myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

पपीता मध्य अमरीका और दक्षिण मेक्सिको का मूल पौधा है। ये धीरे-धीरे विश्वभर में लोकप्रिय हो गया है। इसे कच्चे, पके और सूखे हुए रूप में भी खाया जाता है। 

पपीता अपने स्वाद, स्वास्थ्य सम्बंधित और त्वचा में निखार लाने वाले सर्वोत्तम गुणों के कारण दुनिया भर में लोकप्रिय हैं। यह उत्कृष्ट फल विटामिन ए और सी के साथ-साथ नियासिन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, प्रोटीन, कैरोटीन और प्राकृतिक फाइबर का एक स्रोत हैं। पपीते के पेड़ के हर हिस्से, फल से लेकर पत्तियों तक में औषधीय गुण होते हैं।

फल के गूदे के अलावा, इस फल के बीज भी खाए जाते हैं और उनमें एक तीखा, काली मिर्च का स्वाद होता है। इसके बीज फेनोलिक और प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम और फास्फोरस में समृद्ध होते हैं। पपीता के बीज जिगर को डेटोक्सीफाय करने में मदद करते हैं और एंटी-ऑक्सीडेंट और जीवाणुरोधी प्रभाव दिखाते हैं। आप इसके बीज को निकालकर, धोकर खा सकते हैं या फिर सलाद, सैंडविच और अन्य व्यंजनों में भी शामिल कर सकते हैं। लेकिन याद रहें, पपीते के बीज में वसा भी अधिक होते हैं और इसलिए इनका सेवन सीमित मात्रा में ही किया जाना चाहिए।

  1. पपीते के फायदे - Papite ke Fayde in Hindi
  2. पपीते के नुकसान - Papite ke Nuksan in Hindi
  3. पपीते की तासीर - Papite ki tasir
  4. पपीता खाने का तरीका - Papita khane ka tarika
  1. पपीते के फायदे बचाएं हृदय रोगों से - Papaya for Heart Disease in Hindi
  2. पपीते के बीज का उपयोग बनाये पाचन प्रक्रिया को बेहतर - Papite ke Beej ke Fayde for Digestion in Hindi
  3. पपीता के औषधीय गुण करें आँखों की सुरक्षा - Papita ke Fayde for Eye Sight in Hindi
  4. पपीता खाने के फायदे है गठिया में उपयोगी - Papaya for Arthritis in Hindi
  5. पपीता के गुण लाएं त्वचा की रंगत में सुधार - Papita for Skin in Hindi
  6. पपीते के पत्ते का रस बनाये बालों को मजबूत - Papita Benefits for Hair in Hindi
  7. पपीते के बीज के फायदे करें कैंसर से बचाव - Papaya Seeds Cancer Cure in Hindi
  8. पपीता का उपयोग करे वजन कम करने के लिए - Papaya Helps in Weight Loss in Hindi
  9. कच्चे पपीते के फायदे हैं उच्च रक्तचाप के इलाज में मददगार - Green Papaya for High Blood Pressure in Hindi
  10. पपीता से होने वाले लाभ उठाएं प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए - Papaya is Good for Immune System in Hindi
  11. पपीता खाने के अन्य फायदे - Papita khane ke aur fayde

पपीते के फायदे बचाएं हृदय रोगों से - Papaya for Heart Disease in Hindi

पपीता में फाइबर, पोटैशियम और विटामिन होता है जिससे हृदय के रोग ठीक होते हैं। ज़्यादा पोटैशियम खाने से और कम सोडियम खाने से हृदय रोग का जोखिम बहुत ज़्यादा कम हो जाता है। आपको अपने खाने में ये बदलाव लाना चाहिए।

(और पढ़ें - हृदय रोग का इलाज)

पपीते के बीज का उपयोग बनाये पाचन प्रक्रिया को बेहतर - Papite ke Beej ke Fayde for Digestion in Hindi

पपीता में पपेन नामक पाचन एंजाइम की मात्रा अधिक होने के कारण यह पाचन प्रक्रिया को उत्तेजित करने में भी सहायक है। इस औषधीय फल में मौजूद अधिक मात्रा में पानी और घुलनशील फाइबर भी पाचन प्रक्रिया को आसान बनाती है। यह बदले में आँतो के उचित कार्य को बढ़ाता है और कब्ज को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा पपीते में फोलेट, बीटा कैरोटीन और विटामिन ई और सी भी अधिक मात्रा में पाया जाता है जो बृहदान्त्र कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकते हैं।

पपीते के बीज आंतों के कीड़े और परजीवी से छुटकारा पाने में मदद करते हैं क्योंकि वे प्रोटीयोलाइटिक एंजाइमों में समृद्ध होते हैं। 

(और पढ़ें – पाचन क्रिया सुधारने के आयुर्वेदिक उपाय)

पपीता के औषधीय गुण करें आँखों की सुरक्षा - Papita ke Fayde for Eye Sight in Hindi

प्रतिदिन पपीता की तीन या उससे अधिक सर्विंग्स खाने से उम्र से जुड़े चकत्तेदार अध: पतन (एआर.एम.डी) का खतरा कम हो सकता है, जो बूढ़े लोगों में दृष्टि हानि का मुख्य कारण है।

विटामिन ए, सी और ई की उपस्थिति के कारण पपीता आपकी आंखों के लिए एक अच्छा आहार है। इसमें कैरोटीनॉयड ल्यूटिन और ज़ेक्सैंटीन भी होता है जो अधिक ऊर्जा वाले नीले प्रकाश से आपकी आँखों को सुरक्षा प्रदान करते हैं। यह नीला प्रकाश आपकी आँखों के रेटिना को नुकसान पहुंचा सकता है। वे मोतियाबिंद और अन्य पुरानी नेत्र रोगों के विकास के खिलाफ भी रक्षा करते हैं।

(और पढ़ें – आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए क्या खाएं)

पपीता खाने के फायदे है गठिया में उपयोगी - Papaya for Arthritis in Hindi

पपीता में कई एंटी-इंफ्लेमेटरी एंजाइम होते हैं जो गठिया के कारण होने वाले दर्द को दूर करने में सहायता करते हैं। पपीता में पापेन और चयमोपपेन नामक दो प्रोटीन पाचन एंजाइम्स होते हैं जो संधिशोथ से जुड़ी सूजन को बहुत कम कर सकते हैं।

विटामिन ए, सी और ई की अधिक मात्रा और बीटा कैरोटीन भी सूजन को कम करने में बहुत प्रभावी होते हैं। संधिशोथ के एनलल्स में एक अध्ययन के मुताबिक, जो नियमित रूप से पपीते जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करते हैं, उनमें गठिया विकसित होने की अधिक संभावना होती है।

(और पढ़ें - गठिया से बचने के उपाय)

पपीता के गुण लाएं त्वचा की रंगत में सुधार - Papita for Skin in Hindi

पपीते में कई स्वस्थ घटक हैं जो आपकी त्वचा के लिए बहुत अच्छे होते हैं। अधिकतम त्वचा लाभों का आनंद लेने के लिए पपीता का उपयोग एक फेस पैक के रूप में किया जा सकता है। जब पके हुए पपीते को फेस पैक के रूप में उपयोग किया जाता है। यह त्वचा के छिद्रों को खोलने में मदद करता है जो मुँहासे का इलाज करने और त्वचा के संक्रमण को रोकने में मददगार है। पपीता मृत त्वचा कोशिकाओं को निकालने और आपको ताजी और चमकदार त्वचा देने में सक्षम है। यह चेहरे पर उम्र बढ़ने के संकेत को भी कम कर देता है। 

(और पढ़ें – चमकदार त्वचा पाने के उपाय)

पपीते के पत्ते का रस बनाये बालों को मजबूत - Papita Benefits for Hair in Hindi

पपीता आपके बालों के लिए बहुत फायदेमंद है। कई खनिजों, विटामिन और एंजाइमों से भरपूर पपीता बालों के विकास और ताकत को बढ़ाता है। यह आपके बालों की मात्रा में वृद्धि करने में मदद करता है। पपीता का प्रयोग रूसी से छुटकारा पाने के लिए भी किया जा सकता है।

बाल विशेषज्ञों के मुताबिक, बालों के लिए पपीता के लाभों का आनंद आप पपीता युक्त बाल उत्पाद का नियमित रूप से उपयोग करके ले सकते हैं। आप अपने सुस्त, बेजान और बिखरे बालों में घनत्व व चमक लाने के लिए पपीता के पत्ते के अर्क को कंडीशनर के रूप में उपयोग कर सकते हैं। 

(और पढ़ें – बालों से रूसी हटाने के उपाय)

पपीते के बीज के फायदे करें कैंसर से बचाव - Papaya Seeds Cancer Cure in Hindi

पपीते में कई महत्वपूर्ण यौगिक हैं जो कि कुछ प्रकार के कैंसर के विकास के जोखिम को कम कर सकते हैं। इसमें निहित एंटी-ऑक्सिडेंट, विशेष रूप से लाइकोपीन, बीटा कैरोटीन और बीटा-क्रिप्टोक्साथिन (कैरोटीनॉइड), कैंसर के जोखिम को कम करने में बहुत फायदेमंद हैं।

इस कैंसर विरोधी फल में आइसोथियोसाइनेट्स नामक यौगिक शामिल हैं जो कैंसर को रोकने के लिए शरीर से संभावित कारसिनोजेंस को नष्ट कर देते हैं और ट्यूमर-दबाने वाले प्रोटीन की कार्यशीलता को बढ़ाते हैं। ये कैंसर कोशिकाओं के निर्माण के साथ-साथ उनके विकास को भी रोकते हैं।

(और पढ़ें – कैंसर के लिए आहार)

पपीता का उपयोग करे वजन कम करने के लिए - Papaya Helps in Weight Loss in Hindi

पपीते विटामिन ए और सी, फोलेट, फाइबर और पोटेशियम का एक उच्चतम स्रोत हैं। ये पोषक तत्व आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी हैं। इसके अलावा, यह फल फाइबर में समृद्ध है जो आपके पेट को लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कराता है और आपको अधिक भोजन खाने से बचाने के साथ-साथ कब्ज को भी रोकता है। 

(और पढ़ें - कब्ज में परहेज)

इसमें मौजूद पपेन अनोखा प्राकृतिक एंजाइम जो पाचन में सहायक होता है और आपके पेट से भोजन को आंत की ओर तेज गति से बढ़ाता है। खराब पाचन को अक्सर खराब पोषण के साथ-साथ वजन की समस्याओं का भी जिम्मेदार ठहराया जाता है। इस वजह से पपीता को वजन कम करने के लिए एक उत्तम आहार माना जाता है।

(और पढ़ें - मोटापा घटाने के लिए योगासन)

पपीता कोलेस्ट्रॉल के साथ-साथ वसा से भी मुक्त है और इसमें कैलोरी भी बहुत कम होती है। इसलिए यह आहार डाइटिंग करने वाले लोगों के लिए एक उत्कृष्ट भोजन है। यदि आप स्वस्थ वजन को बनाए रखने में रुचि रखते हैं, तो आप कच्चे या पकाये हुए पपीते का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़ें – डिलीवरी के बाद वजन कम कैसे करें)

कच्चे पपीते के फायदे हैं उच्च रक्तचाप के इलाज में मददगार - Green Papaya for High Blood Pressure in Hindi

पपीता पोटेशियम का एक अच्छा स्रोत है। पोटैशियम एक प्रकार का खनिज है जो सोडियम के प्रभावों का मुकाबला करता है और रक्तचाप के स्तर को सामान्य बनाए रखने में मदद करता है।

यही कारण है कि स्वास्थ्य विशेषज्ञों का सुझाव है कि हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित रोगियों के रोजाना आहार में पपीता शामिल होना चाहिए। अपने आहार में पपीते की मात्रा में वृद्धि करने के लिए, आप इस फल को सलाद में शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा कच्चे पपीते का सेवन भी उच्च रक्तचाप में लाभकारी होता है।

(और पढ़ें – bp kam karne ke upay)

पपीता से होने वाले लाभ उठाएं प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए - Papaya is Good for Immune System in Hindi

पपीता में उच्च मात्रा में विटामिन सी होता है जो सफेद रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करता है और कोशिकाओं को फ्री-रेडिकल क्षति से बचाता है।

(और पढ़ें - सफेद रक्त कोशिकाएं कैसे बढ़ाएं)

पपीता में अन्य शक्तिशाली प्रतिरक्षा प्रोटीन, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन ए और ई भी हैं। विटामिन ए और ई दोनों एक स्वस्थ प्रतिरक्षा प्रणाली के उचित कार्य के लिए आवश्यक हैं। पपीते को उन लोगों के लिए बहुत अच्छा माना जाता है जो अक्सर सर्दी, खाँसी या फ्लू से पीड़ित होते रहते हैं।

(और पढ़ें – प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ)

पपीता खाने के अन्य फायदे - Papita khane ke aur fayde

पपीता के अन्य फायदे कुछ इस प्रकार हैं :

  • ये आपकी पाचन शक्ति बढ़ाता है। 
  • इससे आपका वज़न कम होता है। 
  • इससे आपको मासिक धर्म के दौरान ज़्यादा दर्द नहीं होती। 
  • इससे संक्रमण होने के जोखिम घट जाते हैं। 
  • इससे दांत के दर्द से राहत मिलती है। 
  • इसको खाने से कैंसर होने के जोखिम घटते हैं। 
  • इसको त्वचा पर लगाने से कील मुहांसे ठीक होते हैं। (और पढ़ें - कील मुंहासे हटाने की क्रीम)
  • इससे सूजन नहीं होती (और पढ़ें - सूजन कम करने के घरेलू उपाय)
  • इससे आपकी रेटिना पर दुष्प्रभाव नहीं होता जिससे आपकी आँखें स्वस्थ रहती हैं।
  • गठिया होने के जोखिम को घटाता है।

(और पढ़ें - गठिया का आयुर्वेदिक इलाज)

हालांकि पपीता खाने के कई फायदे हैं, लेकिन पपीता के कुछ दुष्प्रभाव और उनके उपयोग से सम्बंधित कुछ चेतावनियां भी हैं, जिनका ज्ञान आपको होना चाहिए। यह विशेष रूप से हरे पपीते, पपीते के बीज, पपीते के पत्ते और पपीन एंजाइम के प्रयोग से सम्बंधित है। तो आइये हम भी पपीते के कुछ साइड-इफेक्ट्स के ऊपर नज़र डालें, ताकि ना केवल हम पपीते के उन दुष्प्रभावों से बच सके अपितु पपीते के स्वास्थ्य लाभ का आनंद भी सही प्रकार से ले सकें:-

  1. लेटेक्स की उपस्थिति के कारण, पपीता गर्भाशय के संकुचन का कारक बन सकता है, जिससे गर्भपात, समय से पहले प्रसव दर्द, शिशु में असामान्यताएं और यहां तक कि बच्चा मरा हुआ भी पैदा हो सकता है। अतः गर्भावस्था के दौरान सख्ती से पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। (और पढ़ें - गर्भावस्था में पेट में दर्द और गर्भवती महिला के लिए भोजन)
  2. स्तनपान करा रही माताओं को भी पपीते का सेवन डॉक्टर से परामर्श करने के बाद ही करना चाहिए।
  3. यदि उच्च मात्रा में पपीते का सेवन किया जाये तो पपीता में बीटा कैरोटीन की उपस्थिति त्वचा की मलिनीकरण (discoloration) का कारण हो सकती है, जिसे चिकित्सकीय रूप से कैरोटीनमिया कहा जाता है। यह एक ऐसी स्थिति है, जिसमें आपकी आंखों, तलवों और हथेलियां का रंग पिला हो जाता है, जैसे कि आप पीलिया से ग्रस्त हों। (और पढ़ें - पीलिया में क्या खाएं)
  4. पपेन, पपीता में मौजूद एंजाइम, एक शक्तिशाली एलर्जीन है। अतः पपीता के अत्यधिक सेवन से नाक में कंजेशन, घरघराहट, हे फीवर, दमा आदि जैसे विभिन्न श्वसन विकार आपके शरीर को अपना शिकार बना सकते हैं।
  5. पपीता का अत्यधिक सेवन गुर्दे की पथरी का कारण बन सकता है। (और पढ़ें - पथरी में क्या खाना चाहिए)
  6. बहुत अधिक पपीता खाने से गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिस्टम में समस्या उत्पन्न हो सकती है, जिससे कि आपको ब्लोटिंग, पेट-दर्द, उबकन आदि परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
  7. जो लोग रक्त पतला करने वाली दवाइयों का सेवन करते हैं, उन्हें भी पपीते के सेवन का नहीं करना चाहिए।
  8. पपीते का सेवन एक साल से कम उम्र वाले शिशुओं के लिए उपयुक्त नहीं है।
  9. दस्त से पीड़ित होने पर पपीते का उपभोग नहीं करना चाहिए। (और पढ़ें - दस्त रोकने के उपाय)
  10. वैसे तो पपीता कब्ज का प्राकृतिक उपचार है, परंतु यदि इसका सेवन अधिकतम मात्रा में किया जाएं तो इसका प्रभाव विपरीत भी पड़ सकता है।
  11. पपीता प्रकृति का मनुष्य के लिए एक अद्भुत उपहार है। हालांकि, यदि इसका इस्तेमाल सही से नहीं किया जाए तो यह ऊपरलिखित दुष्प्रभावों का मूल कारण बन सकता है। 

इसकी तासीर बहुत गर्म होती है। गर्भावस्था के दौरान पपीता बहुत हानिकारक होता है क्युँकि गर्भवती महिलाओं के लिए गरम तासीर अच्छी नहीं होती।

(और पढ़ें - गर्भवती महिलाओं को क्या खाना चाहिए)

पपीता कैसे खाएं ?

  • आप पपीता, अनानास और आम से फलों का सलाद बना सकते हैं। 
  • पपीता को नीम्बू पानी, आइस टी या पानी में मिलाकर पिएं। इससे आपको ताज़गी महसूस हो सकती है। 
  • कच्चे पपीता को आम, जैलपीनो, लाल मिर्च और अन्य मसालों के साथ खा सकते हैं। इसे मछली के साथ भी खा सकते हैं। 
  • अन्य फलों के जूस या स्मूथी के साथ ठन्डा पपीता मिलाएं। इसे आप अनानास के रस, केला और दही के साथ खा सकते हैं। 

(और पढ़ें - रात को दही खाना चाहिए या नहीं)

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Himalaya Sparkling White Fresh GelHimalaya Active Fresh Toothpaste56.05
Aimil Amyron SyrupAmyron Syrup150.0
Swadeshi Papita SweetSwadeshi Papita Sweet150.0
Jiva Papaya ShampooJiva Papaya Shampoo120.0
Dr. Reckeweg Carica Papaya QCarica Papaya Mother Tincture Q265.0
Ayur Hrebals Ayur Papaya Face PackAyur Papaya Face Pack40.0
Papaya Leaf Extract CapsulesPapaya Leaf Extract Capsules731.0
Khadi Saffron & Papaya Anti Wrinkle CreamKhadi Saffron Papaya Anti wrinkle Cream 50gm350.0
Zandu Zanduzyme TabletZanduzyme Forte Tablet125.0
और पढ़ें ...