myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

पीरियड्स में ज्यादा ब्लीडिंग होने को चिकित्सीय भाषा में "मेनोरेजिया" (menorrhagia) कहा जाता है। इसमें  पीरियड्स (मासिक धर्म) में असामान्य रूप से ज्यादा रक्तस्राव होना या पीरियड्स का ज्यादा दिन तक चलना, दोनों ही शामिल किये जाते हैं। इस लेख में पीरियड्स में ब्लीडिंग कम करने के उपाय, तरीके और नुस्खे बताये गए हैं। 

इसकी वजह से पीरियड्स के दौरान आपको हर दो या तीन घंटे में सेनिटरी पैड या टैम्पोन को बदलने की जरूरत पड़ सकती है। इसके कई शारीरिक लक्षण हो सकते हैं, जैसे पीरियड के दौरान पेट के निचले क्षेत्र में गंभीर और लगातर दर्द होना, थकान, सांस फूलना, मतली, सिर दर्द, मूड में बदलाव आना और अत्यधिक कमजोरी आना।

(और पढ़ें - पीरियड्स क्या है)

यह समस्या किसी भी उम्र की महिला को प्रभावित कर सकती है। हालांकि, जवान किशोर जिनके पीरियड्स हाल ही में शुरू हुए हैं और वह महिलायें जो रजोनिवृत्ति के करीब हैं, उन्हें ये समस्या ज्यादा होती है।

मासिक धर्म में अधिक रक्तस्राव कई वजह से हो सकता है जैसे शरीर में हॉर्मोन का असंतुलन, फाइब्रॉएड (fibroids), मिसकैरेज या एक्टोपिक प्रेग्नेंसी (अस्थानिक गर्भावस्था), जन्म नियंत्रण के लिए आईयूडी (जैसे कॉपर टी) के दुष्प्रभाव से भी ये समस्या हो सकती है।

मासिक धर्म में ज्यादा ब्लीडिंग से आपकी रोजाना की गतिविधियाँ, भावनात्मक और सामाजिक जीवन प्रभावित हो सकता है। इसके अलावा इससे गंभीर स्वास्थ्य समस्या जैसे आयरन की कमी से एनीमिया भी हो सकती हैं।

हमारी आपको सलाह है कि इस समस्या के सही निदान और इलाज के लिए अपने डॉक्टर से बात जरूर करें। लेकिन, आप डाइट में बदलाव करके या आसान घरेलू उपायों से भी पीरियड्स में ज्यादा ब्लीडिंग कम कर सकती हैं। आइये जानें इनके बारे में -

  1. पीरियड्स कम करने का तरीका है कोल्ड कम्प्रेस - Periods kam karne ka tarika hai cold compress
  2. पीरियड्स कम करने के नुस्खे में शीरा फायदेमंद है - period kam karne ke nuskhe me sheera faydemand hai
  3. मासिक धर्म को कम करने के उपाय में सेब के सिरके को शामिल करें - Masik dharm ko kam karne ke upay me seb ke sirke ko shamil kare
  4. मासिक धर्म में अधिक रक्तस्राव कम करने के लिए लाल रास्पबेरी का इस्तेमाल करें - Masik dharam me adhik raktsrav kam karne ke liye lal raspberry ka istemal kare
  5. माहवारी कम करने के उपाय में लाल मिर्च का उपयोग करें - Mahvari kam karne ke upay me laal mirch ka upyog kare
  6. पीरियड में ब्लड कम करने के उपाय में मेथी के बीज की मदद लें - Period me blood kam karne ke upay me methi ke beej ki madad le
  7. पीरियड्स में ब्लीडिंग कम करने का उपाय है दालचीनी का सेवन - Periods me bleeding kam karne ka upay hai daalcheeni ka sewan
  8. पीरियड्स कम करने के उपाय में कम्फ्रे प्रभावी है - Periods kam karne ke upay me comfrey prabhavi hai
  9. मासिक धर्म को कम करने के लिए आयरन से समृद्ध आहार खाएं - Masik dharam ko kam karne ke liye iron se samridh aahaar khaye
  10. पीरियड कम करने का तरीका है मैग्नीशियम से समृद्ध आहार खाना - Period kam kam karne ka tarika hai magnesium rich foods khaana
  11. पीरियड में ब्लीडिंग कम करने के कुछ टिप्स - Period me bleeding kam karne ke kuch tips
  12. पीरियड्स कम करने के उपाय के डॉक्टर

अगर आपको पीरियड्स में अधिक रक्तस्राव हो रहा है तो कोल्ड कंप्रेस का इस्तेमाल करें। ठंडी सेक से वाहिकासंकीर्णन (vasoconstriction) होगा, जिसका अर्थ है रक्त वाहिकाओं का संकुचित होना। इससे रक्त का प्रवाह कम होगा, साथ ही पेट के निचले क्षेत्र का दर्द भी बंद होने लगेगा।

पीरियड्स कम करने के लिए कोल्ड कंप्रेस का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले कुछ बर्फ के टुकड़े एक पतली तौलिया पर रखें।
  2. फिर तौलिये को बांध लें।
  3. अब तौलिये को पेट के निचले क्षेत्र पर 15 से 20 मिनट के लिए रखें।
  4. बर्फ को उस क्षेत्र पर लगाने के बाद कुछ देर के लिए आराम से लेट जाएं।
  5. अगर जरूरत पड़े तो, इस उपाय को हर चार घंटे बाद इस्तेमाल करते रहें।

(और पढ़ें - अनियमित मासिक धर्म के उपाय

शीरा पीरियड्स कम करने का एक प्रभावी उपाय है। यह आयरन से समृद्ध होता है, लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मदद करता है और रक्त की मात्रा को बनाये रखता है जो पीरियड्स के दौरान कम हो जाती है। साथ ही, यह रक्त के थक्के को कम करता है और गर्भाशय की मांसपेशियों में होने वाले दर्द से आराम दिलाता है।   

पीरियड्स कम करने के नुस्खे में शीरा का इस्तेमाल दो तरीकों से करें –

पहला तरीका -

  1. सबसे पहले एक या दो छोटी चम्मच शीरा को एक कप गर्म पानी या दूध में मिला लें।
  2. फिर इस मिश्रण को पूरे दिन में एक बार जरूर पियें।

दूसरा तरीका -

  1. आप आधा बड़ी चम्मच शीरा को एक ग्लास लेमनग्रास चाय में मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को सुबह और रात को सोने से पहले पियें।
  3. अच्छा परिणाम पाने के लिए इस उपाय को कुछ महीने तक दोहराएं।

(और पढ़ें - पीरियड्स में दर्द क्यों होता है

पीरियड्स में ज्यादा ब्लीडिंग को रोकने के लिए आप सेब के सिरके का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यह आपके शरीर से विषाक्त पदार्थों को साफ करने में मदद करता है और हार्मोन को भी संतुलित रखता है। यह अन्य लक्षण जैसे पेट दर्द, सिर दर्द और थकान का भी इलाज करता है।

मासिक धर्म को कम करने के उपाय में सेब के सिरके का इस्तेमाल कैसे करें -

  1. सबसे पहले एक या दो छोटी चम्मच कच्चा और बिना छना सेब का सिरका एक ग्लास पानी में लें। (और पढ़ें - सेब के सिरके के फायदे)
  2. फिर मिश्रण को पी जाएँ।
  3. अच्छा परिणाम पाने के लिए, इस मिश्रण को माहवारी के दौरान पूरे दिन में तीन बार पियें।

(और पढ़ें - पीरियड्स में सेक्स

लाल रास्पबेरी की पत्तियां महिलाओं के लिए फायदेमंद होती हैं जो पीरियड्स में ज्यादा ब्लीडिंग के प्रवाह से पीड़ित होती हैं। इनमें टैनिन्स (tannins) होता है जो गर्भाशय की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है। साथ ही, यह पेट के निचले क्षेत्र के दर्द को भी कम करता है।

(और पढ़ें - रास्पबेरी के फायदे)

मासिक धर्म में अधिक रक्तस्राव कम करने के लिए लाल रास्पबेरी का इस्तेमाल कब तक करें –

  1. सबसे पहले एक बड़ी चम्मच सूखी लाल रास्पबेरी की पत्तियों को एक कप गर्म पानी में डाल दें।
  2. अब बर्तन को ढक दें और दस मिनट के लिए पानी को उबालते रहें।
  3. अब इस मिश्रण को छानें और पी जाएं।
  4. मिश्रण को पूरे दिन में तीन बार पियें।
  5. इस चाय को पीरियड्स शुरू होने से एक हफ्ता पहले पीना शुरू कर दें और पीरियड के दौरान भी इस चाय को पीते रहें।

(और पढ़ें - मासिक धर्म का कम आना

पीरियड्स कम करने के लिए आप लाल मिर्च का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यह शरीर में रक्त प्रवाह को भी संतुलित करने में मदद करता है। इसके अलावा, लाल मिर्च हॉर्मोन को संतुलित रखता है और अधिक ब्लीडिंग के लक्षणों से आराम दिलाता है।

(और पढ़ें - लाल मिर्च के फायदे)

माहवारी कम करने के उपाय में मेथी के बीज​ का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले आधा छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर को एक ग्लास गुनगुने पानी में मिला दें।
  2. अब ग्लास में कुछ मात्रा में शहद मिलाएं। (और पढ़ें - शहद के फायदे
  3. इस मिश्रण को पीरियड्स के दौरान पूरे दिन में दो से तीन बार पियें।
  4. आप पूरे दिन में एक बार इसके सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं, लेकिन लेने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से बात जरूर कर लें।

(और पढ़ें - पीरियड्स जल्दी लाने के उपाय

आयुर्वेद के अनुसार, मेथी के बीज मासिक धर्म में होने वाली अत्यधिक ब्लीडिंग को कम करने में मदद करते हैं। यह गर्भाशय के कार्यों में भी सुधार लाता है और शरीर में हॉर्मोन को संतुलित करता है।

(और पढ़ें - मेथी के फायदे)

पीरियड में ब्लड कम करने के उपाय में मेथी के बीज का इस्तेमाल कैसे करें -

  1. सबसे पहले एक छोटी चम्मच मेथी के बीज को दो कप पानी में मिला लें।
  2. इसे तब तक उबालें जब तक मिश्रण आधा न हो जाए।
  3. अब इस मिश्रण को छान लें और फिर छानने के बाद इसमें कुछ मात्रा में शहद मिलाएं।
  4. गुनगुने मिश्रण को पी जाएं और पीरियड्स के दोरान भी इसे पूरे दिन में दो से तीन बार पियें।

(और पढ़ें - मासिक धर्म के समय पेट दर्द

दालचीनी पीरियड कम करने के लिए प्रभावी मानी जाती है। यह जड़ी बूटी गर्भाशय में रक्त प्रवाह कम करके रक्तस्राव को कम कर देती है। इसके अलावा, इसके सूजनरोधी और एंटीस्पास्मोडिक गुण ऐंठन से राहत दिलाने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - दालचीनी और दूध)

पीरियड में ब्लड कम करने के उपाय में दालचीनी का इस्तेमाल दो तरीकों से करें -

पहला तरीका -

  1. सबसे पहले एक छोटी चम्मच दालचीनी पाउडर को एक कप गर्म पानी में मिला लें।
  2. कुछ देर के लिए इस मिश्रण को उबालने को रख दें।
  3. उबलने के बाद मिश्रण में शहद मिलाएं और पूरे दिन में दो बार इस मिश्रण को पियें।

दूसरा तरीका -

  1. इसके अलावा दालचीनी की छाल के अभिमिश्रण (tincture) को पूरे दिन में दो बार तीन बूंद लें।
  2. आप 15 से 30 बूंद दालचीनी के आवश्यक तेल को एक चौथाई पानी में मिलाकर पूरे दिन में तीन बार पी सकते हैं।
  3. इनमे से किसी भी उपाय को पीरियड्स के दौरान आजमाएं।

(और पढ़ें - पीरियड से जुड़े मिथक और तथ्य

वैद्यों के अनुसार, कमफ्रे (यूरोप में पाए जाने वाली एक जड़ी बूटी) पीरियड्स में अधिक ब्लीडिंग को नियंत्रित करने का बेहतरीन उपाय है। यह जड़ी बूटी रक्त वाहिकाओं को संकुचित करने में मदद करती है, जिससे अत्यधिक ब्लीडिंग कम होती है। 

पीरियड्स को कम करने के उपाय में कम्फ्रे का इस्तेमाल कब तक करें –

  1. सबसे पहले दो छोटे चम्मच कमफ्रे की पत्तियों को एक कप गर्म पानी में मिला लें।
  2. अब बर्तन को ढककर रखें और फिर 20 मिनट के लिए मिश्रण को उबलने को छोड़ दें।
  3. मिश्रण को छाने और फिर मासिक धर्म के दौरान पूरे दिन में एक बार इसे जाएं।

(और पढ़ें - पीरियड्स के लिए हाइजीन टिप्स

आयरन महिलाओं के लिए बहुत अच्छा खनिज है जो एनीमिया की कमी को दूर करने में मदद करता है। इससे मासिक धर्म में होने वाले अधिक रक्तस्राव को भी कम करने में मदद मिलती है।

मासिक धर्म को कम करने के लिए आयरन से समृद्ध कौन से आहार खाएं -

  1. आयरन युक्त भोजन खाएं जैसे हरी सब्जियां, फलियां, कद्दू के बीज, अंडे की जर्दी, लाल मीट, किशमिश, आलूबुखारा और दाल जो आयरन से समृद्ध हो।
  2. आप डॉक्टर से बात करने के बाद आयरन के सप्लीमेंट्स भी खा सकते हैं।

(और पढ़ें - पीरियड्स में क्या खाएं

महिलाओं में हॉर्मोन जैसे प्रोजेस्टेरोन (progesterone) और एस्ट्रोजन (estrogen) को संतुलित करने के लिए मैग्नीशियम बेहद अहम खनिज है। इसके अलावा, मैग्नीशियम की कमी से भी पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग हो सकती है। इसलिए, ब्लीडिंग को कम करने के लिए मैग्नीशियम से समृद्ध आहार खाएं।

पीरियड कम होने के उपाय में मैग्नीशियम से समृद्ध कौन से आहार खाएं -

  1. मैग्नीशियम से समृद्ध आहार जैसे ओट्स, नट्स और बीज, एवोकाडो, डार्क चॉकलेट, कद्दू और तरबूज
  2. मैग्नीशियम के सप्लीमेंट लेने के लिए अपने डॉक्टर से बात जरूर करें।

(ओत पढ़ें - मासिक धर्म कप क्या है

 पीरियड में ब्लीडिंग कम करने के लिए यहाँ कुछ टिप्स बताई गयी हैं। यह भी आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती हैं -

(और पढ़ें - असामान्य मासिक धर्म के लक्षण

Dr. Nikhil Pise

Dr. Nikhil Pise

सामान्य चिकित्सा

Dr. Jasmine Kaur Chadha

Dr. Jasmine Kaur Chadha

सामान्य चिकित्सा

Dr. Yash Shah

Dr. Yash Shah

सामान्य चिकित्सा

और पढ़ें ...