myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अक्सर महिलाएं गर्भधारण करने के बाद अपना पूरा ख्याल रखती हैं। उन्हें क्या खाना है, क्या नहीं खाना है, क्या करना है, क्या नहीं करना है, सबकी सूचि बनाती हैं। यह अच्छी बात है। लेकिन हाल ही में हुए एक अध्ययन से पता चला है कि गर्भधारण करने के पहले भी इन सभी बातों का ख्याल रखना चाहिए। जबकि महिलाएं यह नहीं जानती हैं कि उन्हें गर्भधारण के लिए किस तरह की चीजों से दूर रहना चाहिए।

(और पढ़ें - गर्भवती होने का सही समय)

संतुलित रखें वजन
अधिक वजन और कम वजन, दोनों ही स्थितियां गर्भधारण के लिए सही नहीं है। कुछ अध्ययनों के अनुसार वजन कम या अधिक होने की वजह से प्रजनन क्षमता और भ्रूण के स्वास्थ्य पर असर पड़ता है। इसलिए जरूरी है कि अपने वजन को नियंत्रित रखा जाए। अगर आप किसी वजह से वजन को नियंत्रित नहीं कर पा रही हैं, तो बेहतर है कि विशेषज्ञ की सलाह लें। वे आपके स्वास्थ्य और वजन के आधार पर बताएंगे कि आपको क्या करना चाहिए।

(और पढ़ें - प्रेगनेंसी में क्या नहीं खाना चाहिए)

आधा पका अंडा न खाएं
अच्छी तरह पकाया हुआ अंडा स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। लेकिन अगर आप इसे कच्चा या अधपका खाते हैं, तो इससे साल्मोनेला संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है। यह एक पेट का संक्रमण है, जिसके लक्षण कुछ घंटों से लेकर तीन दिनों के अंदर दिखने लगते हैं। इसके लक्षण हैं मतली, उल्टी, पेडू में दर्द, दस्त, बुखार, ठंड लगना, सिरदर्द, मल में खून आना आदि। कहने का मतलब यह है कि अगर आप आधा पका अंडा खाते हैं तो इससे गर्भधारण करने में समस्या आ सकती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि अंडों में वह एंटीबोयाटिक पाया जाता है, जो जानवरों में इंजेक्ट किया जाता है। अगर आपके लिए संभव हो तो कुछ समय के लिए ऑर्गेनिक अंडों का सेवन करें।

(और पढ़ें - गर्भावस्था में देखभाल)

एक्सरसाइज कम करें
गर्भधारण करने से पहले अगर आप एक्सरसाइज करती हैं, तो यह बहुत अच्छी बात है। इससे गर्भधारण करने और प्रसव में आसानी होती है। लेकिन आप इस बात का ध्यान रखें कि गर्भधारण करने के बाद ओवर एक्सरसाइज न करें। इसके साथ ही गर्भधारण करने से पहले वेट लिफ्टिंग से संबंधित एक्सरसाइज करना भी बंद कर दें। इसके अलावा कौन-कौन से एक्सरसाइज आपको करने हैं, इस बात पर भी पूरा ध्यान दें। इस संबंध में खुद से किसी तरह के फैसले न करें। बेहतर होगा कि आप एक्सपर्ट से परामर्श लें।

(और पढ़ें - गर्भावस्था में व्यायाम)

तनाव कम लें
तनाव आपकी प्रजनन क्षमता को कम कर सकता है। इसलिए अगर आप गर्भधारण करना चाहती हैं, तो अपने और अपने होने वाले शिशु के लिए तनाव से दूर रहें। एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि महिलाएं जिन दिनों खुश और रिलैक्स रहती हैं, तब वे आसानी से गर्भधारण कर लेती हैं। जबकि तनाव में रहने की वजह से कई महिलाएं गर्भधारण नहीं कर पातीं। तनाव को कम करने के लिए खुद के लिए समय निकालें, एक्सरसाइज करें, अपने पार्टनर से बातचीत करें और पूरी नींद लें। ऐसा करने के बावजूद अगर आपको कन्सीव करने में समस्या आ रही है तो बेहतर है एक्सपर्ट से संपर्क कर अपनी समस्या बताएं।

(और पढ़ें - प्रेगनेंसी में तनाव)

मां बनना हर औरत का सपना होता है। लेकिन जब किसी वजह से महिलाएं गर्भधारण नहीं कर पाती हैं, तो वे निराश हो जाती हैं। निराश होने के बजाय गर्भधारण से पहले कुछ चीजों को अपनी ज़िन्दगी से निकाल कर बाहर करें। यकीन मानिए यहाँ बताई गयी बातें आपके लिए काफी उपयोगी साबित होंगी।

(और पढ़ें - प्रेग्नेंट होने के लक्षण और प्रेगनेंसी टेस्ट)

और पढ़ें ...