myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

लेटुस (Lettuce) यानि सलाद पत्ता वैज्ञानिक रूप से लेक्टूका सैटाइवा (Lactuca sativa) के रूप में जाना जाता है। सबसे पहले इसकी खेती हजारों साल पहले मिस्र वासियों द्वारा की जाती थी। मिस्र वासी इसके बीज का उपयोग तेल के उत्पादन करने के लिए और इसके पत्तों का उपयोग सब्जी के लिए करते थे। प्राचीन मिस्र में इस पौधे का सांस्कृतिक और धार्मिक महत्व भी था। क्योंकि यह पवित्र माना जाता था। बाद में ग्रीक और रोमन भी इस फसल की खेती करने लगे थे।

यह 16 वीं और 18 वीं शताब्दी के बीच की अवधि में था कि विभिन्न प्रकार के लेटुस विकसित किए गए थे। यूरोप में मध्यकालीन युग के दौरान लेटुस को औषधीय गुणों के लिए जाना जाता था। इसका उल्लेख कई मध्यकालीन ग्रंथों में किया गया है। यूनानी चिकित्सा पद्धति में कई बीमारियों के लिए औषधि के रूप में इस पौधे का उपयोग किया जाता था, इसके कई उदाहरण भी मिल सकते हैं। इसका उपयोग पित्त के उतार-चढ़ाव में, रक्तचाप के लिए, भूख नहीं लगने के लिए, अनिद्रा, आंतों और पाचन तंत्र के लिए टॉनिक के रूप में और यौन की तीव्र इच्छा को कम करने के लिए किया जाता था। 

(और पढ़ें - नींद के लिए घरेलू उपाय)

मध्यकालीन समय के दौरान और आधुनिक समय की शुरुआत में लेटुस यूरोप से उत्तरी अमेरिका तक फैल गया था। 19वीं शताब्दी के दौरान, यह दुनिया के अन्य हिस्सों में खासकर एशिया, दक्षिण अमेरिका, अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया तक फैल गया था। आज यह दुनिया के लगभग सभी हिस्सों में पाया जाता है।

लेटुस में नमी, ऊर्जा, प्रोटीन, वसा, कार्बोहाइड्रेट, आहार फाइबर और शर्करा पाया जाता है। इसमें कई खनिज और विटामिन जैसे कैल्शियम, लोहा, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम, जिंक, थायामिन, राइबोफ़्लिविन, नियासिन, फोलेट, विटामिन बी-6, विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन ई और विटामिन k हैं।

चलिए हम आपको आधुनिक वैज्ञानिक अनुसंधानों द्वारा पुष्टि किए गए इसके कुछ स्वास्थ्य लाभों के बारे में बताते हैं।

  1. सलाद के पत्ते के फायदे - Lettuce ke fayde in hindi
  2. सलाद के पत्ते के नुकसान - Lettuce side effects in hindi
  3. सलाद के पत्ते की रेसिपी - Lettuce recipes in hindi

सलाद पत्ता बेनिफिट्स फॉर सूजन - Lettuce for inflammation in hindi

लेटुस में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो सूजन को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। प्रयोग में पाया गया  है की लेटुस अर्क लाइपॉक्सीजेनस (lipoxygenase) और कैरजेनैन (carrageenan) जैसे जैव-विश्लेषकों (biocatalysts) द्वारा प्रेरित सूजन को नियंत्रित करने में लाभदायक है।

(और पढ़ें – अंगुलियों में सूजन का हल)

सलाद के पत्ते मस्तिष्क के लिए - Lettuce good for the brain in hindi

न्यूरॉन्स मस्तिष्क की कोशिकाएं होती हैं जिनके कारण हमारी स्मृति बनती हैं। इन न्यूरॉन्स के ख़त्म होने से मेमोरी लॉस हो सकता है। कुछ चरम मामलों में इनके ख़त्म होने से अल्जाइमर जैसे रोगों की शुरुआत भी हो सकती है। शोध में ऐसा पाया गया है कि लेटुस के एक्सट्रेक्ट न्यूरॉन की कोशिकाओं को ख़त्म होने से रोकते हैं। इसलिए न्यूरोडीजेनेरेटिव (neurodegenerative) रोगों में भी यह उपयोग किया जा सकता है।

(और पढ़ें – शंखपुष्पी के फायदे हैं मानसिक थकान के लिए)
 

सलाद पत्ता के लाभ करें कोलेस्ट्रॉल कम - Lettuce good for lowering cholesterol in hindi

लेटुस कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में फायदेमंद होता है। कोलेस्ट्रॉल के कारण हृदय रोग जैसी समस्या होती है। उच्च कोलेस्ट्रॉल का स्तर यानि की एलडीएल (LDL ) या खराब कोलेस्ट्रॉल हमारे लिए हानिकारक होता है जो दिल के दौरे और स्ट्रोक जैसी समस्या पैदा कर सकता है। वसा और कोलेस्ट्रॉल पर सलाद के खाने के प्रभाव का परीक्षण करने के लिए चूहों पर एक अध्ययन किया गया था। अध्ययन में पाया गया कि जो चूहे लेटुस नहीं खाते थे उनकी तुलना में लेटुस खाने वाले चूहों का कोलेस्ट्रॉल लेवल बहुत अधिक कम को गया था। शोध में पाया गया हे कि लेटुस के उपयोग से कोलेस्ट्रॉल कम होता है क्योंकि इसमें लिपिड पेरोक्सीडेशन पाया जाता है जो कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में लाभदायक है। 

(और पढ़ें – कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए पियें ये जूस)

सलाद पत्ता का उपयोग दिलाए नींद - Lettuce promotes sleep in hindi

यूनानी चिकित्सा में इसका उपयोग नींद की दवा के रूप में किया जाता था। जब सलाद के अर्क का अनुसंधान में प्रयोग किया गया तो इसमें एक डिप्रेसेंट केमिकल देखा गया। जब उस डिप्रेसेंट केमिकल का उपयोग पशुओं पर किया गया तो इसका महत्वपूर्ण प्रभाव दिखा। इसके उपयोग से उनके हृदय की दर कम हो गई। यह केमिकल माँसपेशियो और तंत्रिका के ऊतकों की उत्तेजना को शांत करता है

(और पढ़ें – नींद ना आने के आयुर्वेदिक उपाय)

सलाद पत्ते में हैं एंटीऑक्सिडेंट गुण - Lettuce have antioxidant properties in hindi

अध्ययनों से पता चला है कि लेटुस में एंटीऑक्सिडेंट गुण पाया जाता है जो फ्री रेडिकल से लड़ने में मदद करते हैँ। एंटीऑक्सिडेंट जैव-रसायनों की एक विस्तृत श्रृंखला है जो ज्यादातर हमारे आहार में पाए जाते हैं। एंटीऑक्सिडेंट मानव स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक हैं। एंटीऑक्सिडेंट उन फ्री रेडिकल को रोकने का काम करते हैं जो सेलुलर चयापचय के दौरान उत्पन्न होते हैं। ये फ्री रेडिकल स्वस्थ ऊतकों, कोशिकाओं और उनके अंदर डीएनए पर हमला करते हैं। वे अक्सर स्वस्थ कोशिकाओं को कैंसर कोशिकाओं में परिवर्तित कर सकते हैं जिसके कारण विभिन्न रोगों का विकास हो सकता है। एंटीऑक्सिडेंट इन फ्री रेडिकल से लड़ते हैं और फ्री रेडिकल के हमले से पहले उन्हें बेअसर कर देते हैं। सलाद की लेटेक्स में एंटी-माइक्रोबियल गुण भी होते हैं। सलाद की लेटेक्स के संपर्क में आने पर कैनडीडा अल्बिकन्स (Candida albicans) और कई अन्य खमीर पूरी तरह से विकृत हो जाते हैं।

(और पढ़ें – ब्रोकोली के औषधीय गुण रखें हृदय को स्वस्थ)

सलाद के पत्ते के फायदे चिंता कम करने के लिए - Lettuce for anxiety in hindi

लेटुस के मस्तिष्क के लिए गुणों का वर्णन प्राचीन समय से है। हाल के दिनों में विस्तृत शोध ने निष्कर्ष निकाला है कि लेटुस में चिंता को कम करने के गुण होते हैं। जब इसका एक्सट्रेक्ट लैब में जानवरों को दिया गया, तो उनकी लोकोमोटिव गतिविधियां काफी काम हो गईं।

(और पढ़ें – खरबूजा बेनिफिट्स दिलाएँ तनाव से राहत)

लेटुस के लाभ कैंसर करे नियंत्रित - Lettuce good for breast cancer in hindi

लेटुस के पत्ते के अर्क कुछ प्रकार के कैंसर को नियंत्रित कर सकते हैं। मानव कैंसर कोशिकाओं पर अनुसंधान किया गया जिसमें विशेष रूप से ल्यूकेमिया कोशिकाओं और ब्रेस्ट कैंसर कोशिकाओं में लेटुस के अर्क का उपयोग कर के इलाज किया गया। इससे काफी हद तक कैंसर नियंत्रित हो गया। प्रयोगों में यह भी सुझाव दिया गया कि 50% ल्यूकेमिया कोशिकाओं को मारने के लिए मनुष्य को 3 किलो लेटुस का सेवन करना चाहिए।

(और पढ़ें – कैंसर से लड़ने वाले दस बेहतरीन आहार)

वैसे तो लेटुस के कोई हानिकारक प्रभाव नहीं हैं पर अध्ययनों से पता चला है कि सलाद भी एलर्जी उत्पन्न कर सकता है। इसलिए अगर इससे एलर्जी है तो ना खाएं।

सलाद के पत्ते का सेवन आप इन रेसिपीज के द्वारा कर सकते हैं -

  • सब्जी का सलाद : इसके लिए आप टमाटरखीरामूलीगाजरलाल मिर्च, पीली मिर्च और सलाद के पत्तों को काट लें। अब कटोरे में कटे हुए सब्जियों को डालें। अब आप इसमें नमक, काली मिर्च , जैतून का तेल छिडकें और नींबू रस के साथ स्वादिष्ट बनाएं।
  • कॉर्न और लेटिष का सलाद : एक कप मक्का उबाल कर उसे ठंडा कर लें। कुछ सलाद के पत्ते, प्याज, और टमाटर को काट लें। अब आप एक कटोरे में उबला हुआ मक्का और सलाद के पत्ते, प्याज और टमाटर को मिला लें। अब आप इसे नमक, काली मिर्च, जैतून का तेल और नींबू रस डाल कर स्वादिष्ट बनाएं। आप उबला हुआ आलूमशरूम या मटर जैसी अन्य सब्जियां भी मिला सकते हैं।
और पढ़ें ...