रोटीन 5.2 ग्राम
नेचुरल शुगर

2.5 ग्राम

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितनी कैलोरी खाएं)

नीचे दी गई टिप्स लिट्टी चोखा बनाने में आपकी मदद कर सकती हैं:

  • अगर आप सत्तू का उपयोग नहीं करना चाहते, तो आप भुनी हुई चने की दाल का उपयोग भी कर सकते हैं। इसके लिए दाल को मिक्सी में पीस लें और छानकर इस्तेमाल करें।
  • लिट्टी के आटे में दो चम्मच दही भी डाला जा सकता है। इससे लिट्टी मुलायम बनती है।
  • आप चाहें तो लिट्टी को ओवन की जगह तंदूर में भी बेक कर सकते हैं।
  • लिट्टी का स्वाद सबसे अच्छा तभी आता है जब उसे एकदम ताजा खाया जाए। दोबारा गरम करने से उसका कुरकुरापन खत्म हो जाता है। अगर आपके पास पहले की बनी हुई लिट्टी रखी है, तो उसे हल्का सा फ्राई कर लें और चाय या कॉफी के साथ खाएं।

(और पढ़ें - इडली बनाने की विधि)

लिट्टी चोखा एक स्वस्थ रेसिपी है, क्योंकि इसमें बहुत ज्यादा तेल का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। लिट्टी को या तो बेक करते हैं या इसे रोस्ट करके परोसा जाता है, लेकिन इसे परोसते समय ऊपर से डाला जाने वाला घी आपको जरूर नुकसान दे सकता है। हालांकि, आप इसे बिना घी के भी खा सकते हैं।

  • लिट्टी बनाने में उपयोग होने वाला सत्तू ठंडक देता है और आपको सारा दिन ऊर्जा से भरपूर भी रखता है। इसके स्वास्थ्य लाभों के कारण सत्तू को और भी कई रेसिपी में उपयोग किया जाता है। आप चाहें तो इसकी जगह भुनी हुई चने की दाल के पाउडर का उपयोग भी कर सकते हैं। (और पढ़ें - शरीर की ऊर्जा बढ़ाने का उपाय)
  • चोखा बनाने के लिए भुने हुए बैंगन का उपयोग किया जाता है, जिसमें फाइबर, विटामिन और कई अन्य पोषक तत्व मौजूद होते हैं। आप चाहें तो बैंगन की जगह आलूटमाटर से भी चोखा बना सकते हैं।

(और पढ़ें - फाइबर युक्त आहार)

इस वीडियो को देखकर आप आसानी से लिट्टी चोखा बना सकते हैं, इसमें ओवन या तंदूर की जगह गैस पर बैंगन को भूना गया है।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें