myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

सोयाबीन का तेल सोयाबीन के बीजों से निकाला जाता है। यह ओमेगा -3 फैटी एसिड और पॉलीअनसेचुरेटेड वसा सहित स्वस्थ वसा का एक अच्छा स्रोत है। इस प्रकार के वसा से कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं, लेकिन सोयाबीन के तेल में शुद्ध वसा होती है, जिसका अर्थ है कि इसका बहुत अधिक मात्रा में सेवन आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। जब इसका सेवन उचित मात्रा में किया जाता है तो सोयाबीन तेल आपके आहार के लिए एक स्वस्थ विकल्प हो सकता है।

(और पढ़ें - सोया मिल्क के फायदे)

इस लेख में सोयाबीन तेल के फायदे और नुकसान के बारें में विस्तार से बताया गया है।

  1. सोयाबीन के तेल के फायदे - Soybean ke Tel ke Fayde
  2. सोयाबीन के तेल के नुकसान - Soybean ke Tel ke Nuksan

सोयाबीन तेल एक वनस्पति तेल है। इसका वैज्ञानिक नाम ग्लाइसीन मैक्स है। यह दुनिया में सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाले वनस्पति तेलों में से एक है। सोयाबीन की खेती सबसे पहले पूर्वी एशिया में की गई थी। अधिकांश सोयाबीन तेल परिष्कृत (refined), मिश्रित (blended) और कभी-कभी हाइड्रोजनीकृत (hydrogenated) होते हैं।

सोयाबीन तेल को अन्य वनस्पति तेलों की तुलना में स्वस्थ माना जाता है। क्योंकि इसमें आवश्यक फैटी एसिड का अच्छा प्रकार पाया जाता है। जो शरीर के लिए स्वस्थ माना जाता है। सोयाबीन के तेल में कई प्लांट स्टेरोल भी होते हैं। यह तेल विटामिन और खनिज से भरपूर होता है। 

(और पढ़ें - विटामिन की कमी का इलाज)

तो चलिए जानते हैं सोयाबीन तेल के लाभों के बारे में:

  1. सोयाबीन के तेल के फायदे रखें कोलेस्ट्रॉल को निंयत्रित - Soybean ke tel ke fayde rakhen cholesterol ko niyntrit
  2. सोयाबीन के तेल के लाभ करें अल्जाइमर रोग से बचाव - Soybean ke tel ke labh karen alzheimer rog se bachaav
  3. सोयाबीन के तेल के गुण करें हड्डियों को मजबूत - Soybena ke tel ke gun karen haddiyon ko majboot
  4. सोयाबीन तेल का उपयोग करें डायबिटीज के लिए - Soybean tel ka upyog kare diabetes ke liye
  5. सोयाबीन तेल का सेवन रखें पाचन को स्वस्थ - Soybean tel ka sewan rakhen pachan ko swsth
  6. सोयाबीन का तेल खाने के फायदे हैं आँखों के लिए उपयोगी - Soybean ka tel khane ke fayde hain aankhon ke liye upyogi
  7. सोयाबीन के तेल के औषधीय गुण बचाएं कैंसर से - Soybean ke tel ke aushdhiya gun bachayen cancer se
  8. सोयाबीन का तेल है रजोनिवृत्ति के दौरान उपयोगी - Soybean ka tel hai rajonivartti ke douran upyogi
  9. सोयाबीन आयल बेनिफिट्स फॉर स्किन इन हिंदी - Soybean oil benefits for skin in hindi
  10. बालों को बढ़ाएं सोयाबीन का तेल - Baalon ko badhayen soybean ka tel

सोयाबीन के तेल के फायदे रखें कोलेस्ट्रॉल को निंयत्रित - Soybean ke tel ke fayde rakhen cholesterol ko niyntrit

सोयाबीन तेल एथरोस्क्लेरोसिस और हृदय रोग जैसे दिल के दौरे और स्ट्रोक होने की संभावनाओं को कम कर सकता है। जैसा कि हमने पहले बताया है, सोयाबीन के तेल में मौजूद फैटी एसिड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इसके अलावा, अन्य फैटी एसिड जैसे स्टीयरिक एसिड (stearic acid), पाल्मिटिक एसिड और ओलेइक एसिड भी एक संतुलित मात्रा में पाए जाते हैं।

(और पढ़ें - स्ट्रोक होने पर क्या करना चाहिए)

खाना पकाने के लिए परिष्कृत तेलों का उपयोग करना आपके शरीर में 'खराब' अनसैचुरेटेड फैट के स्तर को बढ़ा सकता है, जिससे रक्त में 'खराब' कोलेस्ट्रॉल या एलडीएल (कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन) जमा हो जाता है।

(और पढ़ें - ब्लड प्रेशर कम करने के उपाय)

सोयाबीन तेल जैसे स्वस्थ विकल्प में 'अच्छे' अनसैचुरेटेड ओमेगा 3 और ओमेगा 3 फैटी एसिड भरपूर होते हैं। यह एलडीएल को बढ़ने से रोकने के साथ साथ हाई ब्लड प्रेशर को भी कम करता है। एक अध्ययन के अनुसार यह एथरोस्क्लेरोसिस और हार्ट अटैक के जोखिम को 25% तक कम करने में लाभकारी पाया गया है। इसलिए सोयाबीन के तेल का नियमित सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी है।

(और पढ़ें - कोलेस्ट्रॉल कम करने के उपाय​)

सोयाबीन के तेल के लाभ करें अल्जाइमर रोग से बचाव - Soybean ke tel ke labh karen alzheimer rog se bachaav

अल्जाइमर एक भयानक बीमारी है जो दुनिया भर के लाखों लोगों को प्रभावित करती है। सोयाबीन तेल में विटामिन K की भरपूर मात्रा होती है, जो अल्जाइमर के लक्षणों के सुधार में मदद करता है। विटामिन K फ्री रेडिकल के खिलाफ एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है जिससे तंत्रिका कोशिकाओं को नुकसान से बचाने में मदद मिलती हैं।

सैचुरेटेड फैट के अधिक सेवन से मस्तिष्क कोशिकाओं में एमिलॉयड प्लाक (जैसे एलडीएल) बनने लगते हैं, जिससे सूजन और मेमोरी लॉस की समस्या होती है।

सोयाबीन तेल में विटामिन K की भरपूर मात्रा और 'अच्छा' अनसैचुरेटेड फैटी एसिड होता है, जैसे लिनोलेनिक और लिनोलेइक एसिड, जो ओमेगा 3 एसिड जैसे डीएचए, ईपीए और ओमेगा 6 फैटी एसिड बनाने के लिए जाने जाते हैं। इन फैटी एसिड में शक्तिशाली न्यूरोप्रोटेक्टीव गुण होते हैं। खाना पकाने के लिए सोयाबीन का तेल मेमोरी को तेज करने और सीखने की शक्ति को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

(और पढ़ें - अल्जाइमर में क्या खाना चाहिए​)

सोयाबीन के तेल के गुण करें हड्डियों को मजबूत - Soybena ke tel ke gun karen haddiyon ko majboot

विटामिन K में ऑस्टियोट्रोफिक गुण होते हैं, जिसका मतलब है कि यह हड्डियों के विकास और हीलिंग में लाभकारी होती है। सोयाबीन तेल में कैल्शियम की मात्रा भी पाई जाती है। इसलिए यदि आप ऑस्टियोपोरोसिस जैसी समस्याओं को रोकना चाहते हैं (जो अक्सर बढ़ती उम्र में होने की आशंका अधिक होती है) तो सोयाबीन तेल का उपयोग लाभकारी साबित हो सकता है।

महिलाओं में एस्ट्रोजन नामक एक हार्मोन होता है, जो उन्हें कई बड़े विकारों से बचाने में मदद करता है। एस्ट्रोजन हड्डी के मेटाबोलिज्म को नियमित रखने में मदद करता है और यह हड्डियों के नुकसान और ऑस्टियोपेनिया की समस्याओं को कम करने में मदद करता है।

(और पढ़ें - हार्मोन असंतुलन का इलाज)

सोयाबीन के तेल में आइसोफ्लावोन नामक फाइटोस्टेरोल होता है जो मुक्त कणों को साफ करता है और आपकी हड्डियों के एस्ट्रोजन रिसेप्टर्स से जुड़ जाता है ताकि हड्डियों के स्वास्थ्य को सुधार सकें। इसलिए विटामिन K से भरपूर सोयाबीन के तेल का नियमित रूप से सेवन आपकी हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

(और पढ़ें - हड्डी मजबूत करने के उपाय)

सोयाबीन तेल का उपयोग करें डायबिटीज के लिए - Soybean tel ka upyog kare diabetes ke liye

सोयाबीन के तेल में डायबिटीज को रोकने और नियंत्रित करने वाले गुण होते हैं। सोयाबीन शरीर में इंसुलिन इंसेप्टर्स को बढ़ाने में मदद करती है। इस प्रकार यह तेल डायबिटीज को नियंत्रित रखने में मदद करता है। कुछ शुरुआती रिसर्च के अनुसार सोयाबीन से तैयार उत्पादों और टाइप 2 डायबिटीज के बीच एक लिंक पाया गया है। जिसके अनुसार यह टाइप -2 डायबिटीज को नियंत्रित रखने में मदद करता है।

(और पढ़ें - डायबिटीज में क्या खाना चाहिए)

 

सोयाबीन तेल का सेवन रखें पाचन को स्वस्थ - Soybean tel ka sewan rakhen pachan ko swsth

फाइबर स्वस्थ शरीर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। विशेष रूप से यह डाइजेस्टिव फाइबर आपके मल को बढ़ाता है जिससे आपका पाचन तंत्र बहुत ही स्वस्थ और बेहतर बना रहें। इसके अलावा, फाइबर पेरिस्टाल्टिक गति को बढ़ाता है, जो स्मूथ मसल्स को सिकोड़ता (सिस्टम के माध्यम से भोजन को आगे भेजने वाली मसल्स) है।

सोयाबीन तेल फाइबर का बेहतरीन स्रोत होता है, इसलिए आपके पाचन स्वास्थ्य को बेहतर रखने में भी लाभकारी हो सकता है।

(और पढ़ें - पाचन शक्ति बढ़ाने के उपाय)

सोयाबीन का तेल खाने के फायदे हैं आँखों के लिए उपयोगी - Soybean ka tel khane ke fayde hain aankhon ke liye upyogi

सोयाबीन के तेल में 7% ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो आंखों और त्वचा के बहुत ही नाजुक और खतरनाक क्षेत्रों सहित कोशिका झिल्ली की रक्षा में मदद करता है। जिसमें हानिकारक बैक्टीरिया और अन्य बाहरी तत्व भी शामिल है। ओमेगा 3 एस भी एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है। इसके ये गुण मैक्युलर डीजेनेरेशन और मोतियाबिंद का कारण बन सकने वाले मुक्त कणों को खत्म करके, आंखों की रोशनी को बढ़ाने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - आंखों के दर्द का इलाज)

सोयाबीन के तेल के औषधीय गुण बचाएं कैंसर से - Soybean ke tel ke aushdhiya gun bachayen cancer se

सोयाबीन में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण विभिन्न प्रकार के कैंसर को रोकने के लिए लाभकारी होते हैं। एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल को समाप्त करते हैं, जो सेलुलर चयापचय के कारण उत्पन्न होते हैं। इसके अलावा, सोयाबीन में मौजूद फाइबर की भरपूर मात्रा कोलन और कोलोरेक्टल कैंसर को कम करने में लाभकारी पाई गई है। ऐसा इसलिए है क्योंकि फाइबर पाचन प्रक्रिया को बढ़ाने में मदद करता है और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिस्टम पर बहुत कम दबाव डालता है।

(और पढ़ें - कैंसर में क्या खाना चाहिए)

 

सोयाबीन का तेल है रजोनिवृत्ति के दौरान उपयोगी - Soybean ka tel hai rajonivartti ke douran upyogi

सोयाबीन का तेल आइसोफ्लेवोन्स का बहुत ही अच्छा स्रोत है। जो महिला की प्रजनन प्रणाली के लिए एक प्रमुख तत्व होता है। रजोनिवृत्ति के समय, एस्ट्रोजेन का स्तर बहुत तेजी से कम होने लगता है। लेकिन आइसोफ्लोवन एस्ट्रोजेन रिसेप्टर कोशिकाओं से चिपकते हैं, ताकि शरीर को ऐसा महसूस न हो कि आप बहुत ही कठोर परिवर्तन से गुजर रहे हैं। इसके अलावा सोयाबीन का तेल रजोनिवृत्ति के कई लक्षणों को कम कर सकता है जैसे हॉट फ्लैशेस, मूड स्विंग्स और तेज भूख लगना।

(और पढ़ें - समय से पहले मेनोपॉज रोकने के उपाय​)

सोयाबीन आयल बेनिफिट्स फॉर स्किन इन हिंदी - Soybean oil benefits for skin in hindi

सोयाबीन के तेल में विटामिन ई की भरपूर मात्रा एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करती है। साथ ही त्वचा को मुक्त कणों के कारण होने वाले नुकसान से बचाती है। विटामिन ई त्वचा के कालेपन में सुधार, मुंहासे के निशान को कम करने, सनबर्न से त्वचा की रक्षा और उपचार करके नई त्वचा कोशिकाओं को बनने में मदद करती है।

(और पढ़ें - सनबर्न हटाने के उपाय)

इसके अलावा इन तेलों का उपयोग, आपकी त्वचा को कोलेजन और इलास्टिन के नुकसान से बचाता है। साथ ही आपकी त्वचा को मुलायम रखता है और झुर्रियों, पिग्मेंटेशन तथा फाइन लाइन्स से बचाता है।

(और पढ़ें - त्वचा की देखभाल कैसे करें)

बालों को बढ़ाएं सोयाबीन का तेल - Baalon ko badhayen soybean ka tel

आजकल बाल गिरना और गंजापन लगातार बढ़ रहा हैं और यह समस्या सभी ऐज ग्रुप के महिलाओं और पुरुषों में तेजी से बढ़ रही हैं। इसके मुख्य कारण तनाव, चिंता, जीन, कुपोषण, हार्मोनल असंतुलन और प्रदूषण हैं। जिसके कारण बाल गिरने और बालों की जड़ की ताकत लगातार कम हो रही है।

(और पढ़ें - बाल झड़ने के कारण)

सोयाबीन तेल या सोया से बने उत्पादों का उपयोग बालों के तंतुओं में एमिनो एसिड और केराटिन जैसे अणुओं को बढ़ा सकता है जिससे इनकी जड़ों से मजबूत किया जा सकता है।

(और पढ़ें - केराटिन ट्रीटमेंट के फायदे)

यही कारण है कि कई शैम्पू जो आपके बालों को मजबूत और चमकदार रखने का वादा करते हैं, उनमें सोया तेल या सोया डेरिवेटिव का इस्तेमाल होता है।

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के उपाय)

सोयाबीन के तेल के नुकसान भी हो सकते हैं, जैसे:

  • सोया तेल में पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड की भी कुछ मात्रा पाई जाती हैं। जब ये फैटी एसिड टूट जाते हैं, तो ये शरीर के विभिन्न अंगों में जमा हो जाते हैं। इन अंगों में लिवर और किडनी भी होती हैं जिससे वजन बढ़ जाता है, जो बाद में सूजन और डायबिटीज का कारण बन जाता हैं। (और पढ़ें - डायबिटीज डाइट चार्ट)
  • इसके अलावा, इसमें मौजूद संतृप्त फैटी एसिड भी वजन बढ़ने के एक कारण है। (और पढ़ें - वजन घटाने के लिए कितना पैदल चलें)
  • स्तनपान करने वाले शिशु आमतौर पर सोयाबीन के लिए एलर्जिक होते हैं, क्योंकि सोयाबीन की जटिल फाइटोकेमिकल संरचना होती है।
  • इसके सेवन से कुछ बच्चों को चकत्ते, मतली और बुखार भी हो सकता है।

(और पढ़ें - बुखार दूर करने के उपाय)

और पढ़ें ...

References

  1. Alghamdi Salem S., et al. Comparative phytochemical profiling of different soybean (Glycine max (L.) Merr) genotypes using GC–MS. Saudi J Biol Sci. 2018 Jan; 25(1): 15–21. PMID: 29379350.
  2. US Department of Food and Agriculture [Internet]. Washington DC. US; Oil, soybean, salad or cooking
  3. Vieira Samantha A, McClements David Julian, Decker Eric A. Challenges of Utilizing Healthy Fats in Foods. Adv Nutr. 2015 May; 6(3): 309S–317S. PMID: 25979504.
  4. PennState Extension [Internet]. College of Agricultural Sciences. The Pennsylvania State University. Pennsylvania. US; Oils: What’s Cooking?
  5. University of Tennessee Institute of Agriculture [Internet]. Tennessee. US; Cooking Oils
  6. Frank Gunstone. Vegetable Oils in Food Technology: Composition, Properties and Uses. 2nd edition. John Wiley & Sons. 2011. pp 92
  7. University of Rochester Medical Center [Internet]. Rochester (NY): University of Rochester Medical Center; Cooking Oils: Which One When, and Why?
  8. van Smeden J., Bouwstra J.A. Stratum Corneum Lipids: Their Role for the Skin Barrier Function in Healthy Subjects and Atopic Dermatitis Patients. In: Agner T (ed): Skin Barrier Function. Curr Probl Dermatol. Basel, Karger. 2016, vol 49, pp 8-26.
  9. Lin Tzu-Kai, Zhong Lily, Santiago Juan Luis. Anti-Inflammatory and Skin Barrier Repair Effects of Topical Application of Some Plant Oils. Int J Mol Sci. 2018 Jan; 19(1): 70. PMID: 29280987.
  10. Beoy Lim Ai, Woei Wong Jia, Hay Yuen Kah. Effects of Tocotrienol Supplementation on Hair Growth in Human Volunteers. Trop Life Sci Res. 2010 Dec; 21(2): 91–99. PMID: 24575202.
  11. Lai Ching-Huang, et al. Androgenic Alopecia Is Associated with Less Dietary Soy, Higher Blood Vanadium and rs1160312 1 Polymorphism in Taiwanese Communities. PLoS One. 2013; 8(12): e79789. PMID: 24386074.
  12. Guo Emily L., Katta Rajani. Diet and hair loss: effects of nutrient deficiency and supplement use. Dermatol Pract Concept. 2017 Jan; 7(1): 1–10. PMID: 28243487.
  13. National Institute of Health. Office of Dietary Supplements [internet]: Bethesda (MA), US. US Department of Health and Human Services Vitamin E
  14. Deol Poonamjot, et al. Omega-6 and omega-3 oxylipins are implicated in soybean oil-induced obesity in mice. Sci Rep. 2017; 7: 12488. PMID: 28970503.
  15. DiNicolantonio James J, O’Keefe James H. Omega-6 vegetable oils as a driver of coronary heart disease: the oxidized linoleic acid hypothesis. Open Heart. 2018; 5(2): e000898. PMID: 30364556.
  16. Calder PC. Omega-3 fatty acids and inflammatory processes: from molecules to man. Biochem Soc Trans. 2017;45(5):1105‐1115. PMID: 28900017.
  17. Hunter Philip. The inflammation theory of disease. EMBO Rep. 2012 Nov; 13(11): 968–970. PMID: 23044824.
  18. Ribeiro Rogério Faustino, Junior, et al. Soybean oil increases SERCA2a expression and left ventricular contractility in rats without change in arterial blood pressure. Lipids Health Dis. 2010; 9: 53. PMID: 20504316.
  19. El Wakf Azza M., Hassan Hanaa A., Gharib Nermin S. Osteoprotective effect of soybean and sesame oils in ovariectomized rats via estrogen-like mechanism. Cytotechnology. 2014 Mar; 66(2): 335–343. PMID: 23748642.
  20. Akbari Solmaz, Rasouli-Ghahroudi Amir Alireza. Vitamin K and Bone Metabolism: A Review of the Latest Evidence in Preclinical Studies. Biomed Res Int. 2018; 2018: 4629383. PMID: 30050932.
  21. Ima-Nirwana S, Ahmad SN, Yee LJ, et al. Reheating of soy oil is detrimental to bone metabolism in oestrogen deficient rats. Singapore Med J. 2007;48(3):200‐206. PMID: 17342287.
  22. Derbyshire Emma. Brain Health across the Lifespan: A Systematic Review on the Role of Omega-3 Fatty Acid Supplements. Nutrients. 2018 Aug; 10(8): 1094. PMID: 30111738.
  23. Ton Joey, Korownyk Christina. Omega-3 supplements for dry eye. Can Fam Physician. 2018 Nov; 64(11): 826. PMID: 30429179.
  24. Jung MY, Choi NJ, Oh CH, Shin HK, Yoon SH. Selectively hydrogenated soybean oil exerts strong anti-prostate cancer activities. Lipids. 2011;46(3):287‐295. PMID: 21076944.
  25. Meydani SN, Lichtenstein AH, White PJ, et al. Food use and health effects of soybean and sunflower oils. J Am Coll Nutr. 1991;10(5):406‐428. PMID: 1955619.
  26. Nunes E, Peixoto F, Louro T, et al. Soybean oil treatment impairs glucose-stimulated insulin secretion and changes fatty acid composition of normal and diabetic islets. Acta Diabetol. 2007;44(3):121‐1. PMID: 17721750.
  27. Poletto AC, Anhê GF, Eichler P, et al. Soybean and sunflower oil-induced insulin resistance correlates with impaired GLUT4 protein expression and translocation specifically in white adipose tissue. Cell Biochem Funct. 2010;28(2):114‐121. PMID: 20087847.
  28. Wang J, Huang M, Yang J, et al. Anti-diabetic activity of stigmasterol from soybean oil by targeting the GLUT4 glucose transporter. Food Nutr Res. 2017;61(1):1364117. Published 2017 Aug 23. PMID: 28970778.
  29. Deol Poonamjot, et al. Soybean Oil Is More Obesogenic and Diabetogenic than Coconut Oil and Fructose in Mouse: Potential Role for the Liver. PLoS One. 2015; 10(7): e0132672. PMID: 26200659.
  30. Henkel Janin, et al. Soybean Oil-Derived Poly-Unsaturated Fatty Acids Enhance Liver Damage in NAFLD Induced by Dietary Cholesterol. Nutrients. 2018 Sep; 10(9): 1326. PMID: 30231595.
ऐप पर पढ़ें