myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

गर्भावस्था एक ऐसा समय होता है जब गर्भवती महिला को सबसे ज्यादा ध्यान अपने आहार पर देना होता है। गर्भवती महिला द्वारा लिया गया आहार उसके होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य पर असर डालता है। अगर आपने गर्मी के मौसम में गर्भधारण किया है तो आपको अपने आहार को लेकर और ज्यादा सजग रहने की जरूरत है। गर्मी के मौसम में गर्भवती महिलाओं की मुश्किलें अक्सर बढ़ जाती हैं लेकिन अगर वो अपनी डाइट का अच्छी तरह से ख्याल रखें तो मां और बच्चा दोनों ही स्वस्थ रह सकते हैं। आज हम इस लेख के जरिए जानेंगे कि गर्मियों के मौसम में गर्भधारण करने पर क्या खाना चाहिए?

  1. गर्भावस्था में गर्मी में क्या खाना चाहिए - Pregnancy me garmi me kya khaye
  2. गर्भावस्था में हेल्दी और कूल रहने के टिप्स - Pregnancy me healthy aur cool rhne ke tips

गर्भावस्था में गर्मियों में निम्नलिखित चीज़ें खाने से आप दिनभर ठंडी और तरोताजा रह सकती हैं:

  • तरबूज: 
    गर्मी के मौसम के लिए तरबूज एक बेहतरीन स्नैक है इसमें पर्याप्त मात्रा में पानी होता है। गर्मियों में तरबूज के सेवन से शरीर में पानी की कमी नहीं होती। तरबूज का जूस गर्मियों में शरीर को ठंडा करता है और दिनभर तरोताजा रखता है। 
     
  • उबले अंडे:
    उबला हुआ अंडा खाना प्रोटीन का सेवन करने का एक आसान तरीका है। उबले अंडे में अनेक गुण होते हैं। अंडे का सेवन सलाद या सलाद सैंडविच के तौर पर भी कर सकते हैं। ये दोनों ही ठंडे होते हैं। अंडे में अन्य सूक्ष्म पोषक तत्व होते हैं जो गर्भावस्था के दौरान आवश्यक होते हैं। 
     
  • खीरा:
    खीरा पानी का अच्छा स्रोत है और यह आंखों के साथ पूरे शरीर को ठंडक देता है। प्रेगनेंसी के आखिरी चरण में एलर्जी और अनिद्रा का खतरा बढ़ जाता है ऐसी स्थिति में खीरा आपके लिए ज्यादा फायदेमंद साबित होता है। 
     
  • पुदीना:
    पुदीना प्राकृतिक तौर पर ठंडा होता है। गर्भावस्था में पुदीने के सेवन से लंबे समय तक ठंडा रहने में मदद मिलती है। पुदीने को चटनी, पन्ना आदि के रूप में खाया जा सकता है या धनिये की तरह ही इसे भी खाने में गार्निश कर के खा सकते हैं। गर्भावस्था में पुदीना अधिक गुणकारी सिद्ध हो सकता है। 
     
  • टमाटर:
    टमाटर आसानी से उपलब्ध फल है। टमाटर जितना लोकप्रिय है उतना ही स्वादिष्ट और गुणकारी भी होता है। टमाटर को सूप, सलाद के तौर पर खा सकते हैं। 
     
  • पालक:
    पालक को पोषक तत्वों का पावर हाउस कहते हैं। इसमें फोलेट (फोलिक एसिड) उच्च स्तर में पाया जाता है जो जन्म दोष की संभावना को कम करने में मदद करते हैं। पालक में हर वो विटामिन और खनिज होता है जिसकी गर्भावस्था के दौरान गर्भवती स्त्री को जरूरत होती है। 
     
  • शकरकंद:
    शकरकंद में पाया जाने वाला विटामिन ए मां और बच्चे दोनों की प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए फायदेमंद है। 
     
  • ऑरेंज जूस:
    संतरे के रस में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है। ऑरेंज जूस के सेवन से शरीर में विटामिन सी की कमी को पूरा किया जा सकता है। 
     
  • ब्लूबेरी:
    ब्लूबेरी को सुपरफूड कह सकते हैं। ब्लूबेरी गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत सारे पोषण मूल्य प्रदान करती है। इसमें विटामिन सी, एंटीऑक्सीडेंट, पोटेशियम, फोलेट और फाइबर होता है। 
     
  • पानी:
    गर्भावस्था में शरीर को ज्यादा से ज्यादा पानी की जरूरत होती है। इस दौरान गर्मी को मात देने के लिए अधिक पानी का सेवन करना चाहिए।

(और पढ़ें - कितना पानी पीना चाहिए)

गर्भावस्था में इन टिप्स को अपनाकर गर्मी को मात दी जा सकती है:

  • सूरज की गर्मी कम होने पर यानि सुबह और शाम बाहर के काम करें।
  • हल्के रंग के कपड़े पहनें।
  • शरीर में पानी की कमी न हो इसलिए तरल पदार्थ ज्यादा लें।
  • धूप में बाहर जाने से पहले सनस्क्रीन जरूर लगाएं।

इस लेख में बताए गए सभी खाद्य पदार्थ न केवल आपके और आपके बच्चे के लिए स्वास्थवर्धक हैं बल्कि आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर भी हैं। ऊपर लिखी सभी बातों का ध्यान रखकर उपर्युक्त फलों का सेवन किया जाए तो गर्मी में भी गर्भावस्था को एन्जॉय किया जा सकता है। इसके आलावा आप अपने डॉक्टर की सलाह से अन्य फलों को उपरोक्त सूची में जोड़ सकती हैं।

(और पढ़ें - गर्भावस्था में क्या खाना चाहिए)

और पढ़ें ...