myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

ओह माई गॉड! फिर से मुहांसे, मैं ही क्यों? अधिकतर लोग ऐसा सोचते होंगे जब उनके चेहरे पर मोटे-मोटे मुहांसे दिखते होंगे। लेकिन समस्या केवल मुहांसे ही नहीं है, मुहांसों के बाद चेहरे पर रह जाने वाले गड्ढे भी हैं जो देखने में बेहद बुरे लगते हैं। ज़्यादातर चेहरे के गड्ढे कुछ ही महीनों में आसानी से चले जाते हैं लेकिन कुछ इतनी आसानी से नहीं जाते। पर चेहरे के गड्ढे मिटाने के लिए आप कुछ बेहतरीन उपायों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे इलाज में तेज़ी आएगी और आगे होने वाली हाइपरपिगमेंटशन की समस्या को दूर भी करने में मदद मिलेगी।

(और पढ़ें - स्किन केयर टिप्स)

लेकिन एक बात आप ध्यान में रखें कि फेस के गड्ढे को रातों-रात खत्म नहीं किया जा सकता। बस इन कुछ उपायों और त्वचा की देखभाल से आपको एक अच्छा परिणाम देखने को ज़रूर मिलेगा। 

(और पढ़ें – पिम्पल्स हटाने के उपाय)

तो आइये आपको बताते हैं चेहरे के गड्ढे भरने के उपाय और इलाज -

  1. गाल के गड्ढे भरने का उपाय है दालचीनी - Cinnamon benefits for facial pits in Hindi
  2. चेहरे के गड्ढे मिटाने के लिए मेथी है फायदेमंद - Fenugreek treatment for face pits in Hindi
  3. चेहरे से गड्ढे पुदीने से मिटायें - Mint helps to get rid of acne scars in Hindi
  4. आलू के फायदे से चेहरे के गड्ढे भरें - Potato reduces acne scars in Hindi
  5. चेहरे के गड्ढे हटाने का उपाय है हल्दी और पुदीना - Turmeric and mint removes pit on face in Hindi
  6. फेस के गड्ढे बेकिंग सोडा से ठीक करें - Baking soda treats acne scars in Hindi
  7. संतरे के छिलके से गाल के गड्ढे ठीक करें - Orange peel cures acne scars in Hindi
  8. दही और खीरे का जूस है फेस के गड्ढे भरने के उपाय - Curd and cucumber juice for face pits in Hindi
  9. चेहरे के गड्ढे एलोवेरा से मिटायें - Aloe vera good for acne scars in Hindi
  10. चेहरे के गड्ढे चन्दन से हटायें - Benefits of sandalwood for face pits in Hindi
  11. पपीता के जूस के फायदे से गाल के गड्ढे भरने में मिलती है मदद - Papaya juice for acne scars in Hindi
  12. बेसन के लाभ से फेस के गड्ढे होंगे दूर - Gram flour benefits for acne scars in Hindi
  13. चेहरे के गड्ढे का इलाज - Treatment for acne scars in Hindi
  14. चेहरे के गड्ढे भरने के उपाय में शहद शामिल करें - Honey for acne scars in Hindi
  15. चेहरे के गड्ढे गुलाब जल और चन्दन से भरे - Rosewater and sandalwood paste for acne scars in Hindi
  16. चेहरे के गड्ढे मिटाने का उपाय है नींबू का जूस - Lemon juice good for acne scars in Hindi

सामग्री –

  1. एक चम्मच दालचीनी पाउडर। (और पढ़ें - दालचीनी के गुण)
  2. एक चम्मच शहद। (और पढ़ें - दालचीनी और शहद के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले एक कटोरे में दालचीनी पाउडर और शहद को मिलाएं।
  2. अब इस मिश्रण को चेहरे के गड्ढे पर लगा लें और फिर उसे रातभर के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  3. अब सुबह में चेहरे को गर्म पानी से धो दें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

ये उपाय मुहांसों की वजह से चेहरे पर पड़ने वाले गड्ढों के लिए बहुत ही प्रभावी है। इसका इस्तेमाल आप रोज़ दो हफ़्तों तक ज़रूर करें।

(और पढ़ें - त्वचा पर चकत्तों के घरेलू उपाय)

फायदे –

दालचीनी मुहांसों की वजह से होने वाले चेहरे के गड्ढों के लिए बेहतरीन इलाज है। इस मसाले में एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं जो आपकी त्वचा को स्वस्थ रखते हैं।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए फेस पैक)

सामग्री –

  1. एक चम्मच मेथी के बीज। (और पढ़ें - मेथी के लाभ)
  2. पानी। 

विधि –

  1. सबसे पहले एक चम्मच मेथी के बीज को एक कप गर्म पानी में मिला दें।
  2. मिलाने के बाद उसे कुछ मिनट तक उबलने को रख दें और फिर उबलने के बाद गैस को बंद कर दें।
  3. मिश्रण को ठंडा कर लें और फेस के गड्ढे पर फिर इससे या तो मुँह धोएं या फिर रूई से लगाएं।
  4. इसके आलावा आप मेथी के बीज के पेस्ट को चेहरे पर लगा सकते हैं और रातभर के लिए उसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ सकते हैं।
  5. फिर सुबह को गर्म पानी से चेहरे को धो सकते हैं।

(और पढ़ें - मेथी के तेल के फायदे)

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

आप पेस्ट को रोज़ाना भी लगा सकते हैं, जब तक गाल के गड्ढे भर न जाएँ।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए क्रीम)

फायदे –

मेथी त्वचा को खराब होने से बचाती है। इसके साथ ही साथ यह त्वचा के अंदर दबी अशुद्धियों को निकालती है और त्वचा को साफ़ करती है।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए तेल)

सामग्री –

  1. मुट्ठीभर पुदीने की पत्तियां। (और पढ़ें - पुदीने के गुण)
  2. मुलायम कपडा।

विधि –

  1. सबसे पहले पुदीने की पत्तियों को एक मुलायम कपड़े में रखें और फिर उन्हें कूट लें।
  2. कूटने के बाद कपड़े को निचोड़ें और फिर एक बर्तन में उसका जूस निकाल लें।
  3. अब इस जूस को गाल के गड्ढों पर अच्छे से लगाएं।
  4. चेहरे पर इस मिश्रण को सूखने दें और फिर उसे ठंडे पानी से धो लें।

(और पढ़ें - पुदीने की चाय के फायदे)

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

आप इसे रोज़ाना लगाएं।

(और पढ़ें - सर्दियों में रूखी त्वचा का इलाज)

फायदे –

पुदीने की पत्तियों में मुहांसों से लड़ने के गुण होते हैं और ये मुहांसों की वजह से पड़ने वाले गड्ढों के लिए भी बेहद फायदेमंद होती है। इससे आपकी त्वचा कोमल और मुलायम होने लगती है। पुदीने में विटामिन ए होता है जो त्वचा में अधिक तेल के उत्पादन को नियंत्रित करता है।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. एक कच्चा आलू। (और पढ़ें - आलू के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले आलू को छीलें और फिर उसका एक टुकड़ा काट लें।
  2. अब आलू के टुकड़े को फेस के गड्ढे पर अच्छे से लगाएं।
  3. इसके अलावा आप आलू को घिस भी सकते हैं और उसके गूदे को चेहरे पर लगाकर अच्छे से रगड़ लें।
  4. इसके बाद जूस को कुछ देर चेहरे पर सूखने दें और फिर गुनगुने पानी से त्वचा को धो लें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

मुहांसों और गाल के गड्ढों से बचने के लिए इस उपाय को दो हफ्तों तक आजमाएं।

(और पढ़ें - चेहरे की झुर्रियों के घरेलू उपाय)

फायदे –

आलू त्वचा को साफ़ करता है और अपनी ब्लीचिंग गुणों की मदद से फेस के गड्ढों को खत्म करता है।

(और पढ़ें - आंखों के नीचे की झुर्रियों के लिए घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. एक चम्मच हल्दी पाउडर। (और पढ़ें - हल्दी के फायदे)
  2. आधा चम्मच पुदीने का जूस।

(और पढ़ें - हल्दी दूध पीने के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले हल्दी के पाउडर को पुदीने के जूस के साथ मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को अच्छे से मिलाने के बाद चेहरे के गड्ढों पर लगा लें।
  3. लगाने के बाद इसे 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें और फिर गर्म पानी से चेहरे को धो लें। 

(और पढ़ें - गर्म पानी पीने के फायदे)

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

अच्छा परिणाम पाने के लिए इस पेस्ट को हफ्ते में दो बार लगाएं।

(और पढ़ें - स्ट्रेच मार्क्स हटाने के उपाय)

फायदे –

हल्दी में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं और पुदीने में इलाज करने के गुण मौजूद होते हैं। इस तरह आपके गाल के गड्ढों को ये दोनों सामग्रियां तेजी से ठीक करती हैं।

(और पढ़ें - काले दाग हटाने के उपाय)

सामग्री –

  1. एक चम्मच बेकिंग सोडा। (और पढ़ें - बेकिंग सोडा के फायदे)
  2. पानी।

विधि –

  1. सबसे पहले एक कटोरी लें और फिर उसमे एक चम्मच बेकिंग सोडा और पानी की कुछ बूँद डालें।
  2. अब इस पेस्ट को अपनी उँगलियों से चेहरे के गड्ढे पर लगाएं। 
  3. लगाने के बाद मिश्रण को त्वचा पर कुछ मिनट तक ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. फिर त्वचा को ठंडे पानी से धो दें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

जब भी आपको अपने चेहरे पर मुहांसों की वजह से गड्ढे दिखें, आप इस उपाय का इस्तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़ें - चेहरे के दाग धब्बे हटाने के उपाय)

फायदे –

बेकिंग सोडा चेहरे के गड्ढों को साफ करने में मदद करता है। ये एक्सफोलिएशन के लिए बहुत अच्छा है और खराब हुई त्वचा को ठीक करता है। इसके साथ ही नई त्वचा को वापस लेकर आने में यह सहायक है। इसमें सूजनरोधी गुण भी होते हैं, जो मुहांसों की वजह से चेहरे पर होने वाली लालिमा और खुजली को कम करते हैं।

(और पढ़ें - झाइयां हटाने के घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. एक चम्मच सूखे संतरे के छिलके। (और पढ़ें - संतरे के छिलके के फायदे)
  2. एक चम्मच दूध

विधि –

  1. सबसे पहले एक कटोरी लें और उसमे संतरे के छिलके का पाउडर डालें और फिर दूध मिला दें। जिससे एक गाढ़ा पेस्ट तैयार हो सके।
  2. अब इस पेस्ट को गाल के गड्ढों पर लगाएं और लगाने के बाद 15 मिनट के लिए उसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  3. फिर त्वचा को ठंडे पानी से धो दें।

(और पढ़ें - संतरे के जूस के फायदे)

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

आप इस पेस्ट को हफ्ते में दो बार ज़रूर लगाएं। पेस्ट को लगाने के लिए दो दिन का गैप ज़रूर रखें।

(और पढ़ें - चेहरे को गोरा करने के उपाय)

फायदे –

संतरे का छिलका रेटिनॉल से समृद्ध होता है जो त्वचा को ठीक करता है। रेटिनॉल प्राकृतिक एक्सफोलिएशन (त्वचा से पुराने खाल उतारने की प्रक्रिया) को बढ़ाता है, जिससे त्वचा की मृत कोशिकाएं निकल जाती है। ये कोलज़ेन का उत्पादन करता है और कोशिकाओं के फाइबर लेवल को सुधारता है। इस तरह चेहरे के गड्ढों को कम करने में मदद मिलती है।

((और पढ़ें - गोरा होने के उपाय)

सामग्री –

  1. एक चम्मच दही। (और पढ़ें - दही के फायदे)
  2. एक चम्मच खीरे का जूस।

विधि –

  1. सबसे पहले दही और खीरे के जूस को एक साथ मिला लें।
  2. फिर मिश्रण को फेस के गड्ढे पर लगायें और दस मिनट तक ऐसे ही लगाया हुआ छोड़ दें।
  3. अब त्वचा को ठंडे पानी से धो दें।

(और पढ़ें - रात को दही खाना चाहिए या नहीं)

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

आप इस फेस मास्क को रोजाना लगा सकते हैं।

(और पढ़ें – सन टैन दूर करने के घरेलू उपाय)

फायदे –

खीरा एक प्राकृतिक सामग्री है जो त्वचा को कोमल और मॉइस्चराइज़ करने में मदद करता है। जब दही को खीरे के साथ मिलाकर इस्तेमाल किया जाता है, तो ये मृत कोशिकाओं से छुटकरा दिलाता है और चेहरे के गड्ढों को कम करता है। 

 (और पढ़ें – सिर्फ़ 5 दिन में चेहरे और शरीर से सन टैन को हटायें)

सामग्री –

  1. एलोवेरा की पत्तियां। (और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले एलोवेरा का गूदा निकाल लें और फिर उसे दस मिनट के लिए चेहरे पर रगड़ लें। खासकर अपने चेहरे के गड्ढों पर।
  2. फिर चेहरे को ठंडा पानी से धो लें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

आप एलोवेरा को रोज़ाना अपने चेहरे पर लगाएं।

(और पढ़ें – सनबर्न से छुटकारा पाने के उपाय)

फायदे -     

त्वचा की कई समस्याओं के लिए एलोवेरा बहुत ही बेहतरीन प्राकृतिक उपाय है। इस पौधे में प्राकृतिक एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो सूजन से बचाते हैं और मुहांसों के आकार को कम करते हैं। इस तरह चेहरे पर गड्ढे नहीं पड़ते। 

(और पढ़ें - खूबसूरत त्वचा के लिए आहार)

सामग्री –

  1. दो चम्मच चंदन पाउडर।
  2. दो से तीन नींबू जूस।
  3. एक चम्मच गुलाब जल।

विधि –

  1. दो चम्मच चंदन पाउडर, एक चम्मच गुलाब जल और नींबू के जूस की कुछ मात्रा को एक कटोरे में मिलाकर अच्छे से पेस्ट तैयार कर लें।
  2. अब इस पेस्ट को गाल के गड्ढों पर लगाएं और 15 से 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें। 
  3. फिर चेहरे को ठंडे पानी से धो दें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

आप इस फेस पैक को हफ्ते में तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - त्वचा को निखारने के लिए जूस रेसिपी)

फायदे –

चंदन में मौजूद बेहतरीन एंटीबैक्टीरियल गुण बैक्टीरिया और कवक संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं। इसके साथ ही कील-मुहांसों को फूटने नहीं देते, जिससे चेहरे पर गड्ढे भी नहीं पड़ते।

(और पढ़ें - दमकती त्वचा पाने के लिए योगासन)

सावधानी -

नींबू के जूस को त्वचा पर अधिक इस्तेमाल करने से इरिटेशन हो सकती है। तो इसका इस्तेमाल करने से पहले एक पैच टेस्ट ज़रूर कर लें।

(और पढ़ें - चमकदार त्वचा पाने के लिए गाइड)

सामग्री –

  1. पपीते का जूस। (और पढ़ें - पपीते के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले पपीते का जूस निकाल लें और फिर उसे चेहरे पर लगा लें।
  2. इसे लगाने के बाद जूस को चेहरे पर सूखने दें और फिर सूखने के बाद त्वचा को ठंडे पानी से धो लें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

पपीते के जूस को रोज़ाना लगाएं।

(और पढ़ें - शहनाज हुसैन के ब्यूटी टिप्स)

फायदे –

पपीते के जूस में इलाज करने के गुण मौजूद होते हैं। इसमें विटामिन ए और पपाइन का एक अच्छा स्रोत मौजूद होता है। यह फल मृत कोशिकाओं को साफ़ करने में मदद करता है।

(और पढ़ें - चेहरे पर चमक लाने के उपाय)

सामग्री –

  1. दो चम्मच बेसन। (और पढ़ें - बेसन के फायदे)
  2. दो चम्मच गुलाब जल।

विधि –

  1. सबसे पहले एक कटोरी में बेसन और गुलाब जल मिलाएं।
  2. अब इस पेस्ट को चेहरे पर लगा लें और सूखने तक का इंतज़ार करें।
  3. फिर चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

इस बेसन पैक को चेहरे पर रोज़ाना लगाएं।

(और पढ़ें - गर्मियों में त्वचा की देखभाल)

फायदे 

बेसन किसी भी घरेलू सामग्री में एक आम उपाय है जो मृत कोशिकाओं को साफ़ करता है। बेसन और गुलाब जल का मिश्रण चेहरे के गड्ढों को साफ़ करता है और त्वचा को निखारता है।

(और पढ़ें - डिलीवरी के बाद त्वचा की देखभाल)

1. डर्माब्रेशन ट्रीटमेंट -

चेहरे के गड्ढे आसानी से डर्माब्रेशन से ठीक हो सकते हैं। इसके लिए, आपको एक सक्षम डर्मेटोलॉजिस्ट की ज़रूरत पड़ती है। इस इलाज में छोटे-छोटे कणों का इस्तेमाल किया जाता है, जो त्वचा के ऊपरी परत को अच्छे से साफ़ करते हैं। ऊपरी परत साफ़ होने से आपके चेहरे के गड्ढे कम दिखते हैं और त्वचा में मिल जाते हैं। इस इलाज से गाल के गड्ढे आखिर में गायब हो जाते हैं। इस इलाज में इस्तेमाल होने वाला वायर ब्रश (Wire brush) त्वचा पर घुमाया जाता है, जिससे ऊपरी परत एकदम कोमल हो जाए। जब एक बार इलाज पूरा हो जाता है, तो चेहरे के गड्ढे काफी समतल दिखने लगते हैं।

(और पढ़ें - कैलामाइन लोशन के फायदे)

2. केमिकल पीलिंग ट्रीटमेंट -

केमिकल पीलिंग में एक अच्छा परिणाम पाने के लिए सक्षम प्लास्टिक सर्जन की ज़रूरत पड़ती है। इस प्रक्रिया में, कई तरह के केमिकल जैसे ग्लाइकोलिक एसिड, लैक्टिक एसिड, साइट्रिक एसिड आदि का इस्तेमाल चेहरे के गड्ढे की गंभीरता को देखकर किया जाता है। जिससे एक नयी और ताज़ा परत सामने निकलकर आये। जब ऊपरी परत साफ़ हो जाती है, तो अंदर के दाग-धब्बे और गड्ढे भी दूर हो जाते है और आखिर में त्वचा निखरी हुई गड्ढों से रहित हो जाती है। 

(और पढ़ें - स्किन टाइट करने के उपाय)

3. लेज़र रिसर्फेसिंग ट्रीटमेंट -

लेज़र रिसर्फेसिंग एक बहुत ही बेहतरीन इलाज प्रक्रिया है, जिसके कुछ ही बार के उपयोग से बेहद अच्छा परिणाम निकलकर आता है। इस प्रक्रिया में लेज़र की किरणों का इस्तेमाल गड्ढों के उत्तकों को साफ़ करने के लिए किया जाता है, जो त्वचा के नीचे होते हैं। गड्ढों के उत्तक जो की साफ़ हो जाते हैं, उससे त्वचा अंदर से कोमल दिखती है। अच्छा परिणाम पाने के लिए आपको कई बार लेजर ट्रीटमेंट करवाने की आवश्यकता पड़ सकती है।

(और पढ़ें - प्रदूषण से त्वचा को सुरक्षित रखने के टिप्स)

4. सलीसाइलिक एसिड ट्रीटमेंट -

बीटा-हाइड्रोक्सी एसिड जैसे सलीसाइलिक चर्बी की नलिकाओं में जाता है और केराटिन को साफ़ करता है। इससे आपके चेहरे के गड्ढों को कम करने में मदद मिलती है। आजकल ज़्यादातर फेस वाश और टोनर सलीसाइलिक एसिड से बने होते हैं और वो आपको किसी भी मार्केट में मिल जाएंगे। इसके अलावा आप अपने डर्मेटोलॉजिस्ट से भी सलीसाइलिक एसिड पील्स (Peels) ले सकते हैं। ये त्वचा के तेल के उत्पादन और गाल के गड्ढों को कम करता है।

(और पढ़ें - स्किन टैग्स का घरेलू उपचार)

5. रेटिनॉइड्स ट्रीटमेंट -

रेटिनॉइड्स ट्रीटमेंट के तहत होने वाले टोपिकल और ओरल ट्रीटमेंट, त्वचा से तेल के स्राव को कम करते है और फेस के गड्ढों को दूर करते हैं। ये दोनों ही उपचार साधन आपको किसी दूकान या डर्मेटोलॉजिस्ट के पास मिल जाएंगे।

(और पढ़ें - त्वचा पर बर्फ लगाने के फायदे)

सामग्री –

  1. एक चम्मच शहद। (और पढ़ें - शहद के फायदे)
  2. नींबू के जूस की 3-4 बूँद ।

विधि –

  1. सबसे पहले तीन से चार बूँद नींबू के जूस को शहद के साथ मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को अच्छे से मिलाने के बाद अपने चेहरे पर लगा लें।
  3. कुछ समय के लिए इस मिश्रण को चेहरे पर ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें और सूखने तक का इंतज़ार करें।
  4. अब चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

अच्छे परिणाम के लिए शहद और नींबू के फेस पैक को रोज़ाना लगाएं।

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के लिए क्रीम)

फायदे –

शहद एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक सामग्री है जो मुहांसों का इलाज करने में मदद करती है। शहद को नींबू के जूस के साथ मिलाएं और चेहरे पर लगा लें, इससे आपकी त्वचा को क्लींजिंग और पोषण के गुण मिलेंगे। नींबू में एसिडिक गुण भी होते हैं जो बैक्टीरिया को मारते हैं, जबकि शहद में आराम देने के गुण त्वचा को जवान बनाते हैं।

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के लिए फेस पैक)

सामग्री –

  1. एक चम्मच चंदन पाउडर। (और पढ़ें - चंदन के लाभ)
  2. एक चम्मच गुलाब जल।  (और पढ़ें - गुलाब जल के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले गुलाबजल को चंदन के पाउडर के साथ मिला लें और एक मुलायम पेस्ट तैयार कर लें।
  2. पेस्ट तैयार करने के बाद इसे चेहरे के गड्ढे पर अच्छे से लगाएं।
  3. लगाने के बाद रातभर के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. फिर सुबह चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

चेहरे के गड्ढ़े को ठीक करने के लिए आप इस पेस्ट को रोज़ाना लगाएं।

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के लिए क्लीन्ज़र)

फायदे –

गुलाबजल बैक्टीरिया को मारता है, जिसकी वजह से मुहांसे होते हैं और त्वचा को पोषित भी बनाता है। चंदन पेस्ट त्वचा को ठंडक देता है और सूजन को दूर करता है।

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा से छुटकारा पाने के उपाय)

सामग्री –

  1. एक चम्मच नींबू जूस। (और पढ़ें - नींबू के रस के फायदे)
  2. एक चम्मच पानी।

विधि –

  1. सबसे पहले नींबू जूस को पानी के साथ मिला लें और फिर इसे चेहरे के गड्ढे मिटाने के लिए उपयोग में लाएं।
  2. चेहरे पर लगाने के बाद दो घंटे के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें और फिर चेहरे को धो लें।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

आप इस पैक को हफ्ते में दो बार ज़रूर लगाएं। लेकिन इस मिश्रण को लगाने के लिए दो दिन का गैप ज़रूर रखें।

(और पढ़ें – ब्लैक हेड्स हटाने के नुस्खे)

फायदे –

नींबू को एसिडिक गुणों के लिए जाना जाता है जो त्वचा पर रहने वाले बैक्टीरिया को मारते हैं, इससे त्वचा मुहांसों और चेहरे के गड्ढों से दूर रहती है। नींबू त्वचा के अधिक तेल के उत्पादन (तैलीय त्वचा की समस्या) को नियंत्रित करता है।

(और पढ़ें - व्हाइट हेड्स को दूर करने के फेस पैक)

सावधानी -

नींबू के जूस से आपकी त्वचा पर इरिटेशन हो सकती है और चेहरा ड्राई हो सकता है। तो इस मिश्रण का इस्तेमाल करने से पहले एक पैच टेस्ट ज़रूर कर लें।

(और पढ़ें – ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को दूर करने का तरीका)

और पढ़ें ...

References

  1. Kraft J, Freiman A. Management of acne. 2011 Apr 19;183(7):E430-5. PubMed PMID: 21398228
  2. Vaughn AR, Branum A, Sivamani RK. Effects of Turmeric (Curcuma longa) on Skin Health: A Systematic Review of the Clinical Evidence.. 2016 Aug;30(8):1243-64. PMID: 27213821
  3. Pereira RF, Bártolo PJ. [Link]. 2016 May 1;5(5):208-229. PMID: 27134765
  4. Nurul ‘Izzah Ibrahim, Sok Kuan Wong, Isa Naina Mohamed, Norazlina Mohamed, Kok-Yong Chin, Soelaiman Ima-Nirwana, and Ahmad Nazrun Shuid. Wound Healing Properties of Selected Natural Products. 2018 Nov; 15(11): 2360. PMID: 30366427
  5. Tzu-Kai Lin, Lily Zhong, and Juan Luis Santiago. Anti-Inflammatory and Skin Barrier Repair Effects of Topical Application of Some Plant Oils. 2018 Jan; 19(1): 70. PMID: 29280987
  6. Nevin KG, Rajamohan T. Effect of topical application of virgin coconut oil on skin components and antioxidant status during dermal wound healing in young rats.. 2010;23(6):290-7. PMID: 20523108
ऐप पर पढ़ें
कोरोना मामले - भारतx

कोरोना मामले - भारत

CoronaVirus
2470 भारत
132आंध्र प्रदेश
10अंडमान निकोबार
1अरुणाचल प्रदेश
16असम
29बिहार
18चंडीगढ़
9छत्तीसगढ़
219दिल्ली
6गोवा
95गुजरात
49हरियाणा
6हिमाचल प्रदेश
75जम्मू-कश्मीर
2झारखंड
124कर्नाटक
286केरल
14लद्दाख
104मध्य प्रदेश
335महाराष्ट्र
2मणिपुर
1मिजोरम
5ओडिशा
5पुडुचेरी
48पंजाब
167राजस्थान
309तमिलनाडु
158तेलंगाना
10उत्तराखंड
172उत्तर प्रदेश
63पश्चिम बंगाल

मैप देखें