myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

Rhino

उत्पादक: J B Chemicals And Pharmaceuticals Ltd

सामग्री / साल्ट: Paracetamol Phenylephrine Cetirizine Caffeine

खरीदने के लिए पर्चा जरुरी है

9 लोगों ने इस दवा को हाल ही में खरीदा

Rhino

उत्पादक: J B Chemicals And Pharmaceuticals Ltd

सामग्री / साल्ट: Paracetamol Phenylephrine Cetirizine Caffeine

खरीदने के लिए पर्चा जरुरी है

9 लोगों ने इस दवा को हाल ही में खरीदा

Rhino के प्रकार चुनें

₹28 ₹35
20% छूट

टेबलेट Pack Size: 10 NOS

दवा उपलब्ध नहीं है

खरीदने के लिए पर्चा जरुरी है

9 लोगों ने इस दवा को हाल में खरीदा

cashback
cashback
cashback
पर्चा अपलोड करके आर्डर करें

पर्चा अपलोड करके आर्डर करें वैध पर्चा कैसा होता है ?

Rhino का पैक साइज, कीमत - Rhino Price and Pack Size in Hindi

Rhino Tablet

दवा उपलब्ध नहीं है

Rhino की जानकारी

Caffeine - कैफीन

 Caffeine का उपयोग माइग्रेन के उपचार में किया जाता है।

Cetirizine - सेटिरीज़िन

सेटिरीज़िने एक प्रत्यूर्जतारोधक(एलर्जी रोधक) है जो सर्दी या एलर्जी के लक्षण जैसे छींकना, खुजली, पानी वाली आँखें या नाक बहाना और त्वचा एलर्जी आदि के इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है।

Paracetamol - पैरासिटामोल

Paracetamol का उपयोग बुखार, सिरदर्द, मासिक धर्म के दौरान दर्द, अर्थ्राल्जिअ (Arthralgia; जोड़ों में दर्द), मयलगिअ (Myalgia; मांसपेशियों में दर्द), दांत में दर्द और ऑपरेशन के बाद होने वाले दर्द के लिए किया जाता है। 

Phenylephrine - फ़िनयलफ्रिन

Phenylephrine का उपयोग पुतली के फैलाव(Pupil Dilation) और नाक बंद होने में किया जाता है।
इसका उपयोग कम रक्तचाप के इलाज के लिए भी किया जाता है जो विभिन्न प्रकार के एनेस्थिसिआ(Anesthesia) के दौरान हो सकता है।

  1. Rhino के लाभ और उपयोग करने का तरीका- Rhino Benefits & Uses in Hindi
  2. Rhino की खुराक और इस्तेमाल करने का तरीका- Rhino Dosage & How to Take in Hindi
  3. Rhino की सामग्री- Rhino Active Ingredients in Hindi
  4. Rhino के नुकसान, दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट्स- Rhino Side Effects in Hindi
  5. Rhino से सम्बंधित चेतावनी- Rhino Related Warnings in Hindi
  6. Rhino का निम्न दवाइयों के साथ नकारात्मक प्रभाव- Severe Interaction of Rhino with Other Drugs in Hindi
  7. इन बिमारियों से ग्रस्त हों तो Rhino न लें या सावधानी बरतें- Rhino Contraindications in Hindi
  8. Rhino के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न- Frequently asked Questions about Rhino in Hindi
  9. Rhino का भोजन और शराब के साथ नकारात्मक प्रभाव- Rhino Interactions with Food and Alcohol in Hindi

Rhino के लाभ और उपयोग करने का तरीका - Rhino Benefits & Uses in Hindi

Rhino इन बिमारियों के इलाज में काम आती है -

  1. बुखार मुख्य (और पढ़ें - बुखार कम करने के घरेलू उपाय)
  2. सिरदर्द मुख्य (और पढ़ें - सिर दर्द के घरेलू उपाय)
  3. जोड़ों में दर्द (और पढ़ें - जोड़ों में दर्द के घरेलू उपाय)
  4. मांसपेशियों में दर्द (और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द के घरेलू उपाय)
  5. दांत में दर्द
  6. डेंगू (और पढ़ें - डेंगू के घरेलू उपाय)
  7. मलेरिया (और पढ़ें - मलेरिया के घरेलू उपाय)
  8. चिकनगुनिया (और पढ़ें - चिकनगुनिया के घरेलू उपाय)
  9. वृषण में सूजन
  10. पैरों में दर्द (और पढ़ें - पैर में दर्द के घरेलू उपाय)
  11. साइटिका (और पढ़ें - साइटिका का घरेलू उपाय)
  12. कमर दर्द (और पढ़ें - कमर दर्द के घरेलू उपाय)
  13. स्लिप डिस्क
  14. मोच (और पढ़ें - मोच के घरेलू उपाय)
  15. एड़ी में दर्द (और पढ़ें - एड़ी में दर्द के घरेलू उपाय)
  16. कलाई में दर्द
  17. दर्द मुख्य
  18. ऑस्टियोआर्थराइटिस
  19. माइग्रेन (और पढ़ें - माइग्रेन के घरेलू उपाय)
  20. वायरल फीवर
  21. प्रेगनेंसी में कमर दर्द
  22. प्रेगनेंसी में ब्रेस्ट में दर्द
  23. गर्भावस्था में ऐंठन
  24. गर्भावस्था में पेडू में दर्द
  25. प्रेगनेंसी में सर दर्द
  26. प्रेगनेंसी में बुखार
  27. प्रेगनेंसी में दर्द
  28. हाथ में दर्द
  29. बंद नाक (और पढ़ें - बंद नाक खोलने के उपाय)
  30. लो बीपी (और पढ़ें - लो बीपी के घरेलू उपाय)
  31. शॉक
  32. सर्दी जुकाम मुख्य (और पढ़ें - सर्दी जुकाम के घरेलू उपाय)
  33. कान बंद होना
  34. एलर्जी मुख्य (और पढ़ें - एलर्जी के घरेलू उपाय)
  35. अर्टिकेरिया पिगमेंटोसा मुख्य
  36. पित्ती (और पढ़ें - पित्ती के घरेलू उपाय)
  37. कफ (और पढ़ें - कफ निकालने के उपाय)
  38. नाक बहना (और पढ़ें - बहती नाक को रोकने के उपाय)
  39. खुजली (और पढ़ें - खुजली दूर करने के घरेलू उपाय)
  40. परागज ज्वर (और पढ़ें - एलर्जिक राइनाइटिस के घरेलू उपाय)
  41. चर्ग स्ट्रॉस सिंड्रोम मुख्य
  42. थकान
  43. सुस्ती
  44. Apnea, Infantile
  45. साइनस (और पढ़ें - साइनस के घरेलू उपाय)
  46. ज्यादा नींद आना
  47. श्वसन संकट सिंड्रोम मुख्य

Rhino की खुराक और इस्तेमाल करने का तरीका - Rhino Dosage & How to Take in Hindi

Caffeine - कैफीन

माइग्रेन का सिरदर्द सिर में रक्त वाहिकाओं के फैलाव के कारण होता है। Caffeine रक्त वाहिकाओं को संकुचित करके काम करता है, इस प्रकार माइग्रेन के सिरदर्द से राहत मिलती है।

Cetirizine - सेटिरीज़िन

सेटिरीज़िने दवाओं के एक समूह के अंतर्गत आता है जिसको एंटीथिस्टेमाइंस बुलाया जाता हैं। यह एक प्राकृतिक पदार्थ (हिस्टामाइन) को अवरुद्ध करके कार्य करता है जो कि शरीर में एलर्जी की प्रतिक्रिया के दौरान निर्मित किया जाता है।

Paracetamol - पैरासिटामोल

Paracetamol नोन-स्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स (NSAIDs) (Non-Steroidal Anti-inflammatory drugs (NSAIDs)) नामक दवाओं के समूह से सम्बंधित है। Paracetamol एक एनाल्जेसिक (Analgesic; दर्द निवारक) और एंटीपाइरेटिक (Antipyretic; बुखार के लिए) है। Paracetamol मस्तिक्ष के कुछ रासायनिक संदेशवाहकों के कार्य को अवरुद्ध करता है जो दर्द और बुखार का कारण होते है।  

Phenylephrine - फ़िनयलफ्रिन

Phenylephrine छोटी रक्त वाहिकाओं(Small Blood Vessels) को सिकोडता है, जो नाक में जमाव से थोड़े समय के लिए राहत देता है।

यह अधिकतर मामलों में दी जाने वाली Rhino की खुराक है। कृपया याद रखें कि हर रोगी और उनका मामला अलग हो सकता है। इसलिए रोग, दवाई देने के तरीके, रोगी की आयु, रोगी का चिकित्सा इतिहास और अन्य कारकों के आधार पर Rhino की खुराक अलग हो सकती है।

दवाई की मात्र देखने के लिए लॉग इन करें

Rhino की सामग्री - Rhino Active Ingredients in Hindi

Paracetamol
Phenylephrine
Cetirizine
Caffeine

Rhino के नुकसान, दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट्स - Rhino Side Effects in Hindi

रिसर्च के आधार पे Rhino के निम्न साइड इफेक्ट्स देखे गए हैं -

  1. सूजन
  2. लाल चकत्ते
  3. खुजली या जलन
  4. सांस लेने मे तकलीफ
  5. लिवर की क्षति
  6. स्टीवन-जॉनसन सिंड्रोम
  7. दस्त
  8. भूख कम लगना
  9. अनैफिलैक्टिक रिएक्शन
  10. एनीमिया कठोर (और पढ़ें - एनीमिया के घरेलू उपाय)
  11. एडिमा कठोर
  12. कब्ज मध्यम (और पढ़ें - कब्ज के घरेलू उपाय)
  13. पीलिया मध्यम (और पढ़ें - पीलिया के घरेलू उपाय)
  14. एरिथमा (चमड़ी पर लाल-लाल दाने)
  15. इंजेक्शन लगने वाली जगह पर एलर्जी की प्रतिक्रिया
  16. मतली या उलटी
  17. सिरदर्द सौम्य (और पढ़ें - सिर दर्द के घरेलू उपाय)
  18. तेज धड़कन (सीने का फड़फड़ाना)
  19. रक्तचाप में वृद्धि
  20. हृदय दर में वृद्धि
  21. त्वचा में रंग बदलाव
  22. बेचैनी
  23. धुंधली दृष्टि
  24. अस्वैच्छिक गतिविधियां
  25. ऊंघना
  26. आँख आना मध्यम (और पढ़ें - आंख आने के घरेलू उपाय)
  27. थकान सौम्य
  28. मुंह सूखना सौम्य
  29. चक्कर आना सौम्य (और पढ़ें - चक्कर आने पर करें ये घरेलू उपाय)
  30. खांसी सौम्य (और पढ़ें - खांसी के लिए घरेलू उपाय)
  31. वर्टिगो सौम्य
  32. अनिद्रा सौम्य
  33. अपच
  34. चिड़चिड़ापन
  35. पेट में सूजन मध्यम
  36. हाइपोग्लाइसीमिया (निम्न रक्त शर्करा का स्तर)

Rhino से सम्बंधित चेतावनी - Rhino Related Warnings in Hindi

क्या Rhino का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?

Rhino का सेवन गर्भवती महिलाएं कर सकती हैं। इसके दुष्प्रभाव बेहद ही कम होते हैं।

क्या Rhino का उपयोग स्तनपान करने वाली महिलाओं के लिए ठीक है?

आप Rhino को डॉक्टर से बिना किसी परामर्श के भी ले सकती हैं। स्तनपान कराने वाली महिलाओं के शरीर पर इसके खराब असर बहुत कम होते हैे। जिसको आप महसूस भी नहीं कर पाएंगी और यह अपने आप ही ठीक भी हो जाते हैं।

Rhino का प्रभाव गुर्दे पर क्या होता है?

Rhino का किडनी पर कोई दुष्प्रभाव नहीं होता।

Rhino का जिगर (लिवर) पर क्या असर होता है?

Rhino खाने से आपके लीवर पर किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचेगा।

क्या ह्रदय पर Rhino का प्रभाव पड़ता है?

Rhino हृदय के लिए सुरक्षित है।

Rhino का निम्न दवाइयों के साथ नकारात्मक प्रभाव - Severe Interaction of Rhino with Other Drugs in Hindi

Rhino को इन दवाइयों के साथ लेने से गंभीर दुष्प्रभाव या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं -

इन बिमारियों से ग्रस्त हों तो Rhino न लें या सावधानी बरतें - Rhino Contraindications in Hindi

अगर आपको इनमें से कोई भी रोग है तो, Rhino को न लें क्योंकि इससे आपकी स्थिति और बिगड़ सकती है। अगर आपके डॉक्टर उचित समझें तो आप इन रोग से ग्रसित होने के बावजूद Rhino ले सकते हैं -

  1. ड्रग एलर्जी
  2. गुर्दे की बीमारी
  3. शॉक
  4. लिवर रोग
  5. Drug Allergies
  6. शराब की लत
  7. Phenylketonuria
  8. न्यूट्रोपेनिया
  9. एनजाइना
  10. हृदय रोग
  11. कोरोनरी आर्टरी डिजीज
  12. हाइपरथायराइड
  13. शुगर
  14. काला मोतियाबिंद
  15. थायराइड
  16. गुर्दे की बीमारी
  17. लिवर रोग
  18. पैनिक अटैक और विकार
  19. अनियमित दिल की धड़कन
  20. हाइपरथायराइड
  21. पेट में अल्सर
  22. हृदय रोग
  23. लिवर रोग
  24. हाई बीपी
  25. पेरिफेरल वैस्कुलर रोग
  26. गर्ड

Rhino के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न - Frequently asked Questions about Rhino in Hindi

क्या Rhino आदत या लत बन सकती है?

Rhino की आदत लगने की संभवनाएं अधिक है, ऐसे में आप अपने डॉक्टर से इस बारे में परामर्श कर लें।

क्या Rhino को लेते समय गाड़ी चलाना या कैसी भी बड़ी मशीन संचालित करना सुरक्षित है?

वाहन चलाने के अलावा मशीनरियों के बीच काम करने में सतर्कता की जरूरत होती है, ऐसे में आप Rhino का सेवन करके भी इन कामों को आसानी से कर सकते हैं।

क्या Rhino को लेना सुरखित है?

हां, डॉक्टर के कहने पर आप Rhino को खा सकते हैं।

क्या मनोवैज्ञानिक विकार या मानसिक समस्याओं के इलाज में Rhino इस्तेमाल की जा सकती है?

नहीं, Rhino दिमागी विकारों के इलाज में सक्षम नहीं है।

Rhino का भोजन और शराब के साथ नकारात्मक प्रभाव - Rhino Interactions with Food and Alcohol in Hindi

क्या Rhino को कुछ खाद्य पदार्थों के साथ लेने से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है?

खाने के साथ Rhino को लेना आपकी सेहत को नुकसान नहीं पहुंचाता है।

जब Rhino ले रहे हों, तब शराब पीने से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है क्या?

शराब के साथ Rhino लेने से आपकी सेहत पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है।

Rhino से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 6 महीना पहले

क्‍या पेट दर्द के इलाज के लिए Rhino ले सकते हैं?

Dr. Tarun kumar MBBS, अन्य

नहीं, पेट दर्द के ईलाज में Rhino का सेवन नहीं किया जा सकता है। किसी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या के कारण पेट में दर्द हो सकता है और इसका इलाज करना बहुत जरूरी है। अगर 1 दिन के अंदर पेट दर्द में कमी नहीं आती है तो बिना कोई देरी किए अपने डॉक्‍टर को दिखाएं।

सवाल 6 महीना पहले

Rhino का ओवरडोज़ लेने पर क्‍या लक्षण सामने आते हैं?

Dr. Ramraj MBBS, अन्य

किसी भी दवा के जरूरत से ज्‍यादा मात्रा में सेवन करने को ओवरडोज़ कहा जाता है। Rhino का ओवरडोज़ लेने पर शुरुआत में भूख में कमी आना, आलस, पेट में दर्द, बुखार, जी मिचलाना और उल्‍टी जैसे लक्षण सामने आते हैं। कुछ समय बाद पेट के ऊपरी हिस्‍से में दर्द, पेशाब का गाढ़ा रंग, त्‍वचा का पीला पड़ना या आंखों में सफेद धब्‍बे पड़ना, लिवर को नुकसान जैसे लक्षण सामने आ सकते हैं। कुछ दुर्लभ मामलों में मरीज़ कोमा तक में जा सकता है। इसलिए अगर गलती से भी आपने Rhino का ओवरडोज़ ले लिया है तो तुरंत अपने डॉक्‍टर से इस बारे में बात करें।

सवाल 7 महीना पहले

क्‍या जुकाम और गले की खराश को Rhino से ठीक किया जा सकता है?

Dr. Chinmaya Bal MBBS, सामान्य चिकित्सा

प्रमुख तौर पर Rhino का सेवन जुकाम या गले की खराश के लिए नहीं किया जाता है। ये केवल जुकाम से संबंधित लक्षण जैसे बुखार, सिरदर्द, कान में दर्द और जोड़ों में दर्द से राहत देती है। Rhino खांसी और बंद नाक से राहत नहीं देती है।

सवाल 7 महीना पहले

क्‍या एंटीहिस्‍टामाइन दवा के साथ Rhino ले सकते हैं?

Dr. Saurabh Shakya MBBS, सामान्य चिकित्सा

हां, Rhino का सेवन ऐसी एंटीहिस्‍टामाइन दवा के साथ करना सुरक्षित है जिनका शामक प्रभाव कम होता है, जैसे कि सेटिरिजाइन और लोराटाडाइन आदि। अब तक इसके कोई हानिकारक प्रभाव सामने नहीं आए हैं। हालांकि, एंटी-हिस्‍टामाइन दवा के अन्‍य समूह जैसे – क्‍लोरफेनिरामाइन, डिफेंहाइडामाइन आदि के कारण चक्‍कर आने या अधिक नींद आने की शिकायत हो सकती है। डॉक्‍टर की सलाह के बिना इन दोनों दवाओं को बिलकुल भी एकसाथ नहीं लेना चाहिए।

सवाल 11 महीना पहले

Rhino के क्‍या प्रयोग हैं?

Dr. Gangaram Saini MD, MBBS, सामान्य चिकित्सा

Rhino का प्रमुख तौर पर प्रयोग ज्‍वर और दर्द को कम करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा सिरदर्द, मांसपेशियों में अकड़न, कमर दर्द, मसूडों में दर्द और जुकाम आदि से छुटकारा पाने के लिए भी Rhino ली जा सकती है।

विशेष विवरण

सामग्री 10 Tablets(S)

Rhino के सारे विकल्प देखें - Substitutes for Rhino in Hindi

Medicine Name Pack Size Price (Rs.)
Quick Action (Kopran Ltd) 12
Rhino 28
Talicold 16
Nutrol 27
Sneecure 7
Rhino के लिए सारे विकल्प देखें
This medicine data has been created by -
Md Saadullah
M.Pharma, Pharmacy
0 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर प्रोफाइल देखें
Vikas Chauhan
B.Pharma, Pharmacy
2 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर प्रोफाइल देखें

क्या आप या आपके परिवार में कोई Rhino लेता है ? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

Select Language Preference