myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

व्यक्ति के स्वास्थ्य में रक्त की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। हमारा रक्त प्लाज्मा, लाल रक्त कोशिकाओं, सफेद रक्त कोशिकाओं और प्लेटलेट्स से मिलकर बनता है। रक्त ही ऑक्सीजन और पोषक तत्वों को शरीर के ऊतकों और फेफड़ों तक पहुंचाता है। इसके साथ ही चोट लगने पर रक्तस्राव रोकने, संक्रमण से लड़ने वाले एंटीबॉडी और कोशिकाओं को शरीर के विभिन्न हिस्सों में ले जाने और शरीर के तापमान को नियंत्रित करने का भी काम करता है।

रक्त में मौजूद लाल रक्त कोशिकाएं कम या ज्यादा होने पर व्यक्ति को कई तरह की समस्याएं होने लगती है। आमतौर पर लोगों को लाल रक्त कोशिकाओं में कमी की समस्या का सामना करना पड़ता है, लेकिन कुछ उपायों से आप इस समस्या से बच सकते हैं।  

(और पढ़ें - खून को साफ करने वाले आहार)

इस लेख में आपको लाल रक्त कोशिकाएं क्या है और लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने के बारे में बताया गया है। साथ ही आपको लाल रक्त कोशिकाओं की कमी के लक्षण, लाल रक्त कोशिकाओं की अधिकता के लक्षण, लाल रक्त कोशिकाओं की गिनती और लाल रक्त कोशिकाओं को कैसे बढ़ाएं आदि विषयों को भी विस्तार से बताने का प्रयास किया गया है।

(और पढ़ें - विटामिन के फायदे)

  1. लाल रक्त कोशिकाएं क्या है - RBC kya hota hai in hindi
  2. लाल रक्त कोशिकाओं की गिनती - RBC count kya hota hai in hindi
  3. लाल रक्त कोशिकाओं की कमी और अधिकता के कारण - RBC kam hone ya badhane ke karan in hindi
  4. लाल रक्त कोशिकाएं कैसे बढ़ाएं - RBC (red blood cell) kaise badhaye in hindi
  5. लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने के लिए करें जीवनशैली में बदलाव - jivanshaili me badlav se karen RBC count badhane ka upay

रक्त में मौजूद विशेष तरह की कोशिकाओं को लाल रक्त कोशिका कहा जाता है। लाल रक्त कोशिकाएं आपकी हड्डी के अंदर अस्थि मज्जा (bone marrow) में बनती है। यह कोशिकाएं गोलाकार होती है, लेकिन इनके बीच का हिस्सा थोड़ा दबा हुआ होता है।

रक्त में लाल रक्त कोशिकाओं की संख्या व्यक्ति की आयु के अनुसार कम या ज्यादा हो सकती हैं। व्यक्ति की आयु के अनुसार इन कोशिकाओं का सामान्य संख्या से कम या ज्यादा होना, दोनों ही स्थितियां समस्या का कारण बन सकती हैं।

लाल रक्त कोशिकाएं शरीर में ऑक्सीजन को ले जाने और कार्बन डाई ऑक्साइड को बाहर करने के साथ ही कई अन्य महत्वपूर्ण कार्य करती हैं। ये कोशिकाएं समान्यतः करीब 120 दिनों तक जीवित रहती है, जिसके बाद वे नष्ट हो जाती हैं।  

(और पढ़ें - बोन मैरो ट्रांसप्लांट

लाल रक्त कोशिकाओं की गिनती पुरुषों और महिलाओं में अलग-अलग होती हैं। पुरुषों के रक्त में सामान्य रूप से प्रति माइक्रोलीटर 47 से 61 लाख लाल रक्त कोशिकाएं होती है। जबकि सामान्य महिला में इन कोशिकाओं की संख्या करीब 42 से 54 लाख प्रति माइक्रोलीटर होती है। बच्चों के रक्त में प्रति माइक्रोलीटर करीब 40 से 55 लाख लाल रक्त कोशिकाएं होती हैं। यह गिनती हर व्यक्ति और टेस्ट करने वाली लैब में अलग अलग हो सकती है।  

(और पढ़ें - ब्लड सर्कुलेशन धीमा होने के कारण)

लाल रक्त कोशिकाओं की कमी और अधिकता होने के कई कारण होते हैं। इन दोनों ही स्थितियों के कारण को आगे विस्तार से बताया गया है।

लाल रक्त कोशिकाओं की कमी होने के कारण

(और पढ़ें - गर्भावस्था में खून की कमी)

लाल रक्त कोशिकाओं की अधिकता के कारण

लाल रक्त कोशिकाओं का सामान्य संख्या से अधिक होना व्यक्ति के लिए खतरनाक होता है और यह घातक स्थिति पैदा कर सकता है। इसके निम्नलिखित कारण हो सकते हैं।

कुछ विशेष तरह की दवाएं भी लाल रक्त कोशिकाओं के कम या ज्यादा होने की वजह हो सकती हैं। 

(और पढ़ें - रोज कितना पानी पीना चाहिए)

लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाता है आयरन - RBC badhane ka tarika hai iron wala khana

आयरन एक ऐसा पोषक तत्व है, जिसे आमतौर पर एनीमिया से जोड़कर देखा जाता है। आपका शरीर आयरन का उपयोग हीमोग्लोबिन के निर्माण में करता है। हीमोग्लोबिन लाल रक्त कोशिकाओं में ऑक्सीजन का संग्रह करता है। आयरन के बिना लाल रक्त कोशिकाएं नष्ट हो सकती हैं या शरीर के विभिन्न अंगों में ऑक्सीजन पहुंचाने में असमर्थ हो सकती हैं।

(और पढ़ें - आयरन की कमी का इलाज)

बच्चों को रोजाना 7 से 10 मिलीग्राम, किशोर लड़कियों को करीब 15 मिलीग्राम और गर्भधारण करने की आयु वाली महिलाओं (20 से 35 आयु की महिलाएं) को करीब 18 मिलीग्राम आयरन लेने की आवश्यकता होती है। 

(और पढ़ें - खून की कमी के घरेलू उपाय)

आयरन में समृद्ध आहार के सेवन से आपके शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं का उत्पादन बढ़ सकता है। अपने आहार में पर्याप्त मात्रा में आयरन लेने के लिए आपको हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालकड्राई फ्रूट, बीन्स, फलियां, ब्रोकली और अंडे की जर्दी को शामिल करना चाहिए। 

(और पढ़ें - आयरन टेस्ट कैसे होता है)

आरबीसी को बढ़ाने के लिए लें विटामिन बी 12 - RBC badhane ka upay kare vitamin b12 wale aahar

विटामिन बी 12 मस्तिष्क के कार्यों और लाल रक्त कोशिकाओं को बनाने के लिए महत्वपूर्ण होता है। शरीर में विटामिन बी 12 की कमी लाल रक्त कोशिकाओं को पूरा बनने से रोकती है। इस कमी की वजह से लाल रक्त कोशिकाएं (red blood cells: आरबीसी) असामान्य हो जाती है, इसको मेगालोब्लास्ट्स (megaloblasts) और मेगालोब्लास्टिक एनीमिया (megaloblastic anemia) कहा जाता है।

(और पढ़ें - विटामिन बी 12 की कमी का इलाज)

विटामिन बी 12 लेने के लिए आपको अपने आहार रेड मीट, मछली, डेयरी उत्पाद जैसे दूधचीज, अंडे आदि को शामिल करना चाहिए। 

(और पढ़ें - विटामिन बी के स्रोत)

लाल रक्त कोशिकाओं का बढ़ाने का तरीका है फोलिक एसिड - RBC badhane ke upay hai folic acid wale food

विटामिन बी 9 को फोलिक एसिड और फोलेट के नाम से भी जाना जाता है। विटामिन बी 12 और आयरन की तरह यह सीधे लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण से नहीं जुड़ा है। लेकिन यह कोशिकाओं के विभाजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए लाल रक्त कोशिकाओं की संख्या को प्रभावित करता है। एक व्यस्क को रोजाना 400 से 600 माईक्रोग्राम फोलिक एसिड लेने की आवश्यकता होती है। यह मल्टीविटामिन में भी मौजूद होती है।

(और पढ़ें - गर्भावस्था में फोलिक एसिड का महत्व)

यदि व्यक्ति पर्याप्त मात्रा में फोलेट नहीं लेता है तो इससे उसकी लाल रक्त कोशिकाएं पूर्ण रूप से विकसित नहीं हो पाती हैं। जिसकी वजह से एनिमिया होने और हिमोग्लोबिन का स्तर कम होने की आशंका बढ़ जाती है। फोलेट हिमोग्लोबिन के उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। 

हीमोग्लोबिन के एक घटक हेमे (heme) को बनाने के लिए फोलेट की आवश्यकता होती है, हेमे के द्वारा ही रक्त से ऑक्सीजन सभी अंगों तक पहुंच पाती है। फोलिक एसिड पर्याप्त मात्रा में लेने के लिए आप अपने आहार में फोलेट में समृद्ध स्रोतों जैसे चावल, पालक, मूंगफली, राजमा और एवोकाडो आदि को शामिल कर सकते हैं। 

(और पढ़ें - विटामिन बी9 युक्त आहार)

लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने का उपाय है विटामिन सी - RBC badhane ka tarika hai vitamin c wala khana

विटामिन सी सीधे तौर पर लाल रक्त कोशिकाओं को प्रभावित नहीं करता है, लेकिन इससे शरीर में आयरन को अवशोषित होने में मदद मिलती है। आयरन शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में सहायक होता है।

(और पढ़ें - विटामिन सी की कमी का इलाज)

आहार में विटामिन सी पर्याप्त मात्रा में लेने के लिए आपको विटामिन सी से समृद्ध स्रोतों जैसे किवी, स्ट्रॉबेरी, संतरे व खट्टे फलों को शामिल करना चाहिए।

(और पढ़ें - विटामिन सी युक्त आहार)

आरबीसी को बढ़ाने के लिए विटामिन ए और कॉपर लें - Red Blood Cells badhane ke upay hain vitamin A aur copper yukt aahar

शरीर द्वारा रक्तधारा में मौजूद आयरन का उपयोग होने के लिए कॉपर एक जरूरी मिनरल्स माना जाता है। यदि शरीर में कॉपर की पर्याप्त मात्रा नहीं हो तो रक्त कोशिकाओं को जीवित रहने के लिए आवश्यक आयरन को अवशोषित करने में मुश्किल आती है। कॉपर पर्याप्त मात्रा में लेने के लिए आप अपनी डाइट में काजू, सूरजमुखी के बीज और दालों को शामिल करें।

(और पढ़ें - तांबे के बर्तन में पानी पीने के फायदे)

लाल रक्त कोशिकाओं की संख्या में विटामिन ए कॉपर की तरह ही मदद करता है। विटामिन ए को रेटीनोल (Retinol) भी कहा जाता है। यह कोशिकाओं को स्वस्थ रखने के लिए होने वाले आयरन के अवशोषण में सहायक होता है।

(और पढ़ें - बीटा कैरोटीन के फायदे)

आप विटामिन ए में समृद्ध आहार जैसे शकरकंद, गाजर, हरी पत्तेदार सब्जियां, और आम आदि को डाइट में शामिल कर विटामिन ए की आवश्यकता को पूरा कर सकते हैं। 

(और पढ़ें - विटामिन ए की कमी का इलाज)

अपनी दिनचर्यों में कुछ तरह की आदतों को अपनाकर और खराब आदतों को दूर करके भी लाल रक्त कोशिकाओं की गिनती को बढ़ाया जा सकता है। लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने के लिए दिनचर्या में किए जाने वाले बदलावों को आगे विस्तार से बताया गया है।

  • नियमित एक्सरसाइज करें:
    एक्सरसाइज हर किसी के लिए फायदेमंद होती है, लेकिन स्वस्थ लाल कोशिकाओं के निर्माण में एक्सरसाइज काफी महत्वपूर्ण मानी जाती है। अधिक तेजी से की जानें वाली एक्सरसाइज से हृदय दर में बढ़ोतरी होती है, जिसके कारण शरीर और मस्तिष्क को अधिक ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है। इसके कारण दिल तेज-तेज धड़कने लगता है और फेफड़े जल्दी-जल्दी गहरी सांसे लेना शुरू कर देते हैं। (और पढ़ें - एक्सरसाइज करने का सही टाइम)

    ऑक्सीजन की आवश्यकता को पूरा के लिए शरीर लाल रक्त कोशिकाओं को बनाने के लिए उत्तेजित होता है। स्वस्थ आहार के साथ नियमित एक्सरसाइज करने से अस्थि मज्जा (बोन मैरो) में लाल रक्त कोशिकाओं को बनने में मदद मिलती है। अपनी एक्सरसाइज में आप दौड़ना, जॉगिंग करना, साइकिलिंग, स्विमिंग और एरोबिक्स को शामिल कर सकते हैं। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए एक्सरसाइज)
     
  • धूम्रपान और शराब ना पीएं:
    अगर आप अपनी लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाना चाहते हैं तो आपको धूम्रपान और शराब पीने की आदत को छोड़ना होगा। सिगरेट पीने से आपके शरीर का रक्त प्रवाह प्रभावित होता है और इससे सभी अंगों तक ऑक्सीजन सही से नहीं पहुंच पाती है। इसके साथ ही इससे अस्थि मज्जा में ऑक्सीजन की कमी होने लगती है। (और पढ़ें - धूम्रपान छोड़ने के घरेलू उपाय)

    इसके अलावा शराब पीने से रक्त गाढ़ा होने लगता है और इससे भी रक्त में ऑक्सीजन की कमी होने लगती है। अधिक मात्रा में शराब पीने से लाल रक्त कोशिकाएं कम बनती है और पूर्ण रूप से विकसित नहीं हो पाती हैं। (और पढ़ें - शराब छुड़ाने के उपाय)
     
  • खून चढ़ाना:
    अगर आहार और सप्लीमेंट्स लेने के बावजूद आपकी लाल रक्त कोशिकाओं की गिनती कम हो तो ऐसे में डॉक्टर खून चढ़ाने के विकल्प को भी चुन सकते हैं। 

(और पढ़ें - खून चढ़ाने के फायदे)

और पढ़ें ...