सफेद दाग को ल्यूकोडर्मा (Leucoderma) या विटिलिगो (Vitiligo) के नाम से भी जाना जाता है। विटिलिगो एक ऐसा विकार होता है, जिससे शरीर के विभिन्न भागों की त्वचा पर सफेद धब्बे बनने लगते हैं। यह इसलिए होता है क्योंकि त्वचा में रंग बनाने वाली कोशिकाएं खत्म हो जाती हैं, इन कोशिकाओं को मेलेनोसाइट्स (Melanocytes) कहा जाता है। अगर सफेद दाग शरीर पर बहुत अधिक दिखने लगें तो जल्द से जल्द डॉक्टर को जरूर दिखाएं। विटिलिगो के शुरूआती लक्षणों को ठीक करने के लिए आप कुछ घरेलू उपायों का भी उपयोग कर सकते हैं। इस लेख में हम आपको सफेद दाग हटाने के घरेलू उपाय बता रहे हैं। ये उपाय सफेद धब्बे मिटाने में आपकी मदद करेंगे।

(और पढ़ें - सफेद दाग का इलाज)

तो चलिए इस लेख में हम आपको सफेद दाग हटाने के उपाय बताते हैं:

  1. सफेद दाग हटाने के तरीके - Chehre ke safed dhabbe kaise hataye
  2. सफेद दाग के लिए घरेलू नुस्खे - Safed dhabbe ke liye gharelu nuskhe
  3. सफेद दाग को रोकने के उपाय - Safed dhabbe ko rokne ke upay

सफेद दाग हटाने के तरीके इस प्रकार है -

सफेद दाग हटाने का उपाय है लाल मिट्टी से बना मास्क - Safed dhabbe hatane ka upay laal mitti se bana mask

विटिलिगो का इलाज करने के लिए लाल मिट्टी से बने मास्क का इस्तेमाल करें। यह ज्यादातर पहाड़ों या नदियों के आसपास मिलती है। इसे आप बाजार से भी खरीद सकते हैं। लाल मिट्टी में त्वचा के लिए कई फायदे मौजूद होते हैं। लाल मिट्टी में आयरन ऑक्साइड होता है जो कि त्वचा के लिए बेहद आवश्यक पोषक तत्व है। यह पोषक तत्व त्वचा को निखारने में मदद करता है। इससे आपकी त्वचा कोमल और मुलायम भी हो जाती है।

आप कई तरह से लाल मिट्टी का इस्तेमाल कर सकते हैं:

पहला तरीका:

सामग्री:

  1. तीन कप लाल मिट्टी।
  2. आधा कप पानी।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले तीन कप लाल मिट्टी को आधा कप पानी में मिला लें।
  2. अब मिश्रण को अपने नहाने की बाल्टी में या फिर बाथ टब में मिला दें। बाल्टी में आप अपनी पसंद का कोई तेल भी मिला सकते हैं।
  3. अब इस पानी से कम से कम 15 मिनट तक नहाएं।

दूसरा तरीका: 

सामग्री:

  1. एक बड़ा चम्मच लाल मिट्टी।
  2. एक बड़ा चम्मच अदरक का जूस। (और पढ़ें - अदरक के फायदे)

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले लाल मिट्टी और अदरक के जूस को मिला लें।
  2. पहले प्रभावित क्षेत्र को किसी शीतल साबुन से धोएं और फिर उस जगह को तौलिए से पोछ लें।
  3. फिर प्रभावित क्षेत्र पर इस मिश्रण को लगाएं।
  4. जब तक मिश्रण सूख न जाए तब तक इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  5. अब प्रभावित क्षेत्र को ठंडे पानी से धो लें।
  6. इस उपाय को हफ्ते में तीन से चार बार दोहराएं। 

 (और पढ़ें - स्किन कैंसर के लक्षण)

सफेद दाग को हल्दी से हटाए - Safed dhabbe ko haldi se hataye

त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए हल्दी बहुत ही बेहतरीन सामग्री है। कई वैज्ञानिकों ने भी साबित किया है कि विटिलिगो के लिए हल्दी बेहद प्रभावी है।

हल्दी का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. हल्दी की कुछ गांठ। (और पढ़ें - हल्दी के फायदे)
  2. एक कप पानी।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले हल्दी की कुछ गांठ को पानी में 9 या उससे अधिक घंटे तक रहने दें।
  2. अब मिश्रण को उबाल लें।
  3. उबालने के बाद फिर उसे छान लें और निशान पर लगाएं। 
  4. आप चाहें तो इस मिश्रण को सरसों के तेल के साथ मिक्स कर लें। 
  5. मिक्स करने के बाद इसमें रूई डुबोएं और फिर रूई को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  6. इस मिश्रण को छह महिने से लेकर एक साल तक लगाने से निशान गायब हो जाते हैं। 

(और पढ़ें - स्किन कैंसर की सर्जरी

सफेद दाग मिटाने का नुस्खा है नारियल तेल - Safed dhabbe mitane ka nuskha hai nariyal tel

नारियल का तेल त्वचा को मॉइस्चराइज करता है और त्वचा के बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है। साथ ही, नारियल के तेल में एमोलिएंट होते हैं जो सफेद दाग का इलाज करते हैं। सफेद दाग के कारण त्वचा के रंग में कमी आने लगती है, ऐसे में नारियल का तेल त्वचा में मेलेनोसाइटस (melanocytes) का उत्पादन करने में मदद करता हैं। परिणामवरूप, आपकी त्वचा और भी बेहतर होने लगती है। इसके अलावा, नारियल के तेल में एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं, जो त्वचा के बैक्टीरिया को साफ करते हैं।

(और पढ़ें - मॉइस्चराइजर के फायदे)

आपको बस कुछ हफ्तों तक रोजाना पूरे दिन में तीन से चार बार नारियल तेल को प्रभावित क्षेत्र पर लगाना है। नारियल का तेल लगाने से आपकी त्वचा को किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचता है। 

(और पढ़ें - चर्म रोग के लक्षण)

सफेद धब्बे के लिए घरेलू नुस्खे इस प्रकार हैं -

सफेद दाग को तुलसी से दूर करें - Safed dhabbe ko tulsi se door kare

तुलसी, एशियाई देशों में बेहद लोकप्रिय है और अगर आपने अभी तक इस जड़ी बूटी के बारें में नहीं सुना है तो अब जान लीजिये। घरों में तुलसी के पौधे की पूजा की जाती है। इसके अलावा तुलसी आपके स्वास्थ्य के लिए भी बेहद अच्छी होती है और यह सफेद दाग का इलाज करने में मदद करती है। सफेद दाग या धब्बे को हटाने के अलावा ये त्वचा में होने वाली खुजली और सूजन को भी ठीक करती है। रोजाना तुलसी के पत्ते चबाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है और शरीर स्वस्थ होता है।

तुलसी का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. चार से पांच तुलसी की पत्तियां। (और पढ़ें - तुलसी के फायदे)

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सफेद दाग को ठीक करने के लिए कम से कम चार से छः महीने तक तुलसी की पत्तियों को रोजाना जरूर खाएं।
  2. आप एक कप पानी में इन पत्तियों को डालकर भी तुलसी की चाय पी सकते हैं।
  3. सफेद दाग को तेजी से ठीक करने के लिए प्रभावित क्षेत्र पर तुलसी के पाउडर को पानी में मिलाकर बनाए पेस्ट भी को लगा सकते हैं।
  4. तुलसी की पत्तियों का रस निकालें और इसे नींबू के रस के साथ मिलाकर पंद्रह मिनट के लिए प्रभावित जगहो पर लगाएं, इसके बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। 

 (और पढ़ें - मुंह में सफेद दाग के लक्षण)

सफेद दाग मिटाने के लिए नीम की पत्तियों का इस्तेमाल करें - Safed dhabbe mitane ke liye neem ki pattiyo ka istemal kare

नीम को त्वचा संबंधी समस्याओं का इलाज करने के लिए जाना जाता है, जो त्वचा के खोए हुए रंग को लौटाता है। नीम की पत्तियां रोग प्रतिरोधक की तरह कार्य करती हैं और खून को साफ रखती हैं।

(और पढ़ें - खून को साफ करने वाले आहार)

नीम का इस्तेमाल कैसे करें:

पहला तरीका:

सामग्री:

  1. मुट्ठीभर नीम की पत्तियां। (और पढ़ें - नीम के फायदे)
  2. एक कप छाछ। (और पढ़ें - छाछ के फायदे)

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले मुट्ठीभर नीम की पत्तियों को मिक्सर में मिक्स कर लें।
  2. अब इसे छाछ के साथ मिला लें, जिससे एक मुलायम पेस्ट तैयार हो सके।
  3. अब इस पेस्ट को त्वचा पर लगा लें और फिर सूखने का इंतजार करें।
  4. फिर त्वचा को पानी से धो लें और फिर इस उपाय को कई हफ्तों तक इसी तरह दोहराएं।

दूसरा तरीका:

सामग्री:

जरूरत अनुसार नीम का तेल।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. नीम के तेल को आप नारियल तेल या किसी भी तेल के साथ मिला सकते हैं।
  2. अब इस मिश्रण को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  3. तेल के मिश्रण का इस्तेमाल रोजाना कई हफ्तों तक इसी तरह करते रहें। 

(और पढ़ें - मुंहासे के लक्षण

मूली के बीज सफेद दाग को दूर करें - Mooli ke beej Safed dhabbe ko door kare

मूली के बीज को कच्चा खाया जाता है और करी, सलाद, सांभर, सूप व अचार में इसका उपयोग किया जाता है। मूली के पत्ते, फूल और बीज स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। मूली के बीज सफेद दाग के इलाज के लिए बेहद उपयोगी होते हैं। मूली के बीज त्वचा की अशुद्धियों को साफ करते हैं और इसमें विटामिन बी, विटामिन सी, जिंक और फास्फोरस होता है जो सफेद धब्बे से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं।

मूली के बीज का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. 35 से 40 ग्राम मूली के बीज।
  2. दो छोटा चम्मच सिरका। (और पढ़ें - सिरके के फायदे)

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले मूली के बीज को पानी में रात भर भिगोने के लिए रख दें।
  2. अब सुबह, मूली के बीज को मिक्सर में मिक्स करने के लिए डाल दें।
  3. पेस्ट तैयार होने के बाद मिश्रण को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  4. लगाने के बाद दो घंटे के लिए पेस्ट को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  5. अब त्वचा को पानी से धो दें।

(और पढ़ें - मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय)

सफेद दाग को रोकने के उपाय इस प्रकार है -

सफेद दाग अखरोट और अंजीर से मिटाए जाते हैं - Safed dhabbe akhrot or anjeer se mitaye jate hai

सफेद दाग के लिए अखरोट और अंजीर बेहद बेहतरीन उपाय है। अखरोट और अंजीर में ओमेगा 3 फैटी एसिड अधिक मात्रा में होता है, साथ ही इसमें लिनोलिक एसिड भी होता है। सफेद धब्बे का इलाज करने के लिए अखरोट और अंजीर को रोजाना खाएं। सफेद दाग का इलाज करने के लिए आप इन दोनों को रोजाना पर्याप्त मात्रा में लें सकते हैं।

अखरोट और अंजीर को इस तरह भी इस्तेमाल कर सकते हैं:

सामग्री:

  1. कुछ अखरोट।
  2. एक अंजीर।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. अखरोट या अंजीर को भूनकर पाउडर तैयार कर लें। 
  2. फिर इसमें पानी मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें।
  3. अब पेस्ट को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  4. 15 से 20 मिनट के बाद त्वचा को पानी से धो लें।
  5. इस उपाय को पूरे दिन में चार से पांच बार दोहराएं।

(और पढ़ें - स्किन एलर्जी के लक्षण

सफेद दाग दूर करने का तरीका है छोले - Safed dhabbe door karne ka tarika hai chole

छोले सफेद दाग का इलाज करते हैं और इस बात को वैज्ञानिक भी नहीं नकारते हैं। छोले में कई खनिज मौजूद होते हैं जो त्वचा के खोए हुए रंग को लौटाते हैं।

छोले का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. मुट्ठीभर छोले। (और पढ़ें - काबुली चने खाने के फायदे)

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सफेद धब्बे का इलाज करने के लिए आप अपनी डाइट में छोले शामिल कर सकते हैं।
  2. इसके अलावा मुट्ठीभर छोलों को मिक्सर में डाल दें और पेस्ट तैयार होने के बाद मिश्रण को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  3. अगर आप मिश्रण का इस्तेमाल रोजाना करते हैं तो यह सफेद दाग का इलाज करने में मदद करेगा। 

(और पढ़ें - त्वचा पर चकत्ते के लक्षण

एलो वेरा की मदद से सफेद दाग खत्म करें - Aloe vera ki madad se safed daag khatam kare

एलो वेरा सफेद दाग का इलाज करने में मदद करता है। इसमें कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो त्वचा के दाग धब्बों को ठीक करते हैं। एलो वेरा त्वचा को हाइड्रेट रखने में भी मदद करता है। एलो वेरा में कई एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जैसे विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन बी12 और फोलिक एसिड, जो सफेद दाग से लड़ने में मदद करते हैं। इसमें कई आवश्यक खनिज पदार्थ होते हैं जैसे कॉपर, कैल्शियम, ज़िंक जो त्वचा के खोए हुए रंग को वापस लौटाते हैं।

एलो वेरा का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. एलो वेरा जेल। (और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे)

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले ताजी पत्ती से एलो वेरा जेल लें।
  2. इसे प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  3. लगाने के बाद कुछ घंटे तक एलो वेरा जेल को त्वचा पर ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. इस उपाय को पूरे दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - त्वचा में रंग बदलाव के लक्षण

सफेद दाग हटाने के लिए अदरक का प्रयोग करें - Safed dhabbe hatane ke liye adrak ka prayog kare

अदरक सफेद दाग के लिए बहुत ही बेहतरीन सामग्री है। अदरक शरीर में रक्त परिसंचरण में सुधार करता है और मेलेनिन के उत्पादन को बढ़ाता है।

(और पढ़ें - ब्लड सर्कुलेशन धीमा होने के कारण)

अदरक का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. ताजा अदरक के कुछ टुकड़े।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. सबसे पहले ताजा अदरक को टुकड़ों में काट लें।
  2. अब इसे प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  3. लगाने के बाद 10 से 15 मिनट तक अदरक को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. त्वचा के सफेद धब्बों को ठीक करने के लिए कुछ हफ्ते तक इस उपाय को पूरे दिन में दो से तीन बार दोहराएं।
  5. आप चाहें तो अदरक को पानी के साथ मिक्सर में मिक्स करके भी उसका जूस निकाल कर दिन में दो बार पी सकते हैं। 

(और पढ़ें - चर्म रोग के उपाय

सम्बंधित लेख

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ