myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

कोकम विटामिन और खनिज पदार्थों से भरपूर एक फल होता है। इस फल का सेवन शरीर में कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने में मदद कर सकता है। यदि आप चाहते हैं कि आपका शरीर हर समय बेहतर महसूस करें तो आपको इस फल का सेवन करना चाहिए। इसमें विटामिन सी और विटामिन ई की भरपूर मात्रा भी पाई जाती है।

(और पढ़ें - विटामिन सी की कमी से होने वाला रोग)

  1. कोकम के फायदे - Kokum ke fayde in hindi
  2. कोकम के नुकसान - Kokum ke Nuksan

कोकम उन फलों में से एक है जो मैंगोस्टीन प्रजाति के पौधे के साथ जुड़ा हुआ है। यह ना केवल बहुत ही अद्वितीय बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी बहुत ही लाभकारी होता है। यह फल भारत में एक आम फल के रूप में खाया जाता है। इसके अलावा, कोकम दुनिया भर में भी उपयोग किया जाता है। इस फल का गर्मी के दिनों में शरबत बनाने के लिए उपयोग होता है। इसका वैज्ञानिक नाम गार्सिनिया इंडिका (Garcinia indica) है।

(और पढ़ें - गर्मी में शरबत कैसे बनाएं)

कोकम (गार्सिनिया इंडिका) का उपयोग घावों को जल्दी ठीक करने, खतरनाक बीमारियों को रोकने, एलर्जी को कम करने, पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने, त्वचा की रक्षा करने, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने, दर्द से छुटकारा पाने और सूजन का इलाज करने के लिए किया जाता है। तो आइए जानते हैं इसके लाभों के बारे में:

(और पढ़ें - बच्चों की इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं)

  1. कोकम के फायदे रखें पाचन को बेहतर - Kokum ke fayde rakhen paachan ko behtar
  2. कोकम के लाभ हैं त्वचा के लिए उपयोगी - Kokum ke labh hain tvcha ke liye upyogi
  3. कोकम का उपयोग करें बालों को बढ़ाने में मदद - Kokum ka upyog kare baalon ko badhaane mein madad
  4. कोकम के गुण दिलाएं पेट फूलने की समस्या से छुटकारा - Kokum ke gun dilayen pet fuane ki samasya se chutkara
  5. कोकम का सेवन करें कब्ज को दूर - Kokum ka sewan karen kabj ko dur
  6. कोकम खाने के लाभ हैं एलर्जी में उपयोगी - Kokum khane ke labh hain allergy mein upyogi
  7. कोकम के औषधीय गुण रखें इम्यून सिस्टम को मजबूत - Kokum ke aushdhiya rakhe immune system ko majboot
  8. कोकम खाने के फायदे सूजन दूर करने के लिए - Kokum khane ke fayde sujan ko dur karne ke liye
  9. वजन कम करें कोकम का सेवन - Wajan kam karen kokum ka sewan
  10. कोकम फॉर हार्ट इन हिंदी - Kokum for heart in hindi

कोकम के फायदे रखें पाचन को बेहतर - Kokum ke fayde rakhen paachan ko behtar

अपच और अन्य गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं का इलाज करना, कोकम के सबसे आम उपयोगों में से एक है। यह फल आंत में सूजन को कम करने में मदद कर सकता है और उचित पोषक तत्वों के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है। कोकम पाचन में सुधार करता है और साथ ही भूख को बढ़ाता है।

(और पढ़ें - बच्चों की भूख बढाने के उपाय)

इसका उपयोग कब्ज और खसरा से पीड़ित लोगों के लिए भी किया जाता है। यह दस्त और आईबीएस के लक्षणों को भी कम करने में मदद कर सकता है। काली मिर्च और नमक के साथ, कोकम का सेवन करने से पेट की समस्याओं का इलाज करने में आसानी होती है। इसमें फाइबर की भरपूर मात्रा, पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद कर सकती है।

(और पढ़ें - पाचन शक्ति बढ़ाने के उपाय)

कोकम के लाभ हैं त्वचा के लिए उपयोगी - Kokum ke labh hain tvcha ke liye upyogi

यदि आप मक्खन या अन्य प्रकार की एंटीऑक्सीडेंट क्रीम के साथ कोकम के अर्क को त्वचा पर लगाते हैं, तो इस फल के शक्तिशाली तत्व झुर्रियों और निशानों को बहुत कम करने में मदद कर सकते हैं। यह अर्क तेजी से फटी एड़ियों जैसे घाव को भरने में मदद करता है।

इसके अलावा कोकम के एंटीऑक्सीडेंट गुण ना केवल मुक्त कणों से बचने में मदद करते हैं, बल्कि प्राकृतिक एंटी-एजिंग के रूप में भी कार्य करते हैं। कोकम के एंटीऑक्सीडेंट्स गुण त्वचा और बालों के विकास में मदद करते हैं। यह कोशिकाओं को रिपेयर और उन्हें दोबारा बनने में मदद करता है।

(और पढ़ें - त्वचा की देखभाल कैसे करें)

कोकम का उपयोग करें बालों को बढ़ाने में मदद - Kokum ka upyog kare baalon ko badhaane mein madad

अन्य लाभों के अलावा, इस फल का सेवन बालों के स्वास्थ्य और विकास के लिए बहुत ही लाभकारी होता है। यह फल बालों के झड़ने, बेजान और रूखे बालों की परेशानी दूर करने में बहुत ही लाभकारी पाया गया है। इसलिए आप इस फल को प्राकृतिक शैम्पू के रूप में उपयोग कर सकते हैं जो बालों को मजबूत करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, यह बालों के रंग को गहरा करने के साथ साथ, बालों को स्वस्थ और चमकदार रखने में मदद कर सकता है।

(और पढ़ें - बाल बढ़ाने के उपाय)

कोकम के गुण दिलाएं पेट फूलने की समस्या से छुटकारा - Kokum ke gun dilayen pet fuane ki samasya se chutkara

कई लोगों के लिए पेट फूलना और गैस की समस्या शर्मनाक और असुविधाजनक समस्याओं में से एक हो सकती है। अधिक पेट फूलने का कारण, अक्सर खराब या अस्वस्थ भोजन का सेवन करना या आपकी आंत का सही से कार्य ना करना होता है।

कोकम पेट में दबाव को दूर करने और पेट फूलने की समस्या को कम करने में मदद कर सकता है। लंबे समय से चली आ रही गैस की समस्या खतरनाक और कुछ अजीब भी हो सकती है। इसलिए यदि आप पेट की गैस को दूर करना या इससे राहत पाना चाहते हैं तो आज से ही कोकम का सेवन शुरू कर दें।

(और पढ़ें - पेट फूलने की समस्या से छुटकारा पाने के उपाय)

कोकम का सेवन करें कब्ज को दूर - Kokum ka sewan karen kabj ko dur

पेट की समस्याओं को दूर करने के अलावा, कोकम किसी भी प्रकार की कब्ज से बचने में मदद करने में लाभकारी होती है। कब्ज के कारण कुछ लोगों को पेट में परेशानी और पेट के अंदर अधिक गैस महसूस हो सकती है। इस फल का सेवन करके, गैस को अच्छी तरह से अवशोषित किया जा सकता है। इस तरह से कब्ज की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता हैं।

(और पढ़ें - कब्ज दूर करने के उपाय)

कोकम खाने के लाभ हैं एलर्जी में उपयोगी - Kokum khane ke labh hain allergy mein upyogi

यदि आप किसी भी प्रकार की एलर्जी की समस्या से पीड़ित हैं, तो आपको कोकम का इस्तेमाल करना चाहिए। यदि आप सीधे एलर्जी वाली त्वचा पर कोकम का पेस्ट लगाते हैं तो, इसके सूजन को कम करने वाले गुण उस जगह को शांत करने, सूजन और खुजली को कम करने में मदद करते हैं।

इसके अलावा, जब आप इसका सेवन करते हैं, तो कोकम में मौजूद आर्गेनिक यौगिकों में से कुछ हिस्टामाइन को कम रिलीज करने में मदद करते हैं। जिससे एलर्जी की गंभीरता कम हो जाती है। इसके अलावा, एलर्जी के इलाज के लिए, आप नियमित रूप से कोकम शरबत का सेवन भी कर सकते हैं।

(और पढ़ें - एलर्जी में क्या खाना चाहिए)

कोकम के औषधीय गुण रखें इम्यून सिस्टम को मजबूत - Kokum ke aushdhiya rakhe immune system ko majboot

कुछ अध्ययनों के अनुसार कोकम में पाए गए कुछ यौगिकों में एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल गुण होते हैं। जिसका मतलब यह है कि यह फल बाहरी तत्वों और रोगजनकों के खिलाफ, हमारी इम्युनिटी की रक्षा करके हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने में मदद कर सकते हैं। इसका उपयोग शरीर पर बाहरी रूप से या अपने खाने में शामिल करके किया जा सकता है।

(और पढ़ें - रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के तरीके​)

कोकम खाने के फायदे सूजन दूर करने के लिए - Kokum khane ke fayde sujan ko dur karne ke liye

लाखों लोग गठिया जैसी सूजन की समस्याओं से पीड़ित होते हैं। ऐसे में आप कोकम का इस्तेमाल, इन समस्याओं के इलाज के लिए कर सकते हैं। इस फल में सूजन को कम करने वाले यौगिक पाए जाते हैं, ये यौगिक प्रभावित क्षेत्रों में दबाव, दर्द और सूजन से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकते हैं। आप कोकम के अर्क को बाहरी रूप से उपयोग कर सकते हैं या फिर इस समस्या को कम करने के लिए आप इस फल का सेवन भी कर सकते हैं।

(और पढ़ें - गठिया के घरेलू उपाय)

 

वजन कम करें कोकम का सेवन - Wajan kam karen kokum ka sewan

गार्सिनिया इंडिका (कोकम) में एचसीए (हाइड्रोक्साइट्रिक एसिड) नामक एक बहुत ही शक्तिशाली केमिकल होता है, जो भूख को दबाने का कार्य करता है। इस फल में फाइबर की भरपूर मात्रा पाई जाती है, जिससे आपको जल्दी से भूख नहीं लगती है।

जब आपका पाचन तंत्र स्वस्थ और चयापचय दर बेहतर होती है, तो इसका मतलब है कि शरीर पोषक तत्व को अधिक अवशोषित करेगा, जिससे फैट को जमा होने से रोकने में मदद मिल सकती है। इसलिए, यह वजन को सामान्य और नियंत्रित रखने के लिए एक बहुत ही अच्छा प्राकृतिक तरीका है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितनी कैलोरी खाएं)

कोकम फॉर हार्ट इन हिंदी - Kokum for heart in hindi

कोकम का सेवन ह्रदय के लिए भी बहुत ही लाभकारी होता है। यह हमारे शरीर में हृदय रोगों को बढ़ाने वाले ऑक्सिडाइजिंग एजेंट को दबाता है। इसके साथ ही ऑक्सिडाइजिंग एजेंट हमारी धमनियों और रक्त वाहिकाओं में प्लेटलेट का जमाव करता है, लेकिन इस फल का सेवन इस प्रक्रिया को रोकने या धीमा करने में मदद कर सकता है। इस कारण हमें एथेरोस्क्लेरोसिस, दिल के दौरे और स्ट्रोक से बचने में मदद मिलती है।

(और पढ़ें - हृदय को स्वस्थ रखने के उपाय)

​फायदों के साथ-साथ कोकम के निम्नलिखित कुछ नुकसान भी हो सकते हैं:

  • यद्यपि त्वचा की समस्याओं का इलाज करने के लिए कोकम का उपयोग किया जाता है। लेकिन जिन लोगों को त्वचा की गंभीर समस्याएं हैं, उन्हें कोकम मक्खन का उपयोग करने से बचना चाहिए। क्योंकि इससे त्वचा में जलन बढ़ जाती है। (और पढ़ें - घी या मक्खन: किसे खाना है आपकी सेहत के लिए अच्छा)
  • इसके अधिक सेवन से मेटाबोलिक एसिडोसिस की समस्या हो सकती है।
  • इसके अलावा यदि आप ब्लड प्रेशर के लिए दवा ले रहे हैं, तो आपको इसके सेवन से बचना चाहिए। (और पढ़ें - हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाएं)
और पढ़ें ...