myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

गोल-मटोल दिखने वाले बच्चे हर किसी को पसंद आते हैं। इस वजह से अधिकतर मां अपने बच्चे के वजन को बढ़ाने के लिए हमेशा चिंतित रहती हैं। सही तरह से खाने के बाद भी आपके बच्चे का वजन नहीं बढ़ता तो ऐसे में आपको अपने बच्चे की डाइट में सभी पौष्टिक आहार शामिल करने चाहिए, ताकि बच्चे का सही तरह से विकास हो सके। बच्चे की डाइट में शामिल पौष्टिक आहार से बच्चा मोटा व स्वस्थ बनता है। महिलाओं को अपने बच्चे को दिन में तीन बार खाना देने की अपेक्षा थोड़ी-थोड़ी देर में खाने के लिए कुछ न कुछ देते रहना चाहिए। इसके साथ ही बच्चे की डाइट में सभी मिनिरल्स और विटामिन को भी शामिल करना चाहिए, इससे बच्चा मोटा होने के साथ ही दिमागी तौर से भी स्वस्थ बनता है। इस लेख में आपको मुख्यतः एक साल से बड़े बच्चों को विषय में बताया जा रहा है।

(और पढ़ें - शिशु का वजन कैसे बढ़ाएं

आप सभी को इस लेख में बच्चे के वजन को बढ़ाने के उपाय व तरीके बताएं जा रहें हैं। साथ ही इसमें आपको कमजोर बच्चे को मोटा करने के उपाय व तरीके, बच्चों को मोटा कैसे करें, बच्चे को मोटा करने के घरेलू उपाय और बच्चों को मोटा करने के लिए क्या करना चाहिए, आदि कुछ विषयों को विस्तार से बताने का प्रयास किया गया है।

(और पढ़ें - शिशु और बच्चों की देखभाल)

  1. बच्चों को मोटा करने का तरीका - Bacho ko mota karne ka tarika
  2. बच्चों को मोटा करने का घरेलू उपाय - Bacho ko mota karne ke gharelu upay
  3. बच्चों को मोटा कैसे किया जाए - Bacho ko mota kaise kiya jaye
  4. बच्चों को मोटा कैसे करें - Bache ko mota kaise kare
  5. बच्चे को मोटा करने वाले अन्य आहार - Bache ko mota karne vale anya aahar
  6. बच्चों को मोटा करने के उपाय, तरीके और क्या करना चाहिए के डॉक्टर

बच्चों को मोटा करने की विधि है नाश्ता न छोड़ना - Bacho ko mota karne ki vidhi hai nashta na chodhna

बच्चे के द्वारा नाश्ते में हर रोज स्वस्थ खाद्य पदार्थ लेने से भूख में बढ़ोतरी होती है। रात को लंबे समय तक भूखा रहने के बाद संतुलित नाश्ता से बच्चे की मेटाबॉलिज्म प्रक्रिया में सुधार होता है और बच्चे को पूरे दिन कार्य करने के लिए एनर्जी मिलती है।

आपको अपने बच्चे को नाश्ता जरूर देना चाहिए। यह भी उनके बच्चे को मोटा करने का एक सरल उपाय माना जाता है।

(और पढ़ें - शिशु का टीकाकरण चार्ट)

बच्चे को मोटा करने का तरीका है खाने से आधा घंटे पहले पानी पिलाना - Bache ko mota karne ka tarika hai khane se adha ghante pahle pani pilana

कमजोर बच्चे को मोटा बनाने के लिए जरूरी है आपको अपने बच्चे को खाना खाने से करीब आधा घंटा पहले पानी पिलाएं। इससे बच्चे को खाना खाते समय पानी की ज्यादा प्यास नहीं लगेगी। बच्चे के सुबह उठने पर आप उसको दूध या नाश्ता देने से पहले पानी पिलाएं। खाने से आधा घंटे पहले पानी पीने से बच्चे की पाचन क्रिया ठीक बनी रहती है। इससे बच्चा जो भी भोजन खाता है, वह सही तरह से उसके शरीर को पोषण प्रदान करता है।

(और पढ़ें - बच्चों की इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं)

बच्चे को मोटा करने के लिए उसको हर दो घंटे में खाना खिलाएं - Bache ko mota karne ke liye usko har do ghante me khana khilaye

बच्चे को दिन में तीन बार खाना खिलाने की बजाय उसको थोड़े-थोड़े समय में खाना खिलाती रहें। इस आदत के चलते थोड़ा-थोड़ा खाना पचाना बच्चों के लिए आसान हो जाता है और साथ ही उनका वजन भी सही मात्रा में बढ़ता है।

एक बार में ज्यादा खाने से बच्चे को पचाने में मुश्किल होती है। इससे अलावा अधिक खाने की वजह से बच्चे को पेट संबंधी अन्य बीमारियां होने की भी संभावनाएं बढ़ जाती है।  

(और पढ़ें - बच्चों में भूख ना लगने के कारण)

कमजोर बच्चे को मोटा करने का घरेलू उपाय है दूध व दही - Kamjor bache ko mota karne ka gharelu upay

दूध प्राकृतिक रूप से प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट का मुख्य स्त्रोत होता है। इसमें कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं। बच्चे को मोटा करने के लिए आप उसको दिन में कम से कम दो ग्लास दूध जरूर दें। इसके लिए आप दूध को किसी भी रूप में दे सकते हैं, जैसे मिल्क शेक, सेरियल्स और स्मूदी आदि। इसके साथ ही आप बच्चे को दही भी दे सकते हैं। दही से बच्चे को शरीर के लिए स्वस्थ्य बैक्टीरिया प्राप्त होते हैं। दही में कैल्शियम भी भरपूर मात्रा में मौजूद होता है, इससे बच्चे की भूख में बढ़ोतरी होती है। इसके अलावा भोजन में दही को शामिल करने से बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती होती है।

(और पढ़ें - उम्र के अनुसार लंबाई और वजन का चार्ट)

बच्चों को मोटा करने का उपाय है साथ में खाना खिलाना - Bacho ko mota karne ke upay hai saath me khana

कई बार बच्चा टीवी देखने के लिए जल्दी से खाना खत्म करने की कोशिश करता है। अगर घर के सभी लोग एक जगह बैठकर खाना खाते हैं, तो इससे बच्चा भी उचित मात्रा में खाना खाता है। एक साथ बैठकर खाना खाने से बच्चा घर के अन्य सदस्यो को देखकर खाना खाने में रुचि लेता है और भरपेट भोजन करता है। इसके अलावा वह घर के अन्य बड़ों से कई अच्छी आदतें भी सीख पाता है।

(और पढ़ें - डायपर रैश के उपचार)

कमजोर बच्चे को मोटा करने का टिप है नींद - Kamjor bache ko mota karne ka tip hai nind

उचित और पौष्टिक आहार के साथ ही कुछ आदतें ऐसी होती है, जिनका सीधा असर बच्चे की सेहत पर पड़ता है। कमजोर बच्चों को स्वस्थ रहने के लिए पूरी नींद लेना काफी जरूरी होता है, नींद लेना बच्चे के विकास के लिए भी महत्वपूर्ण होता है। बच्चे को कम से कम 10 घंटों की नींद लेनी चाहिए। इससे बच्चे का शरीर कई तरह के संक्रमण और बीमारियों से लड़ने के लिए सक्षम होता है। साथ ही इससे बच्चे की मेटाबॉलिज्म प्रक्रिया भी सही होती है।

(और पढ़ें - नवजात शिशु का वजन कितना होता है)      

बच्चे को मोटा करने का उपाय है ओट्स खिलाना - Bache ko mota karne ke upay hai oats khilana

बच्चे को मोटा करने के उपाय में ओट्स को भी शामिल किया जाता है। ओट्स में सैचुरेटड फैट व कोलेस्ट्रोल कम होता है, जबकि मैंगनीज, मैग्नीशियम, विटामिन बी1फास्फोरस उच्च मात्रा में होता है। इसके साथ ही इसमें प्रोटीन भी पाया जाता है।

आप अपने बच्चे के ओट्स का पैनकेक, खीर, फ्रूट डोसा आदि बनाकर दे सकती हैं।

(और पढ़ें - बच्चे की मालिश कैसे करें)

बच्चों को मोटा करने के तरीके में शामिल है केला - Bacho ko mota karne ke tarike me shamil hai kela

बच्चो को मोटा करने के लिए आप उसके खाने में केला दे सकती हैं। केले में उच्च मात्रा में फाइबर, पोटेशियम, विटामिन सी और विटामिन बी6 मौजूद होता है। इससे बच्चे की एनर्जी बढ़ती है।

कई महिलाएं शिशु को 6 महीने से ही केला देना शुरू कर देती हैं। लेकिन जो महिलाएं अपने बच्चे को केला नहीं देती हैं, उनको भी अपने बच्चे को मोटा करने के लिए केला देना चाहिए। अगर बच्चे को केला खाना पसंद न हो तो आप केले की ही कुछ अन्य डिश बनाकर, बच्चे को खिला सकती हैं। इससे बच्चा तेजी से मोटा होता है।

(और पढ़ें - नवजात शिशु के कफ का इलाज)

बच्चे को मोटा करने के लिए दें चिकन - Bache ko mota karne ke liye de chicken

मांसपेशियों के विकास में प्रोटीन की अहम भूमिका होती है, इसीलिए आपको अपने कमजोर बच्चे को मोटा और तंदुरूस्त करने के लिए उसके खाने में चिकन को शामिल करना चाहिए। यह आसानी से उपलब्ध होता है, आप अपने बच्चे को चिकन का सूप भी दे सकती हैं। यदि आप बच्चे को पहली बार चिकन देने जा रहीं हो, तो ऐसे में उसको चिकन सूप ही दें। इसके बाद आप उसको चिकन के साथ चावल या रोटी भी दे सकती हैं।  

(और पढ़ें - नवजात शिशु को खांसी क्यों होती है

बच्चे को मोटा करने के लिए दिए जाने वाले अन्य आहार को नीचे विस्तार से बताया गया है।

  1. मक्खन
    बच्चों के वजन को बढ़ाने और उनको मोटा करने के लिए मक्खन दिया जाता है। बच्चे को मक्खन देने के लिए आप इसको घर पर भी बना सकती हैं। मक्खन में फैट बढ़ी मात्रा में होता है जो आपके कमजोर बच्चे को स्वस्थ और तंदुरुस्त बनता है। ऐसा जरूरी नहीं है कि बच्चे को केवल ब्रेड पर ही मक्खन लगाकर दिया जाए, आप उसको खाने की अन्य चीजों में मक्खन मिलाकर दे सकती हैं।
    (और पढ़ें - बच्चे कब कैसे बोलना सीखते हैं)
     
  2. शकरकंद
    शकरकंद अधिकतर लोगों को पसंद होती है। यह पौष्टिक व आसानी से पचने के साथ ही सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होती है। इसमें अधिक मात्रा में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन बी6, कॉपर, फास्फोरस, पोटेशियम और मैंगनीज होता है। शककरकंद की सहायता से आपके बच्चे का वजन तेजी से बढ़ता है और वह मोटा होता है।
    (और पढ़ें - बच्चे के दांत निकलना)
     
  3. दालें
    आप अपने बच्चे को मोटा करने के लिए उसको दालों से बनी खिचड़ी भी खिला सकती हैं। दालों में पर्याप्त मात्रा प्रोटीन, मैग्नीशियम, कैल्शियम, आयरन, फाइबर और पोटेशियम होता है। मूंग दाल से बनी खिचड़ी आसानी से पच जाती है और वह बच्चों के लिए काफी सेहतमंद भी होती है। आप दालों को चावलों व सब्जियां के साथ पाकर एक पौष्टिक व फाइबर युक्त भोजन तैयार कर सकती हैं।
    शुरूआत में आप बच्चे को दाल का पानी पीने के लिए दें। इसके बाद आप बच्चों को अन्य आहार भी दें सकती है।  
    (और पढ़ें - पोलियो का टीका कब लगवाना चाहिए)
     
  4. घी
    बच्चे को मोटा करने के लिए काफी समय से घी का उपयोग किया जाता है। अगर आप बाजार के मिलावटी की घी के डर से बच्चे को घी नहीं देती हैं तो आप इसको घर पर भी तैयार कर सकती हैं। बच्चे के वजन को बढ़ने का यह एक बेहतर विकल्प माना जाता है। बच्चे को संतुलित मात्रा में ही घी दें, अधिक मात्रा में घी खाने से बच्चे को पेट संबंधी कई तरह की समस्याएं हो सकती है। 
    (और पढ़ें - बच्चे की मालिश का तेल)  
     
  5. आलू
    अगर आप अपने बच्चे के वजन को बढ़ाना चाहती हैं, तो आपको उसके आहार में कम से कम 40 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट को शामिल करना चाहिए और इस आवश्यकता को आलू पूरा कर सकता है, क्योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट मुख्य रूप से मौजूद होता है। इसके साथ ही आलू में एमिनो एसिड भी होता है, जिसकी मदद से बच्चों का वजन आसानी से बढ़ता है। 
    (और पढ़ें - शिशु की गैस का इलाज)
     
  6. फल
    पपीता, आम और अनानास आदि, फलों में उच्च मात्रा में प्राकृतिक शर्करा होती है, इससे शरीर को शक्ति मिलती है और वजन में बढ़ोतरी होती है। बच्चे को मोटा करने के लिए आप उसको जूस भी दे सकती हैं।

(और पढ़ें - बच्चे को चलना कैसे सिखाएं)

Dr. Vivek Kumar Athwani

Dr. Vivek Kumar Athwani

पीडियाट्रिक
7 वर्षों का अनुभव

Dr. Hemant Yadav

Dr. Hemant Yadav

पीडियाट्रिक
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Rajesh Gangrade

Dr. Rajesh Gangrade

पीडियाट्रिक
20 वर्षों का अनुभव

Dr. Yeeshu Singh Sudan

Dr. Yeeshu Singh Sudan

पीडियाट्रिक
14 वर्षों का अनुभव

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें