myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

बदहजमी या अपच सबको होती है जिसे हम आम भाषा में पेट खराब होना कह देते हैं। पेट खराब होने में अपच के अलावा भी कई समस्याएं आती हैं। बदहजमी कोई बीमारी नहीं है, ये कई समस्याओं का एक लक्षण होता है। खाने के गलत तरीके और पाचन की समस्याओं के कारण बदहजमी हो सकती है।

बदहजमी होने पर पेट भरा होने की भावना, पेट दर्द और पेट के ऊपरी हिस्से में जलन होने लगती है। हर व्यक्ति को बदहजमी होने पर अलग प्रकार की समस्याएं होती हैं। बदहजमी कुछ समय में अपने आप ठीक भी हो सकती है या इसके लिए आपको इलाज लेने की आवश्यकता भी हो सकती है।

(और पढ़ें - पेट दर्द के घरेलू उपाय)

इस लेख में बदहजमी होने पर क्या होता है, अपच होने पर क्या उपाय किए जा सकते हैं और इस स्थिति में डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए के बारे में बताया गया है।

(और पढ़ें - बदहजमी के घरेलू उपाय)

  1. अपच होने पर क्या होता है - Badhajmi me kya hota hai
  2. बदहजमी के लिए क्या करें - Badhazmi ke liye kya karna chahiye
  3. बदहजमी के लिए डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए - Apach ke liye doctor ke pas kab jaye

बदहजमी होने पर निम्नलिखित समस्याएं होती हैं -

बदहजमी में आमतौर पर आपको डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं होती है। अपच होने पर निम्नलिखित प्राथमिक उपचार करें -

  1. पूरे दिन में थोड़ा-थोड़ा भोजन करें एक बार में बहुत सारा खाना न खाएं। (और पढ़ें - भोजन विकार के लक्षण)
  2. चाय, कॉफी या कोल्ड-ड्रिंक न पिएं। (और पढ़ें - मसाला चाय के फायदे)
  3. अदरक में ऐसे पदार्थ होते हैं, जिनसे बदहजमी में आराम मिलता है। (और पढ़ें - अदरक की चाय के फायदे)
  4. मुंह खोलकर खाना न चबाएं और खाते समय बात न करें।
  5. उल्टा न लेटें, इससे लक्षण और बिगड़ सकते हैं।
  6. पेट में गैस होने पर सौंफ खाने से आराम मिल सकता है। (और पढ़ें - सौंफ की चाय के फायदे)
  7. अधिक फैट वाला व मसालेदार खाना न खाएं। (और पढ़ें - मसालेदार खाने के नुकसान)
  8. बहुत तेज-तेज या जल्दबाजी में खाना न खाएं।
  9. अपच के लिए अजवाइन का उपयोग किया जा सकता है। (और पढ़ें - अजवाइन का पानी पीने के फायदे)
  10. लेटने पर अपने कंधों और सिर को थोड़ा ऊपर उठा कर रखें।
  11. पानी या दूध पिएं। (और पढ़ें - शरीर में पानी की कमी)
  12. सिगरेट न पिएं, इससे अपच से होने वाली समस्याएं बढ़ सकती हैं। (और पढ़ें - सिगरेट छोड़ने के घरेलू उपाय)
  13. रात को बहुत देर से खाना न खाएं। (और पढ़ें - खाना खाने का सही समय)
  14. आंवला से भी पेट की बदहजमी ठीक होती है। (और पढ़ें - आंवला जूस के फायदे)
  15. सोने से एकदम पहले खाना न खाएं। (और पढ़ें - सोने का सही तरीका)
  16. अपच के लिए आप मेडिकल स्टोर पर मिलने वाली एंटासिड दवाएं ले सकते हैं।
  17. शराब न पिएं, इससे बदहजमी के लक्षण बढ़ सकते हैं। (और पढ़ें - शराब की लत छुड़ाने के घरेलू उपाय)
  18. हो सके तो खाना खाने के बाद सैर करें। (और पढ़ें - सुबह की सैर करने के फायदे)

हल्की बदहजमी होना सामान्य है और ये अपने आप ठीक भी हो जाती है। हालांकि, निम्नलिखित स्थितियों में आपको अपने डॉक्टर के पास जाना चाहिए -

दिल के दौरे (हार्ट अटैक) के लक्षणों को भी कभी-कभी अपच के लक्षण समझ लिया जाता है, इसीलिए अगर आपकी सांस फूल रही है और उसके साथ पसीना आ रहा है या छाती की दर्द पीट या हाथ में फैल रही है, तो तुरंत अपने डॉक्टर के पास जाएं।

(और पढ़ें - दिल का दौरा पड़ने पर क्या करें)
 

नोट: प्राथमिक चिकित्सा या फर्स्ट ऐड देने से पहले आपको इसकी ट्रेनिंग लेनी चाहिए। अगर आपको या आपके आस-पास किसी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की आपातकालीन स्वास्थ्य समस्या है, तो डॉक्टर या अस्पताल​ से तुरंत संपर्क करें। यह लेख केवल जानकारी के लिए है।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें
कोरोना मामले - भारतx

कोरोना मामले - भारत

CoronaVirus
434 भारत
67केरल
21पंजाब
31उत्तर प्रदेश
7आंध्र प्रदेश
74महाराष्ट्र
4जम्मू-कश्मीर
7पश्चिम बंगाल
1पुडुचेरी
32तेलंगाना
35कर्नाटक
1छत्तीसगढ़
29गुजरात
2ओडिशा
3उत्तराखंड
2हिमाचल प्रदेश
26हरियाणा
13लद्दाख
6मध्य प्रदेश
31राजस्थान
2बिहार
9तमिलनाडु
6चंडीगढ़
25दिल्ली

मैप देखें