सेलेनियम से भरपूर ब्राजील नट स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी है। यह जलन-सूजन कम करने, हृदय को स्वस्थ रखने, त्वचा में रौनक लाने, वजन कम करने, बढ़ती उम्र के लक्षणों को दूर करने, थायराइड को नियंत्रित करने और तनाव-चिंता दूर करने के गुणों के लिए मशहूर है। ये मेवा प्रतिरक्षा तंत्र को भी मजबूत करता है। साथ ही यह पाचन शक्ति बढ़ाने, कैंसर का खतरा कम करने और पुरुष प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए डाइट चार्ट)

  1. ब्राजील नट के फायदे - Brazil Nuts ke Fayde
  2. ब्राजील नट्स के नुकसान - Brazil Nuts ke Nuksan

ब्राजील नट का वैज्ञानिक नाम बेर्थोलेटिया एक्सेल्सा है और यह पोषक तत्वों से भरपूर स्वादिष्ट मेवा है। ब्राजील नट का मूल स्थान दक्षिण अमेरिका है जहां यह बहुतायत में पाया जाता है। इसका पेड़ मुख्य रूप से वेनीजुएला, कोलंबिया, पेरू और ब्राजील समेत दक्षिण अमेरिकी देशों में अधिक मात्रा में पाया जाता है और यह पेड़ अक्सर उन इलाकों की बड़ी नदियों के किनारे पाए जाते हैं।

सेलेनियम की अत्यधिक मात्रा के कारण ब्राजील नट को सबसे लाभदायक मेवे की श्रेणी में रखा जाता है। इसमें बेहद प्रभावी खनिज और विटामिन होते हैं। इसमें थायमिन, विटामिन ई और सी, फोलेट, लौह, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम और जिंक पाए जाते हैं। ब्राजील नट में प्रोटीन (14 प्रतिशत), कार्बोहाइड्रेट (12 प्रतिशत) के अलावा ओमेगा 6-फैटी एसिड की भी भरपूर मात्रा होती है। यह ग्लूटन मुक्त मेवा, फाइबर का भी अच्छा स्रोत है।

जैसा कि हमें पता है कि ब्राजील नट सेलेनियम का उल्लेखनीय स्रोत है। सेलेनियम एक किस्म का ट्रेस (अवशेष) खनिज है जो शरीर के लिए बेहद महत्वपूर्ण होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट के गुण होते हैं जो मुक्त कणों से लड़ने और जलन-सूजन कम करने में मदद करते हैं। एक अध्ययन के अनुसार दुनिया भर में एक अरब लोग सेलेनियम की कमी से पीड़ित हैं। इसलिए आपको भी सेलेनियम की कमी को पूरा करने के लिए ब्राजील नट का सेवन शुरू कर देना चाहिए। इसके सेवन से कैंसर से बचाव होता  है।

(और पढ़ें - एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार)

ब्राजील नट रखे हृदय को स्वस्थ - Brazil nuts ke fayde rakhen hriday ko swsth

ब्राजील नट में कैल्शियम, पोटैशियम और मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में होते हैं जो उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा ब्राजील नट में लाभदायक असंतृप्त वसा (अनसैचुरेटेड फैट) भारी मात्रा में होती है जिसे आमतौर पर एचडीएल या लाभदायक कोलेस्ट्रॉल या ओमेगा-3 फैटी एसिड के तौर पर जाना जाता है। इसमें ओलेइक एसिड और पाल्मिटोलिक एसिड भी होते हैं। ब्राजील नट में मौजूद ये असंतृप्त वसा, मैग्नीशियम, विटामिन ई और सेलेनियम शरीर में कोलेस्ट्रॉल की स्थिति को संतुलित करते हैं जिससे आपका दिल बेहतर तरीके से काम कर सकता है। ब्राजील नट्स में कई ऐसे एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो आपके हृदय को सुरक्षित रखते हैं और हृदय रोग  का जोखिम कम करते हैं।

(और पढ़ें - हृदय को स्वस्थ रखने के लिए आहार)

ब्राजील नट करे जलन-सूजन को दूर - Brazil nuts ke labh karen sujan ko dur

ब्राजील नट में अन्य मेवों की तरह ही एलेजिक एसिड होता है जिसमें जलन-सूजन को कम करने वाले गुण होते हैं। यह एसिड मस्तिष्क की सूजन और जलन से लड़ने में भी मदद कर सकता है। एलेजिक एसिड में स्नायविक सुरक्षा के भी गुण होते हैं।

इसके अलावा, ब्राजील नट में पाया जाने वाला जिंक भी जलन-सूजन कम करता है और विषाक्त पदार्थों शरीर से निकालने में मदद करता है।

(और पढ़ें - सूजन कम करने के घरेलू उपाय)

ब्राजील नट करे कैंसर से बचाव - Brazil nuts ke aushdhiya gun bachayen cancer se

एक विस्तृत अनुसंधान में ब्राजील नट के सेलेनियम की जैव सक्रियता की चर्चा हुई है। इसके निष्कर्ष में कहा गया कि सेलेनियम का उपयोग कैंसर से बचाव और उपचार में किया जा सकता है।

ब्राजील नट में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट कैंसर और कोरोनरी हृदय रोग जैसी बीमारियों से बचाव में मदद करते हैं। सेलेनियम की मौजूदगी के कारण ग्लूटाथियोन एंटीऑक्सीडेंट को शरीर के सभी हिस्सों में से मुक्त कणों को समाप्त करने में मिलती है। ये मुक्त कण (फ्री रैडिकल) कैंसर की वजह बनते हैं।

(और पढ़ें - कैंसर में क्या खाना चाहिए)

ब्राजील नट है थायरॉइड से बचाव में उपयोगी - Brazil nuts ka sewan karen thyroid se bachne ke liye

थायराइड ग्रंथि में अन्य अंग की तुलना में अधिक मात्रा में सेलेनियम होता है। सेलेनियम उन अणुओं (Molecules) का एक महत्वपूर्ण तत्व है जो शरीर को थायराइड हार्मोन बनाने और इसका उपयोग करने में मदद करता है। ब्राजील नट में मौजूद सेलेनियम की प्रचुर मात्रा थायराइड ग्रंथि को सुचारू तरीके से काम करने में मदद करती है।

(और पढ़ें - थायराइड कम करने के उपाय)

ब्राजील नट बनाए त्वचा सुंदर - Brazil nuts for skin

ब्राजील नट में विटामिन और पोषक तत्व उच्च मात्रा में पाए जाते हैं जो त्वचा को सुंदर और आकर्षक बनाते हैं। इसमें मौजूद सेलेनियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड, विटामिन सी और ई त्वचा में निखार लाते हैं। साथ ही इनसे त्वचा में कसावट आती है जिससे असमय उभरे बुढ़ापे के लक्षण दूर होते हैं। सेलेनियम, ग्लूटाथियोन की सक्रियता बढ़ाता है जो मुक्त कण नष्ट होते हैं। इन मुक्त कणों के कारण  झुर्रियां और यहां तक कि त्वचा का कैंसर भी होता है। इसके अलावा ब्राजील नट का तेल प्रशामक औषधि के तौर पर भी काम करता है जिससे त्वचा का रूखापन, एक्जिमा और सोरायसिस  से बचाव  में मदद मिलती है।

(और पढ़ें - झुर्रियां हटाने की क्रीम)

ब्राजील नट है मुंहासों का उपचार - Brazil nuts kaistemal karen muhanson ke liye

ब्राजील नट में मौजूद सेलेनियम त्वचा में तन्यता लाता है और लालिमा तथा जलन-सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है। यह खनिज ग्लूटाथियोन के बनने में भी मदद करता है जो मुक्त कणों को बेअसर कर मुंहासे होने से रोकता है।

ब्राजील नट में जिंक भी प्रचुर मात्रा में होता है जो मुहांसों से बचाता है और इन्हें कम करने में भी मदद करता है। ब्राजील नट के नियमित सेवन या प्रभावित क्षेत्र पर ब्राजील नट का तेल लगाने से मुंहासे नहीं होते हैं या उन्हें कम करने में मदद मिलती है। ऐसा इस तेल में मौजूद विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट की उच्च मात्रा के कारण होता है।

(और पढ़ें - पिम्पल्स हटाने के घरेलू उपाय)

ब्राजील नट है बालों के लिए लाभकारी - Brazil nuts khane ke fayde balon ke liye labhkari

शरीर में सेलेनियम की कमी होने से बाल झड़ने लगते हैं। ऐसा इसलिए है कि यह खनिज शरीर को आवश्यक प्रोटीन के प्रसंस्करण करने में मदद करता है जो बाल बढ़ने के लिए जरूरी होता है।

इसके अलावा ब्राजील नट में एक एमिनो एसिड होता है- एल-आर्जिनिन जिसका उपयोग मुख्य रूप से एल्पेशिया या पुरुषों में गंजेपन के इलाज के लिए किया जाता है। यह एसिड बालों को घने-चमकीले बनाता है। ब्राजील नट में मौजूद ओमेगा 3 एस, विटामिन ई और सेलेनियम की भरपूर मात्रा, बालों को चमकदार, स्वस्थ और मजबूत बनाने में मदद करती है।

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के उपाय)

ब्राजील नट करे प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत - Brazil nuts khane ke labh karen immune system ko majboot

ब्राजील नट में एंटीऑक्सीडेंट और कार्बनिक यौगिक काफी मात्रा में होते हैं जो प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। विटामिन सी की भरपूर मात्रा फ्री रेडिकल को बेअसर करने के लिए पूरे शरीर में ज्यादा सफेद रक्त कोशिकाएं और एंटीऑक्सीडेंट यौगिक बनाने सेलेनियम और जिंक के साथ मिलकर बहुत अच्छी तरह काम करती हैं।

(और पढ़ें - रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले आहार)

ब्राजील नट है वजन कम करने में उपयोगी - Brazil nuts ke gun karen wajan kam karne mein madad

ब्राजील नट में भरपूर मात्रा में प्रोटीन और फाइबर होते हैं। ये वो पोषक तत्व हैं जो वजन कम करने में मदद करते हैं। ब्राजील नट खाने पर आपको बहुत जल्द भूख नहीं लगती है। इससे आपकी बार-बार खाने की तलब कम हो जाती है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के आयुर्वेदिक उपाय)

पाचन तंत्र रखें स्वस्थ ब्राजील नट से - Paachan ko swsth rakhen brazil nuts se

ब्राजील नट्स घुलनशील और अघुलनशील फाइबर के अच्छे स्रोत होते हैं। ब्राजील नट्स मौजूद फाइबर की उच्च मात्रा आपके पाचन तंत्र को बेहतर रखने में मदद करती है। फाइबर अमाशय की फैलने सिकुड़ने की गति बढ़ा देता है। साथ ही यह पाचन तंत्र में भोजन को एक स्थान से दूसरे स्थान भेजता और हरसंभव पोषक तत्व ग्रहण करने में मदद करता है। यह गैस्ट्रिक अल्सर, कब्ज, सूजन, ऐंठन और कोलन कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से बचाव में भी मदद कर सकता है।

(और पढ़ें - पाचन शक्ति बढ़ाने के उपाय)

ब्राजील नट बनाये हड्डियां मजबूत - Brazil nuts for bones

ब्राजील नट्स में तांबे की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। इससे यह हड्डियों में खनिज घनत्व और हड्डी के ऊतकों को बनाने में मदद करता है। इसके अलावा यह रक्त प्रवाह में लौह (आयरन) अवशोषण में भी मदद करता है। इसलिए यदि अपनी हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ रखना हो तो आज से ब्राजील नट का सेवन शुरू कर दें।

(और पढ़ें - हड्डियों को मजबूत करने के उपाय)

ब्राजील नट है मानसिक स्वास्थ्य के लिए लाभकारी - Brazil nuts ka upyog karen mansik swasthy ke liye

ब्राजील नट में मौजूद थियामिन तंत्रिका तंत्र को स्वस्थ और मजबूत रखने में मदद करता है। ब्राजील नट अल्जाइमर और तनाव से जुड़े मानसिक विकारों को रोकने में भी मदद करते हैं।

एक अध्ययन के अनुसार कुछ बुजुर्गों को छह महीने तक रोजाना सिर्फ एक ब्राजील नट का सेवन करने पर बातचीत करने और विभिन्न वस्तुओं के स्थानिक सम्बन्ध स्थापित करने का कौशल  (Spatial Skill) बेहतर हुआ। ब्राजील नट में मौजूद सेलेनियम, एंटीऑक्सीडेंट की गतिविधि बढ़ाता है जो मस्तिष्क को क्षति से बचा सकता है। इसके अलावा ब्राजील नट में उपस्थित एलेजिक एसिड को जलन-सूजन को कम करने में सहायक पाया गया है।

(और पढ़ें - तनाव कम करने के उपाय)

  1. ब्राजील नट के अधिक मात्रा में सेवन से शरीर में कैलोरी और संतृप्त वसा का स्तर बढ़ सकता है। इसलिए इसे अपने आहार एक बड़ा हिस्सा बनाने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  2. अधिक मात्रा में ब्राजील नट के सेवन से सेलेनियम का स्तर बढ़ सकता है जिससे थकान, पेट की परेशानी और बालों के झड़ने की समस्या हो सकती है। (और पढ़ें - बाल झड़ने के कारण)
  3. इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित करने में भले ही मदद मिलती हो जिससे एथरोस्क्लेरोसिस, दिल के दौरे और स्ट्रोक को रोका जा सकता है लेकिन इसमें मौजूद हानिकारक संतृप्त वसा की उच्च मात्रा को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। इसलिए थोड़ा सचेत रहें और इसका अधिक मात्रा में सेवन न करें क्योंकि इसमें कैलोरी में बहुत अधिक होती है। (और पढ़ें - कैलोरी चार्ट)
  4. इसके अलावा कुछ लोगों को इससे से एलर्जी हो सकती है और इससे गंभीर परेशानी हो सकती है। इसलिए इसके सेवन और विशेष तौर इसका उपयोग तेल के रूप में करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

(और पढ़ें - एलर्जी में क्या खाना चाहिए)

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ