myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

आप सभी ने कच्चे केले को कई बार अपने घर में या बाजार में देखा ही होगा। कई लोगों को इसे खाना पंसद होता है। दरअसल लोग कच्चे केले की अपेक्षा पका हुआ केला ज्यादा खाते हैं। इसकी एक बड़ी वजह यह है कि लोगों को हमेशा पके हुए केले के फायदो के बारे में ही बताया जाता है। लेकिन आपको बता दें कि सब्जी या कोफ्ते बनाने के लिए उपयोग में लाए जाने वाला कच्चा केला भी आपकी सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है। पके केले की तरह ही इसमें भी कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो आपको दिनभर एक्टिव बनाए रखने में मदद करते हैं।

इसी वजह से इस लेख में कच्चे केले के फायदे और नुकसान के बारे में बताया गया है। साथ ही आपको कच्चा केला खाने से फायदे, कच्चा केला खाने के लाभ, कच्चे केले खाने से क्या होता है आदि के बारे में भी विस्तार से बताने का प्रयास किया गया है।    

(और पढ़ें - केले के फूल के फायदे)

  1. कच्चे केले से होने वाले नुकसान - Kacche kele ke nuksan
  2. कच्चे केले के फायदे - Kache kele ke fayde

कच्चे केले को खाने के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। कच्चे फल अधिक मात्रा में खाने से आपको कई साइड इफेक्ट होने का जोखिम रहता हैं। जैसे - कच्चे केले से आपको एसिड रिफ्लक्स (acid reflux), सीने में जलन, जी मिचलाना, सामान्य रूप से पेट की खराबी, हल्का व गंभीर रूप से पेट फूलना, डकार आना, पेट में ऐंठन होना, दस्त होने के साथ-साथ मौजूदा पाचन तंत्र की समस्याएं जैसे गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स, पेट में सूजन (गेस्ट्राइटिस), इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम आदि अधिक बढ़ सकती है।

(और पढ़ें - पेट की गैस दूर करने के उपाय)

कच्चा केला खाने से दस्त में मिलता है आराम - Kacha kela khane se dast me milta hai aram

कच्चा केला खाने से आपको दस्त की समस्या से राहत मिल सकती है। कच्चे केले को खाने से पहले आप इसे अच्छी तरह से उबाल लें। दस्त मुख्य रूप से बैक्टीरियल संक्रमण, वायरल संक्रमण और परजीवी संक्रमण के कारण होती है। दस्त के कारण आपको सिरदर्द, जी मिचलाना, थकान, पेट में दर्द जैसे लक्षण हो सकते हैं। कच्चा केला खाने से आपको इस समस्या में होने वाले ऐसे लक्षण से आराम मिलता है।

(और पढ़ें - दस्त रोकने के घरेलू उपाय)

कच्चा केला है डायबिडीज में फायदेमंद - Kacha kela hai diabetes me faydemand

जिन लोगों को टाइप 2 डायबिटीज है उनको अपने डाइट में कच्चे केले को शामिल करना चाहिए, क्योंकि कच्चे केले में शुगर की मात्रा बेहद कम होती है। डायबिटीज के मरीजों की डाइट में शामिल खाद्य पदार्थों को चुनने में बेहद ही सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। यदि आप उबले हुए कच्चे केलों को उनकी डाइट में शामिल करते हैं तो यह डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी लाभकारी होता है।

(और पढ़ें - डायबिटीज में क्या खाना चाहिए)

कच्चे केले को डाइट में शामिल करने के लिए कई तरह की रेसिपी की मदद ली जा सकती है। कई लोग इसके स्वाद को लेकर काफी चिंतित होते हैं, लेकिन जब आप अलग अलग तरह की रेसिपी की मदद से कच्चे केले से नए व्यंजन बनाते हैं तो यह आपको पसंद आने लगते हैं।   

(और पढ़ें - डायबिटीज डाइट चार्ट)

कच्चा केला खाने से मिलता है फाइबर - kacha kela khane se milta hai fiber

कच्चे केले में अधिक मात्रा में फाइबर मौजूद होता है। फाइबर शरीर के पाचन तंत्र के कार्यों और मल आने की प्रक्रिया के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। एक कप उबले हुए कच्चे केले में करीब 3.6 ग्राम फाइबर होता है। पर्याप्त मात्रा में फाइबर लेने से आपको डायबिटीज होने की संभावना भी कम हो जाती है।

(और पढ़ें - फाइबर से भरपूर आहार)

कच्चे केले के लाभ में शामिल है रेसिसटेंस स्टार्च - Kachhe kele ke labh me shamil hai resistance starch

रेसिसटेंस स्टार्च (resistance starch) एक ऐसा स्टार्च है जो पाचन तंत्र में एंजाइम्स द्वारा तोड़ा नहीं जाता और यह स्टार्च के बजाय किसी फाइबर की तरह ही कार्य करता है। कच्चे केले में अधिक मात्रा में रेसिसटेंस स्टार्च मौजूद होता है। कुछ जानकारों के अनुसार डाइट में कच्चे केले की तरह ही उच्च रेसिसटेंस स्टार्च वाले आहार शामिल करने से व्यक्ति को डायबिटीज का खतरा कम होता है, क्योंकि यह ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में भी मददगार होता है। साथ ही इससे रक्त में कोलेस्ट्रोल का स्तर कम करने में भी मदद मिलती है, जिससे आपको हृदय रोग होने की संभावनाएं भी कम हो जाती है। 

(और पढ़ें - ब्लड शुगर लेवल कम होने पर क्या करना चाहिए)

कच्चे केले के फायदे में शामिल है मांसपेशियों की क्षमता बढ़ाना - kacche kele khane ke fayde me shamil hai maspayshiy ki majboti

कच्चे केले के सेवन से आपकी मांसपेशियों की क्षमता भी बढ़ाती है। दरअसल कच्चे केले में अधिक मात्रा में पोटैशियम पाया जाता है। आपको बता दें कि एक उबले हुए कप कच्चे केले में करीब 531 मिलीग्राम पोटैशियम होता है। मांसपेशियों को क्रियाशील बनाएं रखने के लिए शरीर को पोटैशियम की आवश्यकता होती है। इसके अलावा पोटैशियम नसों के कार्यों को बेहतर करता है और किडनी के द्वारा रक्त को साफ करने में मदद करता है।  

(और पढ़ें - पोटेशियम की कमी का इलाज)

कच्चा केला खाने से पाचन तंत्र में होता है सुधार - Kacha kele khane se pachan tantr me sudhar hota hai

कच्चा केला खाने से आपके शरीर में अच्छे बैक्टीरिया की संख्या में बढ़ोतरी होती है। इन बैक्टीरिया को प्रोबायोटिक बैक्टीरिया भी कहा जाता है। यह बैक्टीरिया हमारी आंतों में पाए जाते हैं जो पाचन तंत्र और पेट को स्वस्थ बनाने में सहायक होते हैं। इसलिए कहा जाता है कि कच्चा केला व्यक्ति के पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद होता है। 

(और पढ़ें - पेट के इन्फेक्शन का इलाज)

कच्चे केले खाने से मिलता है विटामिन बी6 - Kache kele khane se milta hai vitamin B6

कच्चे केले खाने से हमें विटामिन बी6 मिलता है। हमारे शरीर को एक दिन में जितने विटामिन बी6 की आवश्यकता होती है, एक कप उबले हुए कच्चे केले से 39 फीसदी आवश्यकता पूरी की जा सकती है। शरीर में होने वाले 100 से अधिक एंजाइम्स रिएक्शन में विटामिन बी6 महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। साथ ही यह शरीर में हिमोग्लोबिन के निर्माण के लिए जरूरी होता है। हिमोग्लोबिन ऐसा प्रोटीन है जो हमारे शरीर में ऑक्सीजन को ले जाने का कार्य करता है। इसके अलावा विटामिन बी6 हमारी ब्लड शुगर को नियंत्रित करने का भी काम करता है।

(और पढ़ें - विटामिन की कमी के लक्षण)

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें