myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

कौन हमेशा के लिए युवा नहीं दिखना चाहता है? आजकल के लाइफस्टाइल और तनाव भरी जिंदगी का सीधा असर आपके चेहरे और स्वास्थ्य पर पड़ता है। इसलिए अधिकतर महिलाएं सुंदर और युवा दिखने के लिए कई कॉसमेटिक्स प्रॉडक्ट्स का सहारा लेती हैं। लेकिन ज्यादातर लोगों को यह नहीं पता कि प्रकृति ने हमारे लिए कई उपाय स्टोर किये हुए हैं जो आसानी से आपके किचन में ही मिल जायेंगे। तो आइए जानते हैं चेहरे पर कसाव लाने वाले कुछ ऐसे ही घरेलू उपायों के बारे में -

  1. स्किन टाइट करने का उपाय है कॉफ़ी - Coffee for skin tightening in Hindi
  2. स्किन टाइट करने का तरीका है विच हैज़ल - Witch hazel good for skin tightening in Hindi
  3. स्किन टाइट करने के लिए एलो वेरा का करें इस्तेमाल - Aloe vera benefits for skin tightening in Hindi
  4. स्किन को टाइट करने के लिए फिटकरी का करें उपयोग - Alum reduces sagging of skin in Hindi
  5. त्वचा को कसने का उपाय है टमाटर - Tomato treatment for skin tightening in Hindi
  6. सेंधा नमक के फायदे से स्किन को टाइट करें - Benefits of epsom salt for skin tightening in Hindi
  7. नींबू के लाभ से स्किन को टाइट रखें - Lemon juice used for skin tightening in Hindi
  8. स्किन को टाइट करने का घरेलू उपाय है मुल्तानी मिट्टी - Multani mitti for skin tightening in Hindi
  9. स्किन टाइट करने का घरेलू नुस्खा है पपीता - Papaya good for skin tightening in Hindi
  10. त्वचा का ढीलापन दूर करने के लिए दही का करें प्रयोग - Yogurt helps to get rid of skin sagging in Hindi
  11. त्वचा को कसने के उपाय करें नींबू से - Lemon Juice for Tighter Skin in Hindi
  12. नारियल दूध है चेहरे की स्किन टाइट करने का उपाय - Coconut Milk for Skin Tightening in Hindi
  13. त्वचा कसने के लिए घरेलू उपचार है पपीता - Papaya for Skin Tightening in Hindi
  14. त्वचा में कसाव लाने के उपाय करें गुलाब जल से - Rose Water to Tighten Skin in Hindi
  15. खीरा दही फेस पैक है फेस की स्किन टाइट करने का उपाय - ucumber and Curd Face Pack for Skin Tightening in Hindi

सामग्री –

  1. एक या कप कॉफ़ी।
  2. एक या कप ब्राउन शुगर।
  3. दो या तीन चम्मच नारियल का तेल या जैतून का तेल
  4. एक या दो चम्मच दालचीनी

विधि –

  1. सबसे पहले नारियल के तेल को गर्म कर लें और अच्छे से उसे पिघला लें। फिर इसे गुनगुना कर लें।
  2. अब सभी सामग्रियों को एक साथ मिला लें फिर गुनगुने नारियल के तेल को इन सामग्रियों में मिला दें।
  3. अब इस मिश्रण को अच्छे से मिलाने के बाद अपनी त्वचा पर लगाकर कुछ मिनट तक रगड़ें।
  4. फिर त्वचा को गुनगुने पानी से धो लें। 

कॉफ़ी का इस्तेमाल कब तक करें –

इस कॉफ़ी स्क्रब को हफ्ते में एक या दो बार ज़रूर लगाएं।

कॉफ़ी के फायदे –

कॉफी में मौजूद कैफीन त्वचा से अधिक मॉइस्चर को निकालता है और जमी वसा को खत्म करता है जिससे त्वचा मुलायम लगने लगती है। कॉफ़ी में एंटीऑक्सीडेंट्स भी होते हैं जो त्वचा पर बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करते हैं। कॉफ़ी के मोटे कण और शुगर त्वचा को एक्सफोलिएट करते हैं और उसका इलाज करते हैं। इस प्रक्रिया के दौरान, नारियल का तेल त्वचा को हाइड्रेट और मॉइचराइज़्ड करता है।  

(और पढ़ें - कॉफी पीने के फायदे)

सामग्री –

  1. विच हैज़ल का मिश्रण।
  2. रूई।

विधि –

  1. सबसे पहले रूई को विच हैज़ल लिक्विड में डाल दें और फिर इसे अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  2. फिर इसे पांच मिनट तक सूखने दें।
  3. फिरसे इस प्रक्रिया को दोहराएं।
  4. इसके साथ ही अपने शरीर के अन्य अंगों पर भी इसे लगाएं जैसे हाथ, पेट और अन्य प्रभावित क्षेत्र।

विच हैज़ल का इस्तेमाल कब तक करें –

ये रात को सोने से पहले आपको कई लाभ देगा। तो इसे रोज़ाना लगाएं।

विच हैज़ल के फायदे –

विच हैज़ल एक सामान्य एस्ट्रिजेंट है। ये त्वचा के छिद्रों को टाइट करता है इससे आपकी त्वचा वापस पहली जैसी हो जाती है। इसमें मौजूद पॉलीफेनोल्स एंटीऑक्सीडेंट एन्ज़ाइम्स की गतिविधियों को रोक देता है, जो कि त्वचा की लोच और कोलाजेन को कम कर रहे होते हैं।

(और पढ़ें - त्वचा की कसावट के लिए तेल)

सामग्री –

  1. एक एलो वेरा पत्ती।

विधि –

  1. सबसे पहले एलो वेरा की पत्तियों को खोल लें और फिर उसमे से जेल को निकाल लें।
  2. अब इस जेल को प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं और फिर 15 से 20 मिनट तक सूखने का इंतज़ार करें।
  3. फिर त्वचा को पानी से धो लें।

एलो वेरा का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को रोज़ाना एक बार ज़रूर दोहराएं।

एलो वेरा के फायदे –

एलो वेरा में फाइटोकेमिकल्स होते हैं जो त्वचा को स्वस्थ रखते हैं। एलो वेरा त्वचा को आराम पहुंचाता है, नमी देता है और बढ़ती उम्र के लक्षणों से बचाता भी है। इससे त्वचा को टाइट रखने में मदद मिलती है।

(और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे)

सामग्री –

  1. फिटकरी का छोटा टुकड़ा।
  2. पानी।

विधि –

  1. फिटकरी के टुकड़े को पानी में डालें और फिर पूरी त्वचा पर लगाएं।
  2. 20 मिनट के बाद त्वचा को धो लें।

फिटकरी का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को रोज़ाना दोहराएं।

फिटकरी के फायदे –

फिटकरी प्राकृतिक तरीके से त्वचा को टाइट करता है जिसका इस्तेमाल आप खाली फिटकरी लगाकर कर सकते हैं या फिर आप इसे किसी मास्क के साथ लगाकर इस्तेमाल कर सकते हैं। फिटकरी एस्ट्रिजेंट की तरह काम करता है और त्वचा के बड़े छिद्रों को दूर करता है।

सावधानी –

फिटकरी लगाकर आपकी त्वचा रूखी हो सकती है। तो हमेशा इसके इस्तेमाल के बाद मॉस्चराइज़र ज़रूर लगाएं।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा की देखभाल)

सामग्री –

  1. एक छोटा टमाटर।
  2. रूई।

विधि –

  1. सबसे पहले टमाटर का जूस निकाल लें और फिर इसमें रूई को डुबोएं।
  2. अब प्रभावित क्षेत्र पर इस जूस को गाढ़ा गाढ़ा लगाएं।
  3. फिर 10 से 15 मिनट के लिए इसे त्वचा पर ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  4. फिर साफ़ पानी से त्वचा को धो लें।

टमाटर का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को पूरे दिन दो बार दोहराएं।

टमाटर के फायदे –

टमाटर का जूस त्वचा को आराम पहुंचाता है। ये एक प्राकृतिक टोनर है जो ढीली हुई त्वचा को टाइट करने में मदद करता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स भी होते हैं जो त्वचा के रंग को निखारते हैं और आपको एक प्राकृतिक चमक देते हैं।

(और पढ़ें - टमाटर के फायदे)

सामग्री –

  1. एक या दो कप सेंधा नमक।
  2. गर्म पानी।
  3. बाथ टब।

विधि –

  1. सबसे पहले बाल्टी या फिर बाथ टब को गर्म पानी से भर लें और फिर उसमे सेंधा नमक मिलाएं।
  2. अब अच्छे से पानी को मिला लें और फिर प्रभावित क्षेत्र को इसमें 15 से 20 मिनट तक डुबोकर रखें या फिर आप इस पानी से नहा भी सकते हैं।

सेंधा नमक का इस्तेमाल कब तक करें –

इस मिश्रण का इस्तेमाल हफ्ते में दो या तीन बार करें।

सेंधा नमक के फायदे –

सेंधा नमक त्वचा को टाइट करता है और अधिक द्रव को साफ़ करता है, जिसकी वजह से त्वचा पर ढीलापन आना शुरू होता है। ये परिसंचरण को सुधारता है जिससे त्वचा पर कसाव आता है।

(और पढ़ें - सेंधा नमक के फायदे)

सामग्री –

  1. एक नींबू।
  2. रूई।

विधि –

  1. सबसे पहले एक कटोरी में एक नींबू को निचोड़ लें।  अब उसमे रूई डुबोये और रूई को अपने चेहरे और गर्दन पर लगा लें।
  2. इसे त्वचा पर पांच से दस मिनट के लिए रहने दें।
  3. फिर त्वचा को पानी से धो लें और फिर सूखने के बाद मॉइचराइज़र लगाएं।

नींबू का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को पूरे दिन में दो बार ज़रूर दोहराएं।

नींबू के फायदे –

नींबू के जूस के एस्ट्रिजेंट गुण त्वचा को टाइट करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही नींबू में विटामिन सी होता है जो त्वचा के कोलाजेन को सही रखने में मदद करता है।

(और पढ़ें - नींबू के फायदे)

सामग्री –

  1. दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी।
  2. एक चम्मच शहद।
  3. गुलाब जल।

विधि –

  1. सबसे पहले मुल्तानी मिट्टी में गुलाबजल और शहद मिलाएं।
  2. अब एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें जिससे त्वचा पर लगाने में आसानी हो।
  3. अब इस पैक को चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  4. फिर इसे 20 मिनट तक ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  5. फिर त्वचा को ठंडे पानी से धो लें।
  6. फिर धोने के बाद त्वचा को मॉइस्चराइज़ करें।

मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल कब तक करें –

इस पैक को हफ्ते में दो बार इस्तेमाल करें।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे –

जब मुल्तानी मिट्टी को लगाया जाता है तो त्वचा को गहराई से सफाई करता है। मुल्तानी मिट्टी सारी अशुद्धियों को अवशोषित कर लेती है और इसी के साथ ये त्वचा के रक्त परिसंचरण को भी सुधारती है। ये त्वचा को टोंड और ताज़ा रखती है।

सावधानी –

अगर आपकी त्वचा सवेंदनशील है तो इस उपाय का इस्तेमाल न करें।

(और पढ़ें - मुल्तानी मिट्टी के फायदे)

सामग्री –

  1. छिले हुए पपीता के कुछ टुकड़े।
  2. एक या दो चम्मच चावल का आटा।

विधि –

  1. सबसे पहले पपीता को छोटे छोटे टुकड़ों में काट लें और फिर इन टुकड़ों को मिक्सर में डाल दें। अब इसमें चावल का आटा मिलाकर अच्छे से इस मिश्रण को मिक्स कर लें।
  2. अब इस मिश्रण को त्वचा पर लगाएं और फिर धीरे धीरे इसे त्वचा पर रगड़ें।
  3. 15 मिनट तक इसी तरह करते रहें और फिर त्वचा को पानी से धो लें।

पपीता का इस्तेमाल कब तक करें –

त्वचा को कसने के लिए इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार दोहराएं।

पपीता के फायदे –

पपीता में पपाइन एन्ज़ाइम होता है तो ढीली त्वचा को टाइट करने में मदद करता है। इसमें विटामिन ए और एंटीऑक्सीडेंट्स भी होते हैं जिससे त्वचा कोमल और मुलायम बनती है। इसमें विटामिन सी होता है जो त्वचा के कोलाजेन को ठीक रखता है।

(और पढ़ें - पपीते के फायदे)

सामग्री –

  1. दो चम्मच दही।
  2. कुछ बूँदें नींबू के जूस की।

विधि –

  1. सबसे पहले नींबू के जूस को दही में मिला दें।
  2. अब इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं।
  3. दस मिनट तक मसाज करें और फिर पांच मिनट के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  4. फिर चेहरे को पानी से धो लें।

दही का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को हफ्ते में तीन या चार बार ज़रूर दोहराएं।

दही के फायदे –

दही का फेस मास्क ढीली त्वचा को टाइट करने के लिए बहुत ही बेहतरीन उपाय है। दही में मौजूद लैक्टिक एसिड छिद्रों को बंद करने और त्वचा को टाइट करने में मदद करते हैं। इस मास्क को रोज़ाना लगाने से आपकी त्वचा को एक प्राकृतिक निखार भी मिले।

(और पढ़ें - स्वास्थ्य के लिए दही के फायदे)

त्वचा पर झुर्रियां पड़ने का और उनके ढीला होने का इंतज़ार न करें। अगर आपकी उमरी 20 है तब भी इन उपायों को जल्द से जल्द इस्तेमाल करना शुरू कर दें जिससे आपकी त्वचा 60 की उम्र में भी स्वस्थ और जवान दिखे।

(और पढ़ें - चेहरे की झुर्रियां हटाने के घरेलू उपाय)

  • नींबू में मौजूद विटामिन सी एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट है। इसके अलावा, इसके ब्लीचिंग गुण उम्र के धब्बे और फ्रेकल्स पर अद्धभुत काम करते हैं। नींबू के रस को निकाल कर अपने चेहरे पर हर रोज लगाएं और 15 मिनट के बाद सादे पानी से धो लें।
  • बेहतर परिणाम के लिए, 1 चम्मच नींबू के रस को आधे चम्मच मिल्क क्रीम और 1 चम्मच अंडे के सफेद भाग में मिलाकर और चेहरे पर लगाएं। 15 मिनट के बाद ठंडे पानी से धो लें।
  • शहद के साथ संयोजन में नींबू का रस भी एजिंग स्किन के लिए एक बहुत ही प्रभावी उपाय है क्योंकि शहद में सूथिंग एक्शन होते हैं। एक चम्मच नींबू का रस और एक चम्मच शहद मिलाकर त्वचा की मालिश करें। 20 मिनट तक लगाकर रखें और फिर गर्म पानी से धो लें।

नारियल विटामिन और खनिजों का एक खजाना है। यह भी आपकी त्वचा को मॉश्चराइज़ और इसे नरम, कोमल और उज्ज्वल रखने में बहुत मदद करता है। कच्चे नारियल को कस लें और उसमें से दूध निकाल लें। इस नारियल के दूध को अपने चेहरे पर करीब 20 मिनट तक लगाकर रखें और फिर गर्म पानी से धो लें।

क्या आप जानते हैं कि पपीता आंखों के लिए अच्छा है क्योंकि इसमें बहुत अधिक विटामिन ए होता है। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण आपकी त्वचा के लिए भी अच्छे होते हैं। इसके अलावा, पपीता में पपाइन  नामक एंजाइम होता है जो त्वचा की सतह पर मृत कोशिकाओं को पचाने और त्वचा को अधिक लोचदार और फर्म बना सकता है। पपीता मास्क बनाने के लिए, एक पूरी तरह से पके हुए पपीते का टुकड़ा लें और उसे मैश करें और पेस्ट तैयार करें। इसे चेहरे पर लगाएं और 15 मिनट के बाद गर्म पानी से धो लें।

गुलाब जल एक क्लीन्ज़र है और त्वचा के छिद्रों की गंदगी को दूर करने में मदद कर सकता है। इसमें कसैले गन होते हैं जिसका अर्थ है कि यह त्वचा को मजबूत करता है, साथ ही आँखों के निचे फर्मनेस और सूजन को कम करने में मदद करता है। ग्लिसरीन की 3-4 बूंदों और आधा चम्मच नींबू का रस को 2 चम्मच गुलाब जल के साथ मिक्स करें। इस मिश्रण को हर रात सोने से पहले रूई का उपयोग करके अपने चेहरे पर लगाएं।

या फिर आप 1 चम्मच गुलाब जल को एक चम्मच दही और शहद में मिक्स करके फेस पैक बना सकते हैं। इस मिश्रण में एक पका हुआ केला मैश करें और अपने चेहरे पर लगाएं और 20 मिनट के बाद इसे ठंडा पानी से धो लें।

खीरा आंखों के नीचे सूजन और डार्क सर्कल्स को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें सुखदायक गुण होते हैं जो त्वचा को स्वस्थ रखते हैं। दही में लैक्टिक एसिड होता है जिसमें त्वचा की मृत कोशिकाओं को निकालने के गुण होते हैं और यह त्वचा को फिर से जीवंत करने में मदद करता है। आधा कप दही में दो चम्मच कसे हुए खीरे को एक साथ मिलाकर एक फेस पैक तैयार करें और त्वचा पर लगाएं और  20 मिनट के बाद गर्म पानी से धो लें। इस फेस पैक का उपयोग कुछ हफ्तों के लिए सप्ताह में दो बार करें इससे आपकी त्वचा को स्वस्थ और युवा रखने में मदद मिलेगी।

फेस पैक का प्रयोग बुढ़ापे को रोकने में मदद कर सकता है, इसी प्रकार से यह सही पोषण प्रदान करके त्वचा को भीतर से मजबूत करने के लिए समान रूप से महत्वपूर्ण है। बादाम और अखरोट, सब्जियां, फल, मछली का तेल और नट्स आदि एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन, खनिज और ओमेगा -3 फैटी एसिड के मूल्यवान स्रोत हैं और आपकी त्वचा को युवा और स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। तो सुनिश्चित करें कि आप एक स्वस्थ, संतुलित आहार खाएं और आपकी त्वचा पर सही पोषक तत्वों का उपयोग करें।


चेहरे पर कसाव लाने के उपाय सम्बंधित चित्र

और पढ़ें ...

References

  1. Guyuron B et al. Factors contributing to the facial aging of identical twins. Plast Reconstr Surg. 2009 Apr;123(4):1321-31. PMID: 19337100
  2. Jean Krutmann et al. The skin aging exposome. Journal of Dermatological Science, March 2017Volume 85, Issue 3, Pages 152–161
  3. de Faria JC et al. [Skin aging and collagen]. Rev Hosp Clin Fac Med Sao Paulo. 1995;50 Suppl:39-43. PMID: 7659928
  4. James Varani et al. Decreased Collagen Production in Chronologically Aged Skin: Roles of Age-Dependent Alteration in Fibroblast Function and Defective Mechanical Stimulation . Am J Pathol. 2006 Jun; 168(6): 1861–1868. PMID: 16723701
  5. Naoko MORI et al. Effect of probiotic and prebiotic fermented milk on skin and intestinal conditions in healthy young female students . Biosci Microbiota Food Health. 2016; 35(3): 105–112. PMID: 27508111
  6. Yeom G et al. Clinical efficacy of facial masks containing yoghurt and Opuntia humifusa Raf. (F-YOP). J Cosmet Sci. 2011 Sep-Oct;62(5):505-14. PMID: 22152494
  7. Burlando B, Cornara L. Honey in dermatology and skin care: a review. J Cosmet Dermatol. 2013 Dec;12(4):306-13. PMID: 24305429
  8. Vanessa Palermo et al. Apple Can Act as Anti-Aging on Yeast Cells . Oxid Med Cell Longev. 2012; 2012: 491759. PMID: 22970337
  9. Silke K. Schagen, Vasiliki A. Zampeli, Evgenia Makrantonaki, Christos C. Zouboulis. Discovering the link between nutrition and skin aging . Dermatoendocrinol. 2012 Jul 1; 4(3): 298–307. PMID: 23467449
  10. Hitoshi Murakami et al. Importance of amino acid composition to improve skin collagen protein synthesis rates in UV-irradiated mice . Amino Acids. 2012 Jun; 42(6): 2481–2489. PMID: 21861170
  11. Better health channel. Department of Health and Human Services [internet]. State government of Victoria; Eggs
  12. Gitte S Jensen et al. Reduction of facial wrinkles by hydrolyzed water-soluble egg membrane associated with reduction of free radical stress and support of matrix production by dermal fibroblasts . Clin Cosmet Investig Dermatol. 2016; 9: 357–366. PMID: 27789968
  13. United States Department of Agriculture Agricultural Research Service. Basic Report: 09037, Avocados, raw, all commercial varieties. National Nutrient Database for Standard Reference Legacy Release [Internet]
  14. Sundaram S, Anjum S, Dwivedi P, Rai GK. Antioxidant activity and protective effect of banana peel against oxidative hemolysis of human erythrocyte at different stages of ripening. Appl Biochem Biotechnol. 2011 Aug;164(7):1192-206. PMID: 21369778
  15. Sundaram S, Anjum S, Dwivedi P, Rai GK. Antioxidant activity and protective effect of banana peel against oxidative hemolysis of human erythrocyte at different stages of ripening. Appl Biochem Biotechnol. 2011 Aug;164(7):1192-206. PMID: 21369778
  16. Pazyar N et al. Jojoba in dermatology: a succinct review. G Ital Dermatol Venereol. 2013 Dec;148(6):687-91. PMID: 24442052
  17. Nevin KG, Rajamohan T. Effect of topical application of virgin coconut oil on skin components and antioxidant status during dermal wound healing in young rats. Skin Pharmacol Physiol. 2010;23(6):290-7. PMID: 20523108
  18. Molly Campa, Elma Baron. Anti-aging Effects of Select Botanicals: Scientific Evidence and Current Trends. Cosmetics 2018, 5(3), 54
  19. Viljoen JM et al Penetration enhancing effects of selected natural oils utilized in topical dosage forms. Drug Dev Ind Pharm. 2015;41(12):2045-54. PMID: 26161938
  20. Kavita Beri. Breathing to younger skin: ‘reversing the molecular mechanism of skin aging with yoga’. Future Sci OA. 2016 Jun; 2(2): FSO122. PMID: 28031969
  21. Fumihiro Sanada et al. Source of Chronic Inflammation in Aging. Front Cardiovasc Med. 2018; 5: 12. PMID: 29564335
  22. Gautieri A et al. Advanced glycation end-products: Mechanics of aged collagen from molecule to tissue. Matrix Biol. 2017 May;59:95-108. PMID: 27616134