myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

पिछले कुछ सालों में फैटी लिवर की बीमारी भारत में बहुत सामान्य हो गई है। फैटी लिवर बीमारी के दो प्रकार होते हैं - एल्कोहल फैटी लिवर और गैर-एल्कोहल फैटी लिवर। फैटी लीवर की समस्या में आपके लिवर में अनावश्यक फैट जमा होने लगता है। लिवर आपके शरीर का दूसरा सबसे बड़ा अंग होता है। आप जो भी खाते हैं या पीते हैं, उसे पचाने का काम लीवर ही करता है।

(और पढ़ें - फैटी लिवर​ का इलाज)

इसके अलावा लिवर खून को साफ करने का भी काम करता है। लिवर में यह क्षमता होती है कि यह अपने अंदर खराब हुए कोशिकाओं को स्वतः ठीक कर लेता है। फैटी लीवर की बीमारी को आप अपने खाने-पीने पर ध्यान रख कम कर सकते हैं। इसलिए आपको पता होना चाहिए कि फैटी लिवर में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं। इसके अलावा आपको यह भी पता होना चाहिेए कि फैटी लीवर में किन-किन चीजों से परहेज करना चाहिए। 

(और पढ़ें - फैटी लीवर के घरेलू उपाय)

  1. फैटी लिवर में क्या खाना चाहिए - What to eat in fatty liver in Hindi
  2. फैटी लिवर में क्या न खाएं और परेहज - What not to eat in fatty liver in Hindi
  3. फैटी लिवर डाइट प्लान - Fatty liver diet plan in Hindi

फैटी लिवर में कॉफी पीएं - Drink coffee in fatty liver in Hindi

कॉफी पीना फैटी लिवर की बीमारी में लाभदायक होता है। एक अध्ययन के अनुसार, कॉफी पीने वाले फैटी लिवर के रोगियों का लिवर कम खराब होता है, उनकी तुलना में जो लोग कॉपी नहीं पीते हैं। कैफीन में लिवर को प्रभावित करने वाले असामान्य एंजाइम कम होते हैं। इसलिए सीमित मात्रा में कॉफी पीना चाहिए।

(और पढ़ें - लिवर फंक्शन टेस्ट क्या है)

फैटी लिवर में खानी चाहिए ब्रोकली - Eat Broccoli in fatty liver in Hindi

सभी प्रकार की सब्जियां फैटी लिवर बीमारी को कम करने में मदद करतीं हैं। इसलिए फैटी लिवर के रोगियों को सभी प्रकार की सब्जियां खाना चाहिए। खासकर ब्रोकली को आपने आहार में शामिल करना फैटी लिवर की समस्या में और भी लाभदायक है। "जर्नल ऑफ़ न्यूट्रिशन" के एक लेख में इस बात की पुष्टी की गई है कि लंबे समय तक ब्रोकली खाने से चूहों के लिवर में फैट कम होने लगा। हालांकि, इंसानों पर अभी यह अध्ययन करना बाकी है।

(और पढ़ें - लिवर को साफ रखने के लिए आहार)

फैटी लिवर में टोफू खाएं - Eat tofu in fatty liver in Hindi

फैटी लिवर की बीमारी में टोफू खाना आपके लिए लाभदायक है। इलिनोइस विश्वविद्यालय में चूहों पर हुए एक अध्ययन में इस बात की पुष्टी की गई कि सोया प्रोटीन, लिवर में फैट बनने के प्रक्रिया को कम करता है। इसके साथ ही साथ इस प्रोटीन को खाने से लिवर की कोशिकाएं भी मजबूत होती हैं। सोया प्रोटीन आपको टोफू जैसे खाद्य पदार्थों से प्राप्त होता है। इसके अलावा टोफू में वसा कम होती है और प्रोटीन अधिक होता है, जो आपके शरीर के लिए भी लाभदायक है।

(और पढ़ें - क्या बेहतर है - टोफू या पनीर)

फैटी लिवर में खाएं मछली - Eat fish in fatty liver in Hindi

ओमेगा-3 फैटी एसिड वाली मछलियां खाएं। रावस (जिसे "इंडियन सैल्मन" भी कहा जाता है), बांगड़ा (जिसे "इंडियन मैकरेल" भी कहा जाता है), हिलसा, केकड़ा (क्रैब), झींगा (श्रिम्प) और टूना और सार्डिन जैसी मछलियों में बहुत अधिक मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है। ओमेगा-3 फैटी एसिड लिवर के वसा के स्तर को सामान्य बनाता है और सूजन को भी कम करता है। लेकिन मछली को स्टीम करके या भून कर खाना चाहिए, इससे आपको और अधिक लाभ मिलेगा।

(और पढ़ें - सूजन कम करने का तरीका)

इसके अलावा शाकाहारी लोग अखरोट खाएं। अखरोट में ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो फैटी लिवर के रोगियों के लिए लाभदायक होता है। 2015 के रिपोर्ट के अनुसार, गैर-एल्कोहल फैटी लिवर के मरीजों के लिए अखरोट खाना बहुत अधिक लाभदायक माना गया है।

(और पढ़ें - लिवर रोग का उपचार)

फैटी लिवर में खाएं कम वसा वाले डेरी उत्पाद - Eat low fat dairy products in fatty liver in Hindi

कम वसा वाले डेरी उत्पाद लिवर को सुरक्षित करने में मदद करते हैं। डेरी उत्पाद में प्रोटीन होता है, जो आपके लिवर की कोशिकाओं की मरम्मत करने में सहायक है। इसलिए कम वसा वाले डेरी उत्पादों को खाना चाहिए। इसके अलावा आप अंडे भी खा सकते हैं, इसमें प्रोटीन होता है।

(और पढ़ें - प्रोटीन युक्त भोजन)

फैटी लिवर में ओटमील खाना चाहिए - Have Oatmeal in fatty liver in Hindi

ओटमील में बहुत अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होता है, जिससे आपको भरपूर उर्जा मिलती है। ओटमील में फाइबर की भी मात्रा होती है, जो आपके आंत से फैट कम करने में मदद करता है और वजन कम करने में भी सहायक है। इसलिए फैटी लिवर की बीमारी में ओटमील खाएं।

(और पढ़ें - वजन कम करने वाले आहार)

ऐवोकाडो खाना चाहिए फैटी लिवर में - Eat Avocado in fatty liver in Hindi

एवोकाडो में अच्छी वसा होती है, जो फैटी लिवर के मरीजों के लिए लाभदायक होता है। एक शोध के अनुसार, एवोकाडो में एक प्रकार का कैमिकल भी होता है, जो लिवर को सुरक्षित रखने में मदद करता है। इसके साथ ही साथ एवोकाडो फाइबर से भरपूर होता है, जो वजन को संतुलित बनाए रखने में सहायक है। इसके अलावा फैटी लिवर की बीमारी में सूरजमुखी का बीज भी बहुत ज्यादा उपयोगी है। सूरजमुखी के बीज में विटामिन ई और एंटीऑक्सिडेंट मौजूद होते हैं, जो लिवर को खराब होने से बचाते हैं।

(और पढ़ें - एंटीऑक्सीडेंट क्या है)

फैटी लिवर में पीएं ग्रीन टी - Drink green tea in fatty liver in Hindi

एक अध्ययन के अनुसार, ग्रीन टी वसा के अवशोषण में हस्तक्षेप करता है। इसके अलावा ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो कोशिकाओं के मरम्मत में मदद करते हैं और वजन कम करने में भी सहायक होते हैं। इसके साथ ही साथ एंटीऑक्सिडेंट खराब कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करते हैं और लिवर के फैट को भी कम करने में सहायक हैं।

(और पढ़ें - कोलेस्ट्रोल कैसे कम करें)

फैटी लिवर में लहसुन खाना चाहिए - Garlic should eat in fatty liver in Hindi

फैटी लिवर की बीमारी में लहसुन खाना बहुत अधिक लाभदायक होता है। लहसुन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होने के साथ-साथ आपके भोजन को भी स्वादिष्ट बनाता है। एक अध्ययन के अनुसार, लहसुन फैटी लिवर के रोगियों का वजन और फैट दोनों कम करने में मदद करता है।

(और पढ़ें - खाली पेट लहसुन खाने के फायदे)

जैतून का तेल खाना चाहिए फैटी लिवर में - Consume Olive Oil in fatty liver in Hindi

जैतून के तेल में बहुत अधिक मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो फैटी लिवर के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसलिए जैतून तेल से खाना बनाएं। एक रिसर्च के अनुसार, जैतून तेल लिवर एंजाइम के स्तर को और वजन दोनों को नियंत्रित करता है।

(और पढ़ें - लिवर कैंसर की सर्जरी)

फैटी लिवर में शराब नहीं पिएं - Do not drink alocohol in fatty liver in Hindi

शराब फैटी लिवर के रोगियों के लिए बहुत अधिक हानिकारक होता है। सामान्य रूप से भी अधिक शराब पीना लिवर के लिए नुकसानदायक होता है। इसके अलावा शराब लिवर से संबंधित अन्य बीमारी को भी जन्म देता है। इसलिए फैटी लिवर के मरीजों को शराब नहीं पीनी चाहिए, और अगर पीनी ही है तो बहुत कम मात्रा में शराब पीएं (लेकिन ध्यान रहे कि ये आपको नुक्सान पहुंचा रही है)।

(और पढ़ें - शराब की लत छुड़ाने के उपाय)

लिवर बढ़ने पर शुगर युक्त खाद्य पदार्थ न खाएं - Do not eat foods containing sugar in Fatty Liver in Hindi

अधिक चीनी खाना आपके लिए बहुत अधिक नुकसानदायक होता है क्योंकि अधिक चीनी खाने से आपके ब्लड में शुगर का स्तर बढ़ सकता है। ब्लड में शुगर का स्तर अधिक होने से लिवर में अधिक फैट जमा होने लगता है। इसलिए शुगर युक्त खाद्य पदार्थ जैसे कैडी, आइस्क्रीम न खाएं।

(और पढ़ें - डायबिटीज डाइट चार्ट)

इसके अलावा शुगर युक्त पेय पदार्थ जैसे सोडा और फलों के जूस भी न पीएं। इसके साथ ही साथ फैटी लिवर के रोगियों को चाय और कॉफी भी नहीं पीना चाहिए। फ्रुकटोज और कॉर्न सिरप जैसे शुगर भी नुकसानदायक होते हैं। इस बात का ध्यान रहे कि शुगर की मात्रा डिब्बां बंद और बेक्ड खाद्य पदार्थों में बहुत अधिक होता है।

(और पढ़ें - शुगर में परहेज)

तले हुए और अधिक नमक वाले खाद्य पदार्थ न खाएं - Do not eat fried and salty foods in Fatty Liver in Hindi

ज्यादा तले हुए और नमक वाले खाद्य पदार्थों में अधिक कैलोरी होती है, जिन्हें खाने से आपका वजन बढ़ सकता है। नमक की जगह पर आप भोजन में अधिक मसाले और जड़ी-बूटी मिला सकते हैं। ऐसा करने से बिना नमक के आपका भोजन स्वादयुक्त बन जाएगा और आप अधिक नमक खाने से भी बच जाएंगे। इसलिए अधिक तले हुए खाद्य पदार्थों को और नमक वाले खाद्य पदार्थों को खाएं।

(और पढ़ें - ज्यादा नमक खाने से नुकसान)

फैटी लिवर के मरीजों को मटन नहीं खाना चाहिए - Fatty Liver patients should not eat mutton in Hindi

फैटी लिवर के मरीजों को लाल मांस जैसे सुअर का मांस, मटन नहीं खाना चाहिए। लाल मांस फैटी लिवर के रोगियों के लिए बहुत ज्यादा नुकसानदायक होता है। बिना चर्बी का मांस (लीन मीट) जैसे मछली खाना चाहिए। इसलिए लाल मांस की जगह पर बिना चर्बी का मांस खाएं, यह फैटी लिवर के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है।

(और पढ़ें - शाकाहारी भोजन के फायदे)

फैटी लिवर में रिफाइंड अनाज न खाएं - Do not eat refined grains in fatty liver in Hindi

प्रोसेस्ड और रिफाइंड अनाज जैसे व्हाइट ब्रेड, पास्ता और व्हाइट राइस बेहद नुकसानदायक होते हैं। रिफाइड अनाज को तैयार करने के लिए इन्हें कई प्रक्रिया से गुजरना होता है और इस प्रक्रिया के दौरान इसमें पाए जाने वाले फाइबर को अलग कर दिया जाता है। अनाज जब फाइबर रहित हो जाते हैं, तो ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ाते हैं। रिफाइड अनाज की जगह पर आप होल वीट और होल ग्रेन (साबुत अनाज) खा सकते हैं।

(और पढ़ें - शुगर के घरेलू उपाय)

भोजन क्या खाएं

सुबह का नाश्ता

दूध के साथ 1 कटोरी ओट्स और 4  अखरोट (वालनट हॉल्व)

सुबह के नाश्ते के बाद

सेब, नाशपाती, अनानास और संतरा में से कोई एक फल

दोपहर का भोजन

1 कप सलाद, 2 रोटी, आधा कप चावल, 1 कप अंकुरित अनाज और 1 कप सब्जी

दोपहर के भोजन के बाद

 1 गिलास छाछ

शाम का नाश्ता

1 कप कॉफी और 2 एग व्हाइट ऑमलेट या आधा कप टोफू, सलाद और जैतून तेल

रात का भोजन

1 कप सब्जियों का सलाद, ज्वार की 1 रोटी, 1 कप सब्जी और 1 कप दही

(और पढ़ें - लिवर को साफ करने के लिए जूस)

और पढ़ें ...