• हिं

क्रैनबेरी का रस क्रैनबेरी फल से तैयार किया जाता है। क्रैनबेरी फल को सबसे पहले उत्तर अमेरिका में उगाया गया था। यह रस पोषक तत्वों से भरपूर होता है और इसका भोजन के साथ-साथ औषधीय प्रोडक्ट्स में भी उपयोग किया जाता है।

क्रैनबेरी का वैज्ञानिक नाम वैक्सीनियम मैक्रोकारपोन (Vaccinium macrocarpon) होता है। ब्रोकली, पालक तथा सेब जैसे अन्य फलों और सब्जियों की तुलना में क्रैनबेरी में एंटीऑक्सीडेंट गुणों की मात्रा बहुत अधिक होती है।

(और पढ़ें - फल खाने के फायदे)

  1. क्रैनबेरी के रस के फायदे - Cranberry ke Ras ke Fayde
  2. क्रैनबेरी के रस के नुकसान - Cranberry ke Ras ke Nuksan
क्रैनबेरी के रस के फायदे और नुकसान के डॉक्टर

क्रैनबेरी के रस का सेवन मूत्र पथ संक्रमण (यूटीआई), श्वसन से जुड़े विकार, किडनी की पथरी, कैंसर और हृदय रोग में लाभकारी हो सकता है। इसके अलावा यह पेट की समस्याओं, दांतों की समस्याओं और डायबिटीज को रोकने में भी उपयोगी होता है। इस जूस में प्राकृतिक फाइटोन्यूट्रिएंट्स यौगिक पाए जाते हैं, ये हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी होते हैं।

(और पढ़ें - डायबिटीज डाइट चार्ट)

क्रैनबेरी के रस में ऊर्जा, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट की भरपूर मात्रा होती है। साथ ही इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियमजिंकसोडियम जैसे खनिज पाए जाते हैं तथा विटामिन एथायामिनरिबोफ्लाविननियासिनविटामिन बी 6फोलेटविटामिन सीविटामिन ई (अल्फा-टोकोफेरोल), विटामिन K (फाइलोक्विनोन) जैसे विटामिन भी पाए जाते हैं। तो चलिए इस लेख में विस्तार से जानते हैं क्रैनबेरी के रस के लाभों के बारे में:

(और पढ़ें - विटामिन k की कमी से होने वाले रोग)

क्रेनबेरी के जूस के फायदे मूत्र पथ संक्रमण के लिए - Cranberry ke juice ke fayde mutar path sankrman ke liye

मूत्र पथ संक्रमण मूत्र में सामान्य स्तर से अधिक सूक्ष्म जीवों के कारण होता है। जिसके कारण मूत्राशय में संक्रमण हो सकता है जिससे किडनी में सिस्ट या फिर प्रोस्टेट में जीवाणु प्रोस्टेटाइटिस हो सकता है। 

न्यू जर्सी की रटगर्स यूनिवर्सिटी में एक टीम द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार क्रैनबेरी के रस में प्रोएंथोसायनिडिन (proanthocyanidins) नामक पौधों में पाया जाने वाला योगिग होता है। इसमें एंटी-क्लींजिंग (anti-clinging) गुण होते हैं, जो बैक्टीरिया को मूत्राशय की दीवारों पर चिपकने से रोकते हैं। इससे बैक्टीरिया न फैलते हैं और न ही आगे बढ़ते हैं, जिससे वे संक्रमण पैदा नहीं कर पाते हैं। 

लॉस एंजिल्स बायोमेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट में शोधकर्ताओं के अनुसार नियमित रूप से क्रैनबेरी का रस पीने से मध्यम आयु की और गर्भवती महिलाओं में यूटीआई को रोकने में मदद मिल सकती है।

(और पढ़ें - यूरिन इन्फेक्शन के घरेलू उपाय)

क्रेनबेरी के जूस के लाभ रखें ह्रदय को स्वस्थ - Cranberry ke juice ke labh rakhen hriday ko swsth

क्रैनबेरी का रस ह्रदय से जुड़ी बीमारियों के जोखिम को कम करने और कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य को अच्छा रखने में मदद कर सकता है। क्रैनबेरी में मौजूद फ्लैवोनोइड्स में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो एथेरोस्क्लेरोसिस के खतरे को कम कर सकते हैं। 

एथरोस्क्लेरोसिस एक ऐसी बीमारी है जिसमें रक्त में अधिक फैट, कैल्शियम और कोलेस्ट्रॉल बनने के कारण धमनी संकरी हो जाती है। यह शरीर के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सीजन से भरपूर रक्त के प्रवाह को रोकती है और इसके अलावा यह दिल के दौरे और स्ट्रोक जैसी बीमारियों का कारण बन सकती है। क्रैनबेरी में फाइटोन्यूट्रिएंट भी पाए जाते हैं। जिसके के कारण इसमें सूजन को कम करने वाले गुण होते हैं।

( और पढ़ें - हृदय को स्वस्थ रखने के उपाय)

क्रैनबेरी के जूस के औषधीय गुण बचाएं कैंसर से - Cranberry ke juice aushdhiya gun bachayen cancer se

क्रैनबेरी में प्रोएंथोसायनिडिन पाया जाता है, जो विभिन्न प्रकार की कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकने में मदद करता है। क्रैनबेरी के रस में कैंसर को कम करने वाले तत्व होते हैं जो कैंसर कोशिकाओं खासतौर पर कोलन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर कोशिकाओं को फैलने से रोकते हैं। 

एक अन्य अध्ययन के अनुसार प्रोएंथोसायनिडिन रक्त वाहिकाओं में छोटे छोटे ट्यूमर को बनने से रोकने में मदद कर सकते हैं। क्रैनबेरी के रस का नियमित सेवन ट्यूमर को बढ़ने से भी रोकता है। क्रैनबेरी में कई शक्तिशाली फाइटोकेमिकल्स भी होते हैं जो एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करते हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट, मुक्त कणों के कारण होने वाले कोशिकाओं के नुकसान से आपके शरीर को बचाते हैं। फ्री रेडिकल उम्र बढ़ने की प्रक्रिया में योगदान देते हैं।

(और पढ़ें - कैंसर में क्या खाना चाहिए)

क्रैनबेरी के जूस के फायदे रखें पाचन को बेहतर - Cranberry ke juice ke fayde rakhen pachan ko behtar

जो यौगिक आपके हृदय की रक्षा करने में मदद करते हैं, वही यौगिक आपके पाचन तंत्र के कार्यों में भी सुधार करते हैं। पेप्टिक अल्सर हेलिकोबैक्टर पिलोरी या एच पिलोरी नाम के बैक्टीरिया के कारण होता है। ये सूक्ष्मजीव पेट और पाचनांत्र (duodenum) की सुरक्षात्मक परत पर हमला करते हैं। इससे पेट की दीवारों में सूजन हो सकती है।

(और पढ़ें - पेट के अल्सर का घरेलू उपाय)

फ्लेवोनोइड्स में परिपूर्ण खाद्य पदार्थ जैसे क्रैनबेरी, सेब और लहसुन आदि पिलोरी बैक्टीरिया को फैलने से रोकते हुए पेट की दीवार समेत पेट के अन्य विकारों के खतरों को भी कम करते हैं।

(और पढ़ें - स्वस्थ जीवन के लिए भोजन)

क्रेनबेरी जूस फॉर एंटी एजिंग इन हिंदी - Cranberry juice for anti aging in hindi

क्रैनबेरी के औषधीय गुण फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से कोशिकाओं की रक्षा करते हैं। पर्यावरण में मौजूद फ्री रेडिकल बढ़ती उम्र के लक्षण जैसे झुर्रियों, पिग्मेंटेशन, फाइन लाइन्स और एज स्पॉट्स आदि के लिए जिम्मेदार होते हैं।

(और पढ़ें - एंटी-एजिंग फेस मास्क कैसे बनाएं)

मानव अनुसंधान केंद्र के यूएसडीए वैज्ञानिकों के अनुसार क्रैनबेरी में मौजूद फाइटोन्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सिडेंट्स गुण बढ़ती उम्र के साथ विकसित होने वाली समस्याओं जैसे याददाश्त खोना आदि से सुरक्षा प्रदान करने में मदद करते हैं। 

(और पढ़ें - आयु बढ़ने पर याददाश्त में कमी का इलाज)

क्रेनबेरी के जूस का सेवन करे बालों का विकास - Cranberry ke juice ka sewan kare baalon ka vikas

क्रैनबेरी का रस लंबे और चमकदार बाल पाने के लिए सबसे अच्छे फलों के रस में से एक है। क्रैनबेरी के रस में मौजूद विटामिन ए और विटामिन सी ऐसे दो मुख्य विटामिन हैं जो बालों के विकास को बढ़ाने में मदद करते हैं। क्रैनबेरी के रस का नियमित सेवन बालों को झड़ने से रोकने में मदद करता है और बालों के विकास को बढ़ाता है।

(और पढ़ें - चमकदार बाल पाने के उपाय)

क्रेनबेरी के जूस के गुण हैं दांतों के लिए उपयोगी - Cranberry ke juice ke gun hain danton ke liye upyogi

एक रिसर्च के अनुसार क्रैनबेरी का रस दांतों में कैविटी को रोकता है। प्रोएंथोसायनिडिन (Proanthocyanidins) एक रासायनिक यौगिक होता है जो इस फल में पाया जाता है। यह यौगिक हानिकारक बैक्टीरिया को दांतों पर चिपकने से रोकता है। ये तत्व एसिड उत्पादन को रोकने के साथ साथ प्लाक के विकास को रोक कर दांतों की बीमारियों से बचाते हैं। इसलिए यदि आप अपने दांतों को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो आपको नियमित रूप से इस रस का सेवन करना चाहिए।

(और पढ़ें - दांतों के मैल का इलाज)

क्रेनबेरी जूस फॉर वेट लॉस इन हिंदी - Cranberry juice for weight loss in hindi

क्रैनबेरी का रस आर्गेनिक एसिड में परिपूर्ण होता है। जिसका हमारे शरीर पर फैट कम करने में बहुत ही अच्छा प्रभाव पड़ता है। ऐसे में यह जूस उन लोगों के लिए अच्छा है जो अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं। इसमें फाइबर की भरपूर मात्रा के कारण, आपको बार बार खाने की इच्छा नहीं होती है जिससे आप अधिक खाने से बच जाते हैं।

(और पढ़ें - वजन कम करने के उपाय)

किडनी स्टोन्स से बचाएं क्रेनबेरी जूस का सेवन - Kidney stones se bachayen cranberry juice ka sewan

क्रैनबेरी के रस में एसिड कंपोनेंट्स की भरपूर मात्रा किडनी की पथरी को बनने से रोकने में मदद कर सकती है। क्रैनबेरी के रस में क्विनिक एसिड पाया जाता है। यही एसिड किडनी की पथरी को बनने से रोकने में उपयोगी होता है।

(और पढ़ें - किडनी की पथरी के घरेलू उपाय)

क्रैनबेरी के रस के निम्नलिखित नुकसान भी हो सकते हैं:

  1. क्रैनबेरी के जूस का सीमित मात्रा में ही सेवन करना चाहिए। 
  2. इंटरस्टीशियल सिस्टाइटिस से पीड़ित लोगों को क्रेनबेरी के रस से बचना चाहिए। इंटरस्टीशियल सिस्टाइटिस एक मूत्राशय का रोग है जो तब होता है जब मूत्राशय की लाइनिंग में कोई कमी आ जाती है। 
  3. इसके अधिक मात्रा में सेवन करने से दांतों को नुकसान पहुंच सकता है। 
  4. डायबिटीज और पेट की समस्याओं से पीड़ित लोगों को भी क्रैनबेरी के रस बचना चाहिए। इस रस के अधिक सेवन से दस्त और रक्त शर्करा का स्तर बढ़ सकता है।

(और पढ़ें - डायबिटीज में क्या खाना चाहिए)

Dt. Akanksha Mishra

Dt. Akanksha Mishra

पोषणविद्‍
8 वर्षों का अनुभव

Surbhi Singh

Surbhi Singh

पोषणविद्‍
22 वर्षों का अनुभव

Dr. Avtar Singh Kochar

Dr. Avtar Singh Kochar

पोषणविद्‍
20 वर्षों का अनुभव

Dr. priyamwada

Dr. priyamwada

पोषणविद्‍
7 वर्षों का अनुभव

संदर्भ

  1. FoodData Central. United States Department of Agriculture. Washington D.C. USA; Cranberry juice, unsweetened
  2. Agricultural Research Service. U.S. Department of Agriculture. [Internet]. USDA Center for Nutrition Policy & Promotion. Alexandria (VA), USA. Cranberry Juice Can Boost Heart Health
  3. Cleveland Clinic. [Internet]. Cleveland. Ohio; Can Cranberry Stop Your UTIs?
  4. Jensen, Heidi D. et al. Cranberry Juice and Combinations of Its Organic Acids Are Effective against Experimental Urinary Tract Infection. Front. Microbiol., 04 April 2017
  5. Griffiths, Peter. The role of cranberry juice in the treatment of urinary tract infections. Br J Community Nurs . 2003 Dec;8(12):557-61. PMID: 14688663
  6. Barbosa-Cesnik, Cibele. et al. Cranberry Juice Fails to Prevent Recurrent Urinary Tract Infection: Results From a Randomized Placebo-Controlled Trial. Clin Infect Dis. 2011 Jan 1; 52(1): 23–30. PMID: 21148516
  7. Raz, R. et al. Cranberry juice and urinary tract infection. Clin Infect Dis . 2004 May 15;38(10):1413-9. PMID: 15156480
  8. Maki, Kevin C. et al. Consumption of a cranberry juice beverage lowered the number of clinical urinary tract infection episodes in women with a recent history of urinary tract infection. Am J Clin Nutr . 2016 Jun;103(6):1434-42. PMID: 27251185
  9. Liska, DeAnn J. et al. Cranberries and Urinary Tract Infections: How Can the Same Evidence Lead to Conflicting Advice?. Adv Nutr. 2016 May; 7(3): 498–506. PMID: 27184277
  10. Goldman, Ran D. Cranberry juice for urinary tract infection in children. Can Fam Physician. 2012 Apr; 58(4): 398–401. PMID: 22499815
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ