myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

शिशु के बड़े होने के साथ ही माता-पिता के सामने कई चुनौतियां आने लगती है, जिसमें बच्चे को सही और पौष्टिक आहार देना भी एक बड़ी समस्या मानी जाती है। एक साल का होते-होते बच्चों के मुंह में दांत आना शुरू हो जाते हैं या कई दांत निकल भी आते हैं। इस समय बच्चे को प्रोटीन, विटामिन, मिनरल्स, कार्बोहाइड्रेट और वसा के साथ ही अन्य सभी पोषक तत्व लेने की आवश्यकता होती है और बच्चे की यह जरूरत उसके आहार से ही पूरी की जा सकती है।

(और पढ़ें - 6 महीने के बाद बच्चे का आहार चार्ट)

इस लेख में आपको “एक साल के बच्चे को क्या खिलाना चाहिए” के विषय में विस्तार से बताया गया है। साथ ही इस लेख में आपको एक साल के बच्चे के भोजन और उसकी रेसिपी को भी बताने का प्रयास किया गया है। 

(और पढ़ें - शिशु का टीकाकरण चार्ट)

  1. एक साल के बच्चे को क्या खाने में क्या दें - Ek saal ke bache ko khane me kya de

एक साल की आयु में बच्चे का वजन उसके जन्म के वजन की तुलना में करीब तीन गुना अधिक हो जाता है। लेकिन इस समय भी शिशु एक ही समय में ज्यादा भोजन नहीं खा पाते हैं। ऐसे में आपको शिशु को थोड़ी-थोड़ी देर में खाना खिलाते रहना चाहिए। इस दौरान शिशु को एक दिन में करीब पांच बार खाना खिलाना चाहिए। साथ ही इस बात का भी ध्यान दें कि शिशु दिनभर में जो भी आहार लें, वह बच्चे की पौष्टिक आवश्यकता को पूरा करने वाला हो। आगे आपको कुछ ऐसे आहार बताए जा रहे हैं जो एक साल के बच्चे को खाने में दिए जा सकते हैं। 

(और पढ़ें - बच्चे की उम्र के अनुसार वजन का चार्ट

  1. एक साल के बच्चे को खाने में दें रागी का हलवा - Ek saal ke bache ko khane me de raagi ka halwa
  2. 1 साल के शिशु को खिलाएं दाल फ्राई - 1 saal ke shishu ko khilaye daal fry
  3. 1 साल के बच्चे को खिलाएं फ्राई केला - 1 saal ke bache ko khilaye fried banana
  4. 1 साल के बेबी को खाने में दे अंडे से बना डोसा - 1 saal ke baby ko khane me de egg dosa
  5. एक साल के शिशु को आहार में दें मक्के से बना परांठा - Ek saal ke bache ko aahar me de sweet corn parantha
  6. 1 साल के बच्चे को खाने में दें इलायची वाला दलिया - 1 saal ke bache ko khane me de elaichi vala dalia

एक साल के बच्चे को खाने में दें रागी का हलवा - Ek saal ke bache ko khane me de raagi ka halwa

रागी का हलवा बच्चों को बेहद पसंद आता है। रागी में कैल्शियम और फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर को ठंडा बनाए रखने में मददगार होता है।

तैयार करने के लिए आवश्यक सामग्री

तैयार करने  की विधि

  • इससे बनाने से पहले आपको रागी को एक रात पानी में भिगोकर रखना होगा। आप देखेंगी कि अगली सुबह रागी की मात्रा फूलकर दोगुनी हो जाएगी।
  • अगली सुबह इसको साफ पानी से धो कर साफ कर लें। इसके बाद आप रागी को मिक्सी में पीसकर पतला पेस्ट बना लें। (और पढ़ें - बच्चों की सेहत के इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज)
  • इसके बाद आप इस पेस्ट को किसी सूती कपड़ें में डालकर छान लें। इसे छानने के बाद रागी का जो मिश्रण (रागी का दूध/ Raagi milk) निकलेगा उसे किसी बर्तन में रख लें। (और पढ़ें - बच्चों में भूख ना लगने के कारण)
  • अब आप एक बर्तन को गैस पर रखें और इसमें रागी के मिश्रण, घी, गुड़, नारियल का दूध और इलायची पाउडर को ड़ालकर हल्की आंच में उबालें।
  • इन सभी चीजों को तब तक उबालें, जब तक ये मिश्रण थोड़ा गाढ़ा न हो जाए।
  • गाढ़ा होने पर आप इसको गैस से उतार लें। (और पढ़ें - डायपर रैश का उपचार)
  • इसके बाद किसी अन्य बर्तन को अंदर से घी के साथ चिकना कर लें और इसमें रागी के तैयार हलवे के पेस्ट को डाल लें। चाहें तो इसके पीस काट कर बर्फी की तरह काम में लें। 
  • ठंडा होने पर आप रागी के तैयार हलवे को अपने शिशु को कभी भी खिला सकती हैं।  

(और पढ़ें - बच्चों को सिखाएं अच्छी सेहत के लिए अच्छी आदतें)

1 साल के शिशु को खिलाएं दाल फ्राई - 1 saal ke shishu ko khilaye daal fry

दाल एक साल के शिशु को कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन प्रदान करने का मुख्य स्त्रोत मानी जाती है।

तैयार करने के लिए आवश्यक सामग्री

तैयार करने की विधि

  • सबसे पहले आप तूअर और मूंग की दाल को साफ धो लें। (और पढ़ें - बच्चे को बोतल से दूध पिलाने के फायदे)
  • ऐसा करने के बाद आप कुकर या अन्य बर्तन में दोनों दालों को पानी, नमक और हल्दी के साथ पका लें। (और पढ़ेें - मूंग दाल और गाजर सूप रेसिपी)
  • जब आपकी दाल पक जाएं, तो किसी अन्य बर्तन में घी और जीरे को गर्म कर लें।
  • अब आप घी और जीरे को दाल के मिश्रण में डाल दें। 

(और पढ़ें - शिशु का वजन कैसे बढ़ाएं)

1 साल के बच्चे को खिलाएं फ्राई केला - 1 saal ke bache ko khilaye fried banana

छह महीने का होने के बाद शिशु को मैशड केला दिया जाता है। एक साल का होने तक बच्चा इसके स्वाद को पहचानने लगता है। ऐसे में आप केले की इस रेसिपी को बच्चे को दे सकती हैं। ये रेसिपी पौष्टिक होने के साथ ही बेहद स्वादिष्ट भी होती है। दक्षिण भारत की यह मुख्य मिठाई मानी जाती है, जो एक साल के बच्चों को काफी पसंद आती है।

तैयार करने के लिए आवश्यक सामग्री

तैयार करने की विधि

  • केले को छीलकर, पतले आकार में काट लें। (और पढ़ें - बच्चे की मालिश कैसे करें)
  • इसके बाद एक बर्तन को गैस पर चढ़ाए और उसमें तेल या घी डाल लें।
  • जब तेल या घी गर्म हो जाए तो इसमें केले को फ्राई कर लें।
  • इसके बाद केले को अन्य बर्तन में निकालकर, उसमें इलायची पाउडर डाल दें।

 (और पढ़ें - मिट्टी खाने का इलाज)

1 साल के बेबी को खाने में दे अंडे से बना डोसा - 1 saal ke baby ko khane me de egg dosa

आपके बच्चे को पहली बार अंडे का स्वाद पसंद नहीं आ सकता है। ऐसे में आप अपने बच्चे को डोसे की रेसिपी के साथ अंडा मिलाकर भी दें सकती हैं। इससे बच्चे को धीरे-धीरे अंडे का स्वाद पसंद आने लगता है। अंडे में काफी मात्रा में पोषक तत्व होते हैं, जो बढ़ते बच्चे के विकास के लिए आवश्यक होते हैं।

तैयार करने के लिए आवश्यक सामग्री

तैयार करने की विधि

  • सबसे पहले डोसे के आटे को पानी में घोल लें। इसे घोलते समय डोसे के घोल में ज्यादा पानी न डालें। (और पढ़ें - बच्चों के दांत निकलने की उम्र)
  • इसके बाद एक तवा या किसी नॉनस्टीक पैन को गैस पर रखें और इसके चारों ओर एक चम्मच घी को डालते हुए फैला लें।
  • अब इसमें धीरे-धीरे डोसे का तैयार घोल डाले और उसको गोल आकार में फैला लें।
  • एक से दो मिनट बाद इसके ऊपर अंडा तोड़कर डाल दें। (और पढ़ें - बेबी को सुलाने के तरीके)  
  • इसके बाद आप अंडे के ऊपर एक चम्मच घी को डालते हुए फैला लें।
  • घी को फैलाने के बाद आप डोसे को दोनों तरफ से अच्छी तरह से पका लें।
  • जब डोसा सही तरह से पक जाए तो इसके ऊपर से नमक और काली मिर्च को डालें। 

(और पढ़ें - शिशु में निमोनिया का उपचार)

एक साल के शिशु को आहार में दें मक्के से बना परांठा - Ek saal ke bache ko aahar me de sweet corn parantha

बच्चों और वयस्कों के लिए मक्का अच्छा माना जाता है। इसे कई लोग भुट्टा के नाम से भी जानते हैं। इसमें विटामिन बी, फोलिक एसिड व अन्य विटामिन और मिनरल्स मौजूद होते हैं। इस वजह से एक साल के बच्चे के आहार में मक्के को शामिल करना चाहिए। मक्के के दाने काफी बड़े होते है इसीलिए इनको सीधे शिशु को खाने को न दें। मक्के के दाने बच्चे को निगलने में मुश्किल होती है, ऐसे में आप शिशु को परांठे के रूप में मक्के दें सकती हैं।

तैयार करने के लिए आवश्यक सामग्री:

तैयार करने की विधि:

  • सबसे पहले आप मक्के के दानों को उबाल लें। इसके बाद इन उबले हुए दानों को मिक्सी में डालकर पीस लें।  (और पढ़ें - शिशु के पेट में दर्द का इलाज)
  • इसके बाद मक्के के पेस्ट में ऊपर बताए गई सभी सामग्रियों को मिलाते हुए गूंथ लें।
  • अब गूंथे आटे की लोई बनाते हुए उन्हें परांठे के आकार में बेल लें। (और पढ़ें - क्या बच्चों की खांसी का इलाज है शहद)
  • इसके बाद आप गैस पर तवा रखें, और बेले हुए परांठे को इस पर डालें। जब यह हल्का सा पकने लगे तो बारी-बारी से इसके दोनों तरफ घी लगाकर सेंक लें। सुनहरे रंग का होने तक परांठे को सेकें। 
  • इस परांठे को आप मक्खन, जैम या किसी सॉस के साथ भी शिशु को खाने के लिए दें सकती हैं।   

(और पढ़ें - ग्राइप वाटर के फायदे

1 साल के बच्चे को खाने में दें इलायची वाला दलिया - 1 saal ke bache ko khane me de elaichi vala dalia

दलिया में मौजूद विटामिन शिशु की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाते है। इसमें आयरन, फाइबर व अन्य पोषक तत्व मौजूद होते हैं। (और पढ़ें - फाइबर युक्त आहार)

तैयार करने के लिए आवश्यक सामग्री

तैयार करने की विधि

  • सबसे पहले आप ऊपर बताई गई सभी सामग्रियों को एक-एक करके भून लीजिए।
  • इसके बाद सभी को एक साथ पीस लें। (और पढ़ें - बच्चे को दूध छुड़ाने का तरीका)
  • अब एक बर्तन में करीब चार चम्मच दलिया पाउडर लें।
  • इसके बाद इसमें करीब 100 ग्राम गर्म पानी मिलाते हुए एक गाढ़ा पेस्ट बना लें।
  • इसके बाद आप इस मिश्रण में घी डालकर मिला लें। (और पढ़ें - नवजात शिशु को नहलाने का तरीका)
  • आपकी दलिया तैयार हैं, शिशु को देने से पहले इसको थोड़ा ठंडा कर लें।  

(और पढ़ें - संतुलित आहार चार्ट)

और पढ़ें ...