myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

कैल्शियम, प्रोटीन, पोटैशियम, फॉस्फोरस, राइबोफ्लैविन, नियासिन, विटामिन ए, विटामिन डी और विटामिन बी12 की खूबियों से भरपूर दूध हमारे शरीर को पोषण देकर उसे मजबूत बनाने के साथ ही विकास में भी मदद करता है, बीमारियों से लड़ता है और हमें हेल्दी बनाए रखने में मदद करता है। घरों में बचपन से ही बच्चों को दूध का महत्व समझाया जाता है कि दूध पीना कितना फायदेमंद है और जरूरी भी। दूध को संपूर्ण आहार माना जाता है इसलिए दूध के साथ अपने दिन के शुरुआत करना आपके लिए बेहद फायदेमंद हो सकता है।

(और पढ़ें: दूध पीने के फायदे और नुकसान)

लेकिन बहुत से लोग और एक्सपर्ट्स भी रात में सोने से पहले दूध पीने की सलाह देते हैं। उनका मानना है कि दिनभर की थकान के बाद रात में गर्म दूध पीने से सारी थकान दूर हो जाती है और दूध पीकर सोने से नींद अच्छी आती है। आयुर्वेद में भी रात में सोने से पहले अच्छी नींद और बेहतर पाचन के लिए गर्म दूध पीने का सुझाव दिया जाता है। अगर आप रात में दूध पीते हैं तब भी और अगर नहीं पीते हैं तो क्या आपको पीना शुरू कर देना चाहिए या नहीं, इसके लिए हम आपको बता रहे हैं रात में दूध पीने के फायदे और नुकसान क्या हैं?

(और पढ़ें: गर्म दूध पीने के फायदे और नुकसान)

  1. रात में दूध पीना चाहिए या नहीं? - Milk at night- good or bad in hindi
  2. गर्म दूध या ठंडा दूध- रात में क्या है बेहतर? - Warm milk or cold milk at night- which is better in hindi
  3. रात में दूध पीने के फायदे - Benefits of drinking milk at night in hindi
  4. रात के समय दूध पीने के नुकसान - Side effects of drinking milk at night in hindi
  5. रात में दूध पीने के फायदे और नुकसान के डॉक्टर

दूध और दुग्ध उत्पाद में ट्रिप्टोफैन पाया जाता है। यह एक एमिनो एसिड है जिसकी मदद से आपको अच्छी नींद आने में मदद मिल सकती है। ट्रिप्टोफैन में आराम देने वाला और दर्द को दूर करने वाला प्रभाव पाया जाता है जो बदले में नींद को प्रेरित करने में मदद करता है। इसके अलावा दूध में मेलाटोनिन भी होता है, यह एक ऐसा हार्मोन है जो सोने और जागने के पैटर्न को नियमित करने में मदद करता है। इसके अलावा रात में दूध पीने से शरीर रिलैक्स हो जाता है, बेहतर महसूस होता है, ऐंग्जाइटी यानी बेचैनी दूर होती है और अच्छी नींद आती है। 

(और पढ़ें: दूध से एलर्जी, कारण, लक्षण, इलाज)

लेकिन बेहद जरूरी है कि आप दूध पीकर तुरंत सोने की बजाए, सोने से 1-2 घंटा पहले दूध पिएं और उसके बाद सोने जाएं। दूध पीकर, खासकर ज्यादा मात्रा में दूध पीकर तुरंत सोने से पाचन तंत्र पर नकारात्मक असर पड़ सकता है। लिहाजा रात में दूध पीना तो चाहिए लेकिन कम मात्रा में और सोने से तुरंत पहले नहीं।

नींद की गुणवत्ता पर दूध पीने के प्रभावों का मूल्यांकन करने वाले अधिकांश शोध और अध्ययन में गर्म दूध का उपयोग किया जाता है और अब तक ऐसा कोई अध्ययन नहीं है जिसमें एक दूसरे के खिलाफ दूध के विभिन्न तापमानों के प्रभावों की तुलना की गई हो। इसके अलावा गर्म पेय पदार्थ जैसे- चाय, दूध, या कुछ और खासकर शाम के समय या तनाव के दौरान चिंता को कम करने और विश्राम को प्रोत्साहित करने में मदद करता है और यह एक आम प्रैक्टिस भी है।

(और पढ़ें: दूध पीने का सही समय क्या है, जानें)

गर्म तरल पदार्थ तंत्रिका तंत्र पर शांति और तसल्ली देने वाला प्रभाव डालते हैं और ठंडे पेय पदार्थ की तुलना में थपकी देकर सुलाने में मदद करने के लिए प्रभावी रूप से जाने जाते हैं। हालांकि, इसके परिणाम अलग-अलग व्यक्ति पर निर्भर करते हैं। कुल मिलाकर देखें तो अध्ययन यही कहते हैं कि रात में सोने से पहले अगर आप दूध पीना चाहते हैं तो आपको ठंडा दूध नहीं बल्कि गर्म दूध पीना चाहिए।

रात में दूध पीने से आती है अच्छी नींद - Induces good sleep in hindi

इंसानों के साथ ही जानवरों पर भी किए गए बहुत से अध्ययनों में यह बात सामने आयी है कि दूध और दुग्ध उत्पाद जैसे- चीज आदि का सेवन रात के समय सोने से पहले करने से रात में अच्छी और चैन की नींद आती है। हालांकि इसके पीछे कारण क्या है यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है। बहुत से एक्सपर्ट्स मानते हैं कि दूध में कुछ खास केमिकल कम्पाउंड्स पाए जाते हैं या फिर रोजाना रात में सोने से पहले दूध पीने का मनोवैज्ञानिक असर भी होता है या फिर दोनों के कॉम्बिनेशन की वजह से अच्छी नींद आती है।

(और पढ़ें: दूध में अगर ये मिलाएंगे तो बच्चे दूध पीने से कभी मना नहीं करेंगे)

रात में दूध पीने से वजन घटाने में मददगार - Weight loss in hindi

कई अध्ययनों में यह बात सामने आ चुकी है कि वजन बढ़ने के साथ देर रात की स्नैकिंग का भी गहरा संबंध है। ऐसे में रात के समय दूध पीकर सोने से आपका पेट भरा हुआ महसूस होता है जिस कारण बीच रात में भूख की वजह से आपकी नींद खराब होने और जागने की आशंका भी कम हो जाती है। बीच रात में स्नैकिंग नहीं करने से भी वजन को कंट्रोल करने में मदद मिलती है। इसके अलावा अगर रात में अच्छे से नींद न आए तब भी व्यक्ति दूसरे दिन थका हुआ महसूस करता है और उसकी भूख और क्रेविंग्स बढ़ जाती है जिससे अनहेल्दी तरीके से वजन बढ़ने लगता है। ऐसे में रात में दूध पीकर सोना वजन घटाने में मददगार साबित हो सकता है।

(और पढ़ें: वजन घटाने के लिए अपनाएं ये मजेदार टिप्स)

रात में दूध पाचन के लिए है फायदेमंद - Good for digestion in hindi

रात में गर्म दूध पीने से पाचन को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। अगर किसी को कब्ज की समस्या हो तो उसे तो रात में सोने से पहले दूध जरूर पीना चाहिए। आप चाहें तो रात में दूध पीते वक्त उसमें मिठास के लिए चीनी की जगह शहद मिला सकते हैं। दूध और शहद मुख्य रूप से प्रीबायोटिक का काम करते हैं जिससे आंत में अच्छे बैक्टीरिया का विकास होता है और पाचन में मदद मिलती है। दूध में घुलनशील और अघुलनशील दोनों तरह का फाइबर पाया जाता है जिससे पेट साफ रखने में भी मदद मिलती है।

रात में दूध पीने से तनाव होता है कम - Reduces stress in hindi

इन दिनों बड़ी संख्या में लोगों को तनाव और स्ट्रेस की वजह से भी नींद आने में परेशानी महसूस हो रही है। ऐसे में सोने से पहले एक कप गर्म दूध तनाव कम करने की एक अच्छी टेक्नीक हो सकती है। दूध में पाया जाने वाला प्रोटीन शरीर पर शांति और संतुष्टि देने वाला असर डालता है जिससे ब्लड प्रेशर कम होता है, मांसपेशियां रिलैक्स हो जाती हैं और स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल का लेवल भी कम हो जाता है। ऐसे में जब तनाव और बेचैनी कम हो जाती है तो जाहिर सी बात है कि अच्छी नींद आती है।

(और पढ़ें: तनाव दूर करने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय)

रात में दूध पीने से अगले दिन के लिए मिलती है एनर्जी - Gives energy in hindi

रात में सोने से पहले गर्म दूध पीने का असर आपके अगले दिन पर सकारात्मक रूप से पड़ सकता है। आप यह बात महसूस करेंगे कि जब आप रात में दूध पीकर सोते हैं तो अगले दिन आप पूरी एनर्जी और ताजगी के साथ सोकर उठते हैं जिससे आप अपने दिन की बेहतरीन शुरुआत कर सकते हैं पूरी एनर्जी के साथ। जब आपकी एनर्जी बनी रहती है तो आप काम में पूरी तरह से सक्रिय रहते हैं और आपका दिन भी अच्छा जाता है।

(और पढ़ें: एनर्जी कैसे बढ़ाएं, उपाय और तरीके)

अगर आप उन लोगों में से हैं जिन्हें रात में सोने से पहले दूध पीने की वजह से पेट खराब हो जाता है या नींद आने में दिक्कत महसूस होती है तो आपको रात में दूध पीना बंद कर देना चाहिए। बहुत से लोगों को रात के समय दूध पीने की वजह से कुछ नुकसान भी हो सकता है:

लैक्टोज इन्टॉलरेंस की समस्या- वैसे लोग जिन्हें लैक्टोज इन्टॉलरेंस की समस्या हो उन्हें रात के समय सोने से पहले दूध नहीं पीना चाहिए वरना उन्हें पेट में दर्द, पेट में गैस, पेट में भारीपन महसूस होना, पेट में ऐंठन या डायरिया जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। इसकी वजह ये है कि लैक्टोज दूध में मौजूद चीनी है और कुछ नहीं। लेकिन जिन लोगों को लैक्टोज असहनशीलता (इन्टॉलरेंस) की समस्या होती है उनके लिए रात में दूध पीना नुकसानदेह हो सकता है।

ग्लूकोज इन्टॉलरेंस- लैक्टोज असहनशीलता यानी इन्टॉलरेंस की ही तरह बहुत से लोगों को ग्लूकोज इन्टॉलरेंस की भी समस्या होती है। ऐसे लोगों को भी रात में सोने से पहले दूध का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि ग्लूकोज असहनशीलता वाले लोगों के लिए, सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध का सेवन करने से खून में ग्लूकोज की मात्रा कम हो जाती है जिससे एनर्जी लेवल अचानक बहुत घट जाता है और इस समस्या को हाइपोग्लाइसीमिया या शुगर क्रैश कहते हैं।

लिवर की कार्यक्षमता होगी- प्रभावित रात में सोने से पहले गर्म दूध पीने से लिवर की कार्य करने का तरीका बाधित हो सकता है। रात के समय आपका लिवर शरीर से जंक यानी गंदगी को साफ करने और शरीर को डीटॉक्स करने के कठिन काम में लगा होता है। ऐसे में रात के समय दूध पीने से दूध, लिवर की इस डीटॉक्स की प्रक्रिया में हस्तक्षेप कर सकता है। अपने लिवर को रात के समय बिना किसी बाधा के कार्य करने देना चाहते हैं तो रात में दूध का सेवन न करें।

(और पढ़ें: लिवर को साफ और स्वस्थ रखने के 10 सर्वोत्तम आहार)

Dt. Akanksha Mishra

Dt. Akanksha Mishra

पोषणविद्‍
7 वर्षों का अनुभव

Surbhi Singh

Surbhi Singh

पोषणविद्‍
22 वर्षों का अनुभव

Dr. Avtar Singh Kochar

Dr. Avtar Singh Kochar

पोषणविद्‍
20 वर्षों का अनुभव

Dr. priyamwada

Dr. priyamwada

पोषणविद्‍
7 वर्षों का अनुभव

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें